सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 18 नवम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 18 नवंबर 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 18 नवम्बर

आज खेला जाएगा प्रतियोगिता का दूसरा सेमीफाइनल मुकाबला सीहोर जूनियर और भोपाल एसीई के मध्य


सीहोर। शहर के बीएसआई मैदान पर प्रतिभाशाली खिलाडिय़ों को मंच देने के लिए जिला क्रिकेट एसोसिएशन के तत्वाधान में खेली जा रही एसएन पहलवान स्मृति प्रथम-टी-20 क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। शुक्रवार को प्रतियोगिता का दूसरा मैच खेला जाएगा। इस प्रतियोगिता में भोपाल के अलावा सीहोर सहित आठ टीमों को शामिल किया गया था। डीसीए के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि शुक्रवार की सुबह प्रतियोगिता का दूसरा मैच सीहोर जूनियर और एसीई भोपाल टीम के मध्य खेला जाएगा। वहीं बुधवार को पहले सेमीफाइनल में एनसीसीसी भोपाल की दिग्गज टीम को बीएस अकादमी टीम ने हराकर प्रतियोगिता के फाइनल में अपना स्थान पक्का कर लिया था। इस महत्वपूर्ण मैच में बीएस अकादमी की टीम खेल के हर क्षेत्र में एनसीसीसी टीम के खिलाफ हावी रही। गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण काल के बाद प्रथम लीग टी-20 क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन एसोसिएशन के तत्वाधान में किया जा रहा है। इस प्रतियोगिता में आठ टीमों को शामिल किया था और लीग के मैचों में चार टीमों ने अपना स्थान बनाया था उसमें पुल ए से एनसीसीसी और बीएस अकादमी टाप पर रहे थे और पुल बी में एसीई भोपाल और सीहोर जूनियर टीम टाप पर रहकर सेमीफाइनल में पहुंची थी। शुक्रवार को शुरू होने वाले दूसरे सेमीफाइनल में सीहोर जूनियर और एसीई टीम के मध्य खेला जाएगा। दोनों ही टीमों में कई स्टार खिलाड़ी शामिल है। वहीं सीहोर जूनियर में अब तक स्पिन के जादूगर माने जाने वाले प्रतिभाशाली खिलाड़ी प्रकेंश राय ने शानदार गेंदबाजी करते हुए आठ विकेट हासिल किए है तो वहीं बल्लेबाज के रूप में अतुल कुशवाहा ने करीब 120 रन बनाकर अपनी टीम को कई विषम स्थितियों से  निकाला है। 


राधा कृष्ण महिला मंडल के तत्वाधान में सैकड़ों महिलाओं ने किया सीवन घाट पर दीप दान


sehore news
सीहोर। हर साल की तरह इस साल भी गुरुवार को राधा कृष्ण महिला मंडल सहित अन्य महिलाओं ने दीप लगाए। क्षेत्र के गाड़ी अड्डा स्थित राधा कृष्ण मंदिर में सात दिवसीय श्री अष्ट लक्ष्मी अर्चना एवं दिव्य यज्ञ का आयोजन किया जा रहा है। जिसके अंतर्गत कार्तिक माह तक व्रत करने वाले लोगों ने शाम को शहर के सीवन नदी घाट में जल से अचमन कर पूजा-अर्चना की और महिलाओं ने दीपदान कर महीने भर से चल रहे व्रत पूजा का उद्यापन किया। इस मौके पर पंडित मनोहर शर्मा, मयंक शर्मा, मनोज दीक्षित मामा, यश शर्मा आदि के मार्ग दर्शन में पहले कार्तिक कथा का महत्व बताया गया। इसके पश्चात महिलाओं ने पूजा-अर्चना कर दीपदान की रस्म निभाई। महिलाओं युवतियों ने सीवन नदी में दीपदान करने का भारी उत्साह देखा गया। महिलाओं ने पात्रों कई महिलाओं ने दीपक पत्ते पर रूई की बाती का दीप जला कर पूर्ण श्रद्धा के साथ दीपदान किया। दीपदान का यह कार्यक्रम रात 8 बजे तक चलता रहा। यहां पर हर साल राधा कृष्ण महिला मंडल के द्वारा गाड़ी अड्डा से बड़ी संख्या में महिलाएं भगवान की पूजा अर्चना की।


कथा कर यहां पर मौजूद श्रद्धालुओं को बताया महत्व

इस मौके पर यहां पर मौजूद पंडितों द्वारा महिलाओं श्रद्धालुओं से पूजा-अर्चना करवाई गई। वहीं व्रत पूर्णिमा वैकुण्ड चतुर्दशी का महत्व बताया गया। वैकुण्ठ चतुर्दशी का महत्व कलियुगी जीव के लिए बहुत अधिक हैं। ये कार्तिक मास के आखिरी त्यौहारों में शामिल किया जाता हैं। ऐसी मान्यता है कि भगवान विष्णु वैकुण्ठ लोक के द्वारों को खोल के रखते हैं और इस दिन भगवान विष्णु के साथ भगवान शिव यानि हरिहर का पूजन करने वाले को वैकुण्ठ लोक में वास मिलता हैं।


वृद्धजनों की सेवा से मिलता है पुण्य


sehore news
सीहोर। शहर के सैकड़ाखेड़ी स्थित संकल्प वृद्ध आश्रम पर भोजन आदि का वितरण किया गया। इस मौके पर युवा समाजसेवी सुरेन्द्र सिंह अरोरा अप्पी ने कहा कि घर, परिवार व समाज के संचालन में वृद्धजनों का मार्गदर्शन जीवन के प्रत्येक दुख-सुख से सामना करने की शक्ति प्रदान करता है। ऐसे में वृद्धजनों की सेवा करने से पुण्य की प्राप्ति होती है। इस संबंध में जानकारी देते हुए संकल्प वृद्ध आश्रम और नशा मुक्ति केन्द्र के संचालक राहुल सिंह ने बताया कि वृद्ध आश्रम दो दर्जन से अधिक वृद्धजन परिवार की तरह रहते है। जिनका समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण आदि किया जाता है।  गुरुवार को समाजसेवी श्री अरोरा के द्वारा वृद्धजनों का सम्मान किया गया। उन्होंने कहा कि जिस परिवार को बुजुर्ग का आशीर्वाद मिल जाता है,वह खुशनसीब होता है और निरंतर तरक्की भी करता है। युवा पीढी को सामाजिक परिवर्तन के दौर में अपनी सेवाभावी सोच को मानसिक विचार बनाने का आह्वान किया। साथ ही बुजुर्गों की सेवा और उनकी उचित देखभाल का दायित्व निभाने की बात कही।  


हरिहर मिलन के साथ मनाई गई बैकुंठ चतुर्दशी, कमल दल से की अर्चना
  • आज देव दीपावली की तरह मनेगी कार्तिक पूर्णिमा, लगाया जाएगा छप्पन भोग
sehore news
सीहोर। शहर के गाडी अड्डा स्थित श्रीराधा कृष्ण मंदिर में कार्तिक मास के पावन अवसर पर क्षेत्र की सुख-समृद्धि के लिए हर साल की तरह इस साल भी  सात दिवसीय श्री अष्ट लक्ष्मी अर्चना एवं दिव्य यज्ञ का आयोजन किया जा रहा है। इस मौके पर गुरुवार को बैकुंठ चतुर्दशी पर अल सुबह से मंदिर में भगवान का विशेष अभिषेक किया गया। इसके पश्चात परम्परा अनुसार हरिहर मिलन किया गया। हरि यानि भगवान विष्णु और हर मतलब भगवान शिव। शुक्रवार को मंदिर में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर देव दीपावली की तरह मनाई जाएगी। इस दौरान सुबह नौ बजे से हवन का आयोजन किया जाएगा, इसके पश्चात छप्पन भोग लगाया जाएगा। गुरुवार को सात दिवसीय श्री अष्ट लक्ष्मी अर्चना एवं दिव्य यज्ञ के दौरान बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के द्वारा हजारों की संख्या में कमल गट्टे से यहां पर विराजमान आठ देवियों की अर्चना की गई। इस मौके पर पंडित मयंक शर्मा ने बताया कि धन प्राप्ति के लिए किए जाने वाले ज्योतिषीय उपायों में कई वस्तुओं का उपयोग किया जाता है, कमल गट्टा भी उन्हीं में से एक है। कमल के पांचों अंगों में से देवी कमला का वास होता है। देवी कमला को कमल का हर एक अंग प्रिय है लेकिन इन्हें सर्वाधिक प्रिय है कमल का बीज अर्थात कमल गट्टा। भारतीय धार्मिक शास्त्रों में लक्ष्मी को अत्यधिक महत्व दिया गया है। वेद और पुराण इनकी गाथा गाते नहीं थकते यही संपूर्ण संसार का पालन-पोषण कर व्यक्ति के कर्म का निचोड़ धन के रूप में करती हैं। संपूर्ण संसार लक्ष्मी के अभाव में अर्थ विहीन है। मात्र लक्ष्मी ही अर्थ, काम, सुख, वैभव और संपन्नता प्रदान करती हैं। धर्म शास्त्रों में लक्ष्मी को अत्यधिक महत्व दिया गया है। कमल गट्टे की माला मां लक्ष्मी के चित्र पर पहनाकर पूजा करने से हमेशा सुख-शांति व समृद्धि बनी रहती है। रोजाना सुबह-शाम माला जपने से मां लक्ष्मी सभी मनोकामना पूर्ण करती है। इस दिव्य यज्ञ का आयोजन पंडित पवन व्यास, पंडित मनोहर शर्मा, कुणाल व्यास, मनोज दीक्षित मामा और यश शर्मा के मार्गदर्शन में राधा कृष्ण महिला मंडल के तत्वाधान में किया जा रहा है। पंडित श्री शर्मा ने यहां पर उपस्थित श्रद्धालुओं को बताया कि बैकुंठ चतुर्दशी के दिन भगवान विष्णु की 1 हजार कमलों से पूजा करने वाले व्यक्ति और उसके परिवार को बैकुंठ धाम में स्थान प्राप्त होता है। महाभारत काल में भी भगवान श्रीकृष्ण ने युद्ध में मारे गए योद्धाओं का श्राद्ध बैकुंठ चतुर्दशी के दिन ही कराया था। इसलिए इस दिन श्राद्ध और तर्पण करना भी अत्यंत श्रेष्ठ माना गया है। बैकुंठ धाम केवल सद्गुणी, दिव्य पुरुष या सतकर्म करने वाले जातकों को प्राप्त होता है। लेकिन श्रद्धापूर्वक रखा गया बैकुंठ चतुर्दशी का व्रत बैकुंठ धाम में स्थान दिलाता है। इस दिन भगवान शिव और भगवान विष्णु की पूजा की जाती है। इस दिन शिवजी और विष्णुजी की पूजा करने से सभी प्रकार के पाप नष्ट हो जाते हैं। पुराणों के अनुसार इसी दिन भगवान शिव ने भगवान विष्णु को सुदर्शन चक्र दिया था। इस दिन शिव और विष्णु दोनों ही एकाएक रूप में रहते हैं।


देर रात्रि को की दीप अर्चना
गुरुवार को बैकुंठ चतुर्दशी के पावन अवसर पर हर साल की तरह इस साल भी राधा कृष्ण महिला मंडल के तत्वाधान में महिलाओं और श्रद्धालुओं ने शहर के गाड़ी अड्डा स्थित राधा कृष्ण मंदिर में दीप जलाकर अर्चना की। इस मौके पर शाम को दिव्य पूजा अर्चना की गई और उसके बाद शाम को दिव्य अनुष्ठान का आयोजन किया गया। शुक्रवार को सात दिवसीय कार्तिक मास महोत्सव का आस्था और उत्साह के साथ समापन किया जाएगा। इस मौके पर मंदिर में हवन और अन्नकूट प्रसादी का वितरण किया जाएगा। मंडल ने सभी क्षेत्रवासियों से अन्नकूट उत्सव में शामिल होने की अपील की है। 



अब बच्चे लेंगे मम्मी-पापा से वैक्सीन लगवाने का वचन, एसडीएम की पहल पर बच्चे भी बने कोरोना वारियर्स


sehore news
कोरोना वैक्सीन की जन जागरूकता फैलाने में अमूमन शासकीय कर्मचारी, संस्थाएं और महिला-पुरूष ही नजर आते हैं, लेकिन सीहोर एसडीएम श्री ब्रजेश सक्सेना की पहल पर स्कूली बच्चे अपने परिजनों के अलावा आस-पास के रहवासियों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करेंगे। स्कूली बच्चों को प्रार्थना के समय यह शपथ दिलाई जाएगी कि वह अपने परिजनों को वैक्सीन के लिए प्रेरित करें और स्कूली बच्चे घर जाते समय भी लोगों को वैक्सीनेशन का संदेश दें। एसडीएम श्री ब्रजेश सक्सेना की जनजागरूकता चर्चा का विषय बन गई है। वैक्सीनेशन के लिए एसडीएम ने जो अभियान चलाया है, उससे हजारों बच्चे जुड़ गए हैं और न केवल अपने परिजनों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित कर रहे हैं, बल्कि आस-पास रहने वाले परिवारों को भी यह बच्चे वैक्सीन के फायदे गिना रहे हैं। एसडीएम श्री सक्सेना ने बताया कि कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर के निर्देशानुसार जिले में वैक्सीनेशन कार्य शत प्रतिशत पूर्ण कराना है इस कि लिए लोगों को जागरूक बनाना है। वैक्सीनेशन के लिए शासकीय कर्मचारियों से लेकर एनजीओ, संस्थाएं, रहवासी जन जागरूकता फैला रहे हैं। लेकिन अब इस मुहिम में बच्चे भी जुड़ गए हैं। हमने बच्चों को जब वैक्सीन के फायदे बताए तो बच्चों ने कहा कि हम सबसे पहले अपने माता-पिता को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करेंगे। फिर आस-पास के रहवासियों को भी इसकी जानकारी देंगे। सुबह स्कूल पहुंचते ही बच्चों को प्रार्थना के समय शपथ दिलाई जा रही है कि वह इस वैक्सीनेशन महाअभियान में जुड़े और परिजनों को वैक्सीन की डोज लगवाने के लिए प्रेरित करें। एसडीएम श्री सक्सेना ने ग्राम, ब्लॉक, नगर क्राईसेस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्यों सहित स्थानीय कर्मचारियों, मिडिल, हाई और हायर सेकेंडरी स्कूल व कॉलेज के बच्चों, एनसीसी स्काउट के साथ सामूहिक रैली निकाली जाएगी और अन्य गतिविधियों के माध्यम से लोगों को वैक्सीन के लिए जागरूक किया जाएगा। इसके अलावा शहर के सभी शासकीय और निजी स्कूलों में छात्र-छात्राओं को सुबह स्कूल में प्रार्थना के बाद शपथ दिलाई जाएगी कि वह अपने परिवार के सभी लोगों को वैक्सीन की दोनों डोज के लिए प्रेरित करेंगे।


ऑनलाइन गेम - साइबर सेल ने जारी की एडवाइजरी


प्रदेश में भी ऑनलाइन गेम खेलने के चक्कर में कई युवा और बच्चे अपनी जान गंवा चुके है। इस बात को ध्यान में रखते हुए राज्य साइबर सेल ने एडवाइजरी जारी की है। राज्य साइबर सेल द्वारा जारी एडवाइजरी में अभिभावकों से कहा गया है कि बच्चों को हो सके तो मोबाइल नहीं दें। ऑनलाइन क्लॉसेस के लिए बिना सिम कार्ड का मोबाइल दें, बच्चों को वाईफाई से इंटरनेट इस्तेमाल करने दें।  बच्चों की ऑनलाइन एक्टिविटी पर नजर रखें। परिवार के सभी सदस्यों के मोबाइल में प्ले स्टोर पर पैरेंटल कंट्रोल ऑन करें।  पासवर्ड बच्चों को नहीं बताएं, बच्चों को हर तरह के ट्रांजेक्शन की छूट नहीं दें। खाते से पैसे कटने का मैसेज आते ही बच्चों से पैसे कटने का कारण अवश्य पूछें।


भारत सरकार के जल शक्ति मंत्रालय द्वारा वाटर हिरोस प्रतियोगिता 3.0 आयोजित



जल संसाधन नदी विकास तथा गंगा संरक्षण विभाग जल शक्ति मंत्रालय के मुख्य उद्देश्यों में से जल संरक्षण को एक लोक आंदोलन बनाना तथा देश में  जल संबंधी सजगता को बढाना है। इस उद्देश्य की पूर्ति हेतु विभाग में जल संरक्षण और प्रबंधन के अहम विषय पर लोगों की भागीदारी बढाने के उद्देश्य से एक दिसंबर 2021 से वाटर हिरोस.शेयर यॉर स्टोरिज़ प्रतियोगिता आरंभ की जाएगी। इस वाटर हिरोस प्रतियोगिता के माध्यशम से हम आशा करते हैं कि हम देश भर से सर्वोत्त कृष्ट जल संरक्षण और प्रबंध से जुडी प्रथाओं को प्रोत्साहित तथा संग्रहित कर पाएंगे। इसके अतिरिक्त गए हम इस क्षेत्र में देश भर में रूपांतरण प्रयासों को बढावा देने की दृष्टि से प्रचार-प्रसार भी कर पाएंगे। प्रत्येग माह दिसंबर,2021 के आगे की अवधि से पुरस्कारों के लिए प्रविष्टियों आमंत्रित की जाएंगी। प्रत्ये्क माह में पुरस्कारों के लिए अधिकतम केवल 10 प्रविष्टियों पर ही विचार किया जाएगा। चुनी गई सभी प्रविष्टियों के लिए प्रत्येक हेतु 10 हजार रूपए का नकद पुरस्कार और एक प्रमाण पत्र दिया जाएगा। इस प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए प्रतिभागियों को जल संसाधनों के संरक्षण तथा प्रबंधन में उनके विशेष योगदान तथा प्रयासों को दर्शाते हुए 1.5 मिनट की अवधि का एक विशेष वीडियों ;जिसमें 300 शब्द  का एक राईट अप तथा कुछ फोटो तस्वीरें शामिल हों के माध्यम से जल संरक्षण तथा प्रबंध के बारे में उनकी कामयाबी दर्शाई गई हो। प्रतिभागी अपने वीडियों को यूट्यूब वीडियों लिंक के साथ MYGOV पोर्टल पर डाल सकते हैं। MYGOV पोर्टल के अतिरिक्त waterheroes.cgwb@gmail.com पर भी प्रविष्टियां प्रस्तुत की जा सकती हैं। प्रतियोगियों को सलाह दी जाती है कि वे केवल कमेंट सेक्शलन में ही अपने यू ट्यूब लिंक का उल्लेख करें और वहां पूरा वीडियों अपलोड नहीं करें। प्रतियोगिता की यह श्रृंखला 30 नवंबरए 2022 को समाप्त हो जाएगी। अधिक जानकारी के लिए कृपया www.mygov.in,www.jalshakti-dowr.gov.in लॉग ऑन करें।


मध्यप्रदेश खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा खादी वस्त्रों पर विशेष छूट


ध्यप्रदेश खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा आम जन को समस्त प्रकार के खादी वस्त्र, कबीरा खादी गारमेंट्स एवं ग्रामोद्योग विंध्या वैली उत्पाद क्रय को प्रोत्साहित करने के लिए 31 दिसंबर 2021 तक समस्त प्रकार के खादी वस्त्रों की फुटकर बिक्री पर विशेष डिस्काउंट 20$10$10 प्रतिशत एवं विन्ध्या वैली के ब्रांड उत्पादों की फुटकर बिक्री पर 20$10 प्रतिशत विशेष डिस्काउंट दिया जाएगा।   राष्ट्रीय स्तर की खादी संस्थाओं एवं ग्रामोद्योग इकाईयों के उत्कृष्ट खादी उत्पाद एवं राज्य शासन की स्वरोजगार मूलक योजनाओं के अंतर्गत वित्त पोषित इकाईयों, स्व-सहायता समूहों द्वारा उत्पादित विंध्या वैली ब्राण्ड एवं अन्य ग्रामोद्योग सामग्री विक्रय हेतु उपलब्ध रहेंगे।


नेहरू युवा केंद्र द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर भाषण प्रतियोगिता आयोजित

  • राष्ट्रीय स्तर पर प्रथम पुरस्कार 2 लाख रूपये का जिला स्तरीय प्रतियोगिता में सहभागिता की इच्छुक प्रतिभागी का पंजीयन 21 तक


राष्ट्र निर्माण में युवाओं की भागीदारी सुनिश्चित करने एवं युवा प्रतिभाओं को मंच प्रदान करने के उद्देश्य से नेहरू युवा केंद्र संगठन, सीहोर (युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय, भारत सरकार) द्वारा देश भक्ति और राष्ट्र निर्माण थीम पर सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास एवं सब का प्रयास विषय पर 18 से 29 वर्ष के युवाओं के बीच राष्ट्रीय स्तर पर भाषण प्रतियोगिता आयोजित की जा रही है। इसके लिए ब्लाक व जिला स्तरीय प्रतियोगिता में सहभागिता की इच्छुक प्रतिभागी 21 नवंबर तक ऑनलाइन गूगल फॉर्म के माध्यम से रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। फॉर्म का लिंक एवं प्रतियोगिता की नियमावली नेहरू युवा केंद्र सीहोर के फेसबुक अकाउंट से अथवा सीहोर कार्यालय से प्राप्त किया जा सकता है। फॉर्म का लिंकhttps://docs.google.com/forms/d/e/1FAIpQLSdrjMgrbYVS33VeCXBDGi8upIEHabx2REJg3DhvqLZAUCWk8A/viewform?usp=sf_link है। जिला नेहरू युवा केंद्र अधिकारी श्रीमती राठौर ने बताया कि प्रतिवर्ष नेहरू युवा केंद्र संगठन द्वारा देश भक्ति और राष्ट्र निर्माण विषय पर देश भर में प्रतियोगिता आयोजित की जाती है, जिसमें जिला स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त करता को 5 हाजर रू, राज्य स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले को 25 हजार रू एवं राष्ट्रीय स्तर पर प्रथम आने वाले प्रतिभागी को 2लाख रू की पुरस्कार राशि एवं प्रमाण पत्र दिए जाते हैं।


अवकाश के दिन 19,20 एवं 21 को बिजली बिल भुगतान केन्द्र खुलेंगे, ऑनलाइन भुगतान सुविधा का लाभ उठाएं, और 20 रूपये की छूट पाएं


मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के कार्यक्षेत्र के अंतर्गत 19 नवम्‍बर (गुरूनानक जयंती), 20 नवम्‍बर (शनिवार)एवं 21 नवम्‍बर (रविवार)को बिजली बिल भुगतान केन्द्र सामान्य कार्य दिवसों की तरह कार्य करते रहेंगे। बिजली बिल भुगतान केन्द्र उक्त छुट्टी के दिन भी सामान्य कार्य दिवस की तरह खुले रहेंगे। बिजली उपभोक्ताओं से अपील है कि वे विभिन्न स्थानों पर स्थापित ए.टी.पी. मशीन में भी बिल भुगतान कर सकते हैं। इसके अलावा बिलों के भुगतान की सुविधा एम.पी.ऑनलाईन, कॉमन सर्विस सेन्टर, कंपनी पोर्टल portal.mpcz.in (नेट बैंकिंग, क्रेडिट/डेबिट कार्ड, यूपीआई, ईसीएस, बीबीपीएस, कैश कार्ड एवं वॉलेट आदि) फोन पे, अमेजन पे, गूगल पे, पेटीएम एप एवं उपाय मोबाइल एप के माध्यम से बिल भुगतान की सुविधा उपलब्ध है। कंपनी ने यह भी निर्देश दिए हैं कि कंपनी कार्यक्षेत्र के सभी 16 जिलों में बिजली वितरण केन्द्र/बिल भुगतान केन्द्र अवकाश के दिनों में खुले रहेंगे। इसके लिए सभी मैदानी महाप्रबंधकों को निर्देशित किया गया है।


स्वच्छता सर्वेक्षण ग्रामीण-2021-22 में ग्रामीण-जन बढ़-चढ़कर हिस्सा ले


स्वच्छता सर्वेक्षण ग्रामीण 2021-22 में जिले के सभी ग्रामीण-जन बढ़-चढ़कर हिस्सा लें। जिला-प्रशासन के साथ पंचायत का अमला तो अपना काम कर ही रहे हैं, चाहे वह घर-घर से कचरा इकट्ठा करने की बात हो या सूखा कचरा और गीला कचरा अलग-अलग रखने की बात हो। ग्रामीण स्वच्छता सर्वेक्षण 2021-22 की जंग है। इसमें हमारा सबसे महत्वपूर्ण हथियार है ग्रामीण-जनों का फीडबैक। जब तक ग्रामीण-जनों का फीडबैक बढ़-चढ़कर नहीं आएगा, इसलिए बहुत आवश्यक है कि आप सब भी आगे आएं और ग्रामों द्वारा किए जा रहें अच्छे कार्यों की सराहना करें। उसमें आगे बढ़कर अपना फीडबैक दें और इस यज्ञ में अपना-अपना योगदान अवश्य दें। ग्रामीण-जन चाहें तो #SSG2021 पर कॉल करके अपना योगदान दे सकते हैं। इसके साथ ही https://swachhsurvekshan2021.org/CitizenFeedback पर एवं अन्य सोशल मीडिया साइट के माध्यम से भी अपना फीडबैक दे सकते हैं। आप भी भारत के सबसे बड़े स्वच्छता सर्वेक्षण में हिस्सेदार बनने के लिए चरणबद्ध ढंग से #SSG2021 में अपनी प्रतिक्रिया साझा कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए लिंक https://ssg2021.in का भी उपयोग कर सकते हैं।


एम-राशन मित्र एप बहुत उपयोगी


खाद्य सुरक्षा योजना से लाभान्वित परिवारों का सत्यापन किया जा रहा है। तैनात कर्मचारियों द्वारा घर-घर जाकर एम-राशन मित्र एप के माध्यम से सत्यापन किया जा रहा है। प्रत्येक उपभोक्ता गूगल प्ले स्टोर से इस एप को स्टाल कर सकते हैं। इसके माध्यम से उपभोक्ता अपनी पात्रता की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। एप में परिवार की समग्र आईडी से लागिन करने पर खाद्यान्न की पात्रता, पात्रता पर्ची के अनुसार परिवार के सदस्यों की जानकारी तथा परिवार प्रोफाइल की जानकारी प्राप्त की जा सकती है। इसके माध्यम से आसपास की उचित मूल्य दुकान पीओएस मशीन की स्थिति, दुकान को खाद्यान्न आवंटन एवं वितरण की भी जानकारी प्राप्त की जा सकती है। शासन द्वारा खाद्यान्न वितरण के संबंध में दी जाने वाली सूचनाओं और सुविधाओं के लिए भी एम-राशन मित्र एप बहुत उपयोगी है।


’सुकन्या खाते खुलवाकर बेटियों को समृद्ध करने का आव्हान’


सुकन्या समृद्धि खाता खुलवाएं और घर में खुशहाली लाएं की अवधारणा के साथ भारत सरकार द्वारा बेटी बचाओ एवं बेटी पढ़ाओ के तहत बालिकाओं की उच्च शिक्षा तथा विवाह हेतु व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए यह योजना शुरू की गई है।   योजना के अन्तर्गत जन्म से लेकर 10 वर्ष की आयु तक की बेटियों का खाता खुलवाया जा सकता है, जमाकर्ता बेटी के नाम से एक ही खाता खोल सकता है। यदि माता-पिता या संरक्षक दो बेटियों के अलग-अलग खाता खोल सकते हैं, यदि जुड़वा बेटियां है तो जन्म प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने पर तीसरा खाता भी खोला जा सकता है, यह खाता एक वित्तीय वर्ष में 250 रूपये से शुरू किया जा सकता है। बच्ची की उम्र 18 वर्ष पूर्ण होने पर सुकन्या समृद्धि खाता में जमा राशि का 50 प्रतिशत राशि निकाला जा सकता है।   बेटी की उम्र 21 वर्ष पूर्ण होने पर खाता परिपक्व होगा, बालिका का विवाह 18 वर्ष के बाद या 21 वर्ष के पहले होता है तो खाता बंद कर दिया जाएगा और ब्याज सहित समस्त रकम दे दी जाएगी। इसी प्रकार इस योजना से आयकर में छूट का लाभ भी मिलता है और देश के किसी भी हिस्से में स्थानांतरित किया जा सकता है। खाता खोलने के लिए जरूरी दस्तावेज, जन्म प्रमाण पत्र, माता-पिता का फोटो पहचान पत्र, एड्रेस प्रूफ और माता-पिता की फोटो आवश्यक है। खाते मे न्यूनतम 250 रूपये अधिकतम 01 लाख 50 हजार रूपये वार्षिक जमा किया जा सकता है। इस खाते की अवधि कुल 21 वर्ष है।


खाद्य पदार्थों में मिलावट या अनियमितता की गोपनीय शिकायत अब पोर्टल पर भी


खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम संबंधी विविध कार्यों को समग्र पोर्टल पर लाने के मकसद से खाद्य सुरक्षा एमआईएस पोर्टल- पोशन (पीओएसएचएएन) शुरू किया गया है। पोर्टल पर खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006, विनियम 2011 के नियमों का खाद्य कारोबारी द्वारा पालन नहीं करने व खाद्य पदार्थों में मिलावट या अनियमितता संबंधी शिकायत लोगों द्वारा गोपनीय तरीके से दर्ज करने की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। आम नागरिक उचकी उपेण्पद पर शिकायत दर्ज करा सकते हैं।  इस सिलसिले में बताया गया है कि उक्त अधिनियम की धारा 31 के तहत सभी खाद्य कारोबारियों को पंजीयन कराना व खाद्य लायसेंस लेना अनिवार्य है। खाद्य लायसेंस एवं पंजीयन के लिए मार्गदर्शन लेने के उद्देश्य से आयुक्त खाद्य सुरक्षा प्रशासन कार्यालय ईदगाह हिल्स भोपाल में खाद्य सुरक्षा हेल्प डेस्क स्थापित की गई है। इसका टेलीफोन नम्बर 0755- 2665036 और ई- मेल foodsafetyhelpdeskmp@gmail.com है। इस पर जानकारी ली जा सकती है।


बकाया राशि एवं नियमित देयकों का भुगतान तत्काल करें


मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा बकाया राशि वसूली के लिए सघन प्रयास किये जा रहे हैं। इन प्रयासों के अंतर्गत बकाया राशि वसूली के लिए घर-घर जाकर बिजली कर्मचारी और अधिकारी राजस्व वसूली में लगे हैं। कंपनी के सभी वृत्त कार्यालयों में समीक्षा बैठकें आयोजित कर मैदानी स्तर पर राजस्व वसूली की वृद्धि के प्रयास तेज कर दिये गये हैं। सभी मैदानी अधिकारियों को बकाया राशि वसूली करने,भू-राजस्व संहिता के अंतर्गत सी-फार्म एवं कुर्की करने की कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये हैं। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने यह भी निर्देश दिये हैं कि विजीलेंस द्वारा बनाये गये प्रकरणों में बकाया राशि की वसूली भी तेज की जाए। इसके अलावा ऑडिट द्वारा निकाली गई बकाया राशि और अन्य कारणों से बकाया राशि को उपभोक्ता के बिल में जोड़कर राजस्व वसूली की जाए। यह भी निर्देश दिये गये हैं कि काटे गये कनेक्शनों की रात्रि में चेकिंग की जाए ताकि बकायादार उपभोक्ता अवैध रूप से बिजली का उपयोग न करें और यदि कोई उपभोक्ता ऐसा करता पाया जाता है तो उसके विरूद्ध बिजली अधिनियम-2003 की धारा 138 के अंतर्गत प्रकरण बनाया जाए। कंपनी ने अधिकारियों और कर्मचारियों से कहा है कि टीम भावना से कार्य कर लक्ष्य की प्राप्ति करें। बिजली उपभोक्ताओं से आग्रह - बकाया राशि कंपनी में जमा कराएं मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक श्री गणेश शंकर मिश्रा ने कंपनी कार्यक्षेत्र के बिजली उपभोक्ताओं से अपील की है कि वे बकाया राशि का भुगतान तत्काल करें। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने बकायादार बिजली उपभोक्ताओं से आग्रह किया है कि बिजली कनेक्शन विच्छेदन की अप्रिय कार्यवाही से बचने के लिए विद्युत बिलों का भुगतान तत्काल सुनिश्चित करें।   कंपनी के द्वारा बकायादारों के विरूद्ध बड़े स्तर पर बिजली कनेक्शन विच्छेदन की कार्यवाही में “आपरेशन एवं मेंटेनेंस” अमले के साथ-साथ“ विजीलेंस”को भी जोड़ा है। कंपनी के सहायक अभियंता/जूनियर इंजीनियर जो कि तहसीलदार का दायित्व निर्वहन कर रहे हैं,भी राजस्व वसूली के लिए सक्रिय हो गये हैं। बिजली उपभोक्ताओं से अनुरोध है कि बिजली वितरण कंपनी के कार्मिकों द्वारा बिजली बिल के भुगतान की रसीद मांगे जाने पर उन्हें रसीद अवश्य दिखाएं,ताकि बिजली उपभोक्ताओं को अनावश्यक असुविधा न हो।


सर्दी, जुकाम, खांसी, बुखार आदि लक्षण दिखने पर तुरंत डॉक्टर की सलाह लें


स्वास्थ्य विभाग ने सलाह दी है कि किसी भी व्यक्ति को सर्दी, जुकाम, खांसी, बुखार, सांस लेने में तकलीफ, सिरदर्द, भूख न लगना, दस्त लगना आदि के लक्षण होने पर तुरंत डॉक्टर की सलाह लें। आमतौर पर देखा गया है कि मरीज घर पर ही पारंपरिक उपचार लेते रहते है। ठीक होने की उम्मीद में 5 से 7 दिन गुजार देते है, जिससे स्वास्थ्य लाभ होने के बजाय उनकी बीमारी और बढ़कर जटिल हो जाती है। ऐसे लोंगो को  अस्पताल में भर्ती करना पड़ता है। ऐसी स्थिति में अगर कोविड-19 की जांच पॉजीटिव आती है तो उपचार और जटिल हो जाता है। ऐसे मरीजों को ऑक्सीजन सपोर्ट या आईसीयू में भर्ती कर उपचार करना पड़ता है। ऐसी बीमारियों से प्रभावित व्यक्तियों को सलाह दी है कि उन्हें सर्दी, खांसी, बुखार और सांस लेने में तकलीफ, सिरदर्द, हाथ-पैरों में दर्द, शरीर में ऐठन, भूख न लगना, खाने व सूघंने में स्वाद का पता न लगना आदि लक्षणों के आते ही वे तुरंत चिकित्सक से परामर्श लें। अथवा कोविड-19 की जांच करवाकर समय रहते उपचार लेकर स्वस्थ हों। कोरोना के दृष्टिगत ऐसे व्यक्ति भीड़-भाड़ में न जायें, आपस में दो गज की दूरी बनाकर रखें। हाथों को सैनेटाइज करते रहना अथवा हाथों को साबुन से धोते रहने जैसी आवश्यक सावधानी बरतें।


दिव्यांगों को बस किराए में 50 प्रतिशत की छूट


प्रदेश की सभी तरह की बसों में दिव्यांग जनों को यूनिक आईडी दिखाने पर किराए में 50 प्रतिशत की छूट मिलेगी। आयुक्त परिवहन द्वारा प्रदेश के सभी जिले के क्षेत्रीय अतिरिक्त एवं जिला परिवहन अधिकारी को निर्देशित किया गया है कि राज्य शासन द्वारा मध्य प्रदेश के राजपत्र में 24 नवम्बर 2016 को किये गये प्रावधान के तहत समस्त प्रक्रम बस सेवाओं में विभिन्न प्रकार के दिव्यांग व्यक्तियों को प्रभावित किराये में 50 प्रतिशत की छूट दी जायेगी, यदि वे सक्षम प्राधिकारी का प्रमाण-पत्र प्रस्तुत करते हैं।  दिव्यांगजनों द्वारा भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय अथवा राज्य सरकार द्वारा जारी युनिक आईडी (युडीआईडी) के तहत जारी किये गये परिचय-पत्र दिखाये जाने पर किराये में 50 प्रतिशत की छूट का लाभ दिया जाये।


बेसहारा बच्चों की सेवा से बड़ी कोई सेवा नहीं : मुख्यमंत्री श्री चौहान


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि बेसहारा बच्चों की सेवा से बड़ी कोई सेवा नहीं है। यदि ऐसे बच्चों की सेवा करने का हर कोई प्रण ले तो कोई भी बच्चा बेसहारा नहीं रहेगा। यह एक पवित्र कार्य है। मुख्यमंत्री श्री चौहान चिल्ड्रन शेल्टर होम नित्य सेवा भवन की व्यवस्थाओं का अवलोकन कर संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नित्य सेवा संस्था बच्चों में जुनून और आत्म-विश्वास बढ़ाने का कार्य कर रही है। उन्होंने बालक-बालिकाओं द्वारा दी गई प्रस्तुतियों की सराहना की। उन्होंने कहा कि बच्चों की प्रस्तुतियाँ किसी प्राइवेट स्कूल के बच्चों से कम नहीं हैं। यह शेल्टर होम आश्रम जैसा है। जो बच्चों की जिंदगी को नई दिशा देने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने यहाँ पढ़ने वाले बच्चों एवं संस्थापकों को शुभकामनाएँ दीं।   मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार अनाथ बच्चों की देखरेख के लिए कृत-संकल्पित है। कोई भी बच्चा सड़क पर भीख मांगता नहीं भटके, इसके लिए जिला प्रशासन को निर्देश दिए गए हैं। नित्य सेवा संगठन बच्चों के जीवन को सार्थक बना रहा है। उन्होंने कहा कि मेरी एक कल्पना है कि मध्यप्रदेश की धरती पर बेटी लखपति पैदा हो, इसलिए लाड़ली लक्ष्मी योजना बनाई गई है। हमारी कोशिश होगी कि बेसहारा बेटियों को भी लाड़ली लक्ष्मी योजना में शामिल कर लिया जाए।


एक दिन में 17 लाख से अधिक वैक्सीन डोज लगाने पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दी बधाई


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेशवासियों ने एक बार फिर जन-भागीदारी का उत्कृष्ट उदाहरण प्रस्तुत किया है। आज 17 नवम्बर को 17 लाख से अधिक पात्र नागरिकों को वैक्सीन डोज लगाई गई है। कोरोना से बचाव के लिए प्रदेश में चलाए जा रहे कोविड-19 टीकाकरण महाअभियान में जन-सहयोग से फिर सफलता प्राप्त हुई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमने यह तय किया है कि दिसम्बर माह के अंत तक प्रदेश के सभी पात्र नागरिकों को वैक्सीन की दोनों डोज लगाकर सुरक्षा कवच प्रदान किया जाए। इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए प्रदेश में टीकाकरण महाअभियान की श्रंखला चलाई जा रही है। इन महाअभियानों को सफल बनाने के लिए इस बार सभी विभागों का सहयोग भी लिया गया है। साथ ही क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी, सामाजिक संस्थाओं, कोरोना वॉलंटियर्स, धर्म-गुरुओं, जन-प्रतिनिधियों और समाजसेवियों ने सक्रिय भूमिका निभाई है, जिसके अच्छे परिणाम मिल रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेशवासियों को कोरोना से बचाने के लिए शत-प्रतिशत पात्र आबादी को दिसम्बर माह तक वैक्सीन की दोनों डोज लगाना हमारा मुख्य लक्ष्य है।


कलेक्टर ने ग्राम सिराली का भ्रमण कर ग्रामवासियों की समस्याओं को सुना, ग्रामवासियों की समस्याओं का त्वरित निराकरण के निर्देश अधिकारियों को दिए


sehore news
कलेक्टर श्री चंद्रमोहन ठाकुर ने अचानक नसरूल्लागंज के ग्राम पंचायत कृपालानी के ग्राम सिराली पहुंच कर ग्रामवासियों से उनकी समस्याओं को सुनाकर उनसे विस्तार से चर्चा की और समस्याओं के निराकरण के लिए संबंधित अधिकारियों को त्वरित निराकरण के निर्देश दिए।   उन्होंने ग्राम वासियों से कोविड-19 का टीका लगवाने की अपील की और कहा कि अपने आसपास और परिचितों से टीका लगवाने का आग्रह करने के लिए कहा। इसके साथ ही उन्होंने गांव  गांव में स्वच्छता बनाए रखने सभी से सहयोग की अपील कीl भ्रमण के दौरान एसपी श्री मयंक अवस्धी, एसडीएम श्री डी एस तौमर, नयाब तहसीलदार श्री शक्ति तौमर सहित संबंधित अधिकारिगण उपस्थित थे।


19 नवम्बर से 25 नवम्बर तक कौमी एकता सप्ताह


राज्य शासन द्वारा इस वर्ष भी जिले में 19 नवम्बर से 25 नवम्बर तक कौमी एकत सप्ताह का आयोजन किया जाएगा। आयोजित किये जाने वाले कार्यक्रम के संबंध में राष्ट्रीय साम्प्रदायिक सदभाव द्वारा निर्देश जारी किये गये है। कौमी एकता सप्ताह के आयोजन स्थल पर कोविड-19 को दृष्टिगत रखते हुए एवं शासन के दिशा निर्देशों का पालन किया जाना सुनिश्चित करें।


वैक्सीन के दोनो डोज शीघ्र लगाने के निर्देश


कोविड महामारी की रोकथाम के लिए राज्य शासन द्वारा जारी नवीन  दिशा-निर्देश के अनुसारसमस्त शासकीय सेवकों से कोविड-19 के दोनों डोज लगवाने के निर्देश दिए गए हैंl समस्त कार्यालय कार्यालय प्रमुखों को अपने कार्यालय स्टाफ स्टाफ का टीकाकरण किया जाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैंl  समस्त स्कूलो, कॉलेजो, होस्टलों में कार्यरत प्राचार्य, शिक्षक, संचालक, स्टाफ तथा अध्ययनरत 18 वर्ष से अधिक आयु के छात्र-छात्राओं को कोविड-19 के टीके की दोनों डोज़ लगाने के निर्देश दिए गए हैं l  इसके साथ ही स्टाफ, कर्मियों तथा छात्र-छात्राओं जिनके द्वारा दोनों टीके नहीं लगाए गए है, उन्हें दोनों टीके लगवाना वैक्सीन के दोनो डोज लगवाने के लिए प्राचार्य, स्कूल संचालक यह सुनिश्चित करें। समस्त मार्केट प्लेस एवं मॉल के दुकानदारों तथा मेलों में दुकान लगाने वाले दुकानदारों से अपेक्षा की गई है कि वे कोविड-19 टीके की दोनों डोज़ लें। जिन दुकानदारों द्वारा दोनों टीके नहीं लगाए गये हैं उन्हें दोनों टीके लगवाना आवश्यक है। मार्केट एसोसियेशन, मॉल प्रबन्धन, मेला आयोजक यह सुनिश्चित करें। समस्त सिनेमाहॉल, मल्टीप्लैक्स एवं थिएटर में स्टाफ को दोनों टीके लगाना आवश्यक होगा । कोविड उपयुक्त व्यवहार जैसे मास्क का उपयोग, सोशल डिस्टेसिंग  का पालन सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है। नवीन दिशा-निर्देश में दोनों डोज़ लगाने से तात्पर्य है कि कोविड-19 की दोनों डोज लगा ली गई हो अथवा प्रथम डोज लगाने के बाद द्वितीय डोज़ लगाने की तिथि (due date) नहीं निकली हो तो शीध्र ही डोज लगवाने कि नरेश जी रहे हैंl नवीन दिशा-निर्देश में दोनों डोज़ लगाने से तात्पर्य है कि कोविड-19 की दोनों डोज लगा ली गई हो अथवा प्रथम डोज लगाने के बाद द्वितीय डोज़ लगाने की तिथि (due date) नहीं निकली हो तो शीध्र ही डोज लगवाये।


कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने नगरीय निकाय एवं त्रिस्तर्रीय पंचायत, आम निर्वाचन-2021-22 के लिए अधिकारियों के मध्य किया कार्य विभाजन


कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने नगरीय निकाय एवं त्रिस्तर्रीय पंचायत आम निर्वाचन- 2021-22 को दृष्टिगत रखते हुए दृष्टिगत अधिकारियों के मध्य कार्य विभाजन किया गया है  l  साथ ही सहयोंग के लिए अधिकारी, कर्मचारियों की भी नियुक्त किया गया है। कलेक्टर श्री ठाकुर ने नियुक्त अधिकारी कर्मचारियों को निर्देश दिए कि आयोग के निर्देशानुसार सभी कार्य समय-सीमा में पूर्ण करें।कार्य की प्रगति से प्रति सप्ताह कलेक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी को अवगत करा जाएं। प्रत्येक अधिकारी भेजे गए ज्ञापनों एवं कार्य से संबंधित नस्तियों का संधारण अपने स्तर से करेंगे तथा निर्वाचन कार्य उपरान्त समस्त रिकार्ड जिला कार्यालय (स्थानीय निर्वाचन) में जमा करावेंगे। समस्त नस्तियों उप जिला निर्वाचन अधिकारी के माध्यम से जिला निर्वाचन अधिकारियों को प्रस्तुत की जावेंगी। आवश्यक होने पर कर्मियों की ड्यूटी संशोधन किया जाना हो तो उप जिला निर्वाचन अधिकारी (स्थानीय निर्वाचन) की अनुमति से संशोधित आदेश जारी किया जाये। कार्मिक प्रबंन्धन, मतदान, मतगणना दल का गठन, सेक्टर अधिकारी व मतदान कर्मी कल्याण योजना के लिए अपर कलेक्टर को  नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। ओर इनके सहयोग के लिए डिप्टी कलेक्टर श्रीमति प्रगति वर्मा, जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी, जिला शहरी विकास अभिकरण, जिला हथकरधा अधिकारी, प्रबंधक जिला ई गर्वेनेंस को बनाया जा कर कार्यो का दायित्व सौपे गये है वो केन्द्र शासन, राज्य शासन, अर्द्धशासकीय विभागों, पब्लिक सेक्टर, बैंक एवं अन्य समस्त कार्यालयों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों की जानकारी एकत्र करना। अधिकारियों, कर्मचारियों की सूची म.प्र. राज्य निर्वाचन आयोग के निर्धारित साफ्टवेयर पर अपलोड कराना, तथा संबंधित कार्यालयों से जानकारी की शुद्धता का परीक्षण कराया जाना। मध्यप्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार रेण्डम अनुसार मतदान दलों का गठन। मतदान एवं मतगणना दलों के प्रशिक्षण हेतु प्रशिक्षण प्रभारी से समन्वय कर प्रशिक्षण कार्यवाही पूर्ण करना। रिटर्निंग आफिसर के समन्वय से मतदान दलों को अंतिम नियुक्ति पत्र जारी करना। डाक्टरों की नियुक्ति, मतदान दल सामग्री वितरण, मतगणना स्थल पर चिकित्सिय सेवाओं उपचार एवं दवाइयों की उपलब्धत संबंधी कार्य जिला चिकित्सालय अधिकारी के सहयोग से रिटर्निंग आफिसर्स के समन्वय से मतगणना दलों का गठन रिटर्निंग आफिसर के समन्वय से मतगणना दलों के नियुक्ति पत्र जारी करना। मतदान दलों की डी-कोडिंग आयोग के निर्देशानुसार एवं संबंधित सामग्री वितरण केन्द्रो पर रिटर्निंग आफिसर्स को उपलब्ध कराना। अधिकारियों, कर्मचारियों को अवकाश संबंधी कार्यवाही। आवश्यकतानुसार अन्य प्रभारी अधिकारियों को निर्वाचन संबंधी कार्यों हेतु अधिकारी, कमचारियों की जानकारी उपलब्ध कराना। म.प्र. राज्य निर्वाचन आयोग के साफ्टवेयर में प्रविष्टियां करना। कार्य सौपे जाते है। प्रशिक्षण प्रबंधन निर्वाचन में लगे सभी अमले के प्रशिक्षण के प्रभारी अधिकारी मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत को नोडल अधिकारी का दायित्व सौपा गया है ओर उनके मुख्य नगर पालिका अधिकारी समस्त जिला सीहोर को बनाया जा कर सौपे गये दायित्व में मतदान दलों, सेक्टर अधिकारियों, सेक्टर मजिस्ट्रेट के प्रशिक्षण की व्यवस्था, मास्टर ट्रेनर्स की नियुक्ति प्रशिक्षण स्थल का चयन एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम का निर्धारण। प्रशिक्षण में राजनैतिक दलों एवं अन्य रूचि रखने सहयोग के लिए डिप्टी कलेक्टर श्रीमति प्रगति वर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत सीहोर, आष्टा, इछावर, बुधनी ओर नसरूल्लागंज, वाले व्यक्तियों को सम्मिलित करने के लिए पत्र व्यवहार करना। प्रशिक्षण से संबंधित नोट एवं प्रशिक्षण सामग्री तैयार करना एवं संबंधितों को वितरण करना। रिटर्निंग आफिसर के समन्वय से मतगणना दलों के प्रशिक्षण, समस्त प्रशिक्षण केन्द्रो हेतु मास्टर ट्रेनर्स सुनिश्चित करना। रिटर्निंग आफिसर एवं सहायक रिटर्निंग आफिसर्स, व्यय लेखा टीम एवं अन्य निर्वाचन की समस्त गतिविधियां में नियुक्त अधिकारियों, कर्मचारियों के प्रशिक्षण की व्यवस्था सुनिश्चित करना। ओर पुलिस अधीक्षक से समन्वय कर पुलिस कर्मियों का प्रशिक्षण। मतदाता जागरूकता अभियान {SENSE}  के मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत को नोडल अधिकारी बनाया गया है ओर उनके सहयोग के लिए परियोजना अधिकारी शहरी विकास अभिकरण, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत समस्त जिला सीहोर को बनाय जा कर कार्यो में म.प्र. राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मतदाता जागरूकता अभियान (SENSE) का कियान्वयन, (SENSE) अन्तर्गत एक्शन प्लान का क्रियान्वयन, मतदान के प्रतिशत को बढ़ाने के उद्देश्य से मतदाताओं को जागरूक करने की कार्यवाही। विगत निर्वाचन में कम वोटर टर्नआउट वाले क्षेत्रों में विशेष अभियान चलाकर मतदाताओं की लोकतंत्र के प्रति जागरूक करने की कार्यवाही। कानून व्यवस्था के लिए अपर कलेक्टर एवं अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है ओर इनके सहयोग के लिए अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) एवं दण्डाधिकारी सीहोर, आष्टा, इछावर, बुदनी, ओर नसरुल्लागंज,अपर कलेक्टर स्टेनो, नजूल अधिकारी, बनाये गये है। कानून व्यवस्था संबंधी समन्वय, मजिस्ट्रेट, पुलिस अधिकारियों की बैठक। संपत्ति विरूपण अधिनियम, दण्ड प्रक्रिया सहिता एवं कोलाहल नियंत्रण अधिनियम के अंर्तगत कार्यवाही एवं तत्संबंधी आदेश जारी संपत्ति विरूपण के पालन हेतु टीमों का गठन एवं प्रशिक्षण। विधि व्यवस्था एवं आदर्श आचरण संहिता का प्रवर्तन शांतिपूर्ण संचालन के लिये जिला समिति की बैठकों का आयोजन। शस्त्र प्रतिबंध संबंधी कार्यवाही ।विशेष पुलिस अधिकारियों की नियुक्ति के लिये पुलिस विभाग, राजस्व विभाग एवं वन विभाग से समन्वय बनाना। दैनिक कानून व्यवस्था संबंधी प्रतिवेदन पुलिस अधीक्षक से प्राप्त करना, म.प्र. राज्य निर्वाचन आयोग के URL पर अपलोड करना। किटिकल मतदान केन्द्रों की पहचान एवं कार्यवाही। आबकारी एवं पुलिस विभाग से जानकारी प्राप्त करना एवं आयोग को भेजना। होमगार्ड काल आउट। निर्वाचन के दौरान सर्किट हाउस, रेस्ट हाउस एवं मतगणना मतदान केन्द्रों एवं अन्य शासकीय भवनों धर्मशालाओं के अधिग्रहण की कार्यवाही। मुद्रकों एवं प्रकाशकों की बैठक करना एवं प्रेस प्रतिबंध संबंधी कार्यवाही एवं निगरानी। सेक्टर मजिस्ट्रेटों की नियुक्ति।  धारा- 144 के अंतर्गत समस्त प्रतिबंधात्मक कार्यवाही। राजनैतिक दलों को रैली सभाओं लाउड स्पीकर आदि की अनुमति हेतु संबंधित रिटर्निंग आफिसर के माध्यम से अनुमति दिये जाने संबंधी कार्य । आदर्श आचरण संहिता का पालन एवं अनुवर्ती कार्यवाही के प्रभारी अधिकारी लोक सेवा प्रबंधन को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है ओर इनके सहयोंग के लिए अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, जिला आबकारी अधिकारी,को बनाया गया है इनके कार्यो में आदर्श आचरण संहिता का पालन सुनिश्चत कराना। आदर्श आचरण संहिता का उल्लंघन संबंधी शिकायतों पर जाँच एवं कार्यवाही तथा प्रतिवेदन राज्य निर्वाचन आयोग को भेजना। निर्वाचन हेल्प लाइन एवं परिवेदना निवारण एवं प्राप्त शिकायतों पर कार्यवाही प्रकोष्ठ के प्रभारी अधिकारी लोक सेवा प्रबंधन को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया ओर इनके सहयोग के लिए जिला रोजगार अधिकारी, सहायक संचालक उद्यान, जिला अंत्व्यवसायी अधिकारी को बनाया जा कर कार्यो में शिकायत आवेदनों का पंजीयन, प्राप्त शिकायत आवेदनों पर जाँच निर्धारित समयावधि में निराकरण तथा प्रतिवेदन तैयार कर राज्य निर्वाचन आयोग को भेजना। शिकायत कंट्रोल रूम का गठन, शिकायतों पर जाँच हेतु टीमों का गठन एवं प्रशिक्षण (Complaint Monitoring System) का गठन। व्यय लेखा मानिटरिंग के प्रभारी अधिकारी स्थानीय निवायन को नोडल अधिकारी बनाया गया है ओर उनके सहयो के लिए जिला पेंशन अधिकारी,जिला कोषालय अधिकारह को निर्वाचन व्यय निगरानी से संबंधित कार्यो के जिला स्तरीय कार्य सौपा गया है। निर्वाचन संबंधी प्रशासकीय एवं समन्वय के प्रभारी अधिकारी स्थानीय निर्वाचन को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है ओर इनके सहयोग के लिए निर्वाचन प्रर्यवेक्षक स्थानीय निर्वाचन के कार्यो में निर्वाचन की समस्त तैयारियां सुनिश्चित करना, मतदान केन्द्रों की स्थापना से संबंधित कार्य। मतगणना स्थल तथा मतगणना कार्यक्रम का अनुमोदन राज्य निर्वाचन आयोग से प्राप्त करना, निर्वाचन की लोक प्रशासकीय व्यवस्था निर्वाचन संबंधी प्रशासकीय व्यवस्था, स्टैंडिंग कमेटी का गठन, बैठक का आयोजन, जिला अधिकारियों की बैठक एवं अन्य निर्वाचन संबंधी बैठकों का आयोजन। म.प्र. राज्य निर्वाचन आयोग के अधिकारियों, वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक की जानकरी तैयार करना एवं बैठकों में भाग लेना। राजनैतिक दलों की बैठक आयोजित करना। मतदान सामग्री व्यवस्था प्राप्ति/वितरण के नजूल अधिकारी को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है ओर उनके सहयोग के लिए कार्यालय जिला संयोजक आ.जा.क. विभाग एवं सतीश गुप्ता, सहा वर्ग- 2 आ.जा.क. विभाग, अधीक्षक भू अभिलेख, रिटर्निंग अधिकारी एवं सहायक रिटर्निंग अधिकारी नगरीय एवं पंचायत (समस्त) जिला सीहोर,होगें। परिवहन की व्यवस्था के प्रभारी अधिकारी स्थानीय निर्वाचन को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है ओर उनके सहयोग के लिए जिला परिवहन अधिकारी, जिला आपूर्ति अधिकारी, श्री कमल परिहार नगर पालिका संबंद्ध सामान्य निर्वाचन को सौपे गये कार्य में निर्वाचन हेतु वाहनों की आवश्यकता का आंकलन करना। बस ट्रक आपरेर्स की बैठक आयोजित करना। शासकीय, अर्द्धशासकी,  प्रायवेट वाहनों का आकलन एवं अधिग्रहण तथा भाडे पर लेने हेतु आदेश संबंधी कार्यवाही, मतदान दलों एवं बाहर से आने वाले मतदान कर्मियों के ठहरने एवं परिवहन की व्यवस्था। जोनल, सेक्टर अधिकारियों के लिये परिवहन की व्यवस्था निर्वाचन हेतु परिवहन व्यवस्था। पुलिस बल मूवमेन्ट के लिये परिवहन की व्यवस्था, वाहन किराये से लेने व देयक तैयार करना, परीक्षण एवं सत्यापन कर वाहन मालिकों के भुगतान हेत भुगतान पत्रक, लागबुक एवं ई-भुगतान हेतु बैंक खाते नंबर तथा आईएफएससी कोड प्राप्त कर उपजिला निर्वाचन अधिकारी के माध्यम से जिला निर्वाचन अधिकारी को प्रस्तुत कराना। रूट चार्ट एवं नक्शे के प्रभारी अधिकारी भू-अभिलेख को नोडल अधिकारी बनाया गया है ओर उनके सहयोग के लिए अधीक्षक भू-अभिलेख, श्री कमल परिहार नगर पालिका संबंद्ध सामान्य निर्वाचन के कार्यो में सामग्री वितरण केन्द्रों के अनुविभागीय अधिकारी एवं तहसीलदार से समन्वय कर मतदान दलों के परिवहन हेतु आवश्यक संख्या रूट चार्ट एवं रूट नक्शे तैयार करना एवं संबंधितों को प्रेषित करना। सेक्टर अधिकारियों, प्रेक्षक एवं अन्य हेतु सेक्टर, निर्वाचन क्षेत्र, मतदान केन्द्रों नक्शे आवश्यक संख्या में तैयार कर संबंधितों को उपलब्ध कराना। स्ट्रॅाग रूम एवं मतगणना स्थल व्यवस्था के प्रभारी कार्यपालन यंत्री, लोक निर्माण विभाग सीहोर, बुधनी को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है और इनके सहयोगी अधिकारी के रूप में अनुविभागीय अधिकारी लोक निर्माण विभाग समस्त जिला सीहोर, मुख्य नगर पालिका अधिकारी समस्त जिला सीहोर, अनुविभागीय अधिकारी विद्युत एवं यांत्रिकी, लोक निर्माण विभाग उप संभाग सीहोर को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है। स्ट्रांग रूम रिटर्निंग आफिसर के मार्गदर्शन में तैयार करना,रिटर्निंग आफिसर के मार्गदर्शन में मतगणना स्थल की व्यवस्था, रिटर्निंग आफिसर के मार्गदर्शन में मतदान सामग्री वितरण व वापसी के लिये बेरिकेटिंग व्यवस्था, नगरीय निकाय वार स्ट्रॉग रूम तैयार करना व प्रमाण पत्र जारी करना, मतगणना कक्षों में जाली व फर्नीचर की व्यवस्था, मतगणना स्थलों पर प्रकाश व माइक की व्यवस्था के कार्य सौंपे गये हैं। मतदान केंद्र तथा मतगणना स्थल पर साफ-सफाई पेयजल लाइट टेन्ट कुर्सी टेबल बेरिकेट्स आदि की व्यवस्था के प्रभारी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व समस्त जिला सीहोर को नोडल अधिकारी बनाया गया। इनके सहयोगी अधिकारी मुख्य नगर पालिका अधिकारी समस्त, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत समस्त को सौंपे गये कार्यो में मतदान केन्द्र तथा मतगणना स्थल पर साफ सफाई, विद्युत एवं पेयजल, अग्निशमन, फर्नीचर आदि की व्यवस्था, निर्वाचन में सम्पत्ति विरूपण के प्रकरणों पर निर्देशानुसार त्वरित कार्यवाही, सामग्री वितरण एवं वापसी स्थल पर साफ सफाई, विद्युत एवं पेयजल, अग्निशमन, फर्नीचर, प्रकाश माइक आदि की व्यवस्था, मतदान सामग्री वितरण एवं प्राप्ति स्थल, मतगणना स्थल पर जाली बैरिकेटिंग व्यवस्था,मतदान केन्द्रों पर नाम व कमांक आदि अंकित करने की व्यवस्था का कार्य देखेंगे। निर्वाचन नामावली,निर्वाचन नामावली / मतदान संबंधी कार्यवाही के प्रभारी अधिकारी स्थानीय निर्वाचन को नोडल अधिकारी बनाया गया है और इनके सहयोगी अधिकारी के रूप में अनुविभागीय अधिकारी र राजस्व  राजस्व सीहोर, आष्टा, इछावर, नसरूल्लागंज, बुधनी, के साथ समस्त तहसीलदार को सौंपे गए कार्यो में निर्वाचक नामावली का मुद्रण जाँच, निर्वाचन नामावली के सैट मतदान केन्द्र वार तैयार एवं प्रमाणित करना, आवश्यक संख्या में नामावली के सेट तैयार करना एवं संबंधितों को उपलब्ध कराना,राजस्व सीहोर आरूटा इछावर नसरूल्लागंज बुधनी के साथ समस्त तहसीलदार को बनाया गया है।इनके कार्यो में नगरीय निकाय की मतदाता सूची की प्रति मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के अभ्यर्थियों को निशुल्क आयोग के निर्देशानुसार प्रदाय करना, चिन्हित मतदाता सूची के सैट तैयार करना, डाक मतपत्र एवं ई.डी.सी मतदाता सूची में अंकित करना, प्राक्सी वोटिंग संबंधी कार्यवाही, मतदान केन्द्रों की सूची के सेट आवयश्यकता अनुसार छपवाना तथा एक सेट स्थानीय कार्यालय को उपलब्ध कराना, मतदान केन्द्रों की प्रतिया अभ्यार्थियों को आयोग के निर्देशानुसार निर्धारित दर पर उपलब्ध कराना, मतदान केन्द्र संबंधित सांख्यिकीय जानकारी तैयार करना एवं विभिन्न स्तरों पर उपलब्ध कराना, मतदान केन्द्रों का भौतिक सत्यापन कराना एवं रिपोर्ट तैयार कर प्रस्तुत करना, मतदान केन्द्रवार महिला एवं पुरूष तथा योग की पंजी तैयार करना आदि कार्य। परिचय, प्रवेश पत्र व्यवस्था के प्रभारी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व समस्त इनके सहयोगी अधिकारी जिला शहरी विकास अभिकरण, मुख्य नगर पालिका अधिकारी समस्त, मुख्य कार्यपालन अधिकारी समस्त के कार्यो में सेक्टर अधिकारियों, सेक्टर मजिस्ट्रेट, चिकित्सा अधिकारियों को परिचय पत्र जारी करना, मतगणना के लिये अधिकारियों, कर्मचारियों एवं प्रेस प्रतिनिधियों प्रवेश पत्र जारी करना, मतगणना के लिये अभ्यार्थियों के मतगणना एजेन्टों की सूची प्राप्त करना एवं उनके लिये फोटोयुक्त प्रवेश पत्र जारी करना, मतदान दलों में नियुक्त कर्मचारियों को परिचय पत्र जारी करना के कार्य सौंपे गए। डी एम एम के प्रभारी निजूल अधिकारी को नोडल अधिकारी नियुक्त किया इनके सहयोगी अधिकारी के रूप में अधीक्षक भू-अभिलेख, समस्त तहसीलदार के कार्यो में मतदान पश्चात ई व्ही एम के डी एम एम  की निकायवार सीलिंग करना, रिटर्निंग अधिकारियों से समन्वयक कर डी.एम.एम. को निकायवार सीलिंग कार्य के लिये कर्मचारियों का चयन व प्रशिक्षण। डाक मतपत्र व निर्वाचन कर्तव्य मतपत्र की व्यवस्था के प्रभारी डिप्टी कलेक्टर श्री वर्मा को नोडल अधिकारी नियुक्त किय। इनके सहयोगी अधिकारी के रूप में जिला कोषालय अधिकारी, सहायक पेंशन अधिकारी, डाक मतपत्रों व निर्वाचन कर्तव्य मतपत्र से संबंधित समस्त कार्य देखेंगे। वेलफेयर मैनेजमेन्ट के कार्य जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है और इनके सहयो के लिए मुख्य नगर पालिका अधिकारी समस्त एवं उप संचालक कृषि को बनाया गया है। इनके कार्यो में मतदान दलों के वेलफेयर आफिसर,समस्त सामग्री वितरण एवं प्रापप्ति केन्द्रों पर मतदान दलों के आवागमन,उनके रूकने,भोजन पेयजल तथा बुनियादी सुविधाएं सुनितश्चित करना। तहसील स्तर पर मतदान दलों के वेलफेयर हेतु अधिकारियों,स्टाफ की नियुक्ति,मतगणना केन्द्र पर नियुक्त स्टाफ हेतु वेलफेयर मैनेजमेंट आदि। मतपत्र मुद्रण के प्रभारी अधिकारी स्थानीय निर्वाचन को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है और इनके सहयोग के लिए तहसीलदार सीहोर,कोषालय अधिकारी,सहायक कोषालय अधिकारी,जिला पंजीयक सीहोर को बनाया गया है इनके कार्यो में निर्वाचन लड़ने वाले अभ्यर्थियों की सूची प्राप्त करना व जॉच करना, मतपत्रों की आवश्यकता का आंकलन,समस्त प्रकार के मतपत्रों का मुद्रण,ईव्हीएम हेतु मतपत्रों का मुद्रण मुद्रित मतपत्र डाक मतपत्र प्रभारी एवं संबंधित रिटर्निग आफिसर को उपलब्ध कराना,मतपत्र लेखा भाग-2 का मुद्रण,निविदत्त मतपत्रों का मुद्रण पंजी का संधारण करना।


ग्राम पंचायत भाऊखेड़ी में 28 एकड़ में मनरेगा से पार्क विकसित


sehore news
जनपद पंचायत इछावर के के ग्राम भाऊ खेड़ी में लगभग 28 एकड़ में मनरेगा से पार्क विकसित किया गया  है। इसके अलावा मनरेगा से गौशाला, चारागाह विकास, निर्मल नीर, पोखर निर्माण, मछली पालन हेतु तालाब, सामुदायिक वृक्षारोपण, सामुदायिक पोषण वाटिका, तुलसी कानन, सीआईएफ भवन, सामुदायिक स्वच्छता परिसर। डेमोस्ट्रेशन सेटर के तौर पर विकसित किया गया हैl  इन कार्यों का उद्देश्य एक ही स्थान पर विभिन्न कार्यो का प्रदर्शन एवम स्व सहायता समूह के माध्यम से आजीविका सुदृण करना। इन सभी निर्माण एवं विकास कार्यों का मनरेगा आयुक्त श्रीमती सूफिया फारूकी वली द्वारा निरीक्षण किया गया है। निरीक्षण के दौरान  जिला पंचायत पंचायत  सीईओ श्री हर्ष सिंह ,जनपद सीईओ सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।


जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला , वर्तमान में कोरोना एक्टिव पॉजिटिव की संख्या शून्य


पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10143  है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10021 हैं। आज 719 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 224, श्यामपुर से 181, नसरुल्लागंज 60, आष्टा से 149, बुधनी से 65, इछावर से 40, सैंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सैंपल 297801 हैं। जिनमें से 285884 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज    170 सेंपलो की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 719 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।


सीएम हेल्पलाइन कार्यशाला आयोजित


जिला अंतर्गत प्रत्‍येक समय सीमा बैठक एवं राजस्‍व समीक्षा मे कलेक्‍टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर द्वारा सीएम हेल्‍पलाईन की सतत् समीक्षा की जाती है। लोक सेवा प्रबंधन विभाग द्वारा 18 नवंबर को अपर कलेक्‍टर श्रीमती गुंचा सनोवर एवं प्रभारी अधिकारी  लोक सेवा  के  मार्गदर्शन  मे सीएम हेल्‍पलाईन प्रकरणो के त्वरित एवं संतुष्टि पूर्वक निराकरण हेतु कार्यशाला का आयोजन किया गया। सीएम हेल्पलाइन में स्‍वास्‍थ्‍य विभाग, राजस्‍व विभाग, कलेक्‍ट्रेट शाखा, नजूल भूमि शाखा, पंचायत विभाग, पुलिस विभाग, जिला अस्‍पताल की शिकायतो की समीक्षा की गई। उपस्थित अधिकारियों कर्मचारियों द्वारा शिकायतकर्ता से फोन पर संपर्क कर, किए गए निराकरण से अवगत कराया एवं उपस्थित शिकायतकर्ता से सीएम हेल्‍पलाईन पर स्‍वप्रे‍रणा से बात कर संतुष्टि से शिकायते बंद कराई गई। कलेक्टर श्री ठाकुर ने भविष्‍य मे शिकायतों के गुणवत्‍तापूर्ण निराकरण हेतु अधिकारी कर्मचारियों को निर्देशित किया।


कमिश्नर, कलेक्टर वीडियो कॉफ्रेसिंग 29 नवम्बर को


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में 29 नवम्बर को प्रातः 11 बजे से मध्यप्रदेश के कमिश्नर, कलेक्टर, पुलिस महानिरीक्षक एवं पुलिस अधीक्षकों के साथ वीडियों कांफ्रेंसिंग आयोजित की गई है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में आयोजित होने वाली वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में प्रदेश में माफिया के विरूद्ध कार्यवाही, महिला अपराध एवं कानून व्यवस्था की समीक्षा, प्रधानमंत्री शहरी पथविक्रेता स्वनिधि एवं मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना की प्रगति की समीक्षा की जायेगी। इसके साथ ही बैठक में कोविड-19 टीकाकरण अंतर्गत द्वितीय डोज लगाने की कार्यवाही, सीएम हेल्पलाइन अंतर्गत प्रकरणों के निराकरण, सीएम राईज योजना का प्रस्तुतीकरण, मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना का प्रस्तुतीकरण, मुख्यमंत्री राशन आपके ग्राम योजना का प्रस्तुतीकरण, मप्र सिकल सेल अर्थात हीमोग्लोबिनोपैथी मिशन से संबंधित प्रेजेन्टेशन दिया जाएगा।


महिलाएं आत्मनिर्भर बने - सांसद  साध्वी प्रज्ञा ठाकुर

  • सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने बमूलिया दोराहा और खजूरिया कलां का दौरा किया

sehore news
भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने सीहोर जिले की श्यामपुर तहसील के बमूलिया दोराहा और खजूरिया कलां का दौरा किया। ग्राम बमूलिया दोराहा में तीन महिला स्वसहायता समूह को 75 हजार रूपये की राशि चैक के चेक प्रदान किए और महिलाओं को आत्मनिर्भर बनने के लिए कहा। ग्राम हिंगोनी-चरनाल रोड चौड़ीकरण के निर्देश जनपद सीईओ को दिए| सांसद साध्वी ठाकुर द्वारा गोद लिए आदर्श ग्राम खजूरिया कलां में मंदिर निर्माण के भूमिपूजन की शुरुआत की और नदी के सौंदर्यीकरण के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए। इस दौरान एसडीएम सीहोर बृजेश सक्सेना, तहसीलदार एवं सीईओ सीहोर ब्लॉक उपस्थित रहें।

कोई टिप्पणी नहीं: