‘आजादी का अमृत महोत्सव’ तथा ‘गाँधी जयंती’ के सन्देश को लेकर जत्था रवाना - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 22 सितंबर 2021

‘आजादी का अमृत महोत्सव’ तथा ‘गाँधी जयंती’ के सन्देश को लेकर जत्था रवाना

team-depart-for-gandhi-jayanti-massege
पटना : 22 सितम्बर, ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ तथा ‘गाँधी जयंती’ के सन्देश को लेकर आज पटना से 30 सदस्यीय साइकिल सवारों का दल तथा 09 सदस्यीय महिला सांस्कृतिक जत्था अपने दस दिवसीय साइकिल जागरूकता महाअभियान पर निकलाI  इस दल को पटना की मेयर सीता साहू, एन.सी.सी. निदेशालय बिहार-झारखण्ड के अपरमहानिदेशक मेजर जनरल एम. इन्द्रबालन,  रेलवे के अधिकारी चेतनानंद, और मुजफ्फरपुर एन.सी.सी. ग्रुप के ग्रुपसमादेष्टा ब्रिगेडियर नेगी, जे.डी. विमेंस कॉलेज के सम्बद्ध एन.सी.सी. पदाधिकारी ले.डॉ.कुमारी सीमा, एन.एस.एस. की कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ. हीना रानी तथा एन.सी.सी उड़ान के अध्यक्ष सह-कम्युनिटी ट्रैफिक पुलिस बिहार के संयोजक धीरज कुमार ने गाँधी संग्रहालय स्थित गाँधीजी की प्रतिमा से जागरूकता अभियान के लिए रवाना किया l इसके पूर्व गाँधी संग्रहालय में नुक्कड़ नाटक के माध्यम से गाँधी जी के सम्पूर्ण जीवन का चित्रण किया गया l  साइकिल एवं सांस्कृतिक दल के यात्रा का उद्देश्य मार्ग में पड़ने वाले विभिन्न शैक्षिक संस्थानों में नुक्कड़ नाटक के माध्यम से गाँधी जी के विचारधारा को पुनः मानस पटल पर लाना एवं स्वतंत्रता संग्राम में चम्पारण की महत्ता को पुनः जीवित करना है  l


एन.सी.सी. निदेशालय बिहार एवं झारखण्ड के अपरमहानिदेशक मेजर जनरल एम. इन्द्र बलान ने इस मौके पर उम्मीद जताया कि इस दसदिवसीय साहसिक अभियान से राष्ट्रीय एकता और अखंडता, राष्ट्रीय संस्कृति,  राष्ट्र के प्रति सम्मान तथा भारतीयता का गौरव बढ़ने में यह जत्था सफल होगा lउन्होंने कहा कि गांधीजी के सत्याग्रह आंदोलन की शुरुआत जिस जगह से हुई थी, उसके दर्शन मात्र से हम अपने जीवन को सफल मानते है l यह जत्था कुल  600  किलोमीटर से अधिक की अपनी सड़क यात्रा के क्रम में पटना , सारण , सिवान , अरेराज , चनपटिया से होते हुए गाँधी आश्रम भितिहरवा पहुंचेंगे और दूसरे मार्ग मोतिहारी, मुजफ्फरपुर वैशाली से होते हुए 02 अक्टूबर को पटना वापस होगें। इस अवसर पर पटना की मेयर सीता साहू ने कहा कि ‘आज़ादी के अमृत महोत्सव’ में गाँधी जी के विचारधारा को आप सभी ने  पुनः जीवित करने का जो प्रण लिया है, वह सराहनीय है l प्रधानमंत्री के ‘लोकल फॉर वोकल’ के आह्वान के तहत स्वदेशी मूवमेंट साइकोलोथन का आयोजन एक मिसाल के रूप में रहेगा l  जे.डी.वूमेंस कॉलेज के सम्बद्ध एन.सी.सी. पदाधिकारी ले.डॉ.कुमारी सीमा ने कहा कि गांधी जी के आदर्शो को पुनर्जीवित करते हुए अपने जीवन में उतार कर हम एक स्वस्थ समाज की स्थापना कर सकते है और विश्वपटल पर अपने देश को स्थापित कर सकते है। उन्होंने ख़ुशी जाहिर करते हुए कहा कि जे. डी. वूमेंस कॉलेज की लड़कियां इस अभियान का हिस्सा हैं और मुझे पूर्ण विश्वास है कि ये अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए  02 अक्टूबर को सकुशल पटना लौटेंगी।  एन.सी.सी उड़ान के अध्यक्ष सह-कम्युनिटी ट्रैफिक पुलिस, बिहार के संयोजक धीरज कुमार ने कहा कि यह सम्पूर्ण कार्यक्रम एन.सी.सी. निदेशालय बिहार-झारखण्ड, इंडियन रेड क्रॉस, एन.सी.सी. मुजफ्फरपुर ग्रुप, सोबिस्को एवं जे०डी वूमेंस कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित की गयी है l इस अभियान से कैडेटों में आत्मविश्वास, नेतृत्व क्षमता के गुण और अनुशासन की भावना विकसित होगी। सांस्कृतिक दल में जे.डी. वूमेंस कॉलेज की एन.एस.एस. की छात्रा गुड़िया कुमारी, श्रेया कुमारी, मुस्कान कुमारी तथा हीना कुमारी एवं एन.सी.सी. की छोटी कुमारी, अतिति सेन, अंशु कुमारी, सोनी कुमारी तथा सुमन आदि शामिल है l  

कोई टिप्पणी नहीं: