सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 21 सितम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 22 सितंबर 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 21 सितम्बर

बाइक रैली निकालकर बहुजन समाज पार्टी ने किया शहर में जंगी प्रदर्शन दलित वर्ग पर अन्याय, अत्याचार, मॉबलिंचिंग की घटनाओं का किया  विरोध 

  • एवं सीहोर जिले मे चिटफंड कंपनियों फसे गरीब निवशकों के पैसो को मा. कलेक्टर द्वारा कंपनियों की संपत्ति को नीलाम कर जल्द से जल्द दिलाया जाय  कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुंचकर एसडीएम को दिया राज्यपाल के नाम का ज्ञापन

sehore news
सीहेार। बाइक रैली निकालकर बहुजन समाज पार्टी ने मंगलवार को जिला मुख्यलाय पर जंगी प्रदर्शन किया। प्रदेश में जारी दलित वर्ग पर अन्याय,अत्याचार अल्पसंख्यकों के साथ मॉबलिंचिंग की घटनाओं का बसपा ने कड़ा विरोध किया। नारेबाजी करते हुए बेनर झंडों के साथ सैकड़ों बसपा कार्यकर्ता कलेक्ट्रेट पहुंचे और राज्यपाल के नाम का ज्ञापन एसडीएम रवि वर्मा को दिया। बसपा के द्वारा दलित बहुजन वर्ग पर जारी अन्याय,अत्याचार अल्पसंख्यकों के साथ मॉबलिंचिंग की घटनाओं पर अंकुश लगाने और आरोपियों पर कड़ी कार्रवाहीं करने गरीब वर्ग को भारी भरकम बिजली बिलों से राहत देने, बेराजगारों को रोजगार उपलब्ध कराने और बढ़ती महंगाई को रोकने, शहर के वार्डो में निवासरत नागरिकों को सभी मूलभूत सुविधाओं उपलब्ध कराने की मांग की गई। बहुजन समाज पार्टी के तत्वाधान में मंडी स्थित गार्डन से कोरोना गाइडलाईन का पालन करते हुए बाइक विरोध रैली का शुभारंभ बाबा डॉ.भीमराव अम्बेडकर जी के चित्र पर माल्यार्पण कर किया गया। बसपा सुप्रीमो पूर्व मुख्यमंत्री बहन कु.मायावती जी एवं प्रदेशाध्यक्ष के निर्देशानुसार एक दिवसीय धरना प्रदर्शन बाईक रैली आयोजित की गई बाइक रैली मंडी ओवरब्रिज से लुनिया चौराहा मोतीबाबा मंदिर, शकर फ्रेक्ट्री चौराह, तहसील  चौराहा से मुख्य बाजार लीसा टाकिज चौराहा पान चौराहा कोतवाली चौराहा पहुंची। वरिष्ठ बसपा नेताओं के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं के द्वारा केंद्र और राज्य की भाजपा सरकार की किसान दलित मजदूर अल्पसंख्यक विरोधी नीतियों के खिलाफ शहर के सभी प्रमुख चौराहों पर नारेबाजी की गई। कोतवाली चौराहा से इंग्लिशपुरा रोड, भोपाल नाका पुराना हाईवे से बाइक रैली कलेक्ट्रेट पहुंची। सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने बसपा के झंडे के साथ महामहीम राज्यपाल के नाम ज्ञापन दिया। प्रदर्शन में प्रमुख रूप बसपा के वरिष्ठ पदाधिकारी  मा.इन्दरसिंह वर्मा(जिला जोन प्रभारी बसपा सीहोर)मा. संजीव बौद्ध(जिला जोन प्रभारी बसपा सीहोर),मा. अनोखीलाल मालवीय(जिला अध्यक्ष बसपा सीहोर)मा.अमित कुमार यादव( जिला महासचिव बसपा सीहोर)मा. धनराज सिंह धरेले (जिला संगठन मंत्री बसपा) मा.नवीन भैरवे (जिला कोषाध्यक्ष बसपा सीहोर) राकेश बौद्ध (जिला संयोजक बसपा) पूनम चंद्र मौर्य (जिला मीडिया प्रभारी बसपा,ईजी कमलेश जांगड़े जिला सचिव) हरिओम बौद्ध (वि,स, अध्यक्ष बसपा सीहोर) वीरू जाटव (नगर अध्यक्ष बसपा सीहोर) भवरलाल थरेले (नगर उपाध्यक्ष बसपा) कमलेश जांगड़े(जिला सचिव बसपा)धर्मेंद्र कचनेरिया(सर्कल अध्यक्ष बसपा)कमलकिशोर जाटव(सर्कल अध्यक्ष इछवार) रामसिंह सूर्यवंशी सरपंच, मोतीलाल सरपंच, कमल सिंह मालवीय सरपंच ,डॉक्टर प्रेम मालवीय चांदवड  , लखनलाल बड़ोदिया, नर्मदा प्रसाद, विजय सारीयाम  फूल सिंह पारखे सूर्यवंशी अर्जुन मालवीय अनिल मालवीय बलवंत सिंह  अभिषेक बकोरिया सुनील बड़ोदिया मोहन हेमंत दोहरे प्रकाश दोहोरे  आकाश भैरव सोनू कुमार बोद्ध सोनू , नीरज जाटव कमल कोरबे पवन सूर्यवंशी, साज़िद मंसुरी. लाड़सिंह बौद्ध  राधेश्याम पूर्वी, जितेंद्र राहुल  संजय मालवीय भारत केवट बनवारी सूर्यवंशी आदि कार्यकर्ता बड़ी संख्या में शामिल रहे।


समाज को उन्नति के पथ पर लाने समाज को एक सूत्र में पिरोना होगा: बड़वाल

  • विश्वकर्मा जांगिड़ समाज की जनसंख्या जनगणना पत्रिका का विमोचन

sehore news
सीहोर। समाज को उन्नति के पथ पर लाने समाज को एक सूत्र में पिरोना होगा। सभी समाज में गति आ सकेगी।समाज के उत्थान के लिए समाज के  सभी लोगों को अपने-अपने स्तर पर सहयोग देना होगा। यह  बात विश्वकर्मा जांगिड़ ब्राह्मण समाज के प्रदेश अध्यक्ष कैलाश वड़वाल ने जांगिड समाज की जनसंख्या जनगणना पत्रिका के विमोचन अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए कही। उन्होंने कहा कि सीहोर सभा ने जनसंख्या गणना  पत्रिका  का विमोचन कर प्रदेश में पहला स्थान प्राप्त करने का गौरव किया है। इसके लिए सीहोर की टीम बधाई की पात्र है। उन्होंने कहा कि सीहोर के साथ ही पूरे प्रदेश और देशभर की गणना कर उसे पोर्टल रूप में संजोया जाएगा। जिससे पूरे देश के जांगिड़ समाज के लोग समाज के अपने लोगों को जान सकेंगे। इसके साथ ही जांगिड़ समाज की जनसंख्या का डाटा सरकार को भी सौंपा जाएगा। जिससे समाज के लाखों लोगों के उत्थान के लिए सरकार से समाज के लोगों को आगे बढ़ाने मांग रखी जा सके। इस अवसर पर पूर्व जिलाध्यक्ष इंदौर मनोहर लाल, जिला सभा सरंक्षक डॉ रमेश चंद विश्वकर्मा, युवा प्रकोष्ठ महामंत्री इंदौर मोहन लाल शर्मा, प्रदेश संगठन मंत्री  कैलाश जांगिड,  युवा प्रकोष्ठ उपाध्यक्ष नर्मदा प्रसाद विश्वकर्मा प्रमुख रूप से उपस्थित थे। इस अवसर पर जिला जांगिड़ समाज अध्यक्ष अनोखीलाल विश्वकर्मा ने स्वागत भाषण में कहा कि  समाज की जनसंख्या पत्रिका सीहोर के लोगों के अलावा समाज के अन्य लोगों के लिए भी मील का पत्थर साबित होगी। जिला सभा के मंत्री लक्ष्मीनारायण विश्वकर्मा ने इस अवसर पर संबोधित करते हुए कहा कि जनसंख्या जनगणना पत्रिका से समाज के लोगों के मोबाइल नंबर अविवाहित बच्चों की जानकारी, गौत्र सहित संपूर्ण जानकारी मिलेगी, जो समाज के लोगों के लिए काफी लाभकारी होगी। इस अवसर पर मंच का संचालन सुरेश कुमार विश्वकर्मा नसरुल्लागंज ने किया गया। इसके पहले कार्यक्रम का शुभारंभ भगवान विश्वकर्माजी की आरती की गई।  स्वर विनोद खरामानिया एवं साथियों ने देकर आरती गई । बाद में अतिथियों द्वारा जांगिड स्वजारोहण किया गया। अतिथियों का जिला शाखा अध्यक्ष अनोखीलाल विश्वकर्मा, जिला मंत्री लक्ष्मीनारायण विश्वकर्मा, कार्यकारिणी सदस्य गोपालजी, विनोदजी राजेशजी (कोषाध्यक्ष) द्वारा रिबिन बेच एवं शाल तथा श्रीफल देकर सम्मानित किया गया। इसके पश्चात जनगणना पत्रिका में गांव-गांव जाकर जनगणना करने वाले समाज के लोगों और पत्रिका में सहयोग करने अन्य सामाजिक बंधुओं का शील्ड और समाज की जनगणना पत्रिका देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर प्रदेश महासभा मध्य प्रदेश के सम्मान स्वरूप अध्यक्ष प्रभुदयाल बरनेला के नाम सम्मान पत्र भेंट किया गया जो प्रदेश सभा से प्रतिनिधि के रूप में उपास्थित कैलाश बड़वाल- महामंत्री- प्रदेश सभ ामध्यप्रदेश को सौपा गया।  दूसरा सम्मान पत्र डॉ0  रमेश चन्द्र विश्वकर्मा संरक्षक जिल्ला सभा सीहोर के सद कमलों में सौपा गया।


खराब हो गई सोयाबीन फसल, सर्वे कराकर राहत एवं बीमा राशि देने की मांग, खराब फसल को कटाने के लिए लगवा रहे मजदूर, अब लागत निकलना भी दूर


sehore news
सीहोर। क्षेत्र के किसानों के खेतों में लगी फसलें अचानक नष्ट हो रही हंै। प्राकृतिक बीमारियों से जूझ रही फसलों से किसानों को अब कोई आस नहीं है। किसानों का कहना है कि अब लागत निकलना तो दूर इसे कटाना भी महंगा पड़ रहा है। ऐसे में अब किसान मदद की उम्मीद शासन से लगा रहे है। इससे उन्हें फसलों की क्षतिपूर्ति और फसल बीमा का लाभ मिलने से नुकसान की भरपाई हो सके। किसान प्रशासन से फसलों का सर्वे कराने की मांग कर रहे हैं। बुधवार को किसान कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष हरगोविन्द दरबार ने नसरुल्लागंज, रेहटी, बुधनी, इछावर, आष्टा, सीहोर ब्लाक और श्यामपुर आदि के सभी कांग्रेसजनों से ज्ञापन देने की अपील की है। किसानों की मांगों को लेकर राजनैतिक व किसान संगठन भी आगे आ रहे हैं। पिछले दो तीन दिन से फसल खराब होने के मामले ज्यादा सामने आ रहे हैंं। गत दिनों में भी श्यामपुर और इछावर सहित कांग्रेसजनों ने सभी ब्लाकों में पहुंचकर सर्वे कराकर फसल बीमा का लाभ दिलाए जाने की मांग की थी, लेकिन अभी तक किसानों की समस्याओं का समाधान नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि मंगलवार को मौसम खुला होने के कारण किसान अपनी खराब फसल को कटवाने और आगामी फसलों के लिए खेत तैयार करने को लगा है, लेकिन अभी तक खेतों में प्रशासन और बीमा कंपनी के प्रतिनिधि नहीं पहुंचे है। उनका कहना है कि गत दिनों प्रशासन कांग्रेस के द्वारा ज्ञापन दिया गया था, जिसमें बुधनी, नसरुल्लागंज, रेहटी आदि क्षेत्र में मूंग और उड़द की पूरी फसल बर्बाद होने का उल्लेख था, इसके अलावा दोराहा, श्यामपुर आदि में मक्का, सोयाबीन आदि की खराब फसल का जिक्र किया गया था। उन्होंने बताया कि पूरे जिले में हजारों एकड़ में लगी सोयाबीन की फसल बीमारी से ग्रसित होकर सूखने लगी है। फसल में फूलों के बाद फलियां आने से किसान इस वर्ष बंपर पैदावार होने की अनुमान लगा रहे थे। लेकिन अचानक फसलें मुरझाकर सूख गई हैं। ऐसे में अब किसानों की लागत निकलना भी मुश्किल हो जाएगी। अब किसान शासन प्रशासन से ही उम्मीद लगाए है कि शीघ्र ही सर्वे कर मुआवजा मिलेगा। पिछले दिनों लगातार बारिश के कारण भी फसल खराब हो गई है। किसान कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष श्री दरबार का कहना है कि बुधवार को किसानों और कांग्रेसजनों के साथ संयुक्त रूप से ज्ञापन सौंपा जाएगा। 


महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत की जांच की मांग


sehore news
सीहोर। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत की जांच की जा रही है। सोमवार को प्रयागराज के अपने मठ में नरेंद्र गिरि का शव मिला था, वह फांसी पर लटके हुए थे। पुलिस अभी इस मामले की जांच एक आत्महत्या के मामले के तौर पर कर रही है। वहीं, अब पूरे घटनाक्रम की सीबीआई जांच कराने की मांग उठने लगी है। इसको लेकर विश्व धर्म संसद के प्रदेशाध्यक्ष महामंडलेश्वर याशोदा नंद अजय पुरोहित महाराज ने भारत सरकार के गृह मंत्री अमित शाह के नाम संबोधित एक ज्ञापन पत्र मंगलवार को तहसील कार्यालय स्थित एसडीएम रवि वर्मा को सौंपकर तत्काल इस पूरे मामले की जांच उच्च स्तरीय जांच एजेंसी से कराई जाए। पंडित श्री पुरोहित ने महंत नरेंद्र गिरी की मृत्यु से उनको काफी आधात लगा है। उन्होंने कहा कि पूरे प्रकरण की सीबीआई जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यह भी पता लगाया जाना चाहिए कि ये कही हिंदू समाज के खिलाफ कोई बड़ी सोची समझी साजिश तो नहीं है कि हत्या कर आत्महत्या का रूप दिया जा रहा हो। उन्होंने इसकी पूरी पारदर्शिता से जांच करने की मांग की है।


कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने खुशी का इजहार किया,  सेवादल कांग्रेस ने कराया मिठाई का वितरण


sehore news
सीहेार। जिला कांग्रेस कार्यालय में चरणजीत सिंह चन्ना को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाए जाने पर जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष डॉ बलवीर तोमर सेवादल कांग्रेस प्रदेश सचिव पूर्व नगर पालिका सीहेार अध्यक्ष राकेश राय की उपस्थिति में सेवादल कांग्रेस के जिलाध्यक्ष नरेंद्र खंगराले द्वारा मिठाई का वितरण कराया गया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने खुशी का इजहार किया। वरिष्ठ कांग्रेस नेता दर्शन सिंह वर्मा, राजेंद्र ठाकुर, डॉ अनीस खान, प्रीतम दयाल चौरसिया, विवेक राठौर, दिनेश भैरवे, पवन राठौर, राकेश वर्मा, सुनील दुबे, रमेश राठौर,महफूज बंटी, मृदुल तोमर,एडवोकेट लक्ष्मण रैकवार, फरीद खान, मांगीलाल टिमरई, कपिल गौर, हर्षदीप राठौर आदि कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित थे। 


मनासा में लगाया गया आयुष्मान कार्ड कैम्प


नसरूल्लागंज जनपद की ग्राम पंचायत मनासा में ग्रामीणों के आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए कैम्प लगाया गया। आयुष्मान कार्ड कैम्प में पहुंचकर ग्रामीणों ने अपने आयुष्मान कार्ड बनवाएं, जिससे उन्हें अशासकीय अस्पतालों में 5 लाख रूपये तक का नि:शुल्क उपचार हो सकेगा।


स्कूलों में शाला प्रबंधन समितियों का गठन आज


स्कूलों में शिक्षण व्यवस्था में बेहतर प्रबंधन और शैक्षिक गतिविधियों के संचालन के लिए प्रदेश के सभी शासकीय और अनुदान प्राप्त प्राथमिक, माध्यमिक एवं कक्षा पहली से आठवीं तक संचालित संयुक्त माध्यमिक स्कूलों में शाला प्रबंधन समितियों का गठन 22 सितम्बर 2021 को किया जायेगा। संचालक राज्य शिक्षा केन्द्र श्री धनराजू एस ने बताया कि शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अंतर्गत सभी शासकीय प्राथमिक एवं माध्यमिक स्कूलों में शाला प्रबंधन समितियों का गठन किया जाना है। ये समितियाँ बच्चों के शाला नामांकन, नियमित उपस्थिति, गुणवत्तायुक्त शिक्षा और अधोसंरचना कार्यो के साथ बच्चों के बहुआयामी विकास में  महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। प्रदेश में लगभग 90 हज़ार प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों में गठित होने वाली समितियों का कार्यकाल आगामी 2 शैक्षणिक सत्रों के लिए निर्धारित होगा। शाला प्रबंधन समितियों के 18 सदस्यों में शाला में अध्ययनरत् बच्चों के पालक, शाला के प्रधान शिक्षक, वरिष्ठतम् महिला शिक्षिका और स्थानीय वार्ड के पंच/पार्षद या स्थानीय निकाय के सरपंच/अध्यक्ष/महापौर द्वारा नामित अन्य वार्ड की एक महिला पंच/पार्षद के रुप में निर्चाचित जन-प्रतिनिधि भी शामिल रहते हैं। इन समितियों के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का चयन विद्यार्थियों के अभिभावकों में से किया जाएगा। वहीं शाला के प्रधान शिक्षक, समिति के सदस्य सचिव रहेंगे। शासन द्वारा शाला के स्थानीय प्रबंधन के अधिकार भी इन समितियों को सौंपे गए हैं।  श्री धनराजू ने स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा शासकीय एवं अनुदान प्राप्त प्राथमिक, माध्यमिक एवं कक्षा 1 से 8 की संयुक्त माध्यमिक शालाओं में अध्ययनरत विद्यार्थियों के पालकों एवं अभिभावकों से 22 सितम्बर 2021 को स्कूल पहुँचकर, शाला प्रबंधन समिति से जुड़ने और शालाओं के विकास कार्यों में सहभागी बनने का आग्रह किया गया है।


जनसुनवाई पुन: प्रारंभ, लोगों की सुनी शिकायतें 


sehore news
कलेक्ट्रेट कार्यालय के एनआईसी सभाकक्ष में जिले भर से आये लोगों की समस्याऐं जनसुनवाई में सुनी गई। जिले में पूर्व की भांति जनसुनवाई कार्यक्रम  मंगलवार से प्रारंभ हो गया। पूर्व में लॉकडाउन के कारण जनसुनवाई का कार्यक्रम स्थगित किया गया था। कोविड-19 के प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करते जनसुनवाई शुरू की गई। जनसुनवाई में जिला पंचायत सीईओ श्री हर्षसिंह, अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोबर सहित समस्त विभाग के जिलाधिकारी उपस्थित थे।


पूर्व मुख्य निर्वाचन आयुक्त श्री रावत आज आएंगे सीहोर


पूर्व मुख्य निर्वाचन आयुक्त श्री ओपी रावत आज सीहोर में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी सीहोर द्वारा संचालित प्रतियोगिता उदबोधन कार्यक्रम में सायं 4.00 बजे शामिल होकर टाउन हाल में प्रतिभागी परीक्षार्थियों को संबोधित करेंगे। इसके पश्चात वे भोपाल प्रस्थान करेंगे।


एएनएम द्वारा अनमोल एप्लीकेशन में डाटा एन्ट्री संबंधी निर्देश


एएनएम द्वारा योग्य दम्पत्तियों, गर्भवती महिलाओं तथा शिशुओं को फील्ड स्तर पर स्वास्थ्य सेवाऐं प्रदान की जाती है । साथ ही प्रदाय की गई सेवाओं की जानकारी भी अनमोल एप्लीकेशन के माध्यम से आरसीएच पोर्टल एमपी पर एएनएम द्वारा ही दर्ज की जाती है।प्रायः यह देखने में आ रहा है कि जिन एएनएम उम्र अधिक हैं, उन्हें टेबलेट का ज्ञान न होने के कारण डाटा एन्ट्री करने में कठिनाई होती है। इसे ध्यान में रखते हुए यह निर्णय लिया गया है कि जो एएनएम 55 वर्ष या उससे अधिक उम्र पूरी कर चुकी हैं उनके द्वारा हितग्राहियों को दी गई सेवाओं की एन्ट्री संबंधित सेक्टर के डाटा एन्ट्री ऑपरेटर के माध्यम सेत्र प्रत्येक शनिवार को करवाई जायेगी।  इस व्यवस्था के संचालन के लिए समस्त एएनएम जो 55 वर्ष या उससे अधिक उम्र पूरी कर चुकी हैं, उनका एक रोस्टर तैयार करने के निर्देष दिए गए हैं। संबंधित एएनएम उसके द्वारा हितग्राहियों को दी गई सेवाओं की जानकारी संबंधित कम्प्यूटर ऑपरेटर को प्रदान करेंगी तथा कम्प्यूटर ऑपरेटर अनमोल एप्लीकेशन के माध्यम से अथवा कम्यूनिटी वेब मॉड्यूल से संबंधित एएनएम की आईडी से लॉगिन कर डाटा एन्ट्री सुनिश्चित करेंगे।


जिले में आज कोई भी व्‍यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला, वर्तमान में कोरोना एक्टिव पॉजिटिव की संख्या शून्य


पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10142 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10020 हैं। आज 848 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 277, श्यामपुर से 133,  नसरूल्‍लागंज 108, आष्टा से 208,  बुधनी से 74  तथा  इछावर से 48 सेंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 262785 हैं। जिनमें से 250676 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 811 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1896 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।


जिले में अब तक 920.0 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज, बीते 24 घंटे में 2.6 मिलीमीटर औसत वर्षा


जिले में 01 जून से 21 सितंबर, 2021 तक  920.0 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। जो कि गत वर्ष इसी अवधि में औसत वर्षा 1339.6 मिलीमीटर थी। जिले की वर्षा ऋतु में सामान्य औसत वर्षा 1148.4 मिलीमीटर है। अधीक्षक भू-अभिलेख द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 01 जून से 21 सितंबर, 2021 तक जिले के वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 875.7 मिलीमीटर,  श्यामपुर में 942.9, आष्टा में 809.0 जावर में 773.0,  इछावर में 896.3, नसरूल्लागंज में 910.0,  बुधनी में 1090.0, रेहटी में 1063.0 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


बीते 24 घंटे में 2.6 मिलीमीटर औसत वर्षा

जिले में बीते 24 घंटे में प्रात: 08 बजे तक 2.6 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 0.0 मिलीमीटर, श्यामपुर में 0.0, आष्टा में 10.0,  जावर में 3.0,  इछावर में 1.0, नसरूल्लागंज में 7.0, बुधनी में 0.0, रेहटी में 0.0 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


राष्ट्रीय कम मीन्स मेरिट की परीक्षा 26 सितम्बर को


राज्य शिक्षा केन्द्र के निर्देशानुसार सत्र 2021-22 में राष्ट्रीय कम मीन्स मेरिट छात्रवृत्ति के लिये जिन बालक एवं बालिकाओं द्वारा आवेदन किया गया था। उनकी परीक्षा 26 सितम्बर 2021 रविवार को आयोजित होगी। सभी बालक एवं बालिका अपना प्रवेश पत्र एमपी ऑनलाईन पोर्टल की लिंक www.mponline.gov.in पर विजिट कर डाउनलोड कर सकते हैं। 


छात्रवृति के लिए विद्यार्थी कर सकते है ऑनलाईन आवेदन


अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की छात्रवृत्ति योजनाओं के तहत राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करने की तिथि मेट्रिक-पूर्व हेतु 15 नवंबर 2021 तथा मेट्रिकोत्ततर तथा मेरिट-सह-साधन आधारित छात्रवृत्ति योजनाओं हेतु दिनांक 30 नवंबर 2021 है।  स्कूलों, संस्थानों को यह निर्देश दिया गए कि वे यह सुनिश्चित करें कि अधिसूचित अल्पसंख्यक समुदायों के आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के योग्य छात्र - छात्रवृत्ति के लिये आवेदन करें। उन्हें  यह भी निर्देश दिया जाता है कि वे राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल पर प्रस्तुत किए गए आवेदनों का केवाईसी पंजीकरण व सत्यापन पूरा करें।


डीएपी उर्वरक के विकल्पों का उपयोग करें


जिले के कृषक बंधुओं से किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग ने आग्रह किया है कि किसान बंधु डीएपी उर्वरक पर निर्भर ना रहें। उसकी जगह अन्य विकल्पों का उपयोग करें। डीएपी (डायअमोनियम फास्फेट) उर्वरक एक महत्वपूर्ण उर्वरक है जिसमें 18 प्रतिशत नाइट्रोजन तथा 46 प्रतिशत फास्फोरस होता है।  किसान भाई फसलों में नाइट्रोजन तथा फास्फोरस दोनो की पूर्ति हेतु उर्वरक का उपयोग कई बार से करते आ रहे है जिससे डीएपी उपयोग के आदी हो चुके है। भारत सरकार द्वारा 12 सौ रूपए प्रति बोरी की सब्सिडी दी जा रही है। डीएफी उर्वरक की अधिकतम मात्रा विदेशो से आयात की जाती है। किसान भाई अपनी फसलों के लिए आवश्यक पौषक तत्वों की पूर्ति डीएपी के स्थान पर अन्य उर्वरकों से करनी होगी।  किसान भाई डीएपी के स्थान पर नाइट्रोजन एवं फास्फोरस की पूर्ति बाजार में उपलब्ध अन्य उर्वरकों जैसे यूरिया, सिंगल सुपर फास्फेट तथा एनपीके आदि उर्वरको से पूर्ति कर सकते है।


जानी-मानी चिकित्सक डॉ. सिंह ने गर्भवती महिलाओं से वैक्सीन की अपील की


भोपाल की जानी मानी चिकित्सक डॉ. मोनिका सिंह स्त्री रोग विशेषज्ञ ने पूरे प्रदेश की गर्भवती महिलाओं से अपील की है कि वे कोविड से बचाव के लिए टीकाकरण अवश्य करवाएं।उन्होंने कहा कि यह बहुत ही जरूरी समय है जब सभी गर्भवती महिलाओं को कोविड-19 वैक्सीनेशन करवाना चाहिए। वैक्सीनेशन बिल्कुल सुरक्षित है और यह गर्भवती महिलाओं में इसलिये शुरू किया गया है क्योंकि सामान्य व्यक्ति में अभी तक वैक्सीनेशन के कोई भी गंभीर दुष्परिणाम देखने को नहीं मिले हैं। हम लोगों ने दूसरी लहर में भी देखा है कि जो गर्भवती महिलाएं कोरोना संक्रमित होकर हॉस्पिटल में आई थी वह देखते -देखते गंभीर समस्याओं से परेशान रहीं है।  चिकित्सक डॉ. मोनिका सिंह ने बताया कि कुछ महिलाओं में बच्चों के आसपास पानी कम हो गया कुछ महिलाओं के बच्चों की डेथ हो गई। कुछ महिलाएं गंभीर समस्या से जूझती हुए आईसीयू में भी रही कुछ माताओं की तो मृत्यु हो गई ।उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन इन सब  संक्रमण से बचाने के लिए है और गर्भवती महिलाएं वैसे भी हाई रिस्क प्रोफाइल पेशेंट होती है और हम वैक्सीनेशन यानि एक छोटा टीका  से  माताओं और बच्चों को बचा सकते हैं। उन्होंने कहा कि यह समय की मांग है इसलिए मैं सभी से अनुरोध करूंगी कि गर्भवती महिलाएं टीकाकरण में उत्साह से भाग ले और कोई भी समस्या हो तो स्त्री रोग विशेषज्ञ से सलाह ले सकते हैं।


आपदा प्रबंधन पुरस्कार - आवेदन 30 तक


सुभाष चंद्र बोस आपदा प्रबंधन पुरस्कार की तिथि 30 सितम्बर तक बढ़ी है। भारत सरकार ने आपदा प्रबंधन के क्षेत्र में व्यक्तियों और संस्थानों द्वारा किए उत्कृष्ट कार्यों को मान्यता देने के लिए उक्त पुरस्कार की स्थापना की है। पुरस्कार विजेता संस्था को प्रमाण-पत्र एवं 51 लाख रुपये का नगद पुरस्कार प्राप्त होगा। व्यक्ति के विजेता के होने के साथ 5 लाख रुपये नगद पुरस्कार दिया जाएगा। इच्छुक भारतीय संस्थान एवं भारतीय नागरिक आवेदक   www.dmawards.ndma.gov.in ऑनलाइन आवेदन करेंगे। पुरस्कार की घोषणा 23 जनवरी 2022 नेता जी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर की जाएगी। उम्मीदवार द्वारा प्रदान की गई जानकारी गलत पाई जाती है तो तीन साल के लिए अयोग्य घोषित किया जा सकेंगा। विस्तृत जानकारी ऑनलाइन पोर्टल पर जानकारी प्राप्त हो सकेगी।


राष्ट्रीय कृमिमुक्ति कार्यक्रम 23 सितम्बर तक चलेगा


जिले में "राष्ट्रीय कृमिमुक्ति कार्यक्रम" का अभियान जारी है जिसमें विद्यालयों एवं आंगनवाड़ी केन्द्र के माध्यम से 01 से 19 वर्ष के बच्चों, किशोर, किशोरियों को एल्बेंडाजॉल गोली का सेवन कराया जा रहा है। विगत वर्ष कोविड-19 महामारी को दृष्टिगत प्रदेश में ‘‘राष्ट्रीय कृमिमुक्ति कार्यक्रम‘‘ समुदाय आधारित गृह भ्रमण रणनीति के माध्यम से किया गया है। विभाग स्वास्थ्य ने बताया कि राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस कार्यक्रम का आयोजन 23 सितंबर तक ग्राम स्तर पर किया जाएगा।  कोविड-19 के कारण जिले में विद्यालयों एवं आंगनवाड़ी केन्द्रों का संचालन पूर्णत: न होने की दशा में  राष्ट्रीय कृमि मुक्ति कार्यक्रम का क्रियान्वयन समुदाय आधारित गृह भ्रमण रणनीति के माध्यम से किया जायेगा, जिसमें स्वास्थ्य विभाग एवं महिला बाल विकास विभाग तथा शिक्षा विभाग द्वारा समन्वय स्थापित कर एवं रणनीति बनाकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, ए.एन.एम., आशा, आशा सहयोगिनी द्वारा घर-घर जाकर 01 से 19 वर्षीय बच्चों को उम्र के अनुसार एल्बेंडाजॉल गोली का सेवन कराया जायेगा। बच्चों में कृमि संक्रमण व्यकित्गत अस्वच्छता तथा संक्रममित दूषित मिट्टी के सम्पर्क से संभावित होता है, कृमि संक्रमण से बच्चों को शरीर में प्रतिकूल प्रभाव पड़ते है, कृमि होने से बच्चों के शारीरिक, मानसिक विकास में वृद्धि अवरूद्ध हो जाती है, कृमि कई कारणों से बच्चों के पेट में पहुँच सकते है कृमि होने से खून की कमी (एनीमिया) कुपोषण, भूख न लगना थकान और बेचैनी,  पेट में दर्द मिलती, उल्टी और दस्त आना, मल से खून आना आदि हानिकारक प्रभाव हो सकते है। बच्चों को कृमि नाशक गोली खिलाने से कई तरह के लाभ होते है खून कमी में सुधार आना, बेहतर पोषण स्तर, रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ना, स्कूल और आंगनवाड़ी केन्द्रों में उपस्थिति बढ़ना तथा सीखने की क्षमता में सुधार लाने में मदद करती है।


खादी के वस्त्रों को डिजाइन करने की प्रतियोगिता, 3 अक्टूबर तक दे सकेंगे प्रविष्टियां


मध्यप्रदेश खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड भोपाल द्वारा खादी वस्त्रों के प्रचार-प्रसार एवं युवा वर्ग को खादी के प्रति आकर्षित करने के लिए व्यापक प्रयास किए जा रहे हैं। इसी क्रम में नवीन और खूबसूरत डिजाइन्स के खादी वस्त्रों को बाजार में लांच करने की योजना है। इसके लिए बोर्ड द्वारा mp.mygonv.in  पोर्टल पर खादी वस्त्रों की डिजाइनिंग के लिए एक प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। प्रविष्टियाँ 3 अक्टूबर 2021 सायं 5 बजे तक प्राप्त की जाएंगी। प्रतियोगिता का आयोजन महिलाओं और युवाओं के लिए भारतीय और पश्चिमी परिधानों की डिजाइनों का सम्मिश्रण करते हुए नवीन डिजाइन तैयार करने के लिए किया जा रहा है। इसके लिए दोनों संवंर्गो में दो-दो उत्कृष्ट डिजाइनों का चयन कर प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया जाएगा। प्रथम पुरस्कार में प्रमाण-पत्र एवं खादी सिल्क साड़ी/ सिल्क कुर्ता, द्वितीय पुरस्कार में प्रमाण-पत्र एवं खादी कुर्ता-पायजामा सेट और  तृतीय पुरस्कार में प्रमाण-पत्र एवं खादी कुर्ता जैकेट दिया जायेगा। प्रविष्टि केवल jpg.png और pdf फार्मेट में ही स्वीकार की जाएगी। प्रतियोगिता में कोई भी नागरिक भाग ले सकता है। डिजाइन तैयार करते समय रंगों के संयोजन और सिलाई का विशेष ध्यान रखना जरूरी है। डिजाइन में जहाँ तक संभव हो खादी के कपड़े का ही प्रयोग किया जाए।


श्रेष्ठ प्रविष्टि का चयन

प्रबंध संचालक, मध्यप्रदेश खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा श्रेष्ठ प्रविष्टि के लिये मापदण्ड निर्धारित किए गये हैं, जिनमें भारतीय तथा पश्चिमी परिधानों का सम्मिश्रण, सिलाई में सुविधाजनक, कपड़े का अनुकूलतम उपयोग, देश-प्रदेश की रंगाई, छपाई, संस्कृति को दर्शाने वाली डिजाइन का प्रयोग, विजेताओं द्वारा तैयार किए गए डिजाइन का स्केच तथा अन्य आवश्यक जानकारी शामिल है।

कोई टिप्पणी नहीं: