ईडी के सम्मन पर तीसरी बार भी पेश नहीं हुई जैकलीन फर्नांडीज - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 18 अक्तूबर 2021

ईडी के सम्मन पर तीसरी बार भी पेश नहीं हुई जैकलीन फर्नांडीज

jackline-not-attend-ed-for-summon
नयी दिल्ली, 18 अक्टूबर, अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडीज कथित ठग सुकेश चंद्रशेखर के खिलाफ 200 करोड़ रुपये से अधिक के धन शोधन मामले की जांच के संबंध में पूछताछ के लिए सोमवार को फिर से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष पेश नहीं हुईं। ऐसा बताया जा रहा है कि उन्होंने अपनी अनुपस्थिति के लिए पेशेवर व्यस्तता की वजह बतायी है। जांच एजेंसी फिर से उन्हें एक नयी तारीख पर पेश होने के लिए कह सकती है। यह तीसरी बार है जब फर्नांडीज ईडी के नोटिस पर पेश नहीं हुई। फर्नांडीज (36) अगस्त में संघीय एजेंसी के समक्ष पेश हुई थीं और धन शोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत इस मामले में उनका बयान दर्ज किया गया था। ऐसा माना जा रहा है कि एजेंसी चंद्रशेखर और उसकी अभिनेत्री पत्नी लीना मारिया पॉल से जुड़े मामले में मुख्य आरोपी से फर्नांडीज का आमना-सामना कराना चाहती है। अधिकारियों ने बताया कि एजेंसी इस मामले में कथित तौर पर फर्नांडीज से जुड़े धन के कुछ लेन-देन के बारे में जानना चाहती है। अभिनेत्री और नर्तकी नोरा फतेही (29) ने इस मामले में बृहस्पतिवार को ईडी के समक्ष अपना बयान दर्ज कराया था। फतेही के प्रतिनिधि ने कहा था कि वह इस मामले में पीड़ित रही हैं और एक गवाह के तौर पर वह जांच में अधिकारियों के साथ सहयोग कर रही हैं तथा उनकी मदद कर रही हैं। चंद्रशेखर एवं पॉल को हाल में ईडी ने गिरफ्तार किया। उन्हें एक स्थानीय जेल में रखा गया है। उससे पहले दिल्ली पुलिस ने दोनों को फोर्टिस हेल्थकेयर के पूर्व प्रवर्तक शिविंदर मोहन सिंह की पत्नी अदिति समेत कुछ हाई प्रोफाइल लोगों को ठगने के आरोप में हिरासत में लिया था। अगस्त में ईडी ने चंद्रशेखर के परिसरों पर छापा मारा और चेन्नई में एक बंगला, 82.5 लाख रूपये नकद और दर्जनों लग्जरी कारें जब्त की थीं। उसने एक बयान में दावा किया था कि चंद्रशेखर एक ‘नामी ठग’ है और 200 करोड़ रूपये की ठगी, जबरन वसूली, कथित आपराधिक साजिश को लेकर दिल्ली पुलिस उसकी जांच कर रही है।

कोई टिप्पणी नहीं: