अंतरराष्ट्रीय शांति दिवस 21 सितंबर को - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 2 सितंबर 2021

अंतरराष्ट्रीय शांति दिवस 21 सितंबर को

  • * गांधीवादी एकता परिषद के संस्थापक पी.व्ही. राजगोपाल नौबतपुर (पटना) से 11 दिवसीय शांति न्याय पदयात्रा को हरी झंडी दिखाकर  21 सितंबर को शुभारंभ करेंगे

world-peace-day-on-21-september
कटनी. सर्वविदित है कि हरेक साल अंतरराष्ट्रीय शांति दिवस 21 सितंबर को और अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस 2 अक्टूबर को मनाया जाता है.जन संगठन एकता परिषद ने 21 सितंबर से 2 अक्टूबर तक 11 दिवसीय शांति न्याय पदयात्रा करने का निश्चय किया है.मध्य प्रदेश स्थित मानव जीवन विकास समिति में आयोजित एकता परिषद की राष्ट्रीय कमेटी की बैठक में कार्यक्रम को अंतिम रूप दी गयी. एकता परिषद के राष्ट्रीय समिति के सदस्य प्रदीप प्रियदर्शी ने कहा कि इस अवसर पर एकता परिषद के संस्थापक प्रसिद्ध गांधीवादी आदरणीय पी.व्ही. राजगोपाल जी के नेतृत्व में और उनकी प्रेरणा से एकता परिषद ने 21 सितंबर अंतरराष्ट्रीय शांति दिवस से 2 अक्टूबर अंतरराष्ट्रीय शांति दिवस से तक 11 दिवसीय शांति न्याय पदयात्रा भारत के 100 जिलों में आयोजित करने का निर्णय लिया गया है. उन्होंने कहा कि यात्रा के माध्यम से शांति और अहिंसा के प्रति लोगों में चेतना और न्याय के लिए स्थानीय समस्याओं के समाधान के लिए जन जागरण किया जाएगा.पदयात्रा के दौरान आम लोगों के माध्यम से सरकार से केंद्र और राज्य स्तर पर शांति मंत्रालय स्थापना की मांग की जाएगी. पदयात्रा के क्रम में शांति के लिए उपवास पर्यावरण सुरक्षा के लिए पहल सह भोज इत्यादि कार्यक्रम किए जाएंगे. मध्य प्रदेश से राष्ट्रीय समिति में भाग लेने के बाद बिहार आने पर प्रदीप प्रियदर्शी ने कहा कि बिहार के 15 जिलों में यात्रा आयोजित की जाएगी.उन्होंने कहा कि प्रख्यात गांधीवादी एकता परिषद के संस्थापक पी.व्ही. राजगोपाल जी 17 सितंबर को बिहार आएंगे. बिहार में आने के बाद 19 सितंबर को राज्य स्तरीय भूमि परिसंवाद में शामिल होंगे और लोगों से मुलाकात करेंगे. उन्होंने कहा कि गांधीवादी एकता परिषद के संस्थापक पी.व्ही. राजगोपाल नौबतपुर (पटना) से 11 दिवसीय शांति न्याय पदयात्रा को हरी झंडी दिखाकर  21 सितंबर को शुभारंभ करेंगे.

कोई टिप्पणी नहीं: