सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 17 अक्टूबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 17 अक्तूबर 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 17 अक्टूबर

मंहगाई से परेशान है जिले के असंगठित कामगार केंद्र व राज्य सरकार है मूलवृद्धी के लिए जिम्मेदार


sehore news
सीहोर। असंगठित कामगार मंहगाई से बेहाल है। मजदूरों को रोज काम भी नहीं मिल रहा है। बड़ी संख्या में मजदूर घर बैठे है। रोजमर्रा की उपयोगी खाद्य सामग्री की मूलवृद्धी के लिए केंद्र व राज्य सरकार जिम्मेदार है। सरकार मंहगाई पर अंकुश लगाने में नाकाम है। जिस का असर गरीब मजदूर वर्ग पर हीं अधिक पड़ रहा है। असंगठित कामगार कांग्रेस जिलाध्यक्ष राजेंद्र नागर ने भाजपा सरकार पर हमला करते हुए कहा की पेट्रोल डीजल और रसोई गैस सिलेंडर के दामों में लगातार वृद्धि की जा रही है। पेट्रोल डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी से गरीबों से जुड़ा परिवहन काफी मंहगा हो गया है गांव देहात आजा जाना मुश्किल हो गया है। ट्रेनों के किराय में वृद्धि की गई है ट्रेनों में गरीबों के लिए आरक्षित कोच भी कम कर दिए गए है केवल सुपर ट्रेने हीं चलाई जा रही है। रसोई गैस सिलेंडर की कीमत एक हजार तक पहुंच चुकी है जिस कारण गरीब मजदूर वर्ग सिलेंडर भी नहीं खरीद पा रहे है। असंगठित कामगार कांग्रेस जिलाध्यक्ष श्री नागर ने कहा की कोरोनाकाल में प्रधानमंत्री के द्वारा की गई नि: शुल्क राशन योजना का लाभ भी नहीं असंगठित कामगारों की नहीं मिला है केवल झूटी घोषणाएं की जा रही है। सभी दालों सहित खाद्य तेल, शकर साबून सब कुछ महंगा हो गया है। मंहगाई के कारण गरीब बच्चों में कुपोषण भी फेल रहा है। बिजली बिलों ने भी मजदूर तबके की कमर तोड़कर रख दी है। प्रधानमंत्री ने प्रत्येक नागरिक के बैंक खाते में 15 लाख रूनये देने की घोषणा की थी वह आज तक पूरी नही हुई है। बेरोजगार देने की बात करने वाली भाजपा ने करोड़ों लोगों को निजीकरण के कारण बेरोजगार कर दिया है। असंगठित कामगार कांग्रेस ने गरीब मजदूरों को मंहगाई से राहत दिलाने की मांग की है।


खाटू श्याम महिला मंडल ने कार्यक्रम आयोजित किया, समाजसेवी अखिलेश राय ने की विधिवत पूजा अर्चना


sehore news
सीहोर। खाटू श्याम महिला मंडल द्वारा ग्यारस के उपलक्ष्य में वर्कसाप रोड संजय नगर मंडी में खाटू श्याम भजन कीर्तन आरती कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि श्रद्धालु के रूप मेंवरिष्ठ समाजसेवी अखिलेश राय सम्मिलित हुए। खाटू श्याम भजन गायक ममता गुप्ता के साथ कार्यक्रम में शामिल श्रद्धालुओं ने वरिष्ठ समाजसेवी श्री राय का पु़ष्प मालाओं से स्वागत सम्मान किया। मुख्य अतिथि वरिष्ठ समाजसेवी अखिलेश राय के द्वारा खाटू श्याम बाबा की विधिवत पूजा अर्चना कर नागरिकों की समृद्धी खुशियाली की प्रार्थना की गई। खाटू श्याम महिला मंडल द्वारा मधुर भजनों की प्रस्तुति दी गई। खाटू श्याम जी से श्रद्धालुओं के द्वारा अरदास लगाई गई। वरिष्ठ समाजसेवी अखिलेश राय ने कहा की खाटू श्याम जी से की गई अरदास पूरी होती है। खाटू श्याम महिला मंडल द्वारा आयोजित किए जाने वाले धार्मिक कार्यक्रम सराहनीय है। कार्यक्रम में मुख्य रूप से श्याम दीवानी ममता गुप्ता, भूपेंद्र सिंह ठाकुर, भावना ठाकुर, मनोज शर्मा, लोकेश राठोर, श्याम गुप्ता, विनोद गुप्ता एवं महिलाएं उपस्थित रही।


समाजसेवा और दानी के रूप में समर्पित शहर के प्रतिष्ठित राय परिवार, वरिष्ठ समाजसेवी अखिलेश राय का ब्राह्मणों ने किया सम्मान


sehore news
सीहोर। विजयदशमी और नवरात्रि में संपूर्ण सीहोर में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले समाजसेवी अखिलेश राय के सेवा भाव से प्रभावित हो कर सीहोर के समस्त कर्मकांडी ब्राह्मणों के एक वर्ग द्वारा उनको गदा और शाल श्रीफल भेंट कर सम्मान किया गया। विश्व धर्म संसद के प्रदेशाध्यक्ष महामंडलेश्वर याशोदा नंद अजय पुरोहित महाराज, संतोष महाराज, नितेश शर्मा, संजय व्यास (अंतराष्ट्रीय ब्राह्मण महासंघ तहसील अध्यक्ष), जगदीश शर्मा (अंतराष्ट्रीय ब्राह्मण महासंघ जिला युवा अध्यक्ष, सीहोर), अरुण शर्मा, शैलेंद्र शर्मा, राहुल शर्मा, अमन शर्मा उपस्थित थे। महामंडलेश्वर याशोदा नंद पंडित श्री पुरोहित ने कहा कि दूसरों के प्रति निस्वार्थ सेवा का भाव रखना ही जीवन में कामयाबी का मूलमंत्र है। निस्वार्थ भाव से की गई सेवा से किसी का भी हृदय परिवर्तन किया जा सकता है। हमें अपने आचरण में सदैव सेवा का भाव निहित रखना चाहिए, जिससे अन्य लोग भी प्रेरित होते हुए कामयाबी के मार्ग पर अग्रसर हो सकें। राय परिवार समाज में सेतू का कार्य कर रहे। इस क्रम में शहर के वरिष्ठ समाजसेवी दानवीर अखिलेश राय द्वारा क्षेत्र के सभी धार्मिक संगठनों, संस्थाओं, सामाजिक कार्यां तथा अन्य स्थानों पर तन, मन और धन से भरपूर सहयोग करते हुए आ रहे है। राय परिवार की सरलता और मिलनसरता की चर्चा पूरे क्षेत्र में है। 


सादगी के साथ निकाली गई कलश यात्रा, श्री पूर्णिमा शिव महापुराण कथा का शुभारंभ


sehore news
सीहोर। जिला मुख्यालय के समीपस्थ निर्माणाधीन मुरली मनोहर एवं कुबेरेश्वर महादेव मंदिर में रविवार को अंतर्राष्ट्रीय कथा प्रवक्ता भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा के सानिध्य में सादगी के साथ प्रतीकात्मक रूप से कलश यात्रा निकालकर श्री पूर्णिमा शिव महापुराण कथा का शुभारंभ किया गया। इस मौके पर कथा के पहले दिन भागवत भूषण पंडित श्री मिश्रा ने शरद पूर्णिमा का महत्व बताया। उन्होंने कहा कि प्रत्येक पूर्णिमा तिथि का महत्व है, परंतु आश्विन मास में पडऩे वाली पूर्णिमा तिथि का विशेष महत्व माना जाता है। इस मास की पूर्णिमा तिथि को शरद पूर्णिमा के नाम से जाना जाता है। प्रत्येक पूर्णिमा तिथि की तरह इस दौरान चंद्रमा पूर्ण रूप से आसमान में दिखाई देता, जिसके कारण इसे पूर्णिमा कहा जाता है। सबसे सुंदर संबंध चंद्रमा और समुद्र का है। चांद का धरती के जल से संबंध है। जब पूर्णिमा आती है तो समुद्र में ज्वार-भाटा उत्पन्न होता है, क्योंकि चंद्रमा समुद्र के जल को ऊपर की ओर खींचता है। चंद्रमा शीतला का प्रतीक है। हमारे संबंध पर भी ग्रहों का प्रभाव पड़ता है। ग्रहों की तरह हमारे परिवार का संबंध भी है।


भगवान शिव को शक्ति का अपार भंडार माना जाता

भागवत भूषण पंडित श्री मिश्रा ने कहा कि पहले दिन कहा कि भगवान शिव को शक्ति का अपार भंडार माना जाता है। इस कारण से ही संसार में युगों-युगों से उनकी पूजा होती आ रही है। जीवन व मृत्यु से परे भगवान शिव जहां संसार में विनाशक के रूप में पूजनीय हैं, वहीं उन्हें जीवनदाता भी माना गया है। दरअसल शिव महापुराण में ऐसी कई कहानियां मिलती हैं, जिनसे उनके इन रूपों के दर्शन होते हैं। ऐसी ही एक कहानी शिवपुराण में वर्णित है जिसमें शिवजी द्वारा चंद्रमा के प्राणों की रक्षा करने के लिए उन्हें अपनी जटाओं में विराजित करने की पूरा कथा निहित है। उस पौराणिक कथा के अनुसार, जब समुद्र मंथन किया गया था तो उसमें से हलाहल विष भी निकला था। जिससे पूरी सृष्टि की रक्षा के लिए स्वयं भगवान शिव ने समुद्र मंथन से निकले उस विष का पान किया। मगर विष पीने के बाद उनका शरीर विष के प्रभाव से अत्यधिक गर्म होने लगा। यह देखकर चंद्रमा ने उनसे प्रार्थना की वह उन्हें माथे पर धारण कर अपने शरीर को शीतलता प्रदान करें। ऐसे विष का प्रभाव भी कुछ कम हो जाएगा। इस संबंध में जानकारी देते हुए विठलेश सेवा समिति के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि सोमवार को श्री पूर्णिमा शिव महापुराण कथा के दूसरे दिन प्रत्येक पूर्णिमा के बारे में विस्तार से बताया जाएगा। कथा का प्रसारण प्रत्येक दिन आस्था चैनल पर सुबह ग्याहर बजे से दोपहर दो बजे तक किया जाता है।


अतिक्रमण हटवाकर  शिवाजी कॉलोनी की नालियों से  कराई गई सफाई


sehorer news
सीहोर। सेवादल कांग्रेस के जिलाध्यक्ष तथा तत्कालीन पार्षद नरेंद्र खंगराले द्वारा वार्ड क्रमांक 11 के शिवाजी कॉलोनी में शनिवार को प्रेम नारायण अहिरवार मुनीष पटेल के घर के सामने की नालियों से अतिक्रमण हटवाकर तली से सफाई कराई गई। क्षेत्र के दरोगा अशोक चौहान तथा सफाई कर्मचारी द्वारा शिवाजी कॉलोनी क्षेत्र की समय पर नालियों के अतिक्रमण हटवाकर सफाई कराई जाने पर नागरिकों ने श्री खंगराले तथा मुख्य नगर पालिका अधिकारी संदीप श्रीवास्तव तथा स्वास्थ्य अधिकारी दीपक देवगढ़े का आभार व्यक्त किया। आभार व्यक्त करने वालों मेंं प्रमुख रूप से शोभाराम अहिरवार, पन्नालाल खंगराले, निर्मल कुमार ताम्रकार मुनीष कुमार पटेल, माधव यादव, प्रेमनारायण अहिरवार, संतोष कुमार जैन, चंद्रकांता राय, भंवरलाल सूर्ववंशी, हेमराज सूर्यवंशी, डीबी खेलवाल आदि नागरिक शामिल है।


कुपोषित बच्चों की जा रही है उचित देखभाल


कुपोषित बच्चों की देखभाल के दायित्व मिलने के बाद अधिकारी बच्चों से सतत संपर्क बनाकर उनके परिजनों को पोषण संबंधी जानकारी दे रहें है। श्यामपुर तहसील की ग्राम बराड़ी कला की कुपोषित बच्ची को उसके माता-पिता की शारीरिक-मानसिक परेशानी को देखते हुए बच्ची की दादी को समझाइश देकर आंगनवाड़ी कार्यकर्ता श्रीमती कविता के सहयोग से एनआरसी सीहोर में भर्ती किया। बच्ची को 11 अक्टूबर भर्ती कराया था बच्ची अब स्वस्थ हो रही है। बच्ची का 5 दिनों में वजन 3.7 किलोग्राम से बढकर 4.2 किलोग्राम हो गया है।


समूह की महिलाएं तैयार करेंगी वाटिका और फलोद्यान


sehore news
सरकार महिलाओं को सशक्त बनाने की मंशा से कई योजनाएं संचालित कर रही है और महिलाएं भी उन कामों में रूचि लेकर आर्थिक सशक्त बन रही है। ग्राम पंचायत डोडी और कासम खजुरिया की महिलाओं भी सशक्तिकरण की मिशाल पेश कर रही है और उन्हें सहयोग मिला ग्राम पंचायत की मनरेगा स्कीम का। आष्टा जनपद की ग्राम पंचायत डोडी में मनरेगा योजना अंतर्गत सामुदायिक फ्लोधन का कार्य 5 एकड़ भूमि में किया जा रहा है। मनरेगा स्कीम से आजीविका मिशन के समूह की महिलाएं ही पौधे रोपण करेगी। इस कार्य में श्रमिक भी महिला होगी। मस्टर पर नाम भी महिला का नाम होगा। साथ ही मेट के रूप में भी महिला ही कार्य करेगी। समूह की महिलाओं को मनरेगा योजना अंतर्गत सामुदायिक फलोद्यान का काम भी मिल गया है। इनके द्वारा सीपीटी खुदाई, गड्डे खुदाई के साथ ही सीताफल, अमरूद , नींबू के 1200 पौधे रोपे जा रहे है। पानी की आपूर्ति के लिए पोखर का भी निर्माण किया जाएगा। ग्राम पंचायत खजुरियाकासम में गौशाला के पास सामुदायिक पोषण वाटिका का कार्य भी समूह की महिलाएं ही करेंगी। जो 2.50 एकड़ लगाई जा रही है। इसमें न्यूट्रीशनल सब्जी, सीजनल सब्जी का उत्पादन किया जाएगा। इस वाटिका का कार्य प्रारंभ हो गया है। सबसे पहले गड्डे खोद कर आंवला , कटहल, नींबू, सहजना, मीठा नीम का पौधा लगाया जा रहा है। इसमें कद्दू, गिलगी, करेला टमाटर सहित मौसमी सब्जी लगाई जाएगी।


जिले में आज कोई भी व्यंक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला, वर्तमान में कोरोना एक्टिव पॉजिटिव की संख्या शून्य


 पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10142  है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10020  हैं। आज 693 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 186, श्यामपुर से 150, नसरूल्लागंज 70, आष्टा से 201,  बुधनी से 56 तथा इछावर से 30 सेंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 280104 हैं। जिनमें से 268024 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 489 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1867 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।


स्व-सहायता समूह से सशक्त बन रही है महिलाएं

  • नवरात्रि में सलकनपुर महिला स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने किया 26 लाख रुपए से अधिक का व्यवसाय

sehore news
प्रदेश सरकार की महिलाओं को सशक्त बनाने की योजनाओं के चलते महिलाएं न केवल परिवार को चलाने में आर्थिक सहयोग दे रही हैं, बल्कि वे आर्थिक रूप से स्वतंत्र और स्वलंबी भी बन रही है। महिलाओं को आगे बढ़ाने में स्व-सहायता समूहों का महत्वपूर्ण योगदान है। समूह से लोन लेकर महिलाएं छोटी-छोटी आर्थिक गतिविधियों के माध्यम से परिवार की उन्नति का मार्ग प्रशस्त कर रहीं हैं। सीहोर जिले की महिला स्व सहायता समूहों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर और जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह ने कई नवाचार और नई राह तलाश रहे हैं। इनके सार्थक प्रयासों के परिणाम अब परिलक्षित होने लगे हैं। हाल ही में नवरात्रि में उन्नति सीएलएफ की सलकनपुर महिला स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने इन नौ दिवसों में अलग-अलग आर्थिक गतिविधियों के माध्यम से लगभग 26 लाख रूपए से अधिक का व्यवसाय किया है। समूह की सचिव श्रीमती अनिता मेहरा ने बताया कि सलकनपुर मंदिर ट्रस्ट के लिए हमने सलकनपुर भोग प्रसाद तैयार किया है। मंदिर परिसर में स्टॉल लगा कर इस भोग प्रसाद की बिक्री की जिससे 6 लाख रूपए से अधिक की बिक्री की है, जिसमें दो लाख रूपए की बचत हुई है। इस कार्य से समूह की 22 महिलाएं जुड़ी हैं। श्रीमती अनिता ने बताया कि यह भोग प्रसाद सलकनपुर आने वाले श्रद्धालुओं को बहुत पसंद आया। कविता ने बताया कि अगले सीजन में हम इसे वृहद पैमाने पर तैयार करेंगे। मुख्यमंत्री श्री ‍शिवराज सिंह चौहान ने अपने सलकनपुर भ्रमण के दौरान महिला स्व-सहायता समूह की इस गतिविधी की सराहना करते हुए इसे और बढ़ाने के लिए शुभकामनाएं दी। नवरात्र के सीजन में 36 महिलाओं ने पूजन सामग्री की दुकानें लगाई। जिससे 7 लाख 20 हजार रूपए का व्यवसाय किया। इसमें प्रत्येक महिला को लागत और सारे खर्च निकाल कर 15 हजार रूपए की आमदनी हुई है। इसके अलावा 150 से अधिक म‍हिलाओं ने मंदिर परिसर, सीढ़ियों पर तथा नीचे मार्ग पर स्वलपाहार-फलाहार की दुकानें लगाई। जिसमें फल, केला, ककड़ी सहित अन्य सामग्री थी। इन दुकानों से लगभग 13 लाख 50 हजार रूपए से अधिक का व्यवसाय किया। इससे महिलाओं ने माल की लागत निकाल कर प्रतिदिन पांच 500 से 700  रूपए तक कमाए हैं। इस प्रकार नवरात्र में महिला स्व सहायता ने 26 लाख रूपए से अधिक का व्यवसाय किया।


जिले में अब तक 981.0 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज, बीते 24 घंटे में 7.3 मिलीमीटर औसत वर्षा


जिले में 01 जून से 17 अक्टूबर 2021 तक  981.0 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। जो कि गत वर्ष इसी अवधि में औसत वर्षा 1433.2 मिलीमीटर थी। जिले की वर्षा ऋतु में सामान्य औसत वर्षा 1148.4 मिलीमीटर है। अधीक्षक भू-अभिलेख द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 01 जून से 17 अक्टूबर 2021 तक जिले के वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 919.9 मिलीमीटर,  श्यामपुर में 946.9, आष्टा में 931.0,  जावर में 867.0,  इछावर में 984.3, नसरूल्लागंज में 965.0,  बुधनी में 1115.0, रेहटी में 1118.6 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


बीते 24 घंटे में 7.3 मिलीमीटर औसत वर्षा

जिले में बीते 24 घंटे में प्रात: 08 बजे तक 7.3 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 10.0 मिलीमीटर, श्यामपुर में 2.0, आष्टा में 20.0,  जावर में 18.0,  इछावर में 0.0, नसरूल्लागंज में 0.0,  बुधनी में 0.0, रेहटी में 8.2 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


आज जिले में कोविड-19 टीकाकरण के लिए बनाये गये है 195 टीकाकरण केन्द्र


जिले में वैक्‍सीनेशन महाअभियान में नागरिकों को कोविड-19 टीका 18 अक्टूबर को 195 टीकाकरण केन्द्र पर लगाया जाएगा। टीकाकरण केन्द्रों पर 29 हजार से अधिक डोज लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। आष्टा में 24, बुधनी में 28, इछावर में 44, नसरुल्लागंज में 35, श्यामपुर में 46 तथा सीहोर शहरी क्षेत्र में 18 केन्द्र बनाएं है।

कोई टिप्पणी नहीं: