बिहार : हर्षोल्लास से मनी कांग्रेस की 137वीं स्थापना दिवस समारोह - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 28 दिसंबर 2021

बिहार : हर्षोल्लास से मनी कांग्रेस की 137वीं स्थापना दिवस समारोह

  • कांग्रेस छल-कपट की राजनीति से दूर रही है और आगे भी रहेगी। डॉ मदन मोहन झा ने कहा कि कांग्रेस के 137वें स्थापना दिवस पर तिरंगा यात्रा का आयोजित किये...

bihar-congress-celebrate-staiblishment-day
पटना. 28 दिसम्बर। अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के 137वें स्थापना दिवस समारोह के अवसर पर प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम के उद्यान में बिहार कांग्रेस अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा ने झंडोत्तोलन किया। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा ने तिरंगे को सलामी दी और कांग्रेसजनों को प्रतिज्ञा दिलाई।इसके साथ ही कांग्रेस सेवादल के 99वें स्थापना दिवस पर सेवादल के प्रदेश मुख्य संघटक मो. शोएब द्वारा आयोजित तिरंगा मार्च का आयोजन सदाकत आश्रम से राजेन्द्र घाट तक आयोजित किया गया। जिसका नेतृत्व बिहार कांग्रेस अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा ने किया। राजेन्द्र घाट पर देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेन्द्र प्रसाद के समाधि स्थल पर पुष्पांजलि अर्पित की गई। झंडोत्तोलन के उपरांत प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा ने कहा कि छल कपट की राजनीति को कांग्रेस पार्टी ने कभी स्वीकार नहीं किया। वर्तमान दौर में देश की राजनीति पर साम्प्रदायिक ताकत हावी हो चुकी है। कांग्रेस ने सदैव देश की एकता, अखंडता और सद्भाव को बरकरार रखने की कवायद की है। कांग्रेस देश के विकास और आम लोगों के जीवन को सुदृढ़ करने की राजनीति करती रही है। वर्तमान दौर में कांग्रेस ने गांधीवादी विचारधारा को जीवित रखने और सबको साथ लेकर चलने की राजनीति की है।


स्थापना दिवस एवं तिरंगा यात्रा में  प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा, पूर्व अध्यक्ष डॉ. शकील अहमद, कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. समीर कुमार सिंह, कौकब कादरी, श्याम सुन्दर सिंह धीरज, मिडिया चेयरमैन राजेश राठौड़,  विधायक प्रतिमा कुमारी दास, ब्रजेश पाण्डेय, ब्रजेश प्रसाद मुनन, पूर्व विधायक नरेन्द्र कुमार, लाल बाबु लाल, ऋषि मिश्रा, अर्जुन मंडल, सतीश कुमार,  प्रवीन कुशवाहा, जया मिश्रा, कुमार आशीष, स्नेहाशीष वर्धन पाण्डेय, संजीव कर्मवीर, ज्ञान रंजन, सौरभ सिन्हा, मिन्नत रहमानी, अशोक गगन, रामायण प्रसाद यादव, अरबिंद लाल रजक, आशुतोष शर्मा, मंजीत आनंद साहू, कमलदेव नारायण शुक्ला, रीता सिंह, राजेश सिन्हा, शशि कान्त तिवारी, असफर अहमद, मृणाल अनामय, अजय सिंह, सत्येन्द्र कुमार सिंह, प्रदुमन यादव, विनोद पाठक, ब्रज किशोर सिंह कुशवाहा, सुधा मिश्रा, संजय कुमार पाण्डेय, अखिलेश्वर सिंह, मो. सोएब, राम नरेश चौधरी, अनोखा देवी, सुनील कुमार सिंह, दौलत इमाम, मृगेंद्र सिंह, रेणु कुशवाहा, उमेश कुमार राम, सुनैना झा, निधि पाण्डेय, रूमा सिंह, बिपिन झा, मिथिलेश शर्मा मधुकर, अजय सिंह टुन्नू, राजीव सिन्हा, मो. शाहनवाज, फिरोज हसन, ताहिर अनिश खान, राज किशोर सिंह, सुधीर शर्मा के अलावे कांग्रेस के नेतागण, सेवादल के सैंकड़ों कार्यकर्ता और पदाधिकारी भी मौजूद रहें।

कोई टिप्पणी नहीं: