बिहार : 10 दिनों के अंतराल के बाद छठे चरण के मतगणना - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 12 नवंबर 2021

बिहार : 10 दिनों के अंतराल के बाद छठे चरण के मतगणना

6th-phase-counting-tomorow
पटना। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव 2021 के छठे चरण के तहत शनिवार व रविवार को वोटों की गिनती होगी।वहीं बिहार में सातवें चरण के पंचायत चुनाव को लेकर उम्मीदवारों द्वारा किया जा रहा प्रचार शनिवार को बंद हो जाएगा।  इस चरण के लिए 15 नवंबर को मतदान होगा। राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार सातवें चरण में 37 जिलों के 63 प्रखंडों में मतदान होगा। इस चरण में सर्वाधिक प्रखंडों में एक साथ चुनाव कराने की प्रक्रिया निर्धारित की गयी है। छठ महापर्व के समापन के बाद प्रशासन एक बार फिर त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव कराने में जुट जाएगा। 


12,786 मतदान केंद्र बनाए गए

आयोग के अनुसार पंचायत चुनाव के सातवें चरण को लेकर 37 जिलों में कुल 12 हजार 786 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इस चरण में 72 लाख 85 हजार 589 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। इनमें 38 लाख 34 हजार पुरुष व 34 लाख 50 हजार 436 महिला मतदाता और 272 अन्य मतदाता शामिल हैं। 


27,730 सीटों के लिए चुनाव 

सातवें चरण में कुल 27 हजार 730 सीटों के लिए चुनाव होगा। इनमें ग्राम पंचायत सदस्य के 12,272, मुखिया के 904, पंचायत समिति सदस्य के 1245, जिला परिषद सदस्य के 135, सरपंच के 904 एवं पंच के 12,272 सीटें शामिल हैं। जबकि इस चरण में चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों की संख्या एक लाख 807 उम्मीदवार चुनाव मैदान में है। इनमें 47,170 पुरुष और 53,637 महिला उम्मीदवार शामिल हैं। 


2207 सीटों पर निर्विरोध चुनाव 

इस चरण में 2207 सीटों पर निर्विरोध चुनाव संपन्न हुआ है। इनमें ग्राम पंचायत सदस्य के 05, पंचायत समिति सदस्य के 85, पंच के 2117 उम्मीदवार शामिल हैं।


10 दिनों के अंतराल के बाद छठे चरण के मतगणना 

03 नवंबर को मतदान संपन्न हुआ था। राज्य निर्वाचन आयोग, बिहार ने दीवाली और महापर्व छठ के मद्देनजर वोटों की गिनती का कार्य 10 दिनों के अंतराल पर कराना सुनिश्चित किया। इन प्रखंडों की मतगणना 13 व 14 नवंबर को होगी।  शनिवार सुबह 08 बजे से वोटों की गिनती शुरु हो जाएगी। केन्द्र पर प्रेक्षक, निर्वाची पदाधिकारी, सहायक निर्वाची पदाधिकारी सहित पर्याप्त संख्या में कर्मी मतगणना कार्य में अपने दायित्वों का निर्वहन करेंगे। अंतर्गत बेगूसराय के गढ़पुरा में हुए मतदान के बाद अब सबकी नजर मतगणना पर टिकी है। 13 और 14 नवंबर को होने वाली मतगणना संबंधी सभी आवश्यक तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। यहां की मतगणना बाजार समिति बेगूसराय में होगी। सभी पोल्ड ईवीएम और बैलट बॉक्स वहीं पर वज्रगृह में रखी गई है।  मतगणना के दौरान आसपास के क्षेत्रों में विधि व्यवस्था बनाए रखने तथा शांतिपूर्ण मतगणना सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त संख्या में दंडाधिकारी और पुलिस अधिकारियों और पुलिस बलों को प्रतिनियुक्त किया गया है। वहां पर बाहर सड़क पर एवं परिसर के अंदर चेक नाका और ड्रॉप गेट बनाए गए हैं। 

कोई टिप्पणी नहीं: