विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 21 सितम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 22 सितंबर 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 21 सितम्बर

जनकल्याण और सुराज अभियान का आयोजन, अतिथियों द्वारा हितग्राहियों को स्वीकृति प्रमाण पत्रों का वितरण


vidisha-news
जनकल्याण और सुराज के 20 वर्ष के तहत महिला एवं बाल विकास विभाग के तत्वाधान में आज जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन एसएटीआई के कैलाश सत्यार्थी सभागृह कक्ष में किया गया था। अतिथियों द्वारा आयोजन की शुरूआत दीप प्रज्जवलन, कन्या पूजन और कन्याओं के स्वागत के साथ कार्यक्रम का शुभांरभ किया मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के मुख्य आतिथ्य में आयोजित पंधाना में आयोजित हुए राज्य स्तरीय कार्यक्रम का सीधा प्रसारण आयोजन स्थल पर देखा व सुना गया है। एसएटीआई में आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने सदैव गांव, गरीब और बेटियों की चिंता की है। मध्यप्रदेश एक मात्र ऐसा राज्य है जहां बेटियो के उत्थान हेतु अनेक योजनाएं संचालित की जा रही है जिनका अनुसरण अन्य राज्यों के द्वारा कर लागू की गई है। उन्होंने कहा क बेटियों का जन्म हो, शिक्षा हो, विवाह हो या फिर रोजगार इन सबके लिए शासन द्वारा हर स्तर पर मदद की जा रही है। मुख्यमंत्री जी के सपने को साकार करने के लिए उन्होंने बेटियों से आव्हान किया कि वे आगे आएं और शासन की योजनाओं से लाभांवित होकर स्वंय और परिवार के विकास और परिवर्तन के सहभागी बनें। पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन ने कहा कि प्रधानमंत्री जी द्वारा स्वराज के क्षेत्र में किए गए अभिनव परिवर्तन को रेखांकित करते हुए उपरोक्त कार्यक्रम का मुख्य उद्धेश्य आमजनो के कार्य बिना किसी परेशानी के समय सीमा में पूरे हो। उन्होंने कहा क आजादी के बाद महिलाओं और बेटियों के विकास के लिए जो योजनाएं, अधिकार प्रदाय किए गए है वे इससे पहले कभी नही मिले थे। श्री टण्डन ने कहा कि मुख्यमंत्री जी द्वारा बच्चियों के विकास के लिए अनेको अभिनव कार्यक्रम व योजनाएं संचालित की जा रही हैं। मुख्यमंत्री स्वंय बेटियो के मामा है और हर मामा अपनी भांजियों के लिए हर प्रकार से जतन कर उनको आगे बढाने का कार्य करता है ठीक वैसे ही मुख्यमंत्री जी कर रहे है उन्होंने महिलाओे के लिए निःशुल्क गैस कनेक्शन, आवास, कुपोषण से मुक्ति, आंगनबाडी केन्द्रो में नियुक्तियों के अलावा महिलाओं के जीवनस्तर में सुधार लाने के लिए किए जा रहे दीर्घायु कार्यो व संचालित योजनाओं पर गहन प्रकाश डाला है। कार्यक्रम को जिला बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष श्री प्रेम सिंह धाकड, श्रीमती मंजरी जैन ने भी सम्बोधित किया। अतिथियों द्वारा मातृ वंदना योजना, लाड़ली लक्ष्मी योजना, छात्रवृत्ति स्वीकृति के प्रमाण पत्र बालिका हितग्राहियों को प्रदाय किए गए है। कार्यक्रम स्थल पर कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव के अलावा जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्रीमती गुड्डी बाई अहिरवार समेत अन्य जनप्रतिनिधि और विभिनन विभागो के अधिकारी, कर्मचारी मौजूद रहे। महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे ने आयोजनो के उद्धेश्यों को रेखांकित किया। अतिथियों सहित अन्य के द्वारा कुपोषण से निजात दिलाने हेतु पोषित थाली पर आधारित प्रदर्शनी का अवलोकन कर समूहो के द्वारा तैयार किए गए पोषक खाद्य पदार्थो को चखा भी है। कार्यक्रम का संचालन श्रीमती दीप्ति शुक्ला के द्वारा किया गया।


जनसुनवाई कार्यक्रम में 55 आवेदनों का निराकरण हुआ


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव के द्वारा आहूत की गई जनसुनवाई कार्यक्रम में 85 आवेदकों ने अपने आवेदन प्रस्तुत कर अपनी व्यक्तिगत और सार्वजनिक समस्याओं की ओर ध्यान आकर्षित कराया है। कलेक्टर श्री भार्गव के द्वारा मौके पर 55 आवेदनों का निराकरण किया गया है। जिला पंचायत क सभागार कक्ष में आयोजित हुई जनसुनवाई कार्यक्रम में जैसे ही कलेक्टर श्री भार्गव ने जिला पंचायत भवन में प्रवेश किया तो रास्ते में बैठे दिव्यांग की ओर अनायास ही उनका ध्यान गया और वे सीधे दिव्यांग श्री गोविंद सिंह से संवाद करने लगे। दिव्यांग ने ट्रायसाइकिल दिलाए जाने की मंशा जाहिर की। कलेक्टर श्री भार्गव ने मौके पर सामाजिक न्याय विभाग के अधिकारी को निर्देश दिए कि आज ही आवेदक को साइकिल प्रदाय कर अवगत कराएं। श्री बाढ वाले गणेश मंदिर के समीप निवासरत दिव्यांग श्री गोविंद सिंह ने जैसे ही अपनी मंशा को पूरा होता देखते हुए उन्होंने कलेक्टर को धन्यवाद ज्ञापित किया। कलेक्टर श्री भार्गव को चिरौल वाली माता मंदिर क्षेत्र में निवास करने वाली श्रीमती दीपा अहिरवार ने अपना आवेदन प्रस्तुत करते हुए अवगत कराया कि उनके पास पात्रता पर्ची होने के बाबजूद राशन नही दिया जा रहा है। कई बार सम्पर्क करने पर नगरपालिका व दुकानदारो के द्वारा आश्वासन देकर बाद में आने का बोल देते है। कलेक्टर श्री भार्गव ने आवेदिका की परिस्थिति और पात्रता पर्ची के बाबजूद राशन नही मिलना को अतिगंभीरता से लेते हुए मौके पर मौजूद डीएसओ को सख्त हिदायत दी है कि हितग्राही को राशन किन कारणो से नही मिल रहा है और इसके लिए दोषी कौन है कि जांच कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करें ताकि संबंधितों पर सख्त कार्यवाही की जाए। उन्होनें आवेदिका के साथ आए पति श्री राकेश अहिरवार से कहा कि शीघ्र ही राशन मिलने लगेगा यदि दो दिवस के भीतर राशन नही मिलता है तो मुझे फोन पर अवगत कराएं। आवेदक के द्वारा बतलाए जाने पर कि उनकी दो बच्चियां कक्षा छटवीं एवं पांचवीं में पढती है। उन दोनो के लिए छात्रवृत्ति की सुविधा शुरू हो सके ततसंबंध में जिला शिक्षा अधिकारी के द्वारा कार्यवाही क्रियान्वित की गई है। कलेक्टर श्री भार्गव को ग्राम पंचायत अंडियाकला के उप सरपंच श्री रमेश अहिरवार ने आवेदन प्रस्तुत कर पंचायत क्षेत्र में अवैध निर्माण कराए गए भवनो के संबंध में जानकारी से अवगत कराया है। उक्त प्रकरण की जांच हेतु जिला पंचायत सीईओ को अधिकृत किया गया है। सिरोंज निकाय क्षेत्र के सिंकदरापुरा वार्ड नम्बर 16 की रामवती ने आवास योजना अंतर्गत कुटीर निर्माण स्वीकृत कराए जाने का आवेदन प्रस्तुत करने पर जनपद पंचायत सिरोंज को आवश्यक कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया है इसी प्रकार ग्राम पंचायत रमपुराजागीर में शासकीय निर्माण कार्यो में हुए गबन की जानकारी में साक्ष्य सहित प्रस्तुत करने पर जिला पंचायत सीईओ को जांच करने हेतु अधिकृत किया गया है। ग्राम सिमरहार के आवेदक श्री हरिसिंह रघुवंशी ने बताया कि मेरी भूमि का सीमांकन आवेदन एक वर्ष चार माह से लंबित है जिस पर अब तक कोई कार्यवाही नही की गई है उक्त प्रकरण को अति गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर ने संबंधितों को आवश्यक निर्देश दिए और तीन दिवस के भीतर टोटल मशीन के माध्यम से की गई कार्यवाही से अवगत कराने के निर्देश दिए है। जनसुनवाई कार्यक्रम में आज प्राप्त हुए अधिकांश आवेदन उचित मूल्य दुकानो से राशन प्राप्त ना होगा। आवासीय कुटीर दिलाए जाने के तथा निर्माण कार्यो से संबंधित शिकायते, स्वरोजगारमूलक योजनाओ का लाभ दिलाने तथा राहत राशि अब तक प्राप्त नही होने से संबंधित थे। उपरोक्त आवेदनों पर समय सीमा में कार्यवाही करने के निर्देश कलेक्टर द्वारा संबंधित विभागो के अधिकारियों को दिए गए है। जनसुनवाई कार्यक्रम में जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट, डिप्टी कलेक्टर एवं जनसुनवाई कार्यक्रम की नोडल अधिकारी श्रीमती अमृता गर्ग के अलावा विभिन्न विभागो के जिलाधिकारी मौजूद थे। 


जिले में 86 प्रतिशत नागरिकों को प्रथम टीकाकरण हुआ 


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने आज लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक को शुरू करने से पहले जिले में जारी कोविड 19 टीकाकरण अभियान की अद्यतन प्रगति का जायजा लिया है। अभियान के लीड कर रहे जिला पंचायत सीईओ आईएएस डॉ योगेश भरसट ने बताया कि जिले में बीस सितम्बर तक 86 प्रतिशत से अधिक नागरिकों का प्रथम टीकाकरण कार्य किया जा चुका है शेष लंबितों की जानकारियां सर्वे दल ने प्राप्त कर ली है और उन सबको टीकाकरण करने का कार्य हर स्तर पर क्रियान्वित किया जा रहा है। कलेक्टर श्री भार्गव ने गत दिवस सम्पन्न हुई कलेक्टर्स, कमिश्नर कांफ्रेस में मुख्यमंत्री जी द्वारा दिए गए निर्देशो के अनुपालन में की जाने वाली कार्यवाही के संबंध में विस्तृत प्रकाश डाला। कलेक्टर ने बताया कि जिले में 27 सितम्बर को टीकाकरण का महा वैक्सीनेशन अभियान क्रियान्वित किया जाएगा खासकर ऐसे नागरिक जिनको द्वितीय डोज लगना है और अब तक उनके द्वारा लगवाया नही गया है। उन्हें प्रोत्साहित कर टीकाकरण सत्र तक लाया जाएगा। राज्य स्तर पर जिलो की समीक्षा की जाएगी इसके लिए 28 सितम्बर तक टीकाकरण की समुचित रिपोर्ट शासन को प्रेषित करनी है अतः अब अंतिम क्षण में पूरी ताकत झोंक दें और बेस्ट से बेस्ट परफार्मेंंस परलिक्षित हो। ऐसे कार्य संपादित करें। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि जिले में आयुष्मान कार्ड जारी करने के लिए पुनः विशेष अभियान संचालित किया जाएगा। उन्होने प्रसृति सहायता योजना के लंबित प्रकरणो की जानकारी देते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को प्रकरणवार समुचित जानकारी प्रस्तुत करने के निर्देश दिए है। कलेक्टर श्री भार्गव ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया है कि बासौदा एवं सिरोंज में जो आक्सीजन प्लांट संचालित किया जाना है उसमें बिजली की आपूर्ति के लिए जितनी आवश्यकता हो उतनी की मांग संबंधी पत्र प्रस्तुत कर उतने ही केवी का ट्रांसफार्मर स्थापित कराया जाए ताकि अनावश्यक बिलिंग की राशि का भुगतान शासन स्तर पर भार ना पडें। कलेक्टर श्री भार्गव ने जिले में मिलावट से मुक्ति अभियान संचालन करने पर बल देते हुए कहा कि प्रत्येक अनुविभाग क्षेत्र में सघन जांच पडताल की जाए। उन्होंने कहा कि चिन्हितो के खिलाफ कठोर प्रकरण दर्ज किए जाएं। जांच पड़ताल में सही परेशान हो ओर गलत छूटे ना की तर्ज पर क्रियान्वित की जाए। सेम्पल परीक्षण में फेल ना हो इसके लिए सेम्पल लेने की प्रक्रिया से पूर्व में ही भलीभांति अवगत होकर सेम्पल के कार्यो को मूर्तरूप दें। कलेक्टर ने कहा कि 30 सितम्बर तक विशेष अभियान संचालित कर अधिक से अधिक प्रकरण पंजीबद्ध किए जाए और प्रकरणो में एफआईआर दर्ज कराया जाना सुनिश्चित हो। मिलावट के खिलाफ अभियान को मूर्तरूप देने हेतु खाद्य औषधि विभागो के समनातर कृषि विभाग के अमले द्वारा भी पेस्टिसाइट खाद, बीज के सेम्पल अनिवार्यतः लिए जाएं। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने कोविड 19 के संक्रमण से मृत हुए शासकीय अधिकारी, कर्मचारियों की अनुकम्पा नियुक्ति, उनके परिवारजनों को देय विभिन्न दावो की राशि की भी जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कोविड 19 अनुग्रह सहायता राशि, बाल सेवा योजना, अनुकम्पा नियुक्ति के लिए जो नियम निर्धारित है का लाभ पात्रताधारियों को अनिवार्य रूप से प्राप्त हो। नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई उक्त बैठक में जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट, अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह के अलावा विभिन्न विभागो के जिलाधिकारी मौजूद थे।


उपभोक्ता स्वयं जांच सकते हैं अपनी खाद्यान्न पात्रता पर्ची


खाद्य सुरक्षा योजना से लाभान्वित परिवारों का सत्यापन किया जा रहा है।  प्रत्येक उपभोक्ता गूगल प्ले स्टोर से इस एप को स्टाल कर सकते हैं। इसके माध्यम से उपभोक्ता अपनी पात्रता की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। एप में परिवार की समग्र आईडी से लागिन करने पर खाद्यान्न की पात्रता, पात्रता पर्ची के अनुसार परिवार के सदस्यों की जानकारी तथा परिवार प्रोफाइल की जानकारी प्राप्त की जा सकती है। इसके माध्यम से आसपास की उचित मूल्य दुकान पीओएस मशीन की स्थिति, दुकान को खाद्यान्न आवंटन एवं वितरण की भी जानकारी प्राप्त की जा सकती है। शासन द्वारा खाद्यान्न वितरण के संबंध में दी जाने वाली सूचनाओं और सुविधाओं के लिए भी एम-राशन मित्र एप बहुत उपयोगी है।


दिव्यांगों को बस किराए में 50 प्रतिशत की छूट


सभी तरह की बसों में दिव्यांगजनों को यूनिक आईडी दिखाने पर किराए में 50 प्रतिशत की छूट मिलेगी। परिवहन आयुक्त द्वारा प्रदेश के जिले के सभी क्षेत्रीय अतिरिक्त एवं जिला परिवहन अधिकारी को निर्देशित किया गया है कि राज्य शासन द्वारा मध्य प्रदेश के राजपत्र में 24 नवम्बर 2016 को किये गये प्रावधान के तहत समस्त प्रक्रम बस सेवाओं में विभिन्न प्रकार के दिव्यांग व्यक्तियों को प्रभारित किराये में 50 प्रतिशत की छूट दी जायेगी, यदि वे सक्षम प्राधिकारी का प्रमाण-पत्र प्रस्तुत करते हैं। दिव्यांगजनों द्वारा भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय अथवा राज्य सरकार द्वारा जारी युनिक आईडी (युडीआईडी) के तहत जारी किये गये परिचय-पत्र दिखाये जाने पर किराये में 50 प्रतिशत की छूट का लाभ दिया जाये।


सुभाष चंद्र बोस आपदा प्रबंधन पुरस्कार - आवेदन 30 तक


सुभाष चंद्र बोस आपदा प्रबंधन पुरस्कार की तिथि 30 सितम्बर तक बढ़ी है। भारत सरकार ने आपदा प्रबंधन के क्षेत्र में व्यक्तियों और संस्थानों द्वारा किए उत्कृष्ट कार्यों को मान्यता देने के लिए उक्त पुरस्कार की स्थापना की है। पुरस्कार विजेता संस्था को प्रमाण-पत्र एवं 51 लाख रुपये का नगद पुरस्कार प्राप्त होगा। व्यक्ति के विजेता के होने के साथ 5 लाख रुपये नगद पुरस्कार दिया जाएगा। इच्छुक भारतीय संस्थान एवं भारतीय नागरिक आवेदक www.dmawards.ndma.gov.in ऑनलाइन आवेदन करेंगे। पुरस्कार की घोषणा 23 जनवरी 2022 नेता जी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर की जाएगी। उम्मीदवार द्वारा प्रदान की गई जानकारी गलत पाई जाती है तो तीन साल के लिए अयोग्य घोषित किया जा सकेंगा। विस्तृत जानकारी ऑनलाइन पोर्टल पर जानकारी प्राप्त हो सकेगी।


सफलता की कहानी : जनसुनवाई ने मंशा पूरी की


vidisha news
जनसुनवाई कार्यक्रम में शामिल हुए द्धय दिव्यांगों की मंशा पूरी हुई है उन्हें ट्रायसाइकिल मिल जाने से वे अपने घरों की और खुशी-खुशी रवाना हुए है। दिव्यांग श्री गोविंद सिंह ने तो मीडिया द्वारा पूछे जाने वाले सवालो का जबाव देते हुए कहा कि पहली ही जनसुनवाई में हमारे काम हो जाएंगे ऐसा हमने सोचा नही था जो हो गया हैं कलेक्टर जैसे ही जनसुनवाई के लिए गाडी से उतरे थे ठीक सामने सबसे अस्थिबाधित दिव्यांग गोविंद पर उनकी नजर पडी और उन्होंने संवाद कर समस्या जानी। ठीक इसी प्रकार आगे बढने पर कुर्सी पर बैठे जनपद पंचायत नटेरन में ग्राम बाढेर के दिव्यांग 21 वर्षीय श्री राकेश मेहर ने भी ट्रायसाइकिल दिलाए जाने का अनुरोध किया। दोनो दिव्यांगजनों को जनसुनवाई कार्यक्रम समाप्ति के पहले ही ट्रायसाइकिल मिल जाने से उनके चेहरो पर प्रसन्नता झलक रही थी। विदिशा शहर में श्री बाढ वाले गणेश मंदिर के समीप निवासरत श्री गोविंद सिंह ने कहा कि अब मैं शासन के इस सहारे सीधे अपने घर जाऊंगा, अब मुझे आने जाने के लिए दूसरो के सहारो पर निर्भर नही रहना पडेगा। ठीक ऐसे ही विचार श्री राकेश ने अभिव्यक्त करते हुए शासन प्रशासन को धन्यवाद ज्ञापित किया है।


इमरती लकडी परिवहन करते जप्त


vidisha news
वन विभाग को आज ग्यारसपुर परिक्षेत्र में अवैध इमरती लकडी परिवहन होने की सूचनाएं मुखबिरो से प्राप्त होने पर तत्काल कार्यवाही की गई है। उप वन मण्डलाधिकारी श्री राजीव श्रीवास्तव के मार्गदर्शन में सम्पन्न हुई उपरोक्त कार्यवाही में अवैध रूप से परिवहन हो रही खैर सतकट 26 नग (1.061घनमीटर) को मय वाहन सहित जप्त करने की कार्यवाही की गई है। उप वन मण्डलाधिकारी श्री श्रीवास्तव ने बताया कि सूचना के आधार पर वनरक्षक श्री दीवान सिंह किरार, श्री शोभाराम विश्वकर्मा, श्री संजय मीना, श्री अनुज शर्मा, संगीता अहिरवार, श्री भरत कुमार मिश्रा एवं अन्य वन स्टाप के द्वारा कालापाठा चौराहे के पास सिंघ नदी के समीप एक महेन्द्र पिकअप सफेद रंग की क्रमांक एमपी-67जी-0127 मेक्सिमो में भण्डारित पाए जाने पर एक दो मोटर साइकिल टीव्हीएस स्टार सिटी बी सिल्वर रंग क्रमांक एमपी-40 एमजी- 6032 तथा बजाज सिटी 100 रंग काला लाल क्रमांक एमपी-38 एमक्यू- 0983 वाहन भी मौके पर खडे पाए गए जो आरोपियों द्वारा अपराध करने में उपयोग किए गए थे। पिकअप वाहनचालक इंसाफ पुत्र असफाक खां निवासी बेगम गंज एवं अन्य साथी अनीस पुत्र हनीफ खां, सलमान पुत्र इस्माइल खां , अफसर खां पुत्र अनवर खां ये सभी बेगमगंज के निवासी है इसके अलावा मिहिलाल पुत्र हरचंदी निवासी बरमढी, चतुर्भुज पुत्र देवी सिंह निवासी हिम्मतपुर का आरोपी मानते हुए वन अपराध पंजीबद्ध कर प्रकरण में जप्त वाहन को राजसात करने की कार्यवाही प्रस्तावित की गई है।


वैक्सीनेशन टीम घर पहुंचकर कर रही टीकाकरण


vidisha news
लटेरी अनुविभाग क्षेत्र में शत प्रतिशत टीकाकरण के लक्ष्य प्राप्ति हेतु कोविड 19 टीकाकरण टीम अब घर-घर पहुंचकर चिन्हित शेष बचे नागरिकों का टीकाकरण कर रही है। स्थानीय एसडीएम श्री तन्मय वर्मा के द्वारा आज से की गई अनूठी पहल से ऐसे नागरिक लाभांवित हो रहे है जो अब तक टीकाकरण से वंचित थे। नवाचार के तहत लटेरी अनुविभाग क्षेत्र में 24 मोबाइल टीमो का गठन किया गया है जो निकाय के वार्डो, ग्रामो, बाजार, खेतो पर, पहुंचकर टीकाकरण के अतिआवश्यक कार्य को मूर्तरूप दे रही है। एसडीएम श्री तन्मय वर्मा ने बताया कि टीमो को संबंधित क्षेत्रों में भेजने से पहले बीएलओ, आशा, आंगनबाडी कार्यकर्ता, स्वास्थ्य कार्यकर्ता एवं पंचायत सचिव, पटवारी और अन्य कर्मचारी पहुंचकर ऐसे व्यक्ति का चिन्हांकन पूर्व में कर उनके नियत स्थल पर पहुंचकर टीकाकरण का कार्य कर रही है। गौरतलब हो कि एसडीएम की इस अनूठी पहल से अब तक लटेरी अनुविभाग क्षेत्र में 91 प्रतिशत लोगो का टीकाकरण कार्य किया जा चुका है। टीमवर्क भावना से लक्ष्य प्राप्ति की ओर अग्रसर लटेरी के अनुविभागीय अधिकारी ने आमजनों के साथ-साथ समाजसेवी, पत्रकारो,  धर्मगुरूओं, जनप्रतिनिधियों, व्यापारी संगठनों सहित अन्य के द्वारा इस अभियान में दिए जा रहे सहयोग के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया है।


आयुष्मान भारत पखवाडा का आयोजन जारी


vidisha news
आयुष्मान भारत निरामय योजना के तीन वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में राज्य स्तर से प्राप्त निर्देशो के अनुरूप जिले में आयुष्मान भारत पखवाडे का आयोजन 15 सितम्बर से जारी है जो तीस सितम्बर तक क्रियान्वित किया जाएगा। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एपी सिंह ने बताया कि योजना के अंतर्गत पात्र परिवारो को एक वित्तीय वर्ष में पांच लाख रूपए तक का उपचार निःशुल्क कराने की पात्रता सभी शासकीय एवं शासन द्वारा आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत पंजीकृत निजी अस्पतालो में है। योजना की गुणवत्ता के बारे में एवं लाभ लेने में किसी भी प्रकार की कोई परेशानी तो नही आ रही है इस हेतु लाभार्थियों से भी संवाद किया जा रहा है। जिला मुख्यालय पर 23 सितम्बर को निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया है जिसमें समस्त हितग्राहियों की निःशुल्क जांच, उपचार एवं परामर्श विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा किया जाएगा। जिले में आयुष्मान कार्ड पात्रता हितग्राहियों को बनाने में किसी भी प्रकार की दिक्कतो का सामना ना करना पडे इसके लिए जिले में विशेष पहल की जा रही है। कार्ड बनवाने के लिए हितग्राही अपने आधार कार्ड के साथ सामग्री आईडी या खाद्यान्न पात्रता पर्ची साथ लेकर आवें।

कोई टिप्पणी नहीं: