सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 28 अक्टूबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 28 अक्तूबर 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 28 अक्टूबर

अज्ञात कारणों से ग्रामीण के मकान में लगी आग, लाखों का नुकसान, ग्रामीणों की तत्परता से टला बड़ा हादसा, गांवों में फैल सकती थी आग की लपटें


sehore news
सीहोर। जिला मुख्यालय के समीपस्थ ग्राम बमूलिया बड़ा में एक किसान के ग्वाड़े मेें अज्ञात कारणों से आग लग गई जिससे किसान परिवार को लाखों रुपये का नुकसान हुआ है। पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसाार ग्राम बमूलिया बड़ा निवासी राकेश परमार पिता हेमराज परमार का पूरा परिवार 21 अक्टूबर की रात्रि को पास ही में दुर्गा पूजन में शामिल होने के लिए गया हुआ था। तभी अचानक से राकेश परमार के मकान की ओर से आग की लपटें दिखाई दी और सभी ग्रामीण पीडि़त परिवार वहां पहुंचे तो देखा की उनके ग्वाड़े में आग लग गई है। तत्काल मौके पर उपस्थित ग्रामीण आग बुझाने का प्रयास करने लगे। साथ ही डायल 100 एवं फायर विग्रेड को भी सूचित किया गया। फायर बिग्रेड पहुंचने तक ग्रामीणों की तत्परता से आग पर काबू पा लिया गया था। जिससे गांव के किसी अन्य मकान में आग नहीं पहुंच सकी।   राकेश परमार द्वारा आगजनी की रिपोर्ट थाना कोतवाली में दर्ज कराई गई साथ ही पटवारी, ग्राम सरपंच द्वारा मौके पर पहुंचकर मुआयना कर पंचनामा बनाया गया। राकेश परमार ने बताया कि अज्ञात कारणों से लगी आग से उनका सामान 8 बोरी डीएपी, 12 बोरी युरिया, 4 क्वींटल सोयाबीन, दवाई सिचाई स्प्रे पंप, साईकिल, 10 पाईप, 2-3 वर्वीटल भूसा, फुटबाल इंजिल 30 फिट एवं घर में रखी मोटर साईकिल बजाज प्लेटिना क्र. एमपी-37-एमएक्स-7780 एवं कृषि का अन्य सामान व घर में रखा सामान जल गया है मोटर साईकिल में आग लगने से गाड़ी की सीट, मास्क, आगे की हेड लाईट, दोनो साईड मिस्र, दोनो तरफ के पेनल, मरघाट, पेट्रोल टंकी जल गई है।


श्री कार्तिक शिव महापुराण कथा में मनाया गणेश उत्सव, धैर्य हो तो समस्याएं अपने आप सुलझ जाती हैं-भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा


sehore news
सीहोर। धैर्यवान होना सरल काम नहीं है। यह कहना भी शायद गलत न हो कि आज की दुनिया में धैर्यवान बनना सबसे कठिन काम है। धैर्यवान होना विशेषता है व इसे विकसित होना चाहिए। धैर्यवान बनने के लिए अभ्यस्त होना भी सरल काम नहीं है लेकिन जो लोग धैर्यवान होते हैं उन्हें विभिन्न मार्गो से इसका फल मिलता है। भगवान के भक्तों को संसार के लोग विचलित करते है। इसलिए भक्तों की परीक्षा उनके धैर्य पर निर्भर है। उक्त विचार जिला मुख्यालय के समीपस्थ चितावलिया हेमा स्थित निर्माणाधीन मुरली मनोहर एवं कुबेरेश्वर महादेव मंदिर में जारी श्री कार्तिक शिव महापुराण कथा के चौथे दिवस भागवत भूषण पंडित श्री मिश्रा ने कही। इस मौके पर उन्होंने धैर्य के बारे में भगवान बुद्ध के शिष्यों का उदाहरण देते हुए कहा कि भगवान बुद्ध अपने शिष्यों के साथ एक वन से गुजर रहे थे। तपती दोपहरी थी। गर्मी और लंबी यात्रा से वे थक गए थे। उन्हें जोरों की प्यास भी लगी थी। बुद्ध एक छायादार पेड़ के नीचे रुक गए और उन्होंने शिष्य आनंद से कहा, अभी कुछ देर पहले हमने मार्ग में एक झरना देखा था। जाओ और वहां से पानी ले आओ, जोरों की प्यास लगी है। आनंद गए, मगर वह झरना बहुत छोटा था और थोड़ी देर पहले ही वहां से कुछ जानवर गुजरे थे, जिससे ठहरा हुआ पानी हिल गया था और कीचड़ नीचे से ऊपर आ गया था। पानी पीने लायक नहीं रह गया था। आनंद लौटकर बुद्ध के पास आए और कहा, जानवरों के झुंड के वहां से गुजरने से पानी गंदा हो गया है, वह पीने लायक नहीं है। अगर आप आज्ञा दें तो यहां से कुछ दूरी पर एक नदी है, वहां से जल लेकर आता हूं। बुद्ध ने कहा, उसी झरने पर एक बार फिर जाओ। बुद्ध का आदेश पाकर आनंद को फिर वहीं जाना पड़ा, हालांकि उसका मन नहीं था। वह जानते थे कि पानी गंदा ही होगा, पर बुद्ध की आज्ञा का भी पालन करना था। पहले की ही तरह गंदा पानी देखकर वह वापस लौट आए और बुद्ध से बोले, मैंने पहले ही कहा था कि वह पानी पीने योग्य नहीं है। बुद्ध मुस्कुराए और उन्होंने कहा, एक बार फिर वहीं जाकर देखो तो आनंद, शायद साफ पानी मिल जाए। आनंद तीसरी बार झरने पर पहुंचे। उनके आश्चर्य का ठिकाना न रहा, पानी पूरी तरह साफ हो गया था। वह पानी लेकर खुशी-खुशी वापस लौटे और बुद्ध के चरणों में गिर पड़े उन्होंने कहा, आपने आज फिर मुझे एक बहुत बड़ी सीख दी। कुछ भी स्थायी नहीं है, सिर्फ धैर्य चाहिए। विठलेश सेवा समिति के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि महापुराण दोपहर दो बजे से पांच बजे तक जारी रहती है, शुक्रवार को भगवान श्रीगणेश की बाललीलाओं के अलावा कार्तिक महत्व का वर्णन किया जाएगा। 


मध्यप्रदेश प्रीमियर लीग फुटबाल प्रतियोगिता आज खेला जाएगा पहला मैच नीमच और सीहोर के मध्य


sehore news
सीहोर। शहर के चर्च मैदान पर खेली जा रही मध्यप्रदेश प्रीमियर लीग फुटबाल प्रतियोगिता  का आयोजन किया जा रहा है। शुक्रवार को प्रतियोगिता के अंतर्गत सुबह पहला मैच नीमच और सीहोर फुटबाल टीम के मध्य खेला जाएगा। इसके पश्चात दोपहर में दूसरा एक अन्य मैच बालाघाट और रतलाम के बीच खेला जाएगा। गुरुवार को आराम का दिन होने के बाद भी सीहोर सहित अन्य टीमों के खिलाडिय़ों ने जमकर अभ्यास किया। इस संबंध में जानकारी देते हुए जिला फुटबाल एसोसिएशन के उपाध्यक्ष सुदीप व्यास ने बताया कि मध्यप्रदेश प्रीमियर लीग फुटबाल प्रतियोगिता का तीसरा चरण सुपर लीग के मध्य पहुंच गया है। अब तक चारों टीम ने पिछले दो चरणों में कड़े मुकाबलों में विजय हासिल कर तीसरे चरण में प्रवेश किया है और सुपर लीग में मात्र चार टीम बालाघाट, नीमच, रतराम और सीहोर शामिल है। अब तक सुपर लीग में नीमच और सीहोर ने एक-एक मैच में जीत हासिल कर अब तक तीन-तीन पाइंट हासिल किए है। वहीं सीहोर टीम के स्टार खिलाड़ी भी अब तक अर्जुन गौतम है। जिन्होंने अब तक 14 गोल किए है, वहीं दूसरे नंबर पर अनुभवी युवा खिलाड़ी नीमच के शुभम माने है जिन्होंने अब तक नौ गोल मारकर जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए विषम परिस्थितियों में अपनी टीम को विजय दिलाई है।


सीहोर के खिलाडिय़ों में जोश

उन्होंने बताया कि सीहोर टीम में जोश तो है, लेकिन कई स्टार खिलाड़ी अब तक के सफर में चोटों से जुझ रहे है, जिसके कारण सीहोर टीम को नीमच के खिलाफ के शानदार प्रदर्शन करना पड़ेगा। सुपर लीग का एक-एक मुकाबला कांटे का है और अब तक चारों ही टीम के खिलाडिय़ों ने शानदार खेल का प्रदर्शन किया है। इसके अलावा बालाघाट की टीम ने भी कई मैच बड़े अंतराल से जीतकर प्रतियोगिता में अपना स्थान पक्का किया है। इस प्रतियोगिता में प्रदेश की कुल एक दर्जन टीम शामिल हुई थी। 


कलेक्टर श्री ठाकुर देवपुरा पहुंचे, ग्रामीणों से की चर्चा


कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने इछावर के देवपुरा पहुंचे। श्री ठाकुर ने यहां ग्रामीणों से चर्चाकर उनकी समस्याएं सुनी। इस अवसर पर एसपी श्री मयंक अवस्थी, इछावर एसडीएम श्री विष्णुप्रसाद यादव सहित अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।


अन्याय के विरुद्ध आवाज जरूर उठाएं -  सचिव श्री दांगी

  • ग्राम उलझावन में आयोजित हुआ जागरूकता शिविर

sehore news
विधिक सेवा प्राधिकरण तथा प्रधान जिला न्यायाधीश श्री आरएन चंद निर्देश पर आजादी का अमृत महोत्सव अंतर्गत ‘‘पेन इंडिया अवेयरनेस कार्यक्रम‘‘ के तहत विधिक जागरूकता के उद्देश्य से ग्राम उलझावन के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में जागरूकता शिविर आयोजित किया गया। शिविर में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री मुकेश कुमार दांगी ने शिविर में शामिल विद्यार्थियों, शिक्षकों, ग्रामीणों एवं वर्चुअल माध्यम से जुड़े 52 ग्राम पंचायतों के सरपंच, सचिवों तथा ग्रामीणों को जानकारी देते हुए कहा कि घर-घर, गांव-गांव तक जाकर कानून की जानकारी दे रहे हैं, इसका मकसद सिर्फ एक है, कि ग्रामों में बसने वाली असंख्य आबादी जागरूक हो। न्यायाधीश ने कहा कि अगर हम कुछ गलत होते देखते हैं या होने देते हैं तो हम गलत का साथ दे रहे होते हैं, हमारी नैतिक जिम्मेदारी है कि गलत का विरोध करें, कहीं किसी के साथ या हमारे साथ अन्याय होता है तो उसका विरोध अवश्य करें। अन्याय का विरोध करने वाले लोग बहादुर होते हैं। महिलाओं एवं बालिकाओं के संरक्षण संबंधी कानूनों की जानकारी देते हुए कहा कि अगर बालिकाओं एवं महिलाओं के साथ कोई अपराध होता है तो उसे छिपाएं नहीं सामने आकर अपने माता-पिता, शिक्षक या मित्र के माध्यम से उसकी शिकायत अवश्य करें, छोटी-मोटी घटनाएं छिपाने से अपराधी प्रवृति के लोगों का मनोबल बड़ता है और वे किसी बड़ी घटना को अंजाम दे सकते हैं, इसलिए जागरूक रहें, क्योंकि जागरूकता ही बचाव है। शिविर में म.प्र. अपराध पीड़ित प्रतिकर योजना, मध्यस्थता योजना एवं नेशनल लोक अदालत, वृहदजन भरण पोषण योजना के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री अनीस उद्दीन अब्बासी कहा कि प्राधिकरण का मूल उद्देश्य एवं कार्य है कि गरीब एवं निर्धन व्यक्ति को निःशुल्क एवं सुलभ न्याय मिले, प्राधिकरण हर वर्ग को निःशुल्क विधिक परामर्श देने के लिए तत्पर है और उसी उद्देश्य की पूर्ति के लिए गांव-गांव जाकर आमजन को योजनाओं की जानकारी दी।


आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश निर्माण अंतर्गत रोजगार मेला आज


कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर द्वारा दिए गये निर्देशानुसार आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश निर्माण के अंतर्गत जिला रोजगार कार्यालय द्वारा जिले के विभिन्न स्थानों पर निरन्तर रोजगार मेले का आयोजन किया जारा है। इसी श्रृखला में 29 अक्टूबर को चन्द्रशेखर आजाद शासकीय स्नातकोत्तर अग्रणी महाविद्यालय सीहोर में प्रातः 12 बजे से रोजगार मेला आयोजित किया जाएगा। मेले में अपने शैक्षणिक योग्यता के समस्त प्रमाण पत्रों सहित उपस्थित होंवे।


कृषि उपज मंडी में 2 नवम्बर से 7 नवम्बर तक कृषि उपजों की नीलामी बंद रहेगी


ग्रेन मर्चेन्ट एसोसिएशन द्वारा 2 नवम्बर से 6 नवम्बर तक अवकाश की सूचना एवं 7 नवम्बर को रविवार होने के कारण कृषि उपज मंडी में दीपाली त्यौहार होने के कारण 2 नवम्बर से 7 नवम्बर तक कृषि उपजों एवं लहसुन-प्याज का नीलामी नही होगी। किसानों से आग्रह है कि 2 नवम्वर से 7 नवम्वर तक कृषि मंडी में अपनी उपज लेकर ना आए। सोमवार 8 नवम्बर को नियमित रूप से निलामी होगी।


जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला, वर्तमान में कोरोना एक्टिव पॉजिटिव की संख्या शून्य


पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10142  है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10020  हैं। आज 700 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 185, श्यामपुर से 141, नसरूल्लागंज 40, आष्टा से 197,  बुधनी से 75 तथा इछावर से 62 सेंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 286444 हैं। जिनमें से 274633 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 706 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1598 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।


दीप पर्व पर मिट्टी के दीयों के उपयोग को बढावा दें-कलेक्टर


कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने आगामी दीप पर्व पर मिट्टी के दीयों का अधिक से अधिक उपयोग को बढावा देने की अपील की है। कलेक्टर श्री भार्गव इस संबंध में एक आदेश जारी कर निर्देश दिये गये है कि मिट्टी के बने दीयों को विक्रय किये जाने के लिए बाजार में आने वाले इस कार्य में लगे लोगों एवं ग्रामीणों को किसी प्रकार की असुविधा नही होनी चाहिए। कलेक्टर श्री ठाकुर ने वोकल फॉर लोकल के संकल्प के तहत लोकल उत्पादों को बढ़ावा देने के संबंध में जारी आदेश में कहा गया है कि नगरीय निकाय एवं ग्राम पंचायते मिट्टी से बने दीये बनाने के कार्य में लगे कारीगरों से किसी भी प्रकार की वसूली ना करें। साथ ही मिट्टी के दीये के उपयोग को अधिकाधिक प्रोत्साहित किया जावे।


स्टॉक का लेखा एवं अन्य अभिलेखों की जानकारी दर्ज करने के निर्देश


खादय तेलों के भावों में वृद्धि को दृष्टिगत रखते हुए इनके उत्पादन, आपूर्ति एवं वितरण में सम्मिलित रिफाइनरों, सॉल्वैट एक्सट्रेक्टर, मिलर, थोक व्यापारियों तथा अन्य संग्रहणकर्ताओं के स्टॉक का लेखा एवं अन्य अभिलेखो की जानकारी प्राप्त किए जाने के लिए भारत सरकार दवारा तैयार लिंक https://evegolls.inc.in/eosp/login पर प्रदेश के खादय तेल एवं तिलहनों से संबंधितों द्वारा नियमित रूप से जानकारी की प्रविष्टि होना सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए हैं। जिले के खाद्य तेलों एवं तिलहनों के सभी रिफाइनरों, सॉल्वेंट एक्सट्रेक्टर, मिलर, थोक व्यापारियों तथा अन्य संग्रहणकर्ताओं के स्टॉक का लेखा एवं अन्य अभिलेखों की जानकारी भारत सरकार द्वारा तैयार लिंक https://evegolls.inc.in/eosp/login. पर नियमित रूप से दर्ज होना सुनिश्चित करें।


स्वयंसेवकों ने चलाया स्वच्छता अभियान


sehore news

चंद्रशेखर आजाद स्नातकोत्तर अग्रणी महाविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना ईकाई द्वारा वैशाली नगर में स्वच्छ भारत कार्यक्रम के तहत सिंगल यूज प्लास्टिक 30 किलो को एकत्रित कर नगर पालिका की गाड़ी को सौंपा। वैशाली नगर के नागरिकों ने स्वयंसेवकों द्वारा चलाए जा रहें स्वच्छता अभियान की सराहना की। इस अवसर पर  राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवक उपस्थित थे।




एनआईएमएचआर में सामाजिक न्याय विभाग द्वारा आयोजित प्रशिक्षण


sehore news
एनआईएमएचआर मैं संचालित डीवीआर डी कोर्स के 16 छात्र एवं छात्राओं को जिला विकलांग पुनर्वास केंद्र में प्रशिक्षण आयोजित किया जा रहा है। सामाजिक न्याय एवं निशक्तजन कल्याण विभाग के उपसंचालक डॉ. श्रवण कुमार पचौरी ने प्रशिक्षणार्थियों को सामाजिक न्याय निशक्तजन कल्याण की योजनाओं एवं विभाग के बारे में जानकारी दी। केन्द्र में दिव्यांगता के क्षेत्र में ट्रेनिंग दी जा रही है। साथ ही जिला विकलांग पुनर्वास केंद्र में हो रहे कार्यों का भी निरीक्षण भी किया। 


फटाखा दुकानों का तहसीलदार द्वारा निरीक्षण।


कलेक्टर श्री चंद्र मोहन ठाकुर ने जिले के सभी अनुविभागीय अधिकारी एवं तहसीलदारों को निदेश दिए है कि जिले में संचालित सभी फटाखा दुकानों का निरीक्षण करें और शासन नियामानुसार सभी व्यवस्थाए सुनिश्चित करें। नगर में संचालित सभी फटाखा दुकानो का निरीक्षण कर नगर पालिका, को निर्देश दिए है की की फटाखा दुकानों के पास फायरब्रगेंड 24 धंटें खडी रहे और शासन के दिशा निर्देशानुसार सभी व्यवास्थाए सुनिश्चित कराए। वही दुकानदारों को सख्त निर्देश देवे की कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन पुरी गंभीरता से करें बिना मास्क के ग्राहको को सामग्री प्रदाय नही करें। तहसीलदार के साथ अन्य संबधित अधिकारी भी उपस्थित थे


कलेक्ट्रेट परिसर में सांची पार्लर का सीईओ जिला पंचायत द्वारा शुभारंभ


कलेक्टर श्री चंद्र मोहन ठाकुर के निर्देश पर भोपाल सहकारी दुग्ध संघ मर्यादित द्वारा कलेक्ट्रेट परिसर में सांची पार्लर का शुभारंभ मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत द्वारा किया गया। इस कार्य के लिए भोपाल सहकारी दुग्ध संघ के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री आर. पी. एस. तिवारी, सहायक महाप्रबंधक (विपणन) श्री अजय शाह, सीहोर जिला नोडल अधिकारी श्री कृपाल सिंह दुगारिया के विशेष प्रयास से सांची पार्लर का शुभारंभ हुआ।


आबकारी विभाग द्वारा छापामार कार्रवाई कर अवैध मदिरा जप्त


sehore news
जिले में अवैध मदिरा के विरुद्ध कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर के निर्देशन पर आबकारी विभाग द्वारा लगातार कार्यवाही की जा रही है। आबकारी अधिकारी कीर्ति दुबे ने बताया कि अवैध मदिरा संग्रहण, विक्रय, एवं विनिर्माण के विरूद सघन अभियान के तहत निरंतर छापामार कार्यवाही की जा रही है। अभियान के तहत आबकारी अमले ने सीहोर के ग्राम झरखेड़ा तह इछावर के जगमोहन कोरकू S/O नर सिंह के  कब्जे से 05 लीटर हाथभट्टी व  इन्ही क्षेत्रो में नाले के किनारे व झाड़ियो से ड्रमों व कुप्पों एवं ललियाखेड़ी, जरखेड़ा  व दूदलइ क्षेत्र में की गई छापामार कार्यवाही में टीम ने 27 अक्टूबर को  4 प्रकरण कायम कर 15 लीटर मदिरा जप्त कर कार्रवाई करते हुए हाथ भटटी, कच्ची मदिरा एवं 490 किलो महुआ लाहन बरामद कर मध्यप्रदेश आबकारी अधिनियम-1915 की धारा 34(1) (क)  एवं (च) के तहत प्रकरण कायम कर विवेचना में लिया। जप्त सामाग्री का अनुमानित बाजार मूल्य लगभग  27हजार 500 रूपये है। विभाग द्वारा अवैध मदिरा के विरूद निरंतर अभियान जारी रहेगा।


आरटीई के तहत स्कूलों में नि:शुल्क प्रवेश हेतु द्वितीय चरण की काउंसलिंग प्रक्रिया शुक्रवार से


शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अन्तर्गत गैर अनुदान मान्यता प्राप्त अशासकीय स्कूलों में शैक्षणिक सत्र 2020-21 में रिक्त सीटों पर ऑनलाइन नि:शुल्क प्रवेश के लिए दूसरे चरण की काउंसलिंग प्रक्रिया 29 अक्टूबर से शुरू होगी। संचालक राज्य शिक्षा केंद्र श्री धनराजू एस ने बताया कि आर.टी.ई. के तहत पहले चरण में लॉटरी द्वारा सीटे भरने के बाद शेष रिक्त सीटों पर दूसरे चरण की काउंसलिंग के माध्यम से स्कूल आवंटन किया जाना है।  इसके लिए समय-सारणी जारी की गयी है। रेण्डम पद्धति से ऑनलाईन लॉटरी द्वारा 10 नवंबर को स्कूल का आवंटन किया जायेगा। संचालक श्री धनराजू ने बताया कि पंजीकृत आवेदक 29 अक्टूबर से 7 नवम्बर 2021 तक लाटरी पद्धति से दूसरे चरण में स्कूल की च्वाइस अपडेट कर सकेंगे। स्कूल के आवंटन के बाद 10 नवम्बर से 15 नवम्बर 2021 तक आवंटन पत्र डाउनलोड कर आवंटित स्कूल में प्रवेश ले सकेंगे।  प्रवेश लेते समय ही संबंधित अशासकीय स्कूल द्वारा मोबाइल एप के माध्यम से एडमीशन रिपोर्टिंग दर्ज की जायेगी!    दूसरे चरण की काउंसलिंग में नया आवेदन करने का विकल्प नहीं होगा। जिन आवेदकों ने सत्र 2020-21 के लिए पूर्व में ऑनलाइन आवेदन किया है और सत्यापन में पात्र पाये गये है एवं इस सत्र में एडमीशन नहीं लिया है, केवल वही आवेदक स्कूल की चॉइस परिवर्तित करते हुये आवेदन लॉक कर सकेंगे। कोविड-19 के कारण अथवा किसी अन्य परिस्थितियों के कारण यदि कोई स्कूल बंद हो गया है और उसमें प्रथम चरण में किसी का आवंटन हुआ है तो वह आवेदक भी अन्य स्कूल में दूसरे चरण के लिए चुनकर आवेदन लॉक कर सकेंगे।


दिव्यांगों को बस किराए में 50 प्रतिशत की छूट


दिव्यांगजनों को यूनिक आईडी दिखाने पर सभी तरह की बसों में किराए में 50 प्रतिशत की छूट मिलेगी।  परिवहन आयुक्त द्वारा प्रदेश के जिले के सभी क्षेत्रीय अतिरिक्त एवं जिला परिवहन अधिकारी को निर्देशित किया गया है कि राज्य शासन द्वारा मध्य प्रदेश के राजपत्र में 24 नवम्बर 2016 को किये गये प्रावधान के तहत समस्त बस सेवाओं में विभिन्न प्रकार के दिव्यांग व्यक्तियों को किराये में 50 प्रतिशत की छूट दी जायेगी, यदि वे सक्षम प्राधिकारी का प्रमाण-पत्र प्रस्तुत करते हैं। दिव्यांगजनों द्वारा भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय अथवा राज्य सरकार द्वारा जारी युनिक आईडी (युडीआईडी) के तहत जारी किये गये परिचय-पत्र दिखाये जाने पर किराये में 50 प्रतिशत की छूट का लाभ दिया जाये।


प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के लिए आवेदन 30 अक्टूबर तक आमंत्रित


प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजनान्तर्गत 30 अक्टूबर, 2021 तक आवेदन पत्र आमंत्रित किये गये है। इच्छुक आवेदक कार्यालय सहायक संचालक मत्स्योद्योग में स्वयं की भूमि में तालाब निर्माण, रिसर्कुलेटरी एक्वाकल्चार सिस्टम निर्माण, वायोफ्लॉक, फीड मिल, आईस प्लाण्ट या प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजनान्तर्गत संचालित योजनाओं के डीपीआर आवश्यक दस्तावेजों को संलग्न करते हुए कार्यालय सहायक संचालक मत्स्योद्योग में व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होकर प्रस्तुत कर सकते है।  इस संबंध में बिचौलियों एवं मध्यस्थों के माध्यम से प्रस्तुत आवेदनों पर विचार नही किया जाएगा। आवेदन पत्र के साथ आवेदक का खुद का मोबाईल नम्बर दिया जाना अनिवार्य है। उन्ही के आवेदन मान्य होगे जो प्रस्तावित भूमि का भूस्वामी होगा या जिसके पास दस वर्षीय रजिस्टर्ड लीज होगी। आवेदन पत्र के साथ भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र एवं आवश्यक अनुमतिया संलग्न करनी अनिवार्य है।


अल्पसंख्यक पोस्ट मैट्रिक, प्री-मैट्रिक, मेरिट कम-मीन्स छात्रवृत्ति, ऑनलाईन आवेदन की अंतिम तिथि 30 नवम्बर


भारत सरकार के माध्यम से संचालित अल्पसंख्यक समुदाय के विद्यार्थियों को भारत में अध्ययन करने के लिये जिले के मूल निवासी हेतु शैक्षणिक सत्र 2021-22 हेतु अधिसूचित अल्पसंख्यक अंतर्गत मुस्लिम, ईसाई, बौद्ध, सिख, पारसी एवं जैन समुदाय के छात्र, छात्राओं को अल्पसंख्यक पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति कक्षा 11 एवं 12 आईटीआई डिप्लोमा, बीएड, एमफिल, पीएचडी, स्नातक, स्नात्कोत्तर (तकनीकी एवं व्यवसायिक पाठ्यक्रमों को छोड़कर) में अध्ययनरत नवीन एवं नवीनीकरण विद्यार्थियों के लिये ऑनलाईन आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 नवम्बर 2021 तक नेशनल स्कॉलशिप पोर्टल पर आवेदन किये जा सकते हैं। प्री-मैट्रिक अल्संख्यक छात्रवृत्ति कक्षा एक से 10 तक के नवीन, नवीनीकरण के विद्यार्थियों के लिये 15 नवम्बर 2021एवं मेरिट कम-मीन्स तकनीकी एवं व्यवसायिक पाठ्यक्रमों में अध्ययनरत नवीन एवं नवीनीकरण के विद्यार्थियों के लिये भी ऑनलाईन आवेदन 30 नवम्बर 2021 तक नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल की वेबसाइट http://scholarships.gov.in/  पर आवेदन किये जा सकते हैं।


ऑनलाइन आवेदन कर प्राप्त कर सकते हैं खेती किसानी के अभिलेख


जिले के किसान भू-अभिलेख की वेबसाइट https://mpbhulekh.gov.in पर स्वयं रजिस्ट्रेशन अथवा एमपी ऑनलाइन पोर्टल कियोस्क एवं लोकसेवा केन्द्र के  माध्यम से खेती किसानी से जुड़े खसरा की प्रतिलिपि, बी-1 की प्रतिलिपि, नक्शा की प्रतिलिपि, खसरा की प्रतिलिपि (खाते के समस्त), खातावार खसरा की प्रतिलिपि, आदेश की प्रतिलिपि, अधिकार अभिलेख की प्रतिलिपि के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। नागरिक डिजीटली हस्ताक्षरित दस्तावेज भी डाउनलोड बटन क्लिक कर प्राप्त कर सकते हैं। इसके अंतर्गत प्रमाणित एवं अप्रमाणित दोनो प्रकार की प्रतिलिपि प्राप्त की जा सकती है। प्रमाणित प्रतिलिपि के लिए शुल्क है जिसका ऑनलाइन भुगतान विभिन्न माध्यमों से किया जा सकता है, अप्रमाणित प्रतिलिपि निःशुल्क है। प्रमाणित प्रतिलिपि अंतर्गत सभी भूमि रिकॉर्ड डिजिटल रूप से हस्ताक्षरित हैं जो नागरिकों को वित्तीय लेनदेन, भूमि रजिस्ट्री, बैंक और अन्य राजस्व विभाग कार्य में उपयोगी होंगे।   ऑनलाइन आवेदन जमा करने हेतु सर्व प्रथम https://mpbhulekh.gov.in  पर "Register as a public user" के विकल्प के माध्यम से पंजीयन करना होगा जिसके पश्चात आपको यूजर आइ.डी. एवं पासवर्ड उपलब्ध होगा जिसका उपयोग कर लॉगिन करने के पश्चात  खसरा की प्रतिलिपि, बी-1 की प्रतिलिपि, नक्शा की प्रतिलिपि, खसरा की प्रतिलिपि (खाते के समस्त), खातावार खसरा प्रतिलिपि, आदेश की प्रतिलिपि, अधिकार अभिलेख की प्रतिलिपि के लिए विकल्प का चयन कर आवेदन दर्ज किया जा सकता है।


आजादी का अमृत महोत्सव तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित


sehore news
जिला सैनिक कल्याण कार्यालय भोपाल तथा संचालनालय कल्याण मध्यप्रदेश द्वारा सीहोर में स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में आजादी का अमृत महोत्सव तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम पूर्व सैनिक परिवार एनसीसी इंडेड ने शासकीय चन्द्रशेखर आजाद स्नातकोत्तर महाविद्यालय में मनाया। कार्यक्रम पूर्व सैनिक परिवार एवं एनसीसी केडेड के सदस्यों को प्रशस्ती पत्र एवं ट्राफी प्रदान की। तहसीलदार श्री नरेन्द्र यादव, कॉलेज की प्राचार्य डॉ. उर्मिला समुजा सहित अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। 


"आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश" की दिशा में अहम है सीएम राइज स्कूल योजना


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है "आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश" की दिशा में सीएम राइज योजना अहम भूमिका निभाएगी। शिक्षा के क्षेत्र में इस महत्वाकांक्षी योजना का उद्देश्य स्कूली विद्यार्थियों को उच्च गुणवत्ता युक्त शिक्षा प्रदान करना, विद्यार्थियों के सीखने के परिणामों में सुधार करना और राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय मानकों को प्राप्त करने के लिए स्कूलों को सक्षम बनाना है। साथ ही स्कूली विद्यार्थियों के लिए समग्र व्यक्तित्व विकास पारिस्थितिकी तंत्र विकसित कर उत्कृष्ट और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान की जाएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देना राज्य सरकार की महत्वपूर्ण प्राथमिकता है, जिसे पूरा करने के लिए संयुक्त प्रयासों की आवश्यकता है। इसे ध्यान में रखकर राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के आलोक में प्रदेश में 9 हजार 200 सुविधायुक्त 'सीएम राइज स्कूल' प्रारंभ होंगे। इसके लिए बजट में 1500 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। इस वित्त वर्ष में 350 शासकीय स्कूलों को सीएम राइज स्कूल के रूप में विकसित किया जा रहा है। साथ ही 18 से 24 करोड़ रूपये लागत से स्कूल भवन बनाए जायेंगे। प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में प्रत्येक 25-30 किलोमीटर परिधि में एक सी.एम. राइज स्कूल की व्यवस्था होगी। अगले तीन साल में इन स्कूलों में एक ही शिक्षण परिसर में केजी से लेकर 12वीं तक की कक्षाओं के बच्चे पढ़ेंगे। जनजातीय क्षेत्रों में भी 95 सीएम राइज स्कूल खोले जाएंगे। इस योजना के क्रियान्वयन में सभी विभाग मिलकर सहयोग करेंगे।


विद्यार्थियों का संपूर्ण व्यक्तित्व विकास

राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वे, पीसा (छात्रों का अंतर्राष्ट्रीय आकलन कार्यक्रम) और ओलिंपियाड परीक्षा जैसी राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्पर्धा को देखते हुए इन स्कूलों में विद्यार्थियों को केवल ज्ञान आधारित शिक्षा के स्थान पर समझ, अनुप्रयोग और तार्किक योग्यता आधारित शिक्षा प्रदान की जाएगी। विद्यार्थियों के संपूर्ण व्यक्तित्व के विकास के लिए साहित्यिक, सांस्कृतिक, लोक कला, पर्यावरण, विज्ञान, यातायात सुरक्षा, खेल, योग जैसे जीवनोपयोगी विभिन्न विषयों की गतिविधियाँ आयोजित की जाएगी। स्कूलों में उत्कृष्टता की संस्कृति विकसित करते हुए विद्यार्थियों के एटीट्यूडिनल बदलाव, साक्ष्य आधारित वैज्ञानिक सोच विकसित करने, रचनात्मकता और आत्म-विश्वास बढ़ाने के साथ अंतर्राष्ट्रीय गुणवत्ता युक्त शिक्षा दी जाएगी। विद्यार्थियों की रुचि और कौशल को ध्यान में रखकर व्यवसायिक शिक्षा की व्यवस्था भी होगी, जिससे शिक्षा के साथ विद्यार्थी जीवन-यापन के गुर सीखने के साथ अपनी आर्थिक समझ विकसित कर सकेंगे। इस तरह सीएम राइज स्कूल में विद्यार्थियों का चहुँमुखी विकास होगा, जो आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश का आधार बनेगा।                                                                        


अंतर्राष्ट्रीय मानकों के साथ विकसित होंगे सीएम राइज स्कूल

सीएम राइज स्कूलों को अंतर्राष्ट्रीय मानकों पर विकसित किया जाएगा। स्कूल में अच्छी अधोसंरचना, हर विद्यार्थी के लिए परिवहन, नर्सरी/ केजी कक्षाएँ, शत-प्रतिशत शिक्षक, स्मार्ट क्लास एवं डिजिटल लर्निंग, सुसज्जित प्रयोगशालाएँ, समृद्ध पुस्तकालय और खेल मैदान जैसी सुविधाएँ उपलब्ध होंगी। इन स्कूलों में विद्यार्थियों की उत्कृष्ट शिक्षा के लिए विभिन्न क्षेत्रों में पुरस्कारों से सम्मानित शिक्षकों का साक्षात्कार कर चयन किया जाएगा। शिक्षकों को स्कूल विकास के नेतृत्व, अनुकरणीय शिक्षण अधिगम प्रक्रिया, शिक्षण विकास और सशक्तिकरण, समुदाय से जुड़ाव और संसाधनों के प्रबंधन पर प्रशिक्षित किया जाएगा। इन विशिष्ट स्कूलों के प्रबंधन और संचालन में कुशलता लाने के लिए अभिभावकों की सहभागिता सुनिश्चित की जायेगी। इस तरह भावी पीढ़ी को सर्व संसाधन युक्त स्कूलों में शिक्षण और व्यक्तित्व विकास के लिए सभी आवश्यक सुविधाएँ उपलब्ध कराकर एक जिम्मेदार और श्रेष्ठ नागरिक के रूप में विकसित किया जायेगा। 


समूह की महिलाओं द्वारा तैयार किये जा रहे दिवाली गिफ्ट बॉक्स, देश के अन्य शहरों में भी ऑनलाइन की जाएगी बिक्री


sehore news
शासन द्वारा चलाई जा रही योजनाओं तथा आजीविका मिशन के समूह में जुडी महिला सदस्य सशक्त बनने के साथ ही आर्थिक रूप से भी मजबूत बन रही है। कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर तथा जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह के निर्देश पर राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन जिला सीहोर द्वारा नित-नए आयाम स्थापित किए जा रहे हैं। जिला प्रशासन एवं अन्य विभागों के समन्वय से समय-समय पर नवीन गतिविधियों को संपन्न कराया जा रहा है। विगत वर्ष की भांति इस वर्ष भी आजीविका स्व- सहायता समूह द्वारा  दिवाली गिफ्ट बॉक्स तैयार किये जा रहे है। इछावर जनपद पंचायत की भाउखेड़ी गौशाला में 6 स्वक सहायता समूह की 12 महिलायें गोबर की सामग्री बनाने का तथा सामुदायिक प्रशिक्षण केन्द्र  सीहोर में 5 महिलाओं द्वारा बॉक्स  पैकिंग का कार्य किया जा रहा है। उल्लेखनीय है, कि विगत वर्ष में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने स्व सहायता समूह की महिलाओं द्वारा बनाए गए दिवाली गिफ्ट बॉक्स की प्रशंसा भी की थी। समूह की सदस्यों द्वारा मुख्यमंत्री श्री चौहान को उनके निवास पर उपहार स्वरूप गिफ्ट बॉक्स भेंट किया था। मुख्यमंत्री की प्रशंसा और जिला प्रशासन के सहयोग से समूह की महिलाएं इस वर्ष भी बड़ी संख्या में से यह गिफ्ट बॉक्स तैयार कर रही हैं।


गिफ्ट बॉक्स में शामिल है यह सामग्रियां

बॉक्स में गोबर से निर्मित सामग्री कंडे, गमले, दीपक आदि विशिष्ट पंचगव्य सामग्री से बनाए गए हैं साथ ही इस बॉक्स में करीब 26 तरह की सामग्री है। जिसमें धूपबत्ती,अगरबत्ती, लक्ष्मी पूजा हेतु फोटो, पूजा के लिए झाड़ू ,नारियल, पूजा सुपारी, जनेऊ, पंचमेवा, लाल कपड़ा,  इत्र, हवन सामग्री, हल्दी, कुमकुम, अक्षत, रुई बत्ती, रंगोली के रंग,मूर्ति आसन, पूजा हेतु दीपक, घी, लक्ष्मी चरण पादुका सामग्री शामिल है।


खाद्य सुरक्षा दल ने किया 2 क्विंटल मावा जब्त, जिले भर में लिए गए मिष्ठान और अन्य खाद्य सामग्रियों के सैम्पल


sehore news
दीपावली त्यौहार को दृष्टिगत रखते हुए खाद्य सुरक्षा विभाग के दल द्वारा शाजापुर से भोपाल जा रही बस से सीहोर में 2 क्विंटल मावा जब्त किया। मावा के नमूने जांच के लिए लैब में भेजे गए है। खाद्य सुरक्षा अधिकारी श्रीमती भावना ठाकुर ने बताया कि कलेक्टर श्री ठाकुर, सीएमएचओ तथा प्राधिकृत अधिकारी खाद्य सुरक्षा के निर्देश पर जिले में खाद्य सुरक्षा दल द्वारा मिष्ठान एवं अन्य खाद्य सामग्री के नमूने लिए गए है। मुख्यालय खाद्य सुरक्षा अधिकारी श्रीमती भावना ठाकुर द्वारा सीहोर स्थित राखी कोलड्रिंक से मलाई बर्फी, राजस्थान मिष्ठान से मावा बर्फी, इछावर के राधेष्याम डेयरी से मावा रोल, अंजली स्वीट से दूध बर्फी तथा ड्रीम होटल से दूध एवं बर्फी के नमूने लेकर जांच के लिए लैब में भेजे गए है। आष्टा में सहायक खाद्य सुरक्षा अधिकारी सारीका गुप्ता तथा दीपाली कांगे द्वारा मनोज रेस्टारेंट से गुलाब जामुन, विष्वकर्मा रेस्टारेंट से केसर बर्फी, महावीर मावा भण्डार से मावा तथा बाबा नमकीन से बेसन के लड्डू व बेसन के सैम्पल लेकर जांच के लिए भेजे गए। बुदनी में सौरभ मिष्ठान भण्डार से बेसन के लडडू, कृष्णा स्वीटस से बेसन के लडडू, मेवाड़ा किराना भण्डार से इंस्टेंट गुलाब जामून,दीवान शॉपिंग मॉल से इंस्टेंट गुलाब जामून, मुरली ट्रेडर्स से गुलाब जामून के नमूने लिए गए। नसरूल्लागंज में सहायक खाद्य सुरक्षा अधिकारी श्रीमती किर्ती मालवीय द्वारा ओम विष्वनाथ नमो दूध डेयरी से दूध के नमूने लिए गए। उक्त कार्यवाही में खाद्य सुरक्षा तकनीकी सहायक श्री आलोक श्रीवास्तव ने नमूने जांच के लिए लिए। खाद्य पदार्थो की जांच निरंतर जारी रहेगी ।


समय पर मिले ऋण का ही महत्व है - कलेक्टर श्री ठाकुर

  • जिला स्तरीय बैंकर समिति की बैठक आयोजित

रोजगार या कारोबार के लिए समय पर मिले ऋण का ही महत्व है l क्योंकि इस ऋण पर उस व्यक्ति का भविष्य और रोजगार निर्भर होता हैl यह बात कलेक्टर श्री चंद्र मोहन ठाकुर ने जिला स्तरीय बैंकर्स समिति की बैठक में कहीं l उन्होंने कहा कि शासकीय विभागों द्वारा स्वीकृत ऋण प्रकरण ऊपर शीघ्र कार्रवाई करते हुए ऋण वितरण  के निर्देश दिएl बैठक में कलेक्टर श्री ठाकुर द्वारा बैंक शाखा प्रमुख को सभी शासकीय लोन योजनाएं ,एसएचजी लिंकेज, पीएम स्वानिधि, पशु पालकों के लिए केसीसी योजनाओं, पीएमईजीपी योजनाओं  के लंबित प्रकरण में स्वीकृति एवं वितरण करने के निर्देश दिए तथा सभी योजनाओं के लक्ष्य  दिसम्बर तिमाही में ही पूर्ण करने के निर्देश बैंक प्रबंधकों को दिए। बैठक में जला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह, नाबार्ड से डीडीएम श्री अविनाश तिवारी, आरबीआई भोपाल से सहायक महाप्रबंधक  सुश्री माला शर्मा, अग्रणी जिला प्रबंधक श्री एचआर झावरे, शासकीय विभाग से डीआईसी महाप्रबंधक श्री श्रीवास्तव, एनआरएलएम, एन यू एल एम सहित जिला के समस्त जिला समन्वयक उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: