विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 10 नवम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 10 नवंबर 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 10 नवम्बर

सेना भर्ती चालू करने के लिए विधायक ने लिखा राष्ट्रपति को पत्र


vidisha news
विदिशाः-विदिशा विधायक शशांक भार्गव ने आज स्टेडियम मे आयोजित सेना-पुलिस भर्ती की तैयारी कर रहे युवाओ की ट्रायल प्रतियोगिता के विजेता प्रतिभागियो को सम्मानित किया।  इस दौरान मौजूद प्रतिभागियों ने बताया कि वे सेना में भर्ती के लिए पिछले दो साल से लगातार तैयारी कर रहे हैं लेकिन शासन द्वारा भर्ती नहीं निकालने से युवाओं में निराशा है कई युवा तो तैयारी करते-करते ही ओवरएज हो गए हैं। उन्होंने विधायक भार्गव  से उनकी मांग उच्च स्तर तक पहुंचाने की अपील की। युवाओं की समस्याओं को लेकर विधायक भार्गव ने महामहीम राष्ट्रपति महोदय, एवं मा. प्रधानमत्री जी को बड़ी बेरोजगारी समस्या को लेकर पत्र लिखकर मांग की जिसमें लगभग दो वर्ष से अधिक समय से भारतीय सेना एवं अर्धसैनिक बलों की भर्ती के साथ ही केन्द्र सरकार के अधीन अन्य विभागो ंमें बडी संख्या में रिक्त पदों पर भर्ती प्रक्रिया प्रारंभ नहीं होने से देश के युवाओं के समक्ष रोजगार का गंभीर संकट उत्पन्न हो गया है। बेरोजगारी की विगडती हुई स्थिति के दुष्परिणाम स्वरूप आज योग्य युवाओं की ऊर्जा का उपयोग सही दिशा में नहीं हो पा रहा है। आज हालात यह हैं, कि किसी भी पद के लिए 100-200 की संख्या में भर्ती प्रक्रिया की भी जाती है तो लाखों की संख्या में आवेदन प्राप्त होते है। कोरोनाकाल के चलते दो साल भर्ती पक्रिया नहंी होने से कई योग्य युवा ओवरऐज हो गये, जिसके चलते उनका भविष्य अंधकारमय स्थिति में है। ऐसे युवाओं के लिए जो कि विगत दो तीन वर्षों में ओवरऐज हुये है को विशेषरूप से आयु सीमा में विशेष छूट प्रदान की जाए। माननीय महोदय आपसे अनुरोध है कि भारत सरकार के अधीन समस्त विभागों मे रिक्त पदों की पूर्ती किए जाने हेतु यथाशीघ्र भर्ती प्रक्रिया प्रारंभ की जाए, जिससे कि बेरोजगार युवा प्रतिभाओं को समय पर रोजगार प्राप्त हो सके। विधायक भार्गव ने प्रधानमंत्री से देश की बेरोजगारी की स्थिति को दूर करने के लिए युद्ध स्तर पर सभी विभागों में रिक्त पदो पर भर्ती प्रक्रिया यथाशीघ्र प्रारंभ किए जाने के संबंध में केन्द्र सरकार को यथोचित कार्यवाही किए जाने के निर्देश प्रदान किए जाने का अनुरोध किया है।


हलाली डेम से सिंचाई हेतु नहरो में पानी छोड़ा गया


vidisha news
सम्राट अशोक सागर परियोजना (हलाली) डेम से आज रबी सिंचाई हेतु नहरो में पानी छोड़ा गया है। डेम परिक्षेत्र में विधिवत पूजा अर्चना कर शमशाबाद विधायक श्रीमती राजश्री सिंह ने मुख्य नहर सलूज पर बटन दवाकर पानी को नहरो के माध्यम से सिंचाई हेतु किसानो की खेतिहार जमीन तक पहुंचाने के कार्य का शुभांरभ किया। सम्राट अशोक सागर परियोजना के कार्यपालन यंत्री श्री आरके जैन ने बताया कि मुख्य सलूज से रबी सिंचाई वर्ष 2021-22 के लिए जल प्रवाह का आज विधिवत शुभांरभ करने के उपरांत इस वर्ष परियोजना की नहरो से चालीस हजार हेक्टेयर से अधिक क्षेत्र में सिंचाई का लक्ष्य रखा गया है। इसमें एक पलेवा प्लस दो पानी दिया जाएगा एवं आवश्यकतानुसार सभी नहरो में सतह जल प्रवाह किया जाएगा। आज की मांग अनुसार सलूज से 750 क्यूसेक पानी प्रवाहित किया गया है। इस अवसर पर पूर्व विधायक श्री रूद्रप्रताप सिंह के अलावा सम्राट अशोक सागर परियोजना के अनुविभागीय अधिकारी श्री एके पाराशर, उपयंत्री सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहें।


सफलता की कहानी : जनजाति-गौरव-दिवस

  • पैतृक कब्जे भूमि छिनने के भय से मुक्त हुए 1399 आदिवासीबंधु, सभी को विभिन्न योजनाओं से लाभांवित किया गया

vidisha news
वन अधिकार अधिनियम ने आदिवासी बंधुओं को वन अधिकार पत्रधारक बनाकर वर्षो से जोत रहे जमीन का छिनने के भय से मुक्त हुए है। विदिशा जिले में अब तक 1399 आदिवासीबंधुओं को लाभांवित किया गया है जिसमें 313 को आवासीय तथा 1086 को खेतीहर वनाधिकार पत्रधारक के तहत स्वामित्व प्रदाय किया गया है। इनमें शामिल ग्यारसपुर विकासखण्ड के ग्राम पोनिया के सेवक सिंह आदिवासी का कहना है कि हमने कभी सोचा नही था कि हमारे पूर्वज जिस जमीन को जोत रहे थे बिना किसी कागज पत्रक के हमारी हो जाएगी। शासन ने हमको बकायदा उन्नत किस्म का धान बीज प्रदाय किया वहीं सिंचाई के लिए कुंआ का खनन कराया है। मेरा पुत्रा बीए की पढाई कर रहा है जिसे हर प्रकार की सुविधा मिल रही है। किताबो से लेकर रहने, खाने-पीने और कोचिंग की सुविधा मिली है। वहीं समय अंतराल में छात्रवृत्ति मिल रही है। सरकार ने प्रधानमंत्री सम्माननिधि, मुख्यमंत्री सम्माननिधि की राशि भी मेरे खातो में जमा कराई है। अब तक प्रधानमंत्री उज्जवला गैस कनेक्शन, प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री आयुष्मान कार्ड, प्रधानमंत्री जीवन बीमा योजना का लाभ ले चुका हूॅ। वन अधिकार पत्र के तहत 1.046 हेक्टेयर कृषि भूमि भी प्राप्ति हुई है। सभी योजनाओं का लाभ मिल जाने से सेवक सिंह सहित अन्य आदिवासीबंधुओं के जीवन में आए परिवर्तन स्पष्ट रूप से झलक रहा है। उनका कहना है कि अब हमारे बच्चे स्कूल जा रहे है और वे भी एक दिन बडे अफसर बनकर दूसरो की भलाई के कार्य करेंगे। 


मुख्यमंत्री जी द्वारा जनजातीय गौरव दिवस के संबंध में व्हीसी आज


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान भोपाल में 15 नवम्बर को आयोजित होने वाले जनजातीय गौरव दिवस के संबंध में अपने निज निवास पर व्हीसी के माध्यम से गुरूवार 11 नवम्बर की प्रातः 11 बजे समीक्षा करेंगे। विदिशा एनआईसी कक्ष में उपरोक्त समीक्षा बैठक में सम्मिलित होने हेतु जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों को सूचनाएं प्रेषित की गई है। विधायक, सांसद, जनपद ओर जिला पंचायत सदस्यों के प्रतिनिधि, जनजातीय नेता आदि के अलावा कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक एनआईसी कक्ष में मौजूद रहेंगे।


सत्यापन कार्य जारी


विदिशा नगरपालिका क्षेत्र में निवासरत ऐसे नागरिक जिन्हें सामाजिक सुरक्षा कार्यक्रम के तहत पेंशन प्रदाय की जा रही है। नियमानुसार उन हितग्राहियों का सत्यापन कार्य क्रियान्वित किया जा रहा है। निकाय के माध्यम से हितग्राहियों को सूचित किया गया है कि वह अपने दस्तावेंजों के साथ वार्ड प्रभारी से सम्पर्क कर सकते है अथवा नगरपालिका में पेंशन शाखा में उपस्थित होकर सत्यापन संबंधी कार्य पूरा करा सकते है। सत्यापन ना होने की स्थिति में पेंशन बंद होने की परिस्थितियां निर्मित हो सकती है।


समग्र एवं आधार नम्बर अपडेट हेतु पंचायत स्तर पर शिविरों का आयोजन आज से


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने जिले में लाड़ली लक्ष्मी योजना एवं मातृत्व वंदना योजना के हितग्राहियों की समग्र नम्बर तथा आधार नम्बर अपडेट कार्य त्वरित सम्पादन के उद्धेश्य से सीएफटी स्तर पर लगातार तीन दिन तक जनपद पंचायतवार शिविरो का आयोजन करने के निर्देश जारी किए है। जिला पंचायत के अतिरिक्त सीईओ श्री दयाशंकर सिंह ने बताया कि कलेक्टर द्वारा जारी कार्यक्रम अनुसार पंचायत स्तर पर ऐसे हितग्राही जिन्हें लाड़ली लक्ष्मी योजना या फिर मातृत्व वंदना योजना का लाभ दिलाया जाना है। उपरोक्त योजना के क्रियान्वयन में महिला एवं बाल विकास विभाग को सहयोगप्रद करने के दृष्टिकोण से आयोजित शिविर अनुसार जनपद पंचायत स्तर पर 11 नवम्बर को 18 पंचायतों में, 12 नवम्बर को 17 पंचायतो में तथा 13 नवम्बर को 13 पंचायतो में शिविरो का आयोजन किया गया है इस प्रकार उपरोक्त तीनो तिथियों में कुल 48 पंचायतो में शिविरो का आयोजन कर लाड़ली लक्ष्मी योजना एवं मातृत्व वंदना योजना से संबंधित हितग्राहियों की समस्याओं का समाधान खासकर समग्र नम्बर एवं आधार नम्बर को अपडेशन कर किया जाएगा। जिप अतिरिक्त सीईओ श्री सिंह ने बताया कि प्रत्येक सीएफटी मुख्यालय पर आयोजित होने वाले जनपद पंचायतवार शिविर हेतु एक-एक नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए है वहीं प्रत्येक सीएफटी मुख्यालय में शामिल आवंटित ग्राम पंचायतो के हितग्राही उपरोक्त शिविर में सम्मिलित होकर समग्र एवं आधार नम्बर को अपडेट करा सकेंगे। गुरूवार 11 नवम्बर को जिन सीएफटी मुख्यालय पर शिविरो का आयोजन किया गया है उनमें विदिशा जनपद पंचायत अंतर्गत पीपलखेडा, देवखजूरी, हांसुआ, ग्यारसपुर जनपद पंचायत में ग्यारसपुर पंचायत, धामनोद, मसूदपुर में, बासौदा जनपद पंचायत तहत उदयपुर, बरेठ (कुल्हार) में, नटेरन जनपद पंचायत में सतपाडाहाट, नटेरन, बामोरी में, कुरवाई में कांकर, लायरा में, सिरोंज जनपद पंचायत में भगवन्तपुर, भौंरिया, पथरिया में, लटेरी जनपद पंचायत में उनारसीकलां तथा बलरामपुर सीएफटी मुख्यालय पर शिविर का आयोजन किया गया है। 


त्रि-स्तरीय पंचायत आम निर्वाचन 2021 बैठक एवं प्रशिक्षण 12 को


कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री उमाशंकर भार्गव के द्वारा जारी आदेशानुसार जिले में त्रि-स्तरीय पंचायत आम निर्वाचन 2021 की तैयारियों के परिपेक्ष्य में वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ-साथ खण्ड स्तरीय अधिकारियों की संयुक्त समीक्षा बैठक एवं प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। कलेक्टर श्री भार्गव के द्वारा जारी आदेश का हवाला देते हुए उप जिला निर्वाचन अधिकारी स्थानीय निर्वाचन श्रीमति अमृता गर्ग ने बताया कि वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से बैठक सह-प्रशिक्षण शुक्रवार 12 नवम्बर की अपरान्ह 4 बजे से शुरू होगा। जिले के व्हीसी रूम में निर्वाचन संबंधी जानकारियों के साथ नियत दिनांक व समय पर उपस्थित रहकर प्रशिक्षण प्राप्त करने हेतु संबंधितों से पत्राचार किया गया है। 


बिरसा मुण्डा जयंती कार्यक्रम, जनजाति गौरव दिवस, सहभागियों हेतु विदिशा में आवासीय व्यवस्था


बिरसा मुण्डा जयंती कार्यक्रम, जनजाति गौरव दिवस पर 15 नवम्बर को भोपाल में आयोजित कार्यक्रम में सम्मिलित होने अन्य जिलों के सहभागियों को एक दिन पूर्व विदिशा जिले में रूकने के प्रबंध सुनिश्चित किए गए हैं। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने बताया कि वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से मुख्य सचिव द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुपालन में विदिशा जिले में 7 हजार से अधिक सहभागियों को रहने एवं आवास की व्यवस्था के प्रबंध सुनिश्चित किए गए हैं। कलेक्टर श्री भार्गव के द्वारा जारी आदेश अनुसार छतरपुर जिले से आने वाले सहभागियों को विदिशा में आवासीय व्यवस्था के प्रबंध सुनिश्चित किए गए हैं। उक्त दायित्व का निर्वहन करने हेतु महिला एवं बाल विकास विभाग के सहायक संचालक श्री विवेक शर्मा मोबा. 9425464669 को दायित्व सौंपा गया है। आवासीय व्यवस्था में सहयोग हेतु अधिकारी, कर्मचारियों को संलग्न किया गया है। श्री शर्मा के साथ ग्यारसपुर के परियोजना अधिकारी श्री अरूण प्रजापति मोबा. 8770100966, परियोजना अधिकारी परितोष सोनकर मोबा. 9560926553, संरक्षण अधिकारी अनुज जैन मोबा. 8109527228, पर्यवेक्षक अमरसिंह मोबा. 9755106531, ब्लॉक समन्वयक वर्ल्ड विजन ग्यारसपुर श्री अविनाश पंडित मोबा. 8085014165 इसके अलावा महिला एवं बाल विकास विभाग के सहायक ग्रेड-3 सर्वश्री कुलदीप गुर्जर मोबा. 8109279297, प्रियंक आनंद मोबा. 8962663739, देवेन्द्र श्रीवास्तव मोबा. 9098827531, परवेज खान मोबा. 7000957396 तथा लेखापाल आकाश पाठक मोबा. 9685903533 को संलग्न किया गया है।  उक्त दल के द्वारा जो कार्य संपादित किए जाएंगे उनमें छतरपुर जिले से आने वाले सहभागियों की समस्त व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करेंगे। नोडल अधिकारी श्री विवेक शर्मा के निर्देशों का पालन कर अवगत कराएंगे। संलग्न अधिकारियों के द्वारा निर्देशों की अवहेलना की स्थिति में अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी।


व्यवस्थाओं  हेतु नोडल अधिकारी नियुक्त


बिरसा मुण्डा जयंती कार्यक्रम, जनजाति गौरव दिवस पर 15 नवम्बर को भोपाल में आयोजित कार्यक्रम में सम्मिलित होने अन्य जिलों के सहभागियों को एक दिन पूर्व विदिशा जिले में रूकने के प्रबंध सुनिश्चित किए गए हैं। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने बिरसा मुण्डा जयंती कार्यक्रम में सम्मिलित होने वाले अन्य जिलों के ऐसे सहभागी जो 14 नवम्बर की रात्रि विदिशा में विश्राम करेंगे उनमें दमोह, छतरपुर, पन्ना, टीकमगढ़, निवाडी, रीवा, सतना जिले सहित सभी सातो जिलों के लगभग 7 हजार सहभागी विदिशा जिले की सीमा में रात्रि विश्राम करेंगे। इस दौरान पूर्व उल्लेखित जिलो के सहभागियों को किसी भी प्रकार की असुविधाओं का सामना ना करना पड़े इसके लिए पृथक-पृथक प्रकोष्ठ गठित कर नोडल अधिकारियों को दायित्व सौंपे गए है। नोडल अधिकारियों की मदद व सहयोग हेतु अन्य सहायक अधिकारी, कर्मचारी भी संलग्न किए गए है।


टेन्ट व्यवस्था

कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव द्वारा जारी आदेश में उल्लेख है कि प्रतिभागियों हेतु टेन्ट व्यवस्था के लिए नोडल अधिकारी कृषि विभाग के सहायक संचालक श्री महेन्द्र सिंह ठाकुर 9685086465 तथा सहायक नोडल एमएलबी के प्राचार्या श्री विनोद चौधरी 9826741865 को दायित्व सौंपा गया है। उपरोक्त दोनो अधिकारी, चिन्हित स्थलों पर टेन्ट व्यवस्था के दायित्वों का निर्वहन करेंगे।


चिकित्सीय व्यवस्था

कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव के द्वारा जारी आदेश में उल्लेख है कि सहभागियों के स्वास्थ्य की देखभाल हेतु चिकित्सीय व्यवस्था के प्रबंध हेतु मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एपी सिंह का मोबा नम्बर 9893388097 को नोडल अधिकारी का दायित्व सौंपा गया है उक्त दल 14 एवं 15 नवम्बर को जिला अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र ग्यारसपुर, सिरोंज, शमशाबाद के चिकित्सकों के साथ सक्रिय रहेंगे। इसके अलावा जिला अस्पताल के साथ ग्यारसपुर, सिरोंज, शमशाबाद में एम्बुलेंस की अतिरिक्त व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे। विदिशा जिले में नियत आवासीय स्थल केन्द्रों पर चिकित्सक के साथ चिकित्सा दल तैनात किया जाएगा। इनके साथ आवश्यक दवाईयां उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाएगा। जिले में बडी संख्या में सहभागियों के वाहनो का आवागमन रहेगा इस हेतु इमरजेंसी चिकित्सा के भी प्रबंध क्रियान्वित किए जाएंगे।


यातायात व्यवस्था

कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने जनजातीय गौरव दिवस आयोजन के परिपेक्ष्य में यातायात व्यवस्था सुचारू रूप से संचालित हो इसके लिए पृथक से आदेश जारी किया है। उक्त आदेश में डिप्टी कलेक्टर सुश्री अनुभा जैन 8770572199 को प्रशासनिक नोडल, लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री हेमंत कुमार राजपूत 9179089507 को मार्गनोडल, एनएच एसडीओ श्री बीएल अहिरवार 9893098183 को एनएच सागर मार्ग का दायित्व सौंपा गया है इसी प्रकार मप्र सड़क विकास निगम लिमिटेड भोपाल के संभागीय प्रबंधक श्री मोहम्मद रिजवी 9425608403 को सिरोंज, शमशाबाद मार्ग का दायित्व सौंपा गया है। यातायात जिले में दो प्रमुख मार्ग सागर, ग्यारसपुर, विदिशा, रायसेन, भोपाल एवं गुना, सिरोंज, शमशाबाद, बैरसिया, भोपाल मार्ग पर बसो का आवागमन बनाए रखने हेतु ट्रेफिक दल की आवश्यकता होगी। विदिशा जिले में आवासीय स्थलों पर दो सौ बसें पहुंचेगी, उनको संबंधित केन्द्रो तक पहुंचाने में मदद करना तथा केन्द्रो पर पार्किंग कराना। 14 नवम्बर एवं 15 नवम्बर को इन बसों के शहर में आवागमन से शहर की ट्रेफिक व्यवस्था का प्रबंधन अतिरिक्त तौर पर करना। आकस्मिकता के लिए क्रेन, एम्बुलेंस, अतिरिक्त बसें आदि का भी प्रबंधन करना। राष्ट्रीय राजमार्ग सागर तथा एमपीआरडीसी के अधिकारियों की उपस्थिति नियत स्थलों पर रहेगी। उक्त कार्यक्रम हेतु रवाना होने वाली बसों को विभिन्न स्थानों पर चैक पोस्ट बनाई जायें जिससे यातायात अवरूद्ध ना हो सकें। बसों को प्रातः आठ बजे तक विदिशा से इस तरह रवाना किया जाए कि प्रातः 10.30 बजे तक कार्यक्रम स्थल तक पहुंच सकें। आकस्मिकता की स्थिति होने पर विभिन्न स्थलों पर एम्बूलेंस व्यवस्था की जाए। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी विदिशा से संपर्क कर एम्बूलेंस व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। नोडल अधिकारी द्वारा सड़क मार्गो हेतु अधिकृत अधिकारियों  की ड्यूटी लगाई जाये।


भोजन प्रबंध

विदिशा जिले में रूकने वाले सहभागियों के भोजन व्यवस्था हेतु पृथक से टीम गठित की गई है।  कलेक्टर द्वारा जारी आदेश में उल्लेख है कि भोजन प्रबंधन हेतु जिला स्तरीय टीम का गठन किया गया है जिसमें जिला आपूर्ति अधिकारी श्रीमती रश्मि साहू, 8817091636, जिला संयोजक श्री नरेन्द्र अवस्थी 9009212745, कॉ-आपरेटिव बैंक के सीईओ श्री विनय प्रकाश सिंह 7089902700, वरिष्ठ व्याख्याता श्री विजय श्रीवास्तव 9425517300 को दायित्व सौंपे गए है। उक्त दल के द्वारा जिन कार्यो की मानिटरिंग की जाएगी उनमें अधिकृत वेण्डर द्वारा भोजन तैयार कर संबंधित स्थानों तक पहुंचाया जाएगा। 14 नवम्बर की शाम को भोजन तथा 15 नवम्बर की सुबह का चाय नाश्ता एवं भोजन प्रदाय किया जाएगा। भोजन के साथ-साथ पानी बॉटल तथा आरो सिस्टम का प्रबंध सुनिश्चित किया जाएगा। वेण्डर द्वारा भोजन आवासीय स्थलों तक पृथक-पृथक वाहनो से पहुंचाया जाएगा।


कंट्रोल रूम गठित


बिरसा मुण्डा जयंती कार्यक्रम, जनजाति गौरव दिवस पर 15 नवम्बर को भोपाल में आयोजित कार्यक्रम में सम्मिलित होने अन्य जिलों के सहभागियों को एक दिन पूर्व विदिशा जिले में रूकने के प्रबंध सुनिश्चित किए गए हैं। दमोह, छतरपुर, पन्ना, टीकमगढ़, निवाडी, रीवा, सतना जिले सहित सभी सातो जिलों के लगभग 7 हजार सहभागी विदिशा जिले की सीमा में रात्रि विश्राम करेंगे। आगंतुक सहभागियों को किसी भी प्रकार की असुविधाओं सामना ना करना पडे इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित कराए गए है। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने कम्यूनिकेशन नोडल अधिकारियों से समन्वय स्थापित करने हेतु नवीन कलेक्ट्रेट में जिला स्तरीय कंट्रोल रूम स्थापित कराया है जो 12 नवम्बर को पूरी क्षमता के साथ क्रियाशील हो जाएगा। कम्यूनिकेशन नोडल अधिकारियो को जो दायित्व सौंपे गए है उनमें बाहर से आने वाले हितग्राहियों की विभिन्न व्यवस्थाएं, यातायात संबंधी व्यवस्थाएं का दायित्व डिप्टी कलेक्टर एवं जिला कंट्रोल रूम के नोडल अधिकारी श्रीमती अमृता गर्ग का मोबाइल नम्बर 9755038547 एवं 7987323070, विदिशा जिले से जाने वाले हितग्राहियों को भोपाल भेजने संबंधी कार्य का दायित्व डिप्टी कलेक्टर एवं नोडल अधिकारी सुश्री अनुभा जैन 8770572119 को, नोडल अधिकारियों द्वारा सौंपे गए कार्यो का संपादन लोक सेवा गारंटी के जिला प्रबंधक एवं सहायक नोडल अधिकारी डॉ अमित अग्रवाल, 9893276222 एवं ई गवर्नेंस के जिला प्रबंधक सहायक नोडल अधिकारी श्री निजामुद्दीन शेख 9993943636 को सौंपा गया है।


आवासीय स्थलों की जानकारी


बिरसा मुण्डा जयंती कार्यक्रम, जनजाति गौरव दिवस पर 15 नवम्बर को भोपाल में आयोजित कार्यक्रम में सम्मिलित होने अन्य जिलों के सहभागियों को एक दिन पूर्व विदिशा जिले में रूकने के प्रबंध सुनिश्चित किए गए हैं। दमोह, छतरपुर, पन्ना, टीकमगढ़, निवाडी, रीवा, सतना जिले सहित सभी सातो जिलों के लगभग 7 हजार सहभागियों के रूकने हेतु विभिन्न स्थलों पर आवासीय प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव के द्वारा जारी आदेश में सहभागियों के लिए आवासीय स्थल अनुविभाग ग्यारसपुर एवं विदिशा में प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। तदानुसार अनुविभाग क्षेत्र ग्यारसपुर में शासकीय एवं अशासकीय विद्यालय, गार्डन, छात्रावास में रीवा जिले के लगभग 1250 सहभागियों को ठहरने हेतु आवासीय प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। स्थलवार सहभागियों को ठहराया जाएगा कि जानकारी इस प्रकार से है। हाईवे रोड पर स्थित अशासकीय जेएमजे कान्वेंट स्कूल ग्यारसपुर में चार सौ व्यक्तियों को, जैन पाठशाला ग्यारसपुर में सौ, अशोक गार्डन औलिंजा में 50, बालक छात्रावास ग्यारसपुर में पचास, कंग विलास पैलेस अटारीखेजडा में 150, बालिका छात्रावास अटारीखेजडा में दो सौ तथा कुशाभाउ ठाकरे सूखाखेडी मेन रोड हाईवे मणीपुर से दो किलोमीटर दांई की ओर उक्त अशासकीय कॉलेज में तीन सौ सहभागियों हेतु आवासीय प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। विदिशा अनुविभाग क्षेत्र अंतर्गत जिन स्थलों पर सहभागियों को आवासीय प्रबंध की व्यवस्था सुनिश्चित कराई गई है उनमें निवाडी जिले के 1130 व्यक्तियों के लिए शासकीय हाई स्कूल खरी में पचास, डीपीएस स्कूल भदारबडागांव में दो सौ, शासकीय प्राथमिक शाला एवं शा मा शाला कुंआखेडी में पचास, ओलम्पस स्कूल मिर्जापुर में तीन सौ, अशोक वाटिका गार्डन मिर्जापुर में 80, आईटीआई विदिशा गेंहू खेडी रोड में दो सौ तथा नवीन महाविद्यालय गेंहू खेडी में 250 व्यक्तियों को आवासीय प्रबंध किए गए है। सतना जिले के आठ सौ व्यक्तियों के लिए एसएटीआई डिग्री पॉलिटेक्निक कॉलेज कैलाश सत्यार्थी हाल एवं छात्रावास में, जालोरी गार्डन को 150 व्यक्तियों के आवास हेतु रिजर्व रखा गया है। टीकमगढ जिले से आने वाले 1050 व्यक्तियों के लिए जिन स्थलों पर आवासीय प्रबंध की व्यवस्था सुनिश्चित कराई गई है उनमें अशासकीय सनराईजर स्कूल हरीपुरा विदिशा में सौ, अशासकीय वात्सल्य स्कूल में दौ सौ, अशासकीय सरस्वती स्कूल केशव नगर टीलाखेडी में चार सौ, अशासकीय आशीष मंगल वाटिका गार्डन में सौ, आदिम जाति कल्याण विभाग के दो छात्रावासो में क्रमशः सीनियर बालक छात्रावास टीलाखेडी में पचास, महाविद्यालयीन बालक छात्रावास टीलाखेडी में सौ तथा शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल माधवगंज क्रमांक दो टीलाखेडी में सौ व्यक्तियों के लिए एवं पिछडा वर्ग कल्यण विभाग के बालक पिछडा वर्ग छात्रावास टीलाखेडी में दो सौ व्यक्तियों के आवास हेतु रिजर्व रखा गया है। पन्ना जिले से आने वाले 950 व्यक्तियों के लिए जिन अशासकीय स्थलों पर आवासीय प्रबंध सुनिश्चित कराए गए है उनमें कपूर गार्डन में 150 व्यक्तियों के लिए, साकेत एमजीएम स्कूल कपूर गार्डन के पास 100, मेवाराम गार्डन पूरनपुरा में 80, तुलसी गार्डन अहमदपुर रोड पर 40, अग्रवाल धर्मशाला में 200, विनायक बैंकुट गार्डन में 200 तथा हरदौल गार्डन विदिशा में 80 व्यक्तियों के लिए आवासीय प्रबंध किए गए है। दमोह जिले के 960 व्यक्तियों के लिए जिन स्थलों पर आवासीय प्रबंध सुनिश्चित किए गए है उनमें अशासकीय सम्राट गार्डन विदिशा में 150, अशासकीय शहनाई गार्डन में 100, अशासकीय लैंडमार्क गार्डन में 90, शासकीय उत्कृष्ट स्कूल में 200, आदिम जाति कल्याण विभाग के चार छात्रावास जिसमें जूनियर कन्या छात्रावास इन्दिरा काम्प्लेक्स में 50, सीनियर कन्या छात्रावास इन्दिरा काम्प्लेक्स में 60, सीनियर कन्या छात्रावास इन्दिरा काम्प्लेक्स में 60 तथा नवीन सीनियर कन्या छात्रावास इन्दिरा काम्प्लेक्स में 50 एवं शासकीय जिला चिकित्सालय के नर्सिंग ट्रेनिंग सेन्टर में 200 व्यक्तियों के लिए आवासीय प्रबंध किए गए है। छतरपुर जिले के 1000 व्यक्तियों के लिए आवासीय प्रबंध जिन स्थलों पर किए गए है उनमें शासकीय गर्ल्स कॉलेज विदिशा में 200 व्यक्तियों के लिए, आदिम जाति कल्याण विभाग के दो छात्रावास क्रमशः कन्या छात्रावास विवेकानंद चौराहा में 100, जिला स्तरीय कन्या छात्रावास विवेकानंद चौराहा में 100, कामधेनू मंगलवाटिका गार्डन में 100, एक्सीलेंस नर्सिंग कॉलेज रंगई में 300, मगधम स्कूल बिट्ठल नगर में 200 इसके अलावा नवीन सीनियर बालक छात्रावास बरईपुरा एवं जिला स्तरीय बालक छात्रावास बरईपुरा में 50-50 सहभागियों के लिए रिजर्व रखा गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: