बिहार : हर्ष हत्याकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 8 नवंबर 2021

बिहार : हर्ष हत्याकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

harsh-murder-case-accused-arrest
पटना : हर्ष राज (गोलू) हत्याकांड के मुख्य आरोपी सैदपुर छात्रावास के छात्र ईशान वत्स (जॉन) को पटना पुलिस बल ने स्थानीय पुलिस एवं जॉन के पिता की मौजूदगी में 6 नवंबर को रात लगभग 12:00 बजे उसके पैतृक घर मुंगेर जिले के संग्रामपुर थाना अंतर्गत कहुआ से गिरफ्तार कर लिया था। जॉन के पिता उमा कांत शर्मा ने आज 8 नवंबर को दूरभाष वार्ता करके बताया कि जॉन को पुलिस कहां ले गई है, इसकी जानकारी अभी तक हमलोगों को नहीं दी गई है। मालूम हो कि बीते 27 अक्तूबर को जॉन और उसके अन्य साथी रौशन शर्मा, कल्लू, विशाल एवम् सानू के खिलाफ 27 अक्टूबर को गोलू को बजार सीमित से जाने के क्रम में करीब 2:10 बजे दोपहर में गोली मार कर हत्या कर देने के आरोप को लेकर गोलू के पिता बहादुरपुर, राजेंद्र नगर निवासी उमेश सिंह के द्वारा शिकायत दर्ज कराई गई थी।दर्ज शिकायत में बताया गया था कि गोलू के पिता उमेश सिंह ने उसे अपने मामा को लेकर सैदपुर स्थित कृष्णा निकेतन स्कूल के पास आने को कहा, जिसके बाद उसके पिता उमेश सिंह उसके मामा को बैरिया बस स्टैंड छोड़ने जाने वाले थे। लेकिन बीच में ही जॉन और उसके अन्य साथियों ने गोलू का स्कूटी रोकना चाहा और गोलू के मामा जितेंद्र सिंह को धक्का देकर स्कूटी से गिरा दिया। उतने में, रौशन ने पिस्टल निकाला और गोलू के पीठ पर गोली दाग दी। गोलू गिर गया और जब उठाना चाहा तो जॉन, कल्लू विशाल सानू ने पकड़ लिया। उसी समय मुन्ना सिंह ने अपने कमर से पिस्टल निकालकर पीछे से गोलू के सिर में गोली मार दी। गोलू के बचाओ-बचाओ के चिल्लाने पर सभी सैदपुर छात्रावास के तरफ भाग गए। स्थानीय लोग और परिवार की सहायता से गोलू के कंकड़बाग स्थित उमा हॉस्पिटल में जब ले जाया गया, तो वहां के चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया था।

कोई टिप्पणी नहीं: