मधुबनी : शराबबंदी कानून के उल्लंघन करने वालों पर त्वरित कार्रवाई होगी : डीएम - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 13 नवंबर 2021

मधुबनी : शराबबंदी कानून के उल्लंघन करने वालों पर त्वरित कार्रवाई होगी : डीएम

madhubani-dm-strict-on-alcohal-ban
मधुबनी, आज दिनांक 13 नवंबर 2021 को श्री अमित कुमार, भा. प्र. से. जिला पदाधिकारी, मधुबनी शराबबंदी की मौजूदा स्थिति पर आयोजित दरभंगा प्रमंडल के अंतर्गत सभी जिलों के प्रमंडलीय स्तर की समीक्षा बैठक में शामिल हुए। बताते चलें कि जिलाधिकारी द्वारा जानकारी दी गई कि अभी तक जिले में जहरीली शराब पीने से हुए मौत का कोई भी मामला संज्ञान में नहीं है। फिर भी पिछले दिनों राज्य के अन्य जिलों में हुई घटनाओं को देखते हुए जिला प्रशासन, मधुबनी सतर्क व चौकन्नी है। जिले में कहीं भी किसी भी स्तर पर शराबबंदी कानून का उल्लंघन प्रकाश में आने पर त्वरित कार्रवाई की जा रही है।  इस परिप्रेक्ष्य में उप्तपाद अधीक्षक द्वारा जानकारी दी गई कि अभी तक जिले में 2491 छापामारी की गई है, जिसमें 91 लीटर चुलाइ शराब और 1312 लीटर देशी शराब जब्त की गई है। इसके अतिरिक्त 6 मोटरसाइकिल को भी जब्त किया गया है। बैठक के दौरान जिलाधिकारी द्वारा बताया गया कि शराब के गैरकानूनी धंधे को हतोत्साहित करने के लिए दो स्तरों पर कदम उठाए जा रहे हैं। जहां एक तरफ योजनाबद्ध रूप से इस धंधे में लिप्त लोगों पर विभिन्न प्रकार की कानूनी कार्रवाई की जा रही है, वहीं इस क्षेत्र से जुड़ सकने वाले संभावित वर्ग को चिन्हित कर उन्हें सतत जीवकोपार्जन योजना से जोड़ा जा रहा है। इस क्रम में जिले के सात प्रखंडों के 5195 लोगों को सतत जीवकोपार्जन योजना से जोड़ा गया है। अन्य प्रखंडों को भी इस योजना में शीघ्र जोड़ा जायेगा। उन्होंने बताया कि शराब के धंधे से संपत्ति एकत्रित करने वाले धंधेबाजों की सूची तैयार की जा रही है, ताकि उनकी बेनामी संपत्ति जब्त की जा सके। साथ ही साथ इस धंधे में शामिल सरकारी कर्मियों को भी बख्शा नहीं जाएगा।  बैठक में जिले में पुलिस की कार्रवाई के बारे में जानकारी देते हुए श्री सत्यप्रकाश, पुलिस अधीक्षक, मधुबनी ने बताया कि जहां एक तरफ अन्य जिलों के संपर्क मार्गों पर पुलिस की नजर है, वहीं जिलाधिकारी महोदय के नेतृत्व में एसएसबी से भी बैठक कर वस्तुस्थिति पर नियंत्रण करने को कहा गया है। साथ ही साथ ऐसे पुलिस कर्मियों/ चौकीदारों की सूची तैयार की जा रही है जो या तो इस धंधे की सूचना मिलने पर भी निष्क्रिय बने रहते हैं या इसमें सहयोग देते हैं। ऐसे लोगों पर जल्द ही कार्रवाई की जाएगी। बैठक को संबोधित करते हुए पुलिस महानिरीक्षक, मिथिला प्रक्षेत्र दरभंगा द्वारा सभी जिलाधिकारियों एवं पुलिस अधीक्षकों को संबोधित करते हुए कहा कि विभिन्न जिलों में यह प्रकाश में आया है कि विदेशी शराब की बोतलों में स्थानीय स्तर पर जहरीली शराब की पैकिंग कर लोगों को दिया जा रहा है। इसे देखते हुए बेहद सावधान रहने की जरूरत है। उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिया गया कि शराब के धंधे में लिप्त किसी भी व्यक्ति को बख्शा न जाय और उनके विरुद्ध योजनाबद्ध रूप से करवाई की जाय। बैठक को संबोधित करते हुए श्री मनीष कुमार, आयुक्त, दरभंगा प्रमंडल द्वारा भी इस मामले में त्वरित कार्रवाई करने और संबंधित व्यक्तियों को जेल भेजने के निर्देश जारी किए गए। ऑनलाइन संचालित इस बैठक में श्री गणेश कुमार, उत्पाद अधीक्षक, मधुबनी भी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: