आहार से जुड़ा है मन और शरीर का प्रबंधन : डाॅ. बख्शी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 13 सितंबर 2021

आहार से जुड़ा है मन और शरीर का प्रबंधन : डाॅ. बख्शी

  • राष्ट्रीय पोषण माह के अंतर्गत लायंस क्लब नई दिल्ली अलकनंदा का वेबनार

wevinar-on-food-nutrition
नई दिल्ली, 13 सितम्बर, राष्ट्रीय पोषण माह के अंतर्गत लायंस क्लब नई दिल्ली अलकनंदा नेे ‘आहार से मन और शरीर का प्रबंधन’ विषयक वेबनार आयोजित किया, जिसमें आहार से वजन कंट्रोल करने, दिमाग को तेज और याददाश्त को मजबूत बनाने, रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने, चेहरे पर चमक लाने से जुड़े तथ्य सामने आए। विशेषतः डिब्बा बंद फूड्स के प्रति सावधानी बरतने का आह्वान किया गया। खाना बनाते समय विटामिंस कैसे सुरक्षित रखे जाएं, इसकी जानकारी दी गई।


लेडी इरविन काॅलेज की असिस्टेंट प्रोफेसर एवं रजिस्टर्ड डायटिशियन डाॅ. अंजनी बख्शी ने इस वेबनार को प्रमुख वक्ता के रूप में संबोधित करते हुए कहा कि संतुलित आहार एक ऐसा आहार है जिसमें कुछ निश्चित मात्रा और अनुपात में विभिन्न प्रकार के खाद्य पदार्थ होते हैं ताकि कैलोरी, प्रोटीन, खनिज, विटामिन और वैकल्पिक पोषक तत्व पर्याप्त मात्रा में हो और पोषक तत्वों के लिए एक छोटा सा भाग आरक्षित रहे। इसके अलावा संतुलित आहार में बायोएक्टिव फाइटोकेमिकल्स जैसे आहार वाले फाइबर, एंटीऑक्सिडेंट और न्यूट्रास्यूटिकल होना चाहिए जिनसे सकारात्मक स्वास्थ्य लाभ प्राप्त हो सके। उन्होंने खाद्य-पदार्थ गुड़, पालक आदि से जुड़ी अनेक भ्रांतियों का निवारण भी किया। डाॅ. बख्शी ने आगे कहा कि स्वस्थ एवं संतुलित भोजन ऊर्जा को बढ़ाता है, आपके शरीर के कार्यों के तरीके में सुधार करता है, आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है और वजन बढ़ने से रोकता है। उन्होंने मधुमेह के रोगियों के लिए उपवास से बचने की सलाह दी। संतुलित भोजन के साथ-साथ नियमित योग, व्यायाम, ध्यान, प्रातः भ्रमण आदि को उपयोगी बताया।


कार्यक्रम के संयोजक लाॅयन अरविंद शारदा ने डाॅ. बख्शी का स्वागत करते हुए उनका परिचय प्रस्तुत किया। उन्होंने लेडी इरविन काॅलेज के डिपार्टमेंट फूड्स एवं न्यूट्रिशयन एण्ड फूड्स टेक्नोलाॅजी की हेड डाॅ. पुलकित माथुर के प्रति आभार व्यक्त किया। क्लब के अध्यक्ष लाॅयन ललित गर्ग ने कहा कि कोरोना महामारी में सात्विक आहार की उपयोगिता को गहराई से समझा गया है। समूची दुनिया ने आहार की महत्ता और उपयोगिता को समझते हुए भारतीय आहार को अपनाने की ओर कदम उठाये गये हैं। आहार न केवल स्वास्थ्य की दृष्टि से बल्कि विचार की दृष्टि से भी उपयोगी है। कार्यक्रम के सह-संयोजक लाॅयन अदीप वीर जैन, सचिव लाॅयन अभिषेक जैन ने अपने विचार व्यक्त करते हुए इस वेबनार की उपयोगिता को उजागर किया एवं बड़ी संख्या में उपस्थित श्रोताओं के लिए आभार ज्ञापन किया। इस अवसर पर मुख्य वक्ता डाॅ. अंजनी बख्शी के सम्मान में भारतीय डाक एवं तार विभाग द्वारा एक टिकट तैयार किया गया।

कोई टिप्पणी नहीं: