लायंस क्लब नई दिल्ली अलकनंदा का जन्माष्टमी महामहोत्सव समारोह - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 1 सितंबर 2021

लायंस क्लब नई दिल्ली अलकनंदा का जन्माष्टमी महामहोत्सव समारोह

janmashtami
नई दिल्ली, 1 सितम्बर, लायंस क्लब नई दिल्ली अलकनंदा नेे सैंडल शूट्स, नोएडा में जन्माष्टमी महामहोत्सव भव्य रूप में आयोजित किया। इस अवसर पर लोकनायक भगवान श्रीकृष्ण के जीवन से जुड़ी विभिन्न झांकियां, गीत-संगीत एवं भव्य सांस्कृतिक प्रस्तुतियां की गई। समारोह में  श्री महेन्द्रकुमार धानुका, जनपदपाल लाॅयन अशोक शर्मा, पूर्व जनपदपाल लाॅयन टी. पी. एस. खिल्लन, उप जनपदपाल प्रथम लाॅयन अनिल अरोड़ा, उप जनपदपाल द्वितीय लाॅयन प्रदीप सिंघल, पीआरओ श्री के.के. सचदेवा, रिजनल चेयरमैन लाॅयन श्री इन्द्रजीत सिंह, ड्रिस्टिक सचिव लाॅयन श्री एन.के. गुप्ता, क्लब के अध्यक्ष लाॅयन ललित गर्ग, पूर्व अध्यक्ष हरीश गर्ग, लाॅयन आनंद महेश्वरी, लाॅयन राजेश गुप्ता, लाॅयन अभिषेक जैन, लाॅयन विक्रम राठी, लाॅयन ओ. पी. बाहेती आदि ने प्रभु श्रीकृष्ण के जीवनदर्शन को प्रस्तुत किया। कार्यक्रम के चेयरमैन लाॅयन सुनील कुमार अग्रवाल, को-चेयरमैन लाॅयन हरीश चैधरी ने कार्यक्रम का प्रभावी संचालन किया।


इस अवसर पर लड्डू गोपाल की झांकी, फूलों की वर्षा, छप्पन भोग, डांडिया आदि विविध कार्यक्रम आयोजित हुए। विक्की सुनेजा एण्ड पार्टी ने भगवान श्रीकृष्ण और राधा से जुड़े नृत्य एवं गीत प्रस्तुत किए। क्लब के अध्यक्ष लाॅयन ललित गर्ग ने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण हमारी संस्कृति के एक अद्भुत नायक हैं, उनका जन्मोत्सव मानवजाति में उल्लास और उमंग का संचार करने के साथ-साथ नई मानवता के अभ्युदय का प्रतीक है। क्योंकि उन्होंने मानवजाति को नया जीवन दर्शन दिया है। लाॅयन सुनील कुमार अग्रवाल ने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण की जीवन कथाएं चमत्कारों से भरी हैं। वे ईश्वर हैं पर उससे पहले सफल गुणवान और दिव्यपुरुष हैं। ईश्वर होते हुए भी सबसे ज्यादा मानवीय लगते हैं, इसलिए श्रीकृष्ण को मानवीय भावनाओं, इच्छाओं और कलाओं का प्रतीक माना गया है। ऐसी ही उनकी दिव्य कलाओं एवं जीवन दर्शन को इस समारोह में श्रद्धालुओं और अनुभवी कलाकारों ने प्रस्तुति दी। दीप प्रज्जवलन एवं गणेश वन्दना के साथ समारोह का शुभारंभ हुआ। लाॅयन्स प्रार्थना गौरव गर्ग ने प्रस्तुत की। आभार ज्ञापन लाॅयन अदीप वीर जैन ने किया।

कोई टिप्पणी नहीं: