सुरक्षा को मजबूत करने के लिए लैंडिंग सुविधाएं विकसित की जाएंगी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 9 सितंबर 2021

सुरक्षा को मजबूत करने के लिए लैंडिंग सुविधाएं विकसित की जाएंगी

to-build-landing-system-secure
नई दिल्ली, केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री श्री नितिन गडकरी ने कहा है कि देश की सुरक्षा को मजबूत करने के लिए अन्य 19 स्थानों पर आपातकालीन लैंडिंग सुविधाएं विकसित की जाएंगी। श्री गडकरी ने रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह के साथ राजस्थान में राष्ट्रीय राजमार्ग 925ए पर आपातकालीन लैंडिंग सुविधा का उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि यह हाईवे रन-वे रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण सीमाओं की रक्षा कर देश की सुरक्षा को और अधिक मजबूत करेगा। श्री गडकरी ने बताया कि देश में अन्य 19 जगहों पर आपातकालीन लैंडिंग की सुविधा विकसित की जाएगी। इनमें राजस्थान में फलोदी-जैसलमेर सड़क व बाड़मेर-जैसलमेर सड़क, पश्चिम बंगाल में खड़गपुर - बालासोर सड़क, खड़गपुर-क्योंझर सड़क व पानागढ़/केकेडी के पास, तमिलनाडु में चेन्नई, पुडुचेरी सड़क पर, आंध्र प्रदेश में नेल्लोर- ओंगोल सड़क व ओंगोल - चिलकालुरिपेट सड़क पर, हरियाणा में मंडी डबवाली से ओधन सड़क पर, पंजाब में संगरूर के नजदीक, गुजरात में भुज-नलिया सड़क और सूरत-बड़ौदा सड़क पर, जम्मू और कश्मीर के बनिहाल-श्रीनगर सड़क, लेह/न्योमा क्षेत्र में, असम में जोरहाट-बाराघाट सड़क पर, शिवसागर के नजदीक, बागडोगरा-हाशिमारा सड़क पर और असम में हाशिमारा-तेजपुर मार्ग व हाशिमारा-गुवाहाटी सड़क हैं।


मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में विश्वस्तरीय राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण कार्य रिकार्ड गति से किया जा रहा है। उन्होंने आगे कहा कि अब हमारे राष्ट्रीय राजमार्ग भी सेना के काम आएंगे, जो हमारे देश को अधिक सुरक्षित और आपातकालीन स्थितियों के लिए हमेशा तैयार रखेंगे। इस अवसर पर केंद्रीय जल शक्ति मंत्री श्री गजेन्द्र सिंह शेखावत, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत और एयर चीफ मार्शल श्री आर एस भदौरिया भी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: