बिहार : दीनदयाल उपाध्याय के विचारो पर चलकर ही देश का विकास संभव - मोर्चा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 25 सितंबर 2021

बिहार : दीनदयाल उपाध्याय के विचारो पर चलकर ही देश का विकास संभव - मोर्चा

tribute-deen-dayal-upadhyay
पटना 25 सितम्बर, राष्ट्रीय सामाजिक न्याय मोर्चा की ओर से प्रदेश कार्यालय मे मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र चौहान की अध्यक्षता मे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के चिंतक और जनसंघ के अध्यक्ष व कुशल संगठनकर्ता दीनदयाल उपाध्याय की जयंती मनाई गयी। कार्यक्रम का संचालन मोर्चा के प्रधान महासचिव नरेश महतो ने किया। इस अवसर पर मोर्चा के अध्यक्ष श्री चौहान ने कहा कि वे भारतीय जनसंघ के अध्यक्ष रहे और उन्होंने भारत की सनातन विचारधारा को युगानुकूल रूप में प्रस्तुत करते हुए देश को एकात्म मानववाद नामक विचारधारा दी। वे समावेशित विचारधारा के समर्थक थे जो भारत को एक मजबूत और सशक्त राष्ट्र के रुप मे विकास के पथ पर बढते हुये देखना चाहते थे। उनकी नीति,विचारधारा, व उनका आदर्श आज के युवाओं के लिए प्रासंगिक है। आज उनकी जयंती पर राष्ट्रीय सामाजिक न्याय मोर्चा उन्हे श्रद्धांजलि अर्पित करता है। इस अवसर पर मोर्चा के राष्ट्रीय प्रवक्ता नीलमणि पटेल,राष्ट्रीय महासचिव बीनू सिंह,आईटी सेल प्रमुख गौरव पाठक,रवि कुमार,मनीष झा,संजय सिंह,गणेश यादव,विमलानंद झा,मनोज कुमार आदि ने उन्हे श्रद्धांजलि अर्पित किया।

कोई टिप्पणी नहीं: