बिहार : "चिड़ियाघर निदेशकों और पशु चिकित्सकों के राष्ट्रीय सम्मेलन" का उद्घाटन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 10 अक्तूबर 2021

बिहार : "चिड़ियाघर निदेशकों और पशु चिकित्सकों के राष्ट्रीय सम्मेलन" का उद्घाटन

  • जू एमआईएस वेबसाइट लांच करते हुए मंत्री ने कहा– चिड़ियाघरों के बेहतरी, वन्यजीवों के संरक्षण व पर्यावरण संवर्धन के लिए सरकार कृत संकल्पित

zoo-seminar-inaugration
पटना/केवड़िया, 10 अक्टूबर, केंद्रीय पर्यावरण वन एवं जलवायु परिवर्तन तथा उपभोक्ता मामले खाद एवं सार्वजनिक वितरण प्रणाली राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने आज गुजरात के  केवड़िया में दो दिवसीय चिड़ियाघर निदेशकों और पशु चिकित्सकों के राष्ट्रीय सम्मेलन का उद्घाटन किया। सरदार पटेल प्राणी उद्यान केवडिया, गुजरात के सहयोग से केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण द्वारा इसका आयोजन किया जा रहा है। मौके पर जू एमआईएस वेबसाइट लांच करते हुए श्री चौबे ने कहा कि चिड़ियाघरों के बेहतरी, वन्यजीवों के संरक्षण व पर्यावरण संवर्धन के लिए सरकार कृत संकल्पित है। परंपरागत शैली के साथ हम नए तकनीक का उपयोग कर इस दिशा में विश्वस्तरीय व्यवस्था करने के लिए प्रयासरत्त है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि दो दिवसीय इस सम्मेलन में वन प्राणी संरक्षण एवं संवर्धन पर सभी चर्चा करेंगे। श्री चौबे ने कहा कि केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण ने अपनी स्थापना के बाद से वन्य जीव संरक्षण के भारतीय लोकाचार के लिए एक ब्रांड वैल्यू बनाने के लिए व्यवस्थित रूप से काम किया है। वर्तमान में सीजेडए ने 14 बचाव केंद्रों सहित 150 से अधिक चिड़िया घरों को मंजूरी दी है। चिड़ियाघरों के लिए डाटा कलेक्शन का काम चल रहा है जिसमे "जू एमआईएस" वेबसाइट के माध्यम से भी मदद मिलेगी।

कोई टिप्पणी नहीं: