बीजेपी ने सर फोड़ने देने वाले पदाधिकारी से कन्नी काटा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 1 सितंबर 2021

बीजेपी ने सर फोड़ने देने वाले पदाधिकारी से कन्नी काटा

rakesh-sinha-on-karnal-sdm
नई दिल्ली : हरियाणा के करनाल में किसानों पर लाठीचार्ज और SDM आयुष सिन्हा के ‘सिर फोड़ देना’ वाले वायरल वीडियो के बाद इस बात की चर्चा तेज हो गई है कि वह भाजपा के राज्यसभा सांसद राकेश सिन्हा के रिश्तेदार हैं। इसी वजह से उन पर कार्रवाई नहीं हो रही है। इसी कड़ी में अब भाजपा राज्यसभा सांसद राकेश सिन्हा ने अपनी सफाई प्रस्तुत की है। राकेश सिन्हा ने कहा है कि उनका आयुष से कोई दूर-दूर तक संबंध नहीं है। इस तरह की अफवाह फैलाने वालों पर कानूनी कार्रवाई होना चाहिए। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि आयुष का नाम को लेकर उन्हें दुष्प्रचार के तहत निशाना बनाया जा रहा है। राकेश सिन्हा ने ट्विटर पर ऐसे सभी लोगों के खिलाफ मानहानि और आपराधिक मुकदमा दायर करने की बात कही है। राकेश सिन्हा ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘एक दुष्प्रचार के तहत करनाल के SDM आयुष सिन्हा को मुझसे जोड़ा जा रहा है। उसका मेरे परिवार से दूर-दूर का कोई संबंध नहीं है और न ही परिचय है। जिन लोगों ने ट्वीट किया है, वे इसे डिलीट करें और माफी मांगे अन्यथा उनके खिलाफ मानहानि और आपराधिक मुकदमा किया जाएगा।’ साथ ही राकेश सिन्हा ने कुछ लोगों का ट्वीट भी शेयर किया था जिन्होंने ऐसा दावा किया था। जानकारी हो कि आयुष सिन्हा ने यूपीएससी सीएसई 2017 में AIR 7 रैंक प्राप्त की थी। इसी के साथ उनका आईएएस बनने का सपना भी पूरा हो गया था। वहीं, उनके पिता भी वन विभाग में ऑफिसर हैं। उनकी मां कॉलेज में प्रोफेसर हैं। आयुष इससे पहले भी एक बार यूपीएससी क्लियर कर चुके थे, लेकिन इसमें उन्हें रैंक के आधार पर IRS मिला था, जिसके बाद उन्होंने दोबारा एग्जाम देने का फैसला किया था।

कोई टिप्पणी नहीं: