एनएचपीसी विभिन्न राजभाषा कीर्ति पुरस्कारों से सम्मानित - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 15 सितंबर 2021

एनएचपीसी विभिन्न राजभाषा कीर्ति पुरस्कारों से सम्मानित

rajbhasha-purashkar
नई दिल्ली, एनएचपीसी की राजभाषा पत्रिका ‘राजभाषा ज्योति’ को गृह मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा वर्ष 2019-20 के लिए भारत सरकार के सर्वोच्च राजभाषा कीर्ति पुरस्कार (गृह पत्रिका) के अंतर्गत ‘क’ क्षेत्र में प्रथम पुरस्कार प्रदान किया गया है। इसके अतिरिक्त, एनएचपीसी को उत्कृष्ट राजभाषा कार्यान्वयन के लिए राजभाषा कीर्ति पुरस्कार योजना के अंतर्गत द्वितीय पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया है। यह पुरस्कार केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह के कर-कमलों से श्री ए.के. सिंह, सीएमडी, एनएचपीसी ने 14 सितंबर, 2021 को विज्ञान भवन में आयोजित हिंदी दिवस समारोह में ग्रहण किया । इस अवसर पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री श्री नित्यानंद राय, श्री अजय कुमार मिश्रा और श्री निशिथ प्रामाणिक भी उपस्थित थे। साथ ही, वर्ष 2019-20 के लिए उत्कृष्ट लेखों के लिए लेखकों को दिए जाने वाले सर्वोच्च पुरस्कार ‘राजभाषा गौरव पुरस्कार’ के अंतर्गत डॉ. राजबीर सिंह, महाप्रबंधक (राजभाषा) को उनके लेख ‘वेदों में पर्यावरण चेतना’ के लिए पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: