बंदूकधारियों के हमले में बाल-बाल बचा अफगान पत्रकार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 30 अक्तूबर 2021

बंदूकधारियों के हमले में बाल-बाल बचा अफगान पत्रकार

journalist-attacked-in-kabul
काबुल, 30 अक्टूबर, अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में एक मोटरसाइकिल पर सवार बंदूकधारियों ने एक टीवी पत्रकार पर उनकी कार में गोली चलायी जिसमें वह मामूली रूप से घायल हो गए। तालिबान के उप प्रवक्ता बिलाल करीमी ने बताया कि इस्लामिक रिपब्लिक ऑफ ईरान ब्रॉडकास्टिंग के पत्रकार अली रेजा शरीफी शुक्रवार देर रात हुए हमले में बच गए हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हम दोषियां का पता लगाने के लिए जांच कर रहे हैं।’’ अभी किसी ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। यह हमला ऐसे वक्त हुआ है जब कुछ दिनों पहले अफगानिस्तान की मीडिया निगरानी संस्था ने पिछले दो महीनों में अफगान पत्रकारों के खिलाफ हिंसा तथा धमकियों की 30 से अधिक घटनाओं की जानकारी दी। इनमें से करीब 90 प्रतिशत घटनाओं को तालिबान ने अंजाम दिया। शरीफी ने बताया कि वह घर जा रहे थे जब मोटरसाइकिल पर आए दो लोगों ने उनकी कार पर गोलियां चलायी। उन्होंने कहा, ‘‘ एक गोली मेरे होंठ को छूते हुए निकल गयी। कांच के टूटे हुए टुकड़े मेरी बायीं आंख पर लगे।’’ शरीफी की कार की तस्वीरें सोशल मीडिया पर साझा की गयी जिसमें कार की एक खिड़की पर गोलियों से हुए कम से कम दो सुराख देखे जा सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘उन्होंने सामने से गोलियां चलायीं और मैं बचकर पिछली सीट पर चला गया।’’ अमेरिकी बलों के अगस्त में अफगानिस्तान से लौटने के बाद तीन पत्रकार मारे जा चुके हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: