सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 10 नवम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 10 नवंबर 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 10 नवम्बर

अगले आदेश तक गौशाला के पीछे गिट्टी क्रेसर प्लांट निर्माण पर प्रतिबंध, खनिज निरीक्षक ने अमले के साथ मौके पर पहुंचकर की कार्यवाही, ग्रामवासियों ने की थी शिकायत


sehore news
सीहोर। कलेक्टर के अगले आदेश तक कोडिय़ा महोडिय़ा सेवानिया गौशाला के पीछे गिट्टी क्रेसर प्लांट निर्माण पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। जिला खनिज अधिकारी के निर्देश पर बुधवार को खनिज निरीक्षक खुशबु वर्मा ने अमले के साथ मौके पर पहुंचकर निरीक्षण किया और प्रतिबंधतम्क कार्यवाही को अंजाम दिया। कोडिय़ा महोडिय़ा सेवानिया के ग्रामीणों ने बीते दिनों निर्माणाधीन सेवानिया शासकीय गौशाला के पीछे स्थित गोया के लिए सुरक्षित छोड़ी गई सरकारी जमीन को किसानों और गौवंश हित में गौचरण के लिए संरक्षित कराने और खनिज माफिया पर सख्त कार्रवाहीं करने सहित लीज तत्काल निरस्त कराए जाने की मांग जिला कलेक्टर से की गई थी। कलेक्टर के निेर्देश पर जिला खनिज अधिकारी ने ग्रामीणों की इस शिकायत को गंभीरता से लेते हुए खनिज निरीक्षक खुशबु वर्मा को मौका पर स्थिति का जायजा लेने के लिए अमले के साथ शाहपुर कोडिया स्थित गौशाला के पीछे गिट्टी क्रेसर लगाने के लिए लीज पर दी गई विवादित जमीन के भेजा। खनिज विभाग अधिकारियों ने शिकायतकर्ता सरपंच प्रतिनिधि राजाराम कौशल एवं क्षेत्र के पटवारी और गा्रमीणों सहित क्रेसर लगाने वाले लीज धारक भगवान सिंह पुत्र घीसीलाल परमार और सहयोगियों को मौके पर बुलाया और गौशाला निर्माण के लिए संरक्षित भूमि और खनिज विभाग के द्वारा गिट्टी के्रसर के लिए लीज पर दी गई भूमि और चरनौई भूमि का नापतौल किया गया। फिलहाल दोनों पक्षों को कलेक्टर के अगले आदेश तक किसी भी प्रकार के निर्माण कार्य नहीं करने के निर्देश दिए गए है। ग्रामीणों की आपत्ति के बावजूद गोया की जमीन पर रविवार को अवैधानिक रूप से जेसीबी मशीन चलाई गई और जमीन को तोड़ा फोड़ा गया था जमीन पर गहरे गडढे कर दिए गए थे चरनोई भूमी को तोडऩे के लिए हरे भरे पेड़ों को भी के्रसर लगाने वाले लोगों ने नष्ट कर दिया था। ग्रामीणों ने अधिकारियों के द्वारा संाठगांठ से गिट्टी क्रेसर  मशीन लगाने दस साल के लिए अवैधानिक रूप से जमीन लीज लेने का आरोप भी लगाया गया था। ग्रामीणों का कहना था की निर्माणधीन गौशाला भवन के पीछे वर्षो पुराना सरकारी गोया है। गोया में गांव के मवैशी विचारण करते है बावजूद इस के खनिज विभाग ने उक्त सरकारी जमीन को गिटटी उत्खन्न के लिए दस साल के लिए दे दी थी जिस से गिटटी मशीन और उत्खन्न से आसपास के खेतों में फसलों को भी काफी नुकसान होता। जिस कारण क्षेत्र के सैकड़ों किसानों को आर्थिक नुकसान भी होता। साथ हीं गौशाला की गतिविधियां भी बुरी तरह प्रभावित होती। फिलहान क्रेसर प्लांट निर्माण पर प्रतिबंध लगाए जाने पर सरपंच प्रतिनिधि राजाराम कौशल वीर सिंह परमार, रमेश परमार, रघुनाथ सिंह, मनोज परमार, बने सिंह, चंदर सिंह, बीरवल परमार, उदय सिंह, बहादुर सिंह, दारा सिंह, पवन परमार, संतोष सिंह, प्रीतम सिंह परमार, अनिल परमार, धरम सिंह आदि ग्रामीणों ने जिला प्रशासन और खनिज विभाग का आभार व्यक्त किया है।


बीएसआई पर जारी प्रथम टी-20 लीग क्रिकेट टूर्नामेंट, एसीई अकादमी भोपाल ने सन राइजिंग को 80 रन के विशाल अंतर से हराया


sehore news
सीहोर। शहर के बीएसआई मैदान पर बुधवार से आरंभ हुई जिला क्रिकेट एसोसिएशन के तत्वाधान में एसएन पहलवान स्मृति प्रथम टी-20 लीग क्रिकेट टूर्नामेंट प्रतियोगिता में दो मैच खेले गए। इसमें पहला मैच एसीई अकादमी भोपाल ने सन राइजिंग को 80 रन के विशाल अंतर से हराया, वहीं एक अन्य मुकाबले में सीहोर जूनियर ने सेंट माइकल को 21 रन से हराया। आज सुबह खिलाडिय़ों का उत्साहवर्धन करने के लिए मैदान पर जिला क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष और विधायक सुदेश राय के पुत्र राज राय, उल्लास सोलके, वरिष्ठ खिलाड़ी शैलेन्द्र पहलवान, एसोसिएशन के सचिव अतुल तिवारी, वीरेन्द्र वर्मा, प्रदीप चौहान, सुरेन्द्र रल्हन, अतुल कुशवाहा, मनोज दीक्षित मामा, मदन कुशवाहा, नीरज चौरसिया, हेमंत केसरिया, अतुल त्रिवेदी, आशीष शर्मा, संतोष पांडे, नागेन्द्र व्यास, अनिल विलय बंटी, चेतन मेवाड़ा आदि ने खिलाडिय़ों से परिचय प्राप्त किया। बुधवार को पहले बल्लेबाजी करने उतरी एसीई अकादमी भोपाल ने निर्धारित 20 ओवर में शानदार बल्लेबाजी करते हुए तीन विकेट खोकर 232 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया था। इसमें शिवम ने मात्र 33 गेंद पर 76 रन, संयोग ने 46 गेंद पर 73 रन और समद ने 26 गेंद पर 41 रन की विस्फोटक पारियां खेली। मैदान पर चौके और छक्के लगाते नजर आए। वहीं सनराइजिंग इलवेन की ओर से गेंदबाजी करते हुए करण, अभिषक ने 1-1 विकेट हासिल किया। जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी सनराइजिंग टीम निर्धारित 20 ओवर में छह विकेट खोकर 152 रन ही बना सकी। इसमें संतोष ने 53 गेंद पर 91 रन, राकेश ने 13 रन और सैंकी ने 15 रन की संघर्षपूर्ण पारी खेली। इस प्रकार एसीई अकादमी भोपाल ने सनराइजिंग इलेवन को 80 रन के विशाल अंतर से हराया।


सीहोर जूनियर ने सेंट माइकल को 21 रन से हराया

एक अन्य मैच सीहोर जूनियर टीम ने भोपाल की दिग्गज टीम सेंट माइकल को 21 रन से हराया। इस मैच में सीहोर ने दस विकेट के नुकसान पर निर्धारित 20 ओवर में पहले खेलते हुए 147 रन का चुनौतीपूर्ण लक्ष्य रखा था। जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी सेंटमाइकल भोपाल की पूरी टीम 126 रन पर ढेर हो गई। इस मैच में सीहोर की ओर से प्रकेंश राय ने पांच विकेट लिए।


आज के होने वाले मुकाबले

डीसीए के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि गुरुवार को पहला मैच एनसीसीसी और सिटी वारियर के मध्य सुबह नौ बजे और एक अन्य मुकाबला भोपाल रेलवे और ट्राईडेंट सीहोर के मध्य खेला जाएगा। पहले मैच का मैन आफ द मैच एसीई के हरफनमौला खिलाड़ी शिवम को दिया गया और दूसरा मैन आफ मैच सीहोर जूनियर के हरफनमौला खिलाड़ी उज्जवल को दिया गया। 


भगवान की कथा कल्याणकारी है-पं हर्षित शास्त्री जी


sehore news
सीहोर। श्री शारदा वैदिक संस्थान के तत्वाधान में श्री नारायण पैलेस लिसा टॉकीज में आयोजित हो रही भव्य श्रीमद् भागवत रस कथा एवं तुलसी नारायण विवाह उत्सव में आज दूसरे दिन की कथा में प पू ज्योतिष एवं भागवत सिंधु आचार्य पं हर्षित शास्त्री महाराज ने कथा में बताया की कथा जीवन मे कल्याण का मार्ग खोलने वाली है कथा से भगवान की प्राप्ति होती है। जीवन मे लोग भगवान की भक्ति तो करते है परंतु कामना के लिए जबकि भगवान की भक्ति निष्काम होनी चाहिए। क्योंकि निष्काम भक्ति से भगवान प्रसन्न होते है और स्वयं भक्त के लिए आते है मीरा बाई को जहर दिया परंतु वो प्रभु भक्ति के प्रभाव से चरणामृत हो गया ऐसे ही अपने भक्त नामदेव ने अपनी भक्ति से भगवान को मूर्ति से बाहर बुला लिया भगवान सदैव अपने भक्त के लिए तत्पर रहते है जब द्रोपती पर भी पीड़ आई तो भगवान ने उसकी रक्षा करी कथा महाभारत का चरित्र वर्णन किया गया भीष्म स्तुति में बताया कि मृत्यु शय्या में होने के बाद भी भगवान का ध्यान नही गया तो भगवान भी दर्शन देने आए कथा में शुकदेव जी महाराज का राजा परीक्षित से मिलन हुआ परीक्षित ने पूछा मारने वाले को क्या करना चाहिए। शुकदेव जी कहते है कि मृत्य का भय सबसे बड़ा है जब यह समाप्त होता है तो प्रभु भक्ति में मृत्यु भी उत्सव बन जाती साथ सृष्टि प्रक्रिया का वर्णन किया गया


आज होगा शिव विवाह एवं भक्त चरित्र कथा का वाचन
कथा दिन में डेढ़ बजे से 5 बजे प्रारम्भ होती है कथा स्थल नारायण पैलेस लिसा टॉकीज चौराहा निवेदक श्री शारदा वैदिक संस्थान आप सब अधिक से अधिक संख्या में श्रद्धालुओं से आने की अपील की है। 


आज उत्साह के साथ मनाया जाएगा भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव, मानव शरीर सबसे दुर्लभ होता है-पंडित अजय पुरोहित



sehore news
सीहोर/अहमदपुर। मानव शरीर सबसे दुर्लभ होता है। इससे भी दुर्लभ है वास्तविक गुरू का मिलना। वेदों और शास्त्रों को जितना पढ़ोगे उतने ही उलझते जाओगे। लेकिन जब वास्तविक गुरू मिल जाता है कि तो वह उलझनों को दूर करके ज्ञान प्रदान करता है। इसलिए वास्तविक गुरू का मिलना दुर्लभ कहा गया है।  मानव शरीर इतना दुर्लभ है कि स्वर्ग में रहने वाले देवता भी इसके लिए तरसते रहते हैं। हजारों जन्मों के बाद यह मानव देह मिलता है। उक्त बात अहमदपुर के मंडी परिसर में जारी सात दिवसीय भागवत कथा के तीसरे दिन श्रीश्री 1008 महामंडलेश्वर याशोदा नंद पंडित श्री अजय पुरोहित ने कहे। उन्होंने अवधूत शब्द की परिभाषा बताते हुए कहा कि अ से अक्षर, व से वरण, धू से धूल और त से तत्वमसिÓ अर्थात् वह तुम हो। जीवन का सारतत्व कहता है 'अयम आत्म ब्रह्मÓ अर्थात् यह आत्मा ब्रह्म है। ये सारे महान कथन भिन्न-भिन्न हैं और भिन्न-भिन्न प्रकार से उनकी व्याख्या की गई है, किंतु वे सब एक ही दिव्यता की ओर इशारा करते हैं और उनका विषय केवल दिव्यता है। उन्होंने बुधवार को भागवत कथा के बारे में विस्तार से बताते हुए कहा कि शुकदेवजी का जन्म वेद व्यासजी की पत्नी आरुणी से हुआ। शुकदेव अपनी माता के गर्भ में 12 वर्ष तक रहे। जब पिता ने उन्हें बाहर आने को कहा तो शुकदेव ने कहा कि पृथ्वी पर भगवान हरि की माया है। वह जीव के विवेक को हर लेती है। जब तक स्वयं श्रीहरि मुझे आस्वस्त न कर दें तब तक मैं पृथ्वी पर नहीं आऊंगा। वेदव्यासजी ने भगवान श्रीहरि का आह्वान किया और भगवान श्रीहरि प्रकट हो शुक जी से बोले पुत्र तुम बाहर आओ तुम्हें मेरी माया स्पर्श न करेगी। इसके बाद शुकदेव ने जन्म लिया। बाद में माया से अनाशक्त हो वन की ओर चले गए। व्यास जी शुकदेव के पीछे दौड़े। रास्ते में वृक्षों ने शुकदेव की ओर से उत्तर दिया कि पिताश्री इस मरण शील संसार में कौन किसका पुत्र और कौन किसका पिता है। बाद में इन्हीं शुकदेव को व्यासजी ने भागवत ज्ञान दिया। कथा के तीसरे दिन बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं पहुंचे। गुरुवार को भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया जाएगा। भागवत कथा का आयोजन समाजसेवी राय परिवार के सहयोग से किया जा रहा है।   


कोर्ट ने गौ हत्या को अपना धार्मिक हक मानने वालों को दी है सख्त हिदायत- महामंडलेश्वर गिरी

  • महामंडलेश्वर का श्रीराम गौशाला अध्यक्ष पंडित मोहितराम पाठक, महंत उद्धवदास महाराज ने किया स्वाग्रत

jhabua news
सीहोर। मध्य प्रदेश गौ संवर्धन बोर्ड अध्यक्ष कैबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त पूज्य संत महामंडलेश्वर अखिलेशानंद गिरी महाराज ने विश्राम भवन में पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा की मध्य प्रदेश देश का एक मात्र एैसा प्रदेश है जिस में गौ हत्या प्रतिबंधित है। उन्होने कहा की सुप्रीम कोर्ट ने भी गौ हत्या को अपना धार्मिक हक मानने वालों को सख्त हिदायत दी है। सिद्धपुर माटी के गो क्रांति अग्रदूत कथा व्यास श्रीराम गौशाला के अध्यक्ष पंडित मोहितराम पाठक, महंत उद्धव दास महाराज ने बुधवार को सीहेार पहुंचे मध्य प्रदेश गौ संवर्धन बोर्डं अध्यक्ष कैबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त पूज्य संत महामंडलेश्वर अखिलेशानंद गिरी महाराज को स्मृति चिंह भेंटकर  पुष्प मालाओं से स्वागत सम्मान किया। गोपाष्टमी महोत्सव के दौरान मध्य प्रदेश गौ संवर्धन बोर्ड अध्यक्ष कैबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त पूज्य संत महामंडलेश्वर अखिलेशानंद गिरी महाराज ने कहा की गोवंश के प्रति अति संवेदनशील मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 100 करोड़ रूपये का बजट गौ संवर्धन बोर्ड अवंटित किया है। जिस से गौशालाओं का निर्माण किया जा रहा है और गोवंश की रक्षा सुरक्षा पालन के लिए जनभागीदारी से भी धन एकत्रित करने की योजना बनाई गई है। इस शुभासर पर दीपेंद्र बरैया, यज्ञेश सेव्य, परमवीर जाट, संतोष राठौर, प्रदीप पाठक, कालू तिवारी आदि उपस्थित रहे। 


पांच दिवसीय श्री गोवर्धन शिव महापुराण का आज किया जाएगा सादगी के साथ समापन
  • कथाकार को स्वयं अपनी बातों पर अमल करना चाहिए-भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा
sehore news
सीहोर। आप सभी लोग स्वयं को सुधारें, तो सारा जग अपने आप ही सुधर जाएगा। हमें दूसरों को सुधारने की जगह स्वयं खुद को सुधारने का प्रयास करना होगा। तभी देश का कल्याण होगा। कथाकार को स्वयं अपनी बातों पर अमल करना चाहिए, तभी सुनने वाले पर उसके कथन का असर होता है। उक्त विचार जिला मुख्यालय के समीपस्थ चितावलिया हेमा स्थित निर्माणाधीन मुरली मनोहर एवं कुबेरेश्वर महादेव मंदिर में रविवार से आरंभ हुई पांच दिवसीय श्री गोवर्धन शिव महापुराण के चौथे दिन भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा ने कहे। उन्होंने कहा कि हमें रोज यह सोचना चाहिए कि हम इस जगत में क्यों आए हैं। क्या हम अपने कर्तव्य को पूरी तरह से निभा रहे हैं। परिवार आजकल टूटते जा रहे हैं। इन्हें केवल हिंदु धर्म की परंपराओं और मान्यताओं के आधार पर ही जोड़ा जा सकता है। इसके लिए आपस में आस्था और श्रद्धा जरूरी है। इंसान अपनी आदतों से सफल और असफल होता है. यानि जब व्यक्ति में अच्छी आदतें होती हैं तो व्यक्ति जीवन में सफलता प्राप्त करता है। वहीं जब व्यक्ति गलत आदतों से घिर जाता है तो हानि उठाता है। गलत आदतों के कारण ही व्यक्ति को अपयश प्राप्त होता है इसलिए गलत आदतों से व्यक्ति को हमेशा दूर रहना चाहिए। भगवान शिव की महापुराण को ध्यान से सुनकर अमल में लाना चाहिए। जिससे हमारे मानव जीवन को सार्थक बनाया जा सके।


कार्तिकेय का जन्म और तारकासुर का अंत
पंडित श्री मिश्रा ने कहा कि भगवान शंकर और पार्वती के मांगलिक मिलन के बाद भी जब कोई संतान नहीं हुई तो सब विचलित हो गए। सर्वाधिक परेशान तो इंद्र थे। जो तारकासुर से पीडि़त थे। शंकर जी के शुक्र से कार्तिकेय का जन्म हुआ। लेकिन पार्वती जी उनकी धर्ममाता थीं। सबने मिलकर बालक का नाम कार्तिकेय रखा। कार्तिकेय अतुलित बलशाली थे। देवता बार-बार शंकरजी से आराधना कर रहे थे कि तारकासुर के वध के लिए कार्तिकेय जी को कहिए। आखिरकार समय आया और कार्तिकेय ने तारकासुर का वध कर दिया। 


यात्री प्रतिक्षालय पर किया अवैधानिक रूप से अतिक्रमण, सेवादल कांग्रेस ने की कब्जा हटाने की प्रशासन से मांग


sehore news
सीहोर। दीनदयाल उपाध्याय माध्हान भोजन केंद्र एवं जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय के सामने बस स्टेंड स्थित यात्री प्रतिक्षालय पर आसामाजिक तत्वों ने अतिक्रमण कर लिया है। सेवादल जिला कांग्रेस अध्यक्ष नरेंद्र खंगराले ने यात्रियों और नागरिको  के हित में असामाजिक तत्वों और भिक्षावृति करने वालों द्वारा किए गए अतिक्रमण को हटाने की मांग मुख्य नगर पालिका अधिकारी संदीप श्रीवास्तव जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष बलवीर तोमर, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष राकेश राय से की है। सेवादल जिलाध्यक्ष श्री खंगराले ने कहा की बस स्टेंड पर जहां तहां घूमने वाले असामाजिक गुंडा तत्वों और भिक्षावृति करने वालों के द्वारा यात्री प्रतिक्षालय को अपना आशियाना हीं बना लिया गया है। असामाजिक तत्वों के द्वारा प्रतिक्षालय में अनैतिक कार्य भी किए जा रहे है। जिस के कारण दीनदयाल उपाध्याय माध्हान भोजन केंद्र भोजन करने पहुंचने वाले लोगों और यात्रियों सहित स्थानीय दुकानदारों के साथ भी उक्त असामाजिक गुंडा तत्वों और भिक्षावृति करने वालों के द्वारा दुव्र्यहार किया जाता है। यात्री प्रतिक्षालय में देररात में शराबखौरी के साथ अनैतिक कार्य करने की शिकायते भी सामने लगातार आ रही है। यात्री प्रतिक्षालय में गंदगी भी की जाती है। नगर पालिका परिषद के द्वारा बनाए गए सार्वजनकि यात्री प्रतिक्षालय टीनशेड में अगर कुछ गलत घटना होती है तो इस से नपा की बदनामी होने का अंदेशा भी बना हुआ है। तत्काल यात्री प्रतिक्षालय से उक्त असामाजिक गुंडा तत्वों और भिक्षावृति करने वालों को हटाएं जाने की मांग सेवादल के द्वारा जनहित में की गई है। मांग करने वालों में राजाराम बडेभाई, डॉ अनीस खान, सीताराम भारती, पवन राठौर, रमेश राठौर, संतोष सिंह, मटरू टेलर, मांगीलाल टिमरई, गब्बर विश्वकर्मा, मुन्नालाल मालवीय, रामचरण मालवीय, अनिल गबाटिया, सुरेश सिलावट, घनश्याम जाटव पार्षद आरती नरेंद्र खंगराले, श्रीमति मीरा रेकवार, आशा गुप्ता उषा पुरविया आदि शामिल है। 


टीकाकरण महाअभियान के तहत 13539 लोगों ने लगवाया कोविड टीका


sehore vaccine
जिले में कोविड टीकाकरण महाअभियान के तहत 13539 लोगों को कोविड का टीकाकरण किया गया। सीएमएचओ श्री सुधीर डेहरिया ने बताया कि जिले में शुक्रवार को 13539 लोगों को कोविड का टीका लगाया गया। सुबह 8  बजे से ही लोग कोविड का टीका लगवाने के लिए टीकाकरण केन्द्र पहुंचे।


जिले में जनपदवार टीकाकरण की स्थिति
जिले में कुल 13539 नागरिकों का टीकाकरण किया गया। जिले में कुल 194 टीकाकरण सत्र आयोजित किए गए। आष्टा में 3832, बुधनी में 2446, इछावर में 1723, नसरूल्लागंज में 2172, श्यामपुर में 2184 तथा सीहोर शहरी क्षेत्र में 1182 नागरिकों का टीकाकरण किया किया गया।



पैदावार बढ़ाने में मददगार साबित हुई नलकूप योजना



sehore news
नसरूल्लागंज के ग्राम बोरखेड़ा निवासी अनुसूचित जनजाति वर्ग के किसान हरिराम के खेत में पानी न होने से वे बहुत ही परेशान थे और खेती किसानी में किसानो की सबसे बड़ी चिंता सिचाईं को लेकर ही होती है। नसरूल्लागंज तहसील के ग्राम बोरखेड़ा के किसान हरिराम की यह चिंता अब दूर हो चुकी है और यह संभव हुआ है नलकूप खनन योजना से। इस योजना ने किसान हरिराम के जीवन में खुशहाली ला दी हैं। किसान हरिराम उपचारित बीज खरीद कर गेहूँ, चना, सोयाबीन की उन्नत खेती करते है। सिचाईं का साधन होने से वह अपनी पैदावार बड़ा पा रहे है। हरिराम का स्वयं का सिचाईं का साधन होने से उनकी जिंदगी बदल गयी है। इससे पैदावार तो बढ़ ही रही है, साथ ही वे अधिक मुनाफा कमा रहे है। हरिराम ने 40 हजार अनुदान लेकर नलकूप योजना का लाभ लिया हैं। इस नलकूप से वह अपने खेत की सिचाईं करते है। हरिराम का कहना है कि मेरे पास तीन एकड़ जमीन है। नलकूप योजना से किसान हरिराम ने उसके जीवन में आए बदलाव के लिए सरकार को धन्यवाद दिया।



एक जनवरी तक एक लाख मछुआ क्रेडिट कार्ड बनाए जाएं:मंत्री श्री सिलावट

  • सभी जिलों में शुक्रवार को मछुआ क्रेडिट कार्ड के लिए विशेष शिविर लगेंगे

जल संसाधन, मछुआ कल्याण और मत्स्य विकास मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट ने कहा कि आने वाला एक साल विकास कार्यों के लिए महवपूर्ण है। इसमें विभाग का हर स्तर पर कायाकल्प किया जाएगा और उपलब्धि के साथ मछुआरों को योजनाओं का लाभ दिलाया जाएगा।  कोरोना काल में सभी प्रकार के काम रुक गए थे, विभागीय गतिविधि भी स्थगित थी इससे मछुआरों की आय भी प्रभावित हुई। वर्ष 2022 काम के लिए सही समय है। इसमें मछली पालन और उत्पादन को उच्चतम स्तर पर ले जाना है। मंत्री श्री सिलावट ने कहा कि क्रेडिट कार्ड बनाने के लिए सभी अधिकारी प्राथमिकता से काम करें और दिसंबर, 2021 तक एक लाख मछुआरों के क्रेडिट कार्ड बनाए जाएँ। मार्च 22 तक लक्षित सभी मछुआरों को क्रेडिट कार्ड उपलब्ध कराए जाएँ। मछुआरों की आय में वृद्धि के लिए जरूरी है कि मछली पालन में नवाचार को अपनाया जाए और नई तकनीक से मछली पालन किया जाए। इसके लिए मछुआरों को प्रशिक्षित किया जाए और मार्केट भी उपलब्ध कराया जाए। जिले में बेहतर काम करने वाले अधिकारियों को प्रदेश स्तर पर सम्मानित करेंगे मंत्री श्री सिलावट ने कहा कि सभी जिले प्रतिस्पर्धा के साथ काम करें और सबसे अच्छा काम करने वाले अधिकारियों को प्रदेश स्तर पर सम्मानित किया जाएगा। मार्केट डिमांड के अनुसार मछली उत्पादन किया जाए, जिससे मछुआरों की आय और जीवन स्तर को बेहतर किया जा सके। मंत्री श्री सिलावट ने कहा कि प्रदेश में मत्स्य उत्पादन को बढ़ाया जाए और इसमें 50 प्रतिशत तक की वृद्धि के लिए कार्य-योजना बनाकर अमल में लाएँ। मत्स्य उद्योग संचालनालय के भोपाल स्थित कार्यालय में प्रदेश स्तरीय बैठक में संचालक भारत कुशवाह, प्रबंध संचालक श्री पुरुषोत्तम धीमान और विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे। मंत्री श्री सिलावट ने मत्स्य विभाग के सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि  मछली उत्पादन बढ़ाने के लिए अपना सर्वोत्तम देवें।  उन्होंने मछुआ क्रेडिट कार्ड बनाने के  निर्देश दिए और कहा प्रदेश के सभी जिलों में  बैंको में विशेष शिविर लगाए जाएँगे। शुक्रवार को विशेष कैंप लगाए जाएँगे।  उन्होंने कहा जिले के सभी अधिकारी यह भी सुनिश्चित करें कि मछुआ समिति को मछुआरे ही संचालित करें। अक्रियाशील समितियों को हटाया जाए। समितियों की शिकायतों पर कार्रवाई कर उसका त्वरित निराकरण किया जाए। मंत्री श्री सिलावट ने  विभाग द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए अधिकारियों को मछुआ समितियों के साथ बैठक करने के निर्देश दिए। साथ ही मछुआ क्रेडिट कार्ड बनानें के लिए मछुआरों के घर-घर सर्वे करने के लिए कहा। उन्होंने कहा सभी मछुआ समितियों के सदस्यों में क्रेडिट कार्ड मिलने वाले लाभ के सम्बन्ध में जागरूकता बढ़ाई जाए। मंत्री श्री सिलावट ने सीहोर, राजगढ़, रायसेन और विदिशा जिलों में मत्स्य बीज उत्पादन कम होने पर नाराजगी व्यक्त की और उत्पादन तथा प्रदेश में हेचरी को बढ़ाने के निर्देश भी दिए। भोपाल के पड़ोस के सभी जिलों में एक-एक नई हेचरी बनाने के निर्देश भी दिए। मंत्री श्री सिलावट ने कहा इस वर्ष मत्स्य उत्पादन 43 हजार टन है इसको 50 हजार टन तक बढ़ाया जाए। मंत्री श्री सिलावट ने प्रदेश में  मछली उत्पादन बढ़ाने के लिए नई योजना बनाने हेतु सुझाव विभाग के संचालक को भेजने के निर्देश दिए, जिससे मछली उत्पादन बढ़ाकर मछुआरों की आर्थिक उन्नति की जा सके।


अनुसूचित जनजाति वर्ग के युवाओं के लिए संचालित की जा रही है, सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना



प्रदेश सरकार द्वारा अनुसूचित जनजाति वर्ग के युवाओं को शैक्षणिक प्रोत्साहन देने, उनके कौशल उन्नयन तथा उच्च शिक्षा प्राप्ति के लिए विभिन्न योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। इन योजनाओं से युवाओं को अपने सपनों को साकार करने में मदद मिल रही है।  इन्हीं में से एक योजना है सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना, जिसके तहत मध्यप्रदेश प्रदेश लोक सेवा आयोग तथा संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा तथा साक्षात्कार में सफल होने पर प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाती है। शासन द्वारा अनेक योजनाएं संचालित की जा रही हैं जिनकी मदद से हम अपने लक्ष्य को हासिल कर सकते हैं। बस जरूरत है तो अपना लक्ष्य निर्धारित करते हुए उसे प्राप्त करने के लिए पूरी लगन, निष्ठा और मेहनत से प्रयास करने की। शासन द्वारा स्कूली शिक्षा से उच्च शिक्षा प्राप्ति के लिए विभिन्न योजनाएं संचालित की जा रही है।


स्वास्थ्य सेवाओं में विस्तार के लिये प्रयास निरंतर जारी- स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी


प्रदेश के सभी जिला अस्पताल, सिविल अस्पताल और स्वास्थ्य केन्द्रों को आधुनिक चिकित्सा उपकरणों से सुसज्जित करने के साथ उपचार की सभी सुविधाएँ उपलब्ध कराने के लिये निरंतर प्रयास किये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में स्वास्थ्य संस्थाओं को आधुनिक चिकित्सा उपकरणों से लैस करने के लिये युद्ध स्तर पर प्रयास किये जा रहे हैं। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने सोमवार को भोपाल में सीएसआर मद से प्राप्त डायलिसिस मशीनों और एडवांस आईसीयू वेंटीलेटर के लोकार्पण कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। स्वास्थ्य मंत्री ने चार लाख रुपये लागत से विकसित किये गये रेबीज मोबाइल एप का भी शुभारंभ किया। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि एक करोड़ 28 लाख रुपये लागत की 16 डायलिसिस मशीनें आईसीआईसी बैंक द्वारा फेयर फेक्स इण्डिया चेरीटेबल फाउण्डेशन के माध्यम से स्वास्थ्य विभाग को उपलब्ध कराई गई हैं। डायलिसिस मशीनों को 15 शासकीय संस्थाओं में लगाया जा रहा है। एसोसिएटेड चेम्बर्स ऑफ कॉमर्स एण्ड इंडस्ट्री ऑफ इण्डिया द्वारा एक करोड़ 63 लाख रुपये कीमत के 25 एडवांस आईसीयू वेंटीलेटर दिये गये हैं। वेंटीलेटर्स को 16 शासकीय जिला चिकित्सालयों में लगाया जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि रेबीज नियंत्रण कार्यक्रम की मॉनीटरिंग के लिये मोबाइल एप्लीकेशन को स्वास्थ्य विभाग द्वारा तैयार किया गया है।


हिंदुत्व की विचारधारा सबको अपनत्व के भाव से देखती है: मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किया “हिंदुत्व  फॉर द चेंजिंग टाइम्स” पुस्तक का विमोचन

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि हिंदुत्व की विचारधारा व्यापक एवं अद्भुत है l यह सबको अपनत्व के भाव से देखती है और सारी दुनिया को एक परिवार की भांति मानती है। बचपन से ही हमें सिखाया गया है प्राणियों में सद्भावना हो, विश्व का कल्याण हो, धर्म की जय हो और अधर्म का नाश हो यह हिंदुत्व है। मुख्यमंत्री श्री चौहान आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत  निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग में आयोजित समारोह में श्री जे. नंदकुमार की पुस्तक “हिंदुत्व  फॉर द चेंजिंग टाइम्स” का विमोचन कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हिंदुत्व की प्राचीन परंपरा है। हिंदुत्व हमेशा प्रासंगिक रहा है और हमेशा बना रहेगा। उन्होंने कहा कि हिंदुत्व ने देश को ही नहीं बल्कि सारी दुनिया को व्यापक विचारधारा दी है । चाहे कोई व्यक्ति साकार हो या निराकार हो सभी के विचार हिंदुत्व में समाहित हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा हम बचपन से ही बच्चों को घुट्टी पिलाते हैं विश्व का कल्याण हो, प्राणियों में सद्भावना हो। उन्होंने कहा कि प्रकृति को भी आत्म-भाव से देखो। पशु-पक्षी, पेड़-पौधे, जीव-जंतु, नदी, समुद्र, पर्वत और पहाड़ आदि सभी में समस्त जड़ और चेतन में हिंदुत्व है। हर एक आत्मा में परमात्मा का अंश है, जो दिखाई नहीं देता लेकिन साधना से संभव है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रकृति की पूजा करने से ही हम बच सकते हैं । यदि इसी तरह प्रकृति का शोषण करते रहे तो इसके दूरगामी प्रभाव भयानक होंगे। इसलिए प्रकृति का दोहन करो लेकिन शोषण नहीं करो। पर्यावरण संतुलन बनाए रखने के लिए प्रकृति का शोषण हमें रोकना होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि ग्लोबल वॉर्मिंग को लेकर दुनिया थर्रा रही है और पर्यावरण बचाने की बात कर रही है। भगवान कृष्ण ने हजारों साल पहले गोवर्धन पर्वत उठाकर संदेश दे दिया था कि प्रकृति को पूजो। ये बचेगी तो तुम बचोगे। पेड़ों की पूजा करो, प्रकृति को भी आत्म-भाव से देखो। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गौ-माता को पूजने के पीछे भी हमारी दृष्टि है कि प्राणियों को भी अपनत्व के भाव से देखो। नदियों को माता कहने और उनकी पूजा करने के पीछे भी यही भाव छिपा हुआ है। यह प्रकृति सबकी है।   उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि हमारा हिंदुत्व नाभि में अमृत के समान है। हिंदुत्व के कारण ही हमारी संस्कृति दुनिया में अमिट है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी  एवं मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के कुशल नेतृत्व में हम वैश्विक महामारी कोरोना की विषम परिस्थितियों से निपटने में कामयाब हुए हैं। प्रज्ञा प्रवाह के अखिल भारतीय संयोजक एवं पुस्तक के लेखक श्री जे. नंदकुमार ने कहा कि हिंदुत्व को शक्तिशाली बनाए बिना भारत शक्तिशाली नहीं बन सकता। भारत को भारत मानने का आधार भी हिंदुत्व है। उन्होंने कहा कि विश्व में बहुत बड़े पैमाने पर वैचारिक संघर्ष की लड़ाई चल रही है । हिंदुत्व को कमजोर करने वाली ताकतें इसके सामने नहीं टिक सकीं। हिंदुत्व  राजनीति से भिन्न है इससे हिंदुत्व का संबंध नहीं है। भारत में ही नहीं समूचे विश्व में हिंदुत्व की विचारधारा आगे बढ़ रही है। निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग के अध्यक्ष प्रोफ़ेसर श्री भरत शरण सिंह ने कहा कि हिंदुत्व सनातन संस्कृति है। प्रकृति और परमात्मा का अनुपालन ही हिंदुत्व है। इसके कारण ही भारत विश्व में किसी से पीछे नहीं है और विश्व का मार्गदर्शन करने में भी आगे है। स्वागत उद्बोधन देते हुए श्री विश्वास चौहान ने कहा की पुस्तक में भारतीय परंपराओं एवं संस्कृति पर प्रकाश डाला गया है। हिंदुत्व एक जीवन पद्धति है जिसको इस पुस्तक में विस्तार से वर्णित किया गया है। विश्वविद्यालयों के कुलाधिपति, कुलपति, कुलसचिव और प्राध्यापक सहित अन्य लोग उपस्थित थे।


आमजन की समस्याओं का निराकरण हो पहली प्राथमिकता: मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विभिन्न जिलों के शिकायतकर्ताओं के 11 लंबित प्रकरणों का निराकरण करवाया  12 के विरूद्ध हुई दंडात्मक कार्यवाही

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी  कलेक्टरों को निर्देश दिए हैं कि समाधान ऑनलाइन, सीएम हेल्पलाइन और जन सुनवाई जैसे माध्यमों का उपयोग नागरिकों की समस्याओं के निराकरण में किया जाए। यह साधन आम जनता की सहायता के लिए एक किस्म का पैकेज है। जब इन माध्यमों की शुरुआत की गई तो निराकरण का प्रतिशत कम होता था। कोरोना काल में भी इस तरह के आवेदनों के निराकरण में कमी आई थी। लेकिन अब स्थितियाँ सामान्य होते ही इस गति को बढ़ाना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभीकलेक्टर इसके लिए प्रयासरत रहें और आवश्यक समन्वय कर विभागों में आए नागरिकों के आवेदन-पत्रों का निराकरण प्राथमिकता और तत्परता से करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जनता की समस्याओं को हल करने में जिन जिलों ने इन माध्यमों का उपयोग करते हुए अच्छा कार्य किया है, वे बधाई के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि मैं आगामी माह जिलों के परफॉर्मेंस की समीक्षा करूंगा। एक माह में सभी जिले अपना परफॉर्मेंस बेहतर बनाने का प्रयास करें। जो जिले नागरिकों की समस्याओं के समाधान के कार्य में बहुत पिछड़े हैं वहाँ अधिक ध्यान देने की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री श्री  चौहान आज मंत्रालय से 'समाधान ऑनलाइन' में प्रदेश के नागरिकों की समस्याओं के समाधान को लेकर वरिष्ठ अधिकारियों से चर्चा कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कलेक्टरों और वरिष्ठ अधिकारियों को आवश्यक निर्देश भी दिए। समाधान ऑनलाइन में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव श्री मनीष रस्तोगी, अपर मुख्य सचिव सामान्य प्रशासन श्री विनोद कुमार, आयुक्त जनसंपर्क सुदाम खाड़े भी उपस्थित थे।

प्रकरणों में की गई कार्रवाई
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा शिकायतकर्ता के आवेदन को बिना निराकरण  के  बंद करने (फोर्सली क्लोज) वाले अधिकारियों के विरुद्ध कार्यवाही की जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विभिन्न जिलों के शिकायतकर्ताओं के 11 लंबित  प्रकरणों का निराकरण करवाया। इन जिलों में भोपाल, इंदौर, दतिया, निवाड़ी, डिंडोरी, दमोह आदि शामिल हैं। कुल 12 अधिकारी-कर्मचारी कार्यों में विलम्ब के दोषी पाए गए। इनके विरूद्ध दंडात्मक कार्यवाही की गई।

शिकायत एक समाधान अनेक
समाधान ऑनलाइन में आज जबलपुर के शिकायतकर्ता श्री संजय कुमार साकेत की मार्कशीट संबंधी मांग पर आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय जबलपुर ने निर्णय लेते हुए प्रत्येक वर्ष की मार्कशीट देने पर सहमति दी। इस प्रकरण से 556 विद्यार्थियों को मार्कशीट उपलब्ध करवाने का कार्य संभव हो गया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि एक प्रकृति के आवेदनों में निराकरण की कार्यवाही को आधार बनाकर अन्य लंबित आवेदन-पत्रों का कार्य भी किया जाए। श्री संजय कुमार साकेत की शिकायत के फलस्वरूप अन्य विद्यार्थियों को भी अंकसूची प्राप्त हो गई है।

संबल की सहायता राशि मिली
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने शिवपुरी जिले आवेदक श्री बालकृष्ण के परिवार के सदस्य की सड़क दुर्घटना में मृत्यु के बाद संबल योजना की अनुग्रह सहायता राशि प्रदान न करने और इस कार्य में विलंब के दोषी कर्मचारियों के विरूद्ध कार्यवाही के निर्देश दिए। जनपद पंचायत करेरा के लेखापाल श्री रामचरण कुशवाहा ,श्री सुरेश गुप्ता ,शाखा प्रभारी श्री के.के. गुप्ता, सहायक विस्तार अधिकारी श्री बलवंत सिंह कदम और तत्कालीन मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती मनीषा चतुर्वेदी को कारण बताओ नोटिस दिए गए। आवेदक को 4 लाख रुपए सहायता राशि का भुगतान कर दिया गया है।

आवेदक को मिला भू-खंड
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इंदौर के श्री सूरज के आवेदन पर गृह निर्माण मंडल की तरफ से भूखंड प्रदान करने के निर्देश दिए। इस प्रकरण में मुख्यमंत्री ने दोषी सम्पत्ति अधिकारी को निलंबित करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान के निर्देश पर इंदौर के आवेदक श्री सूरज को गृह निर्माण मंडल का भू-खंड मिलने में विलंब होने पर कार्यपालन यंत्री श्री मनोज शेवाले और सहायक यंत्री श्री संजय कुमार जैन को भी कारण बताओ नोटिस जारी किए।

पेंशन, जलप्रदाय योजना, प्रसूति सहायता, वाहन पंजीयन, राशन कार्ड अपडेट करने का हुआ समाधान
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने शाजापुर के श्री सईद खां को राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन की राशि न मिलने के प्रकरण में विसंगति दूर कर पेंशन का भुगतान करने के निर्देश दिए। इसी तरह मुख्यमंत्री ने दतिया के श्री कल्याण सिंह के आवेदन पर ग्राम सेगुवा, विकासखण्ड सेवढ़ा में सुचारू जल प्रदाय के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने टीकमगढ़ के श्री ओमप्रकाश केवट द्वारा राशन कार्ड को अपडेट करवाने का कार्य न किए जाने की शिकायत पर समाधान की कार्यवाही करवाई। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस प्रकरण में बीपीएल कार्ड की पात्रता पर्ची में सदस्यों के नाम न जोड़े जाने के दोषी  पंचायत सचिव श्री अरविंद खंगार को निलंबित करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भिण्ड के आवेदक श्री मनोज ओझा को वाहन की ऑनरशिप ट्रांसफर करने के कार्य को पूरा करवाया। मुख्यमंत्री ने डिण्डोरी के श्री नरोत्तम सिंह को बैंक शाखा द्वारा सब्जी व्यवसाय के लिए साढ़े पाँच लाख रूपये का ऋण स्वीकृत करवाते हुए बैंकों में लंबित आवेदनों के निराकरण के निर्देश दिए गए। मुख्यमंत्री श्री चौहान के निर्देश पर दमोह जिले के आवेदक श्री नरेंद्र पाल लोधी के प्रकरण में परिवार सदस्य को मुख्यमंत्री जनकल्याण (संबल) योजना में प्रसूति सहायता राशि न मिलने पर विकास खंड चिकित्सा अधिकारी, कार्यक्रम प्रबंधक और  लेखा प्रबंधक की एक-एक वेतन वृद्धि रोकने की कार्यवाही की गई। आवेदक के परिवार को सहायता राशि का भुगतान कर दिया गया है। समाधन ऑनलाइन में आज मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सिंगरौली की एएनएम सुश्री रुक्मणी विश्वकर्मा की मानदेय की राशि के लंबित प्रकरण का निराकरण भी कराया।

परिवहन विभाग का प्रदर्शन सबसे बेहतर
समाधान ऑनलाइन में बताया गया कि विभागवार समस्याओं का निराकरण करने में परिवहन विभाग सबसे आगे है। परिवहन विभाग ने 86 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त कर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है। इसके पश्चात सामाजिक न्याय, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, नगरीय विकास और वाणिज्यिक कर विभाग का परफॉर्मेंस अच्छा है। जिलों में छिंदवाड़ा, सिवनी, राजगढ़, इंदौर और जबलपुर का प्रदर्शन सर्वश्रेष्ठ है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अच्छे कार्य के लिए विभागों और जिलों को बधाई देते हुए शेष विभागों और जिलों से बेहतर कार्य की अपेक्षा की।



गायों के संरक्षण एवं संवर्द्धन के लिए सरकार गंभीरता से कार्य कर रही है-  श्री अखिलेश्वरानंद गिरि


sehore news
राज्य गोपालन एवं संवर्द्धन बोर्ड के अध्यक्ष कैबिनेट मंत्री दर्जा महामण्डलेश्वर स्वामी श्री अखिलेश्वरानंद गिरि आज सीहोर पहुँचे। उन्होने रेस्ट हाउस पर गौशाला संचालको एवं गौभक्तो से मिलकर गोपाष्टमी विषय पर चर्चा की। चर्चा के दौरान महामण्डलेश्वर श्री अखिलेश्वरानंद गिरि ने गौग्रास योजना को लेकर विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश में गायों के संरक्षण एवं संवर्द्धन के लिए योजनाबद्ध तरीके से कार्य किया जा रहा है। महामण्डलेश्वर स्वामी श्री गिरि ने बताया कि प्रदेश में  गौशाला निर्माण और उनमें संचालन के लिए एनजीओ और समाजसेवी संस्थाओं को प्रोत्साहित किया जा रहा है। उन्होने सभी से गोपाष्टमी पर गौशाला जाकर सभी से गायो की सेवा करने की अपील की है। उन्होंने बताया कि प्रदेश मे 2018 से 2021 तक लगभग 900 करोड़ रूपये गौशाला के निर्माण के लिए व्यय किए गए है। एक हजार गौशालाएँ निर्मित हो चुकी है एवं दो हजार गौशालाएँ निमार्णधीन है। मध्यप्रदेश की गौशाला में लगभग दो लाख 50 हजार गौवंश है। सरकार द्वारा प्रति गौवंश 20 रूपये चारे व भूसे के लिए अनुदान की राशि गौशालाओं को दी जाती है। प्रदेश में 627 गौशालाएँ समाजसेवी संस्थाओ द्वारा चलाई जा रही है जिनमे एक लाख 87 हजार गौवंश है। गौ संवर्धन बोर्ड के अध्यक्ष कैबिनेट मंत्री महामंडलेश्वर स्वामी अखिलेश्वरानंद गिरी का सैकड़ा खेड़ी स्थित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की यूनिट भारत तिब्बत सहयोग मंच के मध्य भारत प्रांत उपाध्यक्ष श्री संतोष राठौर तथा गौ-भक्तों ने स्वागत सत्कार किया।


राज्य स्तरीय फुटबॉल स्पर्धा के लिए सीहोर टीम रवाना


sehore news
राज्य स्तरीय फुटबॉल प्रतियोगिता के लिए जिला फुटबॉल संघ सीहोर की टीम बालाघाट में आयोजित राज्य स्तरीय फुटबॉल प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए रवाना की गई है। इस संबंध में जानकारी देते हुए जिला फुटबॉल संघ के उपाध्यक्ष सुदीप व्यास ने बताया कि मध्य प्रदेश प्रीमियर लीग फुटबॉल स्टेट चैंपियनशिप में भाग लेने वाली फुटबाल टीम ही बालाघाट में आयोजित राज्य स्तरीय फुटबॉल प्रतियोगिता में भाग लेगी। इस स्पर्धा में सीहोर टीम का पहला मैच 11 नवंबर को खरगोन से खेला जाएगा। प्रतियोगिता में प्रदेश की करीब 20 टीमे भाग ले रही है। इस टीम का नेतृत्व शिवांग करेंगे।  इसके अलावा टीम में सलामुद्दीन खान, गोपाल सिंह, हिमांशु शर्मा, अरुण भंडारी, शकील, नंदकिशोर जाटव, अनुराग लाहोरी, दीपेंद्र अहिर, दीपक अहिरवार, देवेंद्र कुमार मीणा, अर्जुन सिंह गौतम, सुमित कनौजिया, अभिषेक चंदेल, नवनीत पवार, दुपेश कौशल, ध्रुव वर्मा, रोनक पाटीदार, पंकज आरमो  शामिल है।



जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला,  वर्तमान में कोरोना एक्टिव पॉजिटिव की संख्या शून्य


पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या  10143 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10020 हैं। आज 747 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 227, श्यामपुर से 190, नसरूल्लागंज से 58, आष्टा से 166, बुदनी से 46, इछावर से 60 सेंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 292705 हैं। जिनमें से 280717 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 616 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1774 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।



कलेक्टर ने ग्रामीण क्षेत्रों का किया भ्रमण, ग्रामवासियों की शिकायतों के त्वरित निराकरण के अधिकारियों को दिए निर्देश


कलेक्टर श्री चंद्रमोहन ठाकुर ने आज  नसरूल्लागंज तहसील के ग्राम मनासा का भ्रमण किया। इस दौरान उन्होंने ग्रामीणों की समस्याएं सुनी और अधिकारियों को त्वरित निराकरण के निर्देश दिए। भ्रमण के दौरान उन्होंने गांव में स्कूल एवं ग्राम पंचायत का निरीक्षण किया। उन्होंने ग्राम वासियों द्वारा बताई गई समस्याओं पर संबंधित विभागों को शीघ्रता से कार्य करने हेतु निर्देशित किया। भ्रमण के दौरान सांसद श्री रमाकांत भार्गव भाजपा जिलाध्यक्ष श्री रवि मालवीय, श्री रघुनाथ भाटी सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे। जिले के नसरूल्लागंज तहसील के ग्राम मनासा में पशु शिविर का आयोजन किया गया जिसके तहत पशुओं का इलाज व उपचार किया गया।  38 पशुपालक इस शिविर में पहुँचे। जिसमें 155 बकरियां, 106 गाय-भैंसों का उपचार किया गया। 16 बाँझ पशुओं का भी उपचार किया गया जिससे वे मादा पशु गर्भित होकर जन सकें तथा दुधारू पशु बन सकें। इसी तरह ख़ाद्य विभाग द्वारा ग्राम के समस्त हितग्राहियों से डोर टू डोर चर्चा की। ग्राम के समस्त 97 परिवारों को पात्रता अनुसार सभी सदस्यों का खाद्यान्न प्राप्त हो रहा है। राशन वितरण से संबंधित किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं है।

कोई टिप्पणी नहीं: