मधुबनी : डीएम ने जिले के बैंकों को जन समुदाय से जुड़ने का दिया निर्देश - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 26 सितंबर 2021

मधुबनी : डीएम ने जिले के बैंकों को जन समुदाय से जुड़ने का दिया निर्देश

dm-to-bank-conect-with-people
मधुबनी : आज दिनांक 25 सितंबर 2021 को श्री अमित कुमार, भाo प्रo सेo, जिला पदाधिकारी, मधुबनी की अध्यक्षता में बैंकिग मामलों से संबंधित जिला स्तरीय समीक्षा समिति के वित्तीय वर्ष 2020/21 के पहली तिमाही बैठक का आयोजन समाहरणालय के सभा कक्ष में की गई। बैठक के दौरान जिले के साख जमा अनुपात तथा वार्षिक कार्य योजना पर विस्तृत चर्चा की गई।  जिलाधिकारी के समक्ष प्रतिवेदित किया गया कि मधुबनी जिले का साख जमा अनुपात जून तिमाही में 39.21 प्रतिशत रहा जबकि बिहार राज्य का औसत 45.68 प्रतिशत है। इसी प्रकार वार्षिक कार्य योजना के अंतर्गत जून तिमाही में 11.70 प्रतिशत है, जबकि राज्य का औसत 18.49 है।  बैठक में जिलाधिकारी द्वारा वित्तीय समावेशन पर विस्तृत चर्चा करते हुए प्रत्येक ग्रामीण  शाखा को महीने में कम से कम एक बार कैंप लगा कर ग्रामीणों को बैंकिंग सुविधाओं के प्रति जागरूक करने का निर्देश दिया गया। साथ ही स्थानीय वॉटसन स्कूल में विद्यार्थियों को बैंकिंग सुविधाओं की जानकारी देने और छात्रों में वित्तीय जागरूकता पैदा करने के परिप्रेक्ष्य में कार्यक्रम करने का निर्देश दिया । जिससे नई पीढ़ी को बैंकिंग सुविधाओं से जोड़ने की पहल की जा सके।  बैठक में सरकार प्रायोजित ऋण योजना में प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना, स्टैंड अप योजना, प्रधानमंत्री बुनकर ऋण योजना, प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि पर विस्तृत चर्चा की गई। इसके अतिरिक्त किसान क्रेडिट कार्ड एवं इससे संबंधित कार्य जैसे डेयरी, पोल्ट्री, मत्स्य पालन पर भी विचार विमर्श किया गया।  जिलाधिकारी महोदय द्वारा जहां उपलब्धियों के हिसाब से कार्य करने वाले बैंकों की तारीफ की वहीं संतोषजनक प्रगति नहीं करने वाले बैंकों पर नाराजगी भी व्यक्त की गई। उक्त बैठक में श्री विशाल राज, भाo प्रo सेo, उप विकास आयुक्त, मधुबनी, श्री विकास कुमार, एस डी सी, बैंकिंग,  प्रियदर्शी, ए जी एम, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया, सुजीत कुमार, डी पी एम, नाबार्ड के साथ साथ जिले के सभी अग्रणी बैंकों के ब्रांच मैनेजर उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: