कांग्रेस विधायक राजकुमार की भाजपा में वापसी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 12 सितंबर 2021

कांग्रेस विधायक राजकुमार की भाजपा में वापसी

congress-mla-rajkumar-join-bjp-uttrakhand
देहरादून, 12 सितंबर, उत्तराखंड के पुरोला से कांग्रेस विधायक राजकुमार रविवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गए। राज्य में विधानसभा चुनाव से पहले राजकुमार की भाजपा में हुई वापसी से कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। एक सप्ताह के भीतर भाजपा में शामिल होने वाले राजकुमार उत्तराखंड के दूसरे विधायक हैं। इससे पहले कांग्रेस के समर्थन से जीते निर्दलीय विधायक प्रीतम सिंह पंवार भी भाजपा में शामिल हो चुके हैं। भाजपा सूत्रों ने यहां बताया कि नई दिल्ली में एक कार्यक्रम में केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और भाजपा की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष मदन कौशिक की मौजूदगी में राजकुमार को भाजपा की सदस्यता ग्रहण कराई गई।


विधानसभा में कांग्रेस अब इकाई के अंक पर आ गई है और विधानसभा चुनाव से पहले इसे उसके लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है। प्रदेश विधानसभा में 70 सीटें हैं। भाजपा प्रवक्ता अनिल बलूनी ने राजकुमार की वापसी का स्वागत करते हुए कहा कि उनके आने से पार्टी मजबूत होगी। कौशिक ने कहा कि राजकुमार पूरे प्रदेश में अनु​सूचित जाति वर्ग में बहुत लोकप्रिय हैं और उम्मीद है कि भाजपा में शामिल होने से उनकी लोकप्रियता का लाभ पार्टी को मिलेगा। मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि राजकुमार ने हमेशा शोषितों, वंचितों, दलितों और गरीबों के लिए काम किया है तथा अब वह ‘‘भाजपा के राजकुमार’’ हो गए हैं । वहीं, इस मौके पर राजकुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों से प्रभावित होकर वह भाजपा में वापस आए हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मैं अनुसूचित वर्ग से हूं। भाजपा की नीतियां ऐसी हैं कि वह अनुसूचित वर्ग के लोगों को स्वावलंबी बना रही है जबकि कांग्रेस ने आजादी के बाद से अनुसूचित वर्ग के लोगों को पंगु बनाकर रखा।’’ वर्तमान में उत्तरकाशी जिले की पुरोला सीट से विधायक राजकुमार देहरादून जिले की सहसपुर सीट से भी 2007-12 तक विधायक रह चुके हैं। हालांकि, 2012 में पुरोला से भाजपा का टिकट न मिलने पर उन्होंने निर्दलीय के रूप में चुनाव लड़ा था, लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा। वर्ष 2017 में वह कांग्रेस के टिकट पर पुरोला से जीतकर विधानसभा में पहुंचे।

कोई टिप्पणी नहीं: