हत्थे चढ़ा नाइजेरियन 12 करोड़ की हेरोइन बरामद - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 27 सितंबर 2021

हत्थे चढ़ा नाइजेरियन 12 करोड़ की हेरोइन बरामद

nigerien-arrested-with-heroine
नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में एक बार फिर थाना मोहन गार्डन पुलिस के हत्थे चढ़ा एक नाइजेरियन जिसके कब्ज़े से भारी मात्रा में ड्रग्स बरामद हुई।दरसल थाना मोहन गार्डन इलाके के अंतर्गत कई विदेशी(अफ्रीकी) लोग रहते है जिसके लिये पुलिस को नशीले दवाओं की तस्करी की रोकथाम ओर उनके प्रवास  के दस्तावेजो के सत्यापन के लिए निर्देश दिए गए इसलिये पुलिस द्वारा भारत मे रहने के लिए वेद्य वीज़ा,ओर पासपोर्ट की जांच करने  के लिये एक अभियान चलाया गया। 22.09.21 को, इस तरह के सत्यापन अभियान के दौरान, पुलिस टीम को एक नाइजीरियाई ड्रग पेडलर को पकड़ने में सफलता मिली, जो इसे अपने लैपटॉप बैग में ले जा रहा था। घटना उस वक्त की है जब मोहन गार्डन थानाध्यक्ष राजेश कुमार मौर्य ने एक टीम गठित की जिसमे एस आई मनोज, कांस्टेबल अश्विनी,कांस्टेबल,संदीप,कास्टेबल अजय,व कांस्टेबल संदीप कुमार थे जिन्हें , मकान नं. 149, गली नं. 36, विपिन गार्डन एक्सटेंशन में रहने वाले एक अफ़्रीकी अरिस्ताइड कुयो के वीज़ा दस्तावेजों को सत्यापित करने का कार्य सौंपा गया था। एएसआई मनोज की टीम के साथ 22.09.21 को शाम करीब 6.45 बजे उनके घर पहुंचे और वहां उक्त नाइजीरियन को निवास करते हुए पाया जिसका वीजा समाप्त हो गया था। इसी बीच टीम ने एक अन्य नाइजीरियाई को अपने कंधे पर काले रंग का लैपटॉप बैग लिए हुए उसी इमारत में प्रवेश करते देखा।  जिसपर शक होने पर उसकी तलाशी ली गई तो बैग में नशीला पदार्थ मिला।  जिसकी पहचान  फ़्रांसिस ओगाडिंमा इरोएग्बू पुत्र क्रिस्चन् निवासी  18 अजेगुनले स्ट्रीट , ओशोदी लागोस, नाइजीरिया के रूप में की गई ।  इसके ख़िलाफ़ एनडीपीएस अधिनियम  तहत कार्यवाही की गई उसके कब्जे से 1.7 किलोग्राम हेरोइन की बरामद की गई।   इस मामले के अन्य पहलुओं की जांच के लिए आरोपी फ्रांसिस ओगादिन्मा इरोएग्बू को 2 दिन के पीसी रिमांड पर  भी लिया गया था। वही नाइजीरियाई नागरिक अरिस्टाइड कुयो को निर्वासन के लिए एफआरआरओ के माध्यम से हिरासत  में भेज दिया गया है। जहां उसके ऊपर भी गैरकानूनी तरह से भारत मे रहने के लिये कार्यवाही की जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं: