सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 16 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 16 दिसंबर 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 16 दिसंबर

पत्रकारवार्ता में बोले अरोरा इस बार परिवार का कोई भी सदस्य चुनाव नहीं लड़ेगा

  • अरोरा अपने विश्वासनीय समर्थकों को त्रिस्तरीय चुनावी मैदान में उतारेंगे, जिला पंचायत एवं जनपद अध्यक्ष और सदस्य पदों के लिए प्रत्याशी देंगे

sehore news
सीहोर। वरिष्ठ भाजपा नेता जसपाल सिंह अरोरा के परिवार का कोई भी सदस्य इस बार जिला पंचायत जनपद अध्यक्ष और सदस्य के लिए प्रत्याशी के रूप में चुनावी मैदान में नहीं उतरेगा। भाजपा नेता अरोरा अपने विश्वासनीय समर्थकों को त्रिस्तरीय चुनावी मैदान में उतारेंगे। जिला पंचायत एवं जनपद अध्यक्ष और सदस्य पदों के लिए प्रत्याशियों के नामों की घोषणा जल्दी हीं करेंगे। पंचायत स्तरीय चुनावों में अरोरा किसी भी प्रकार का हस्तक्षेप नहीं करेंगे। अरोरा जिला पंचायत एवं जनपद अध्यक्ष और सदस्य पद के लिए शिक्षित लोकप्रिय ईमानदार स्वच्छ छबि के प्रत्याशी ग्रामीणजनों को देंगे।   त्रिस्तरीय चुनावों को लेकर सगर्मियां तेज हो गई है। इसी को लेकर गुरूवार को वरिष्ठ भाजपा नेता पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जसपाल सिंह अरोरा के द्वारा निजी कार्यालय में पत्रकार वार्ता आयोजित की गई।विकास खंड सीहोर अंतर्गत आने वाली 144 ग्राम पंचायतों में प्रथम चरण में मतदान होगा। इसी प्रकार वार्ड एक दो और तीन से जिला पंचायत और जनपद सदस्यों के साथ अध्यक्ष भी चुने जाना है जिला पंचायत और जनपद पंचायत के लिए चुनाव कराए जाना तय किया गया है। पत्रकारों को संबोधित करते हुए श्री अरोरा ने कहा की यह भाजपा कांग्रेस पार्टी के चुनाव नहीं है फूल पंजा इस में दिखाई नहीं देगा। जिला पंचायत और जनपद पंचायत सहित ग्राम पंचायतों के उम्मीदवारों को चुनाव आयोग हीं चुनाव चिंहों का आवंटन करेगा। उन्होने कहा की वह स्वयं जिला पंचायत अध्यक्ष रहे है और पत्नि सहित बेटी भी जनपद सदस्य चुनी जा चुकी है हमेशा ग्रामीणजनों का प्रेम स्नेह उनके परिवार को मिला है लेकिन इस बार अरोरा परिवार ने चुनाव नहीं लडऩे का फैसला किया है। अरोरा परिवार का कोई भी सदस्य चुनावी मैदान में दिखाई नहीं देगा। श्री अरोरा ने कहा की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में हम चुनावी मैदान में हमारा पैनल उतारेंगे। चुनावों को लेकर तैयारियां शुरू कर दी गई है। जल्दी हीं जिला पंचायत जनपद पंचायत अध्यक्ष और सदस्यों के लिए प्रत्याशियों की घोषणा करेंगे। अरोरा ने कहा की उनके जिला पंचायत अध्यक्षीय कार्यकाल में अनेक कार्य जिले भर में किए गए थे जिस में हजारों शिक्षित बेरोजगारों को शासकीय शिक्षक की नौकरी देना महत्वपूर्ण था इस के अलाबा करोड़ों रूपये के जनहितैशी निर्माण कार्य उस समय गांवों में कराए गए। नगर पालिका परिषद की तरह हीं जिला पंचायत को संचालित किया गया और हजारों ग्रामीणों को विभिन्न योजनाओं का लाभ दिलाया गया। कई बार बुधनी विधानसभ क्षेत्रों में भी निर्माण कार्यो का भूमि पूजन करने के लिए जाना हुआ। उस समय के सभी जनपद अध्यक्षों सदस्यों और सरपंचों पचों ने भरपूर  सहयोग किया। अरोरा ने कहा की कुछ लोग नये उम्मीदवारों को गलत जानकारी दे रहे है टिकिट देने की बात कर रहे है जबकी इस चुनाव में टिकिट लेने देने की कोई बात नहीं होती है। अरोरा ने कहा की हम ईमानदार जुझारू कर्मठ प्रत्याशी मैदान में उतारेंगे और जनता की सेवा करेंगे। 


समाजसेवी प्रकाश व्यास काका की स्मृति में खेली जाएगी बेबी लीग फुटबाल प्रतियोगिता, जिला स्तरीय फुटबाल प्रतियोगिता के लिए टीमों का गठन


sehore news
सीहोर।  खेलों से राष्ट्रीय भावना जागृत होती है और प्रतिभाएं छोटे से क्षेत्रों से निकलकर ही राष्ट्रीय स्तर तक पहुंचती है। इस मैदान ने अनेक ऐसे खिलाड़ी दिए है। जिन्होंने इंटरनेशनल स्तर पर हमारे क्षेत्र का नाम रोशन किया है। उक्त विचार जिला फुटबाल एसोसिएशन के उपाध्यक्ष सुदीप व्यास ने कहे। उन्होंने बताया कि क्षेत्र की प्रतिभाओं को मंच देने के लिए उनके द्वारा अपनी पिता की स्मृति में आगामी 23 दिसंबर से शहर के चर्च मैदान पर जिला स्तरीय स्वर्गीय प्रकाश व्यास काका स्मृति प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। इसमें शानदार खेल का प्रदर्शन करने वालों को विशेष पुरस्कार दिया जाएगा। इस संबंध में जानकारी देते हुए जिला फुटबाल एसोसिएशन के सचिव मनोज कन्नोजिया ने बताया कि 23 दिसंबर से आरंभ होने वाली स्वर्गीय काका स्मृति जिला स्तरीय प्रतियोगिता का शुभारंभ शाम चार बजे से किया जाएगा। प्रतियोगिता के लिए एक दर्जन टीमों को प्रवेश दिया गया है। प्रतियोगिता में प्रत्येक दिन तीन-तीन टीमों के मध्य मैच खेले जाऐंगे। प्रतियोगिता में आठ साल से 10 साल, दस से 12 साल और 12 से 16 साल के बालक-बालिकाओं को टीम में शामिल किया गया है। प्रतियोगिता की सफलता के लिए शीघ्र ही एक समिति का गठन किया जाएगा। जिसमें प्रतियोगिता के पदाधिकारियों के अलावा खिलाडिय़ों को शामिल किया जाएगा। जिला फुटबाल एसोसिएशन के पूर्व उपाध्यक्ष रह चुके स्वर्गीय प्रकाश व्यास काका की स्मृति में अनेक बार प्रतिभाओं को मौका देने के लिए चर्च मैदान पर प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया है। 23 दिसंबर से आरंभ होने वाली प्रतियोगिता के लिए एक दर्जन टीमों का चयन कर शामिल किया गया है। प्रतियोगिता में आठ साल से 10 साल, दस से 12 साल और 12 से 16 साल के बालक-बालिकाओं को टीम में लिया गया है। मैदान में बड़ी संख्या में हर रोज फुटबाल खिलाड़ी अभ्यास कर रहे है। यहां पर आने वाले छोटे-छोटे बच्चों को प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है। इन खिलाडिय़ों को बेबी लीग प्रतियोगिता में खेलने का मौका मिलेगा। 


शनिवार को पूर्णिमा पर किया जाएगा यज्ञ का आयोजन, प्रदोष पर किया आस्था के साथ भगवान शिव का अभिषेक


sehore news
सीहोर। शहर के प्राचीन जगदीश मंदिर पर हर साल की तरह इस साल भी खरमास के माह में अनेक धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। गुरुवार को इसकी शुरूआत अनंग त्रियोदशी और प्रदोष व्रत के साथ की गई। इस मौके पर पंडित रघुनंद व्यास, पंडित कुणाल व्यास, मनोज दीक्षित मामा, पंडित राहुल व्यास और रोहित व्यास के मार्गदर्शन में आधा दर्जन से अधिक श्रद्धालुओं ने आस्था और उत्साह के साथ भगवान शिव का विधि-विधान से अभिषेक किया और उसके पश्चात प्रसादी का वितरण किया गया। शहर के प्राचीन जगदीश मंदिर में सुबह से ही श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ था। गुरुवार की अलसुबह यहां मौजूद श्रद्धालुओं ने पूजा अर्चना की इसके पश्चात भगवान का अभिषेक किया। इस मौके पर पंडित श्री व्यास ने कहा कि शास्त्रों के अनुसार प्रदोष व्रत को रखने से दो गायों को दान देने के समान पुन्य फल प्राप्त होता है।  प्रदोष व्रत को लेकर एक पौराणिक तथ्य सामने आता है कि एक दिन जब चारों और अधर्म की स्थिति होगी, अन्याय और अनाचार का एकाधिकार होगा, मनुष्य में स्वार्थ भाव अधिक होगी. व्यक्ति सत्कर्म करने के स्थान पर नीच कार्यों को अधिक करेगा. उस समय में जो व्यक्ति त्रयोदशी का व्रत रख, शिव आराधना करेगा, उस पर शिव कृपा होगी. इस व्रत को रखने वाला व्यक्ति जन्म-जन्मान्तर के फेरों से निकल कर मोक्ष मार्ग पर आगे बढ़ता है. उसे उतम लोक की प्राप्ति होती है। वैसे तो भगवान शिव बहुत ही दयालु है। श्रद्धालुओं की पूजा अर्चना से शीघ्र प्रभावित होकर उनकी मनोकामनाएं पूर्ण करते हुए। गुरुवार को श्रद्धालु नंद किशार पटेल, विष्णु परमार, राकेश शर्मा, प्रकाश अग्रवाल, जेपी, किशोर सिंह पटेल आदि शामिल थे। श्री व्यास ने बताया कि शनिवार को  दत्त पूर्णिमा के अवसर पर मंदिर में यज्ञ और विशेष पूजा अर्चना की जाएगी। मंदिर के श्रद्धालुओं ने क्षेत्रवासियों ने शनिवार को होने वाले विशेष कार्यक्रम में सभी से आने की अपील की है। 


जमीन सेहत और मानव स्वास्थ्य रक्षा के लिए प्राकृतिक कृषि अपनाना जरूरी है- कृषि मंत्री श्री पटेल


sehore news
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज प्राकृतिक खेती पर राष्ट्रीय सम्मेलन के समापन सत्र में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किसानों को सम्बोधित किया। इस अवसर पर कृषि उपज मंडी सीहोर में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश के कृषि मंत्री श्री कमल पटेल, सीहोर विधायक श्री सुदेश राय सहित अनेक जन-प्रतिनिधि एवं किसान उपस्थित थे। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में कृषि मंत्री श्री कमल पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने देश की खेती की उर्वरता को बचाने और किसानों की आय दोगुनी करने का संकल्प लिया है तथा उसे पूरे करने के लिए निरंतर काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्राकृतिक खेती के इस सेमीनार के माध्यम से देश के किसानों को जागरूक करने का काम किया है। उन्होंने कहा कि अधिक उत्पादन के लिए रासायनिक खाद एवं कीटनाशकों का उपयोग लगातार बढ़ता जा रहा है, यह चिन्ताजनक है। रासायानिक खादों के उपयोग से एक और जहां भूमि की उर्वरता नष्ट हो रही है, वहीं इसके उपयोग से आने वाली फसल भी मानव स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक है। उन्होंने कहा कि खेती की लागत कम करने, भूमि की उर्वरता बनाए रखने और मानव स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए अब किसानों को प्राकृतिक खेती को अपनाना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि देश के अनेक किसानों ने प्राकृतिक कृषि पद्धति अपनाकर रासायनिक खाद और कीटनाशकों के मुकाबले कहीं ज्यादा मुनाफा कमाया है। श्री पटेल ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में खेती को लाभ का धंधा बनाकर किसानों की आमदनी दोगुनी करने के लिए अनेक योजनाओं के माध्यम से किसानों को सब्सिडी दी जा  रही है तथा  कृषि नीतियों में संशोधन कर किसानों को लाभ पहुंचाया जा रहा है। श्री पटेल ने कहा कि मध्यप्रदेश दुनिया में एकमात्र ऐसा राज्य है जहां किसानों को जीरो प्रतिशत ब्याज पर कर्ज दिया जाता है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी ने किसान सम्मान निधि और मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा चलाई जा रही मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत किसानों को दस हजार रुपए दिए जा रहे हैं। यह राशि छोटे किसानों के लिए बड़ी मददगार साबित हो रही है। उन्होंने कहा कि चने की खरीदी गेंहू से पहले की इसका लाभ किसानों को मिला और चना मूंग खरीदी की सीमा समाप्त की जिससे किसान का जितना पंजीयन है, उतनी फसल एक बार में ही ली जा सके। श्री पटेल ने किसानों से अपील करते हुए कहा कि प्रारंभ में उनके पास जितनी खेती है, उसके एक चौथाई या उनकी सुविधानुसार जमीन पर प्राकृतिक खेती के द्वारा फसल ले सकते हैं। उन्होंने उपस्थित सभी किसानों को जैविक पद्धति से खेती करने का संकल्प भी दिलाया। श्री पटेल ने जैविक पद्धति से खेती करने वाले कोलासकलां के किसान श्री गजराज सिंह वर्मा को सम्मानित करते हुए उनके द्वारा तैयार किए गए उत्पादों को देखा। इस अवसर पर श्री दर्शन सिंह चौहान श्री सीताराम यादव, श्री राजकुमार गुप्ता, श्री राजेश राठौर एवं श्री प्रिंस राठौर उपस्थित थे।


नाम निर्देशन पत्र के चौथे दिन 103 अभ्यर्थियों ने जमा किये नाम निर्देशन पत्र, अवकाश के दिन शनिवार को भी जमा किए जाएंगे नामांकन पत्र


नाम निर्देशन पत्र के चौथे दिन 103 अभ्यर्थियों ने नाम निर्देशन पत्र जमा किए है। नाम निर्देशन के लिए सीहोर (मुख्यालय) से जिला पंचायत सदस्य के लिए पुरूष एवं महिला का एक-एक नामांकन पत्र प्राप्त हुआ है। जनपद सीहोर से जनपद सदस्य के लिए पुरुषों के पाँच एवं महिला का एक नामांकन पत्र, सरपंच पद के लिए पुरूषों के 29 एवं महिलाओं के 35 नामांकन पत्र एवं पंच पद के लिए पुरुषों के 10 एवं महिलाओं के तीन नामांकन पत्र प्राप्त हुए है। इसके साथ ही जनपद नसरूल्लागंज से सरपंच पद के लिए पुरूष के दो एवं महिलाओं के चार नामांकन पत्र एवं पंच पद के लिए पुरूष का एक नामांकन पत्र प्राप्त हुआ है। इसी प्रकार जनपद इछावर से सरपंच पद के लिए पुरूषो के चार एवं महिलाओं के 06 नामांकन पत्र एवं पंच पद के लिए पुरूष का एक नामांकन पत्र  प्राप्त हुआ है। राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार शनिवार अवकाश दिवस पर भी नामांकन पत्र लिए जाएंगे।


अवैध शराब  की 16 कारोबारियों पर 33 हजार रूपये से अधिक का जुर्माना



न्यायालयों ने 16 अवैध शराब कारोबारियों पर 33 हजार 100 सौ रुपए का जुर्माना लगाया है। बुधनी, नसरूल्लागंज एवं इछावर तहसील के न्यायिक दण्डाधिकारियों ने 16 आरोपियों पर जुर्माना लगाया। नसरुल्लागंज न्यायालय में आबकारी अधिनियम के तहत के चार प्रकरणों में आरोपियों के द्वारा अपराध स्वीकार किये जाने पर न्यायालय उठने तक की सजा एवं 3900 रूपये के जुर्माने से दंडित किया गया। इसके साथ ही इसी माह नसरूल्लागंज के पाँच एवं बुधनी के सात प्रकरण कुल 12 प्रकरणों में अपराध स्वीकार किए जाने पर न्यायालय बुधनी/नसरूल्लागंज द्वारा उन्हें न्यायालय उठने तक की सजा के साथ कुल 17 हजार 600 रूपये का जुर्माना लगाया। इसी प्रकार इछावर न्यायालय में भी चालान पेश किए गए जिसमें न्यायालय ने आरोपियों को 11 हजार 600 रूपये से दण्डित किया।



आजादी का अमृत महोत्सव एवं विजय दिवस पर रंगोली प्रतियोगिता आयोजित


sehore news
शासकीय चंद्रशेखर आजाद स्नातकोत्तर महाविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना ने "आजादी का अमृत महोत्सव" तथा विजय दिवस के अवसर पर महाविद्यालय में रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन किया। इस प्रतियोगिता में विभिन्न रंगों से स्वयंसेवकों ने भारत का मानचित्र, राष्ट्रीय तिरंगा,  सर्वधर्म समभाव, अशोक चक्र एवं 75वीं वर्षगांठ का लोगो रंगोली के माध्यम से प्रदर्शित किया। इस अवसर पर महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ उर्मिला सलूजा एवं स्वयंसेवक उपस्थित थे।


सफलता के लिए कठिन परिश्रम आवश्यक है-श्री शर्मा


sehore news
नगरपालिका सीहोर की लाइब्रेरी में जिले के यूपीएससी एवं एमपीपीएससी तैयारी कर रहे छात्र-छात्राओं को नि:शुल्क कोचिंग क्लासेज संचालित की जा रही हैl  कोचिंग के छात्र-छात्राओं को अनुविभागीय अधिकारी वन श्री राजेश शर्मा ने विभागीय जानकारी देते हुए कहा है कि शिक्षा जीवन के लिए बहुत उपयोगी है। इसलिए गहनता से अध्ययन किया जाए। उन्होंने कहा कि कठिन परिश्रम निश्चित सफलता दिलाती है।  उन्होंने छात्रों से कहा कि शब्दों को जानने के साथ ही उनके प्रयोग का ज्ञान होना भी आवश्यक है।


डेंगू से बचाव के लिए आस-पास पानी को जमा न होने दें और साफ सफाई रखें


स्वास्थ्य विभाग ने दी आम नागरिकों को सलाह कि डेंगू से बचाव के लिए सावधानी रखें। जल भराव वाले स्थानों में मच्छर पनपते है। जिससे डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया जैसे जल वाहक रोग होने की सम्भावना रहती है। डेंगू और चिकनगुनिया के वाहक मच्छर रुके हुए साफ पानी में पनपते है और दिन के समय काटते है। अपने आस-पास पानी को जमा न होने दें और साफ सफाई रखें, ताकि डेंगू से बचा जा सके। यदि किसी को तेज बुखार, आँखों, मांशपेशियो और सर में तेज दर्द है, मसूडो और नाक से खून बह रहा है, शरीर पर लाल चकते हो, तो डेंगू हो सकता है। इस स्थिति में नजदीकी शासकीय अस्पताल में जांच व उपचार करवाए। डेंगू से बचाव के लिए पानी के बर्तन को ढँक कर रखें, अनुपयोगी सामग्री जैसे ड्रम, टंकी, बाल्टी आदि में पानी जमा न होने दें, दोबारा उपयोग से पूर्व उन्हे सुखाएं। आस-पास साफ सफाई रखें, सोते समय मच्छर दानी का उपयोग करें, पूरी आस्तीन के कपडे पहनकर रहे।



अंकुर अभियान के तहत अधिक से अधिक वृक्षारोपण करें


प्रदेश में हरियाली को बढ़ावा देने तथा पर्यावरण संरक्षण के लिए जन सहभागीदारी के माध्यम से वृहद वृक्षारोपण का अंकुर अभियान मप्र शासन की प्राथमिकता में शामिल है। अभियान के अन्तर्गत जिले में अधिक से अधिक वृक्षारोपण के लिए अंकुर अभियान को जन-जन का अभियान बनाए जाने के साथ ही विभागवार वृक्षारोपण के लक्ष्य भी निर्धारित किए गए हैं।     जिले में अंकुर अभियान के तहत अधिकारियों को स्वयंसेवी संगठनों के साथ मिलकर कार्य करते हुए विशेषकर महापुरूषों के जन्मदिन एवं पुण्यतिथि पर पेड़ लगाना, विवाह वर्षगांठ एवं पारिवारिक कार्यक्रमों में स्मृति के अवसर पर पेड़ लगाने के कार्य को प्रोत्साहित करें और वृक्षारोपण कराए। अंकुर अभियान के लिए उद्यानिकी विभाग को नोडल अधिकारी बनाया गया है। कार्यक्रम के तहत वृक्षारोपण हेतु जनसामान्य को प्रोत्साहन के लिए जिलेवार चयनित विजेताओं को मुख्यमंत्री द्वारा प्राणवायु अवार्ड से सम्मानित कर प्रमाण पत्र प्रदान किए जाएंगे। कार्यक्रम में सहभागिता के लिए प्रतिभागियों को गूगल प्ले स्टोर से वायुदूत एप डाउनलोड कर पंजीयन करना होगा। प्रतिभागियों को स्वयं के संसाधन से कम से कम एक वृक्ष का रोपण कर पौधे की फोटो एप के माध्यम से लेकर अपलोड करना होगा। वृक्षारोपण के तीस दिन पश्चात पुनः नवरोपित पौधे की नवीन फोटो एप पर अपलोड कर प्रतिभागी सहभागिता प्रमाण पत्र डाउनलोड कर सकेंगे।



त्रि-स्तरीय पंचायत आम निर्वाचन को दृष्टिगत धारा 144 प्रभावशील


त्रि-स्तरीय पंचायत आम निर्वाचन को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री चंद्र मोहन ठाकुर ने कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने तथा आदर्श आचार संहिता का पालन सुनिश्चित करने के लिए दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 में प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए कलेक्ट्रेट परिसर, सीहोर, आष्टा, इछावर, नसरूल्लागंज, बुदनी में संपूर्ण उपखण्ड/तहसील कार्यालय परिसर में जनसभा एवं जुलूसो पर प्रतिबंध लगाया है। इन परिसरों में धारा 144 के तहत 23 फरवरी 2022 तक की अवधि के लिए प्रतिबंधित क्षेत्र घोषित किया गया है।


होटल, लॉज, धर्मशाला मे ठहरने वाले व्यक्तियों की जानकारी उपलब्ध कराना अनिवार्य


जिले के त्रि-स्तरीय आम निर्वाचन 2021-22 के दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री चंद्र मोहन ठाकुर ने सराय अधिनियम 1967 की धारा 8 के अंतर्गत सीहोर, आष्टा, इछावर, नसरूल्लागंज, बुदनी की पंचायत सीमा के भीतर सभी सराय, धर्मशालाओं, होटल तथा लॉज के मालिकों एवं प्रबंधकों को उनके संस्थानों में ठहरने वाले व्यक्तियों की प्रतिदिन संबंधित थाना प्रभारी एवं निकटतम कार्यपालिक दण्डाधिकारी को लिखित जानकारी देने के आदेश दिए गए है। यह आदेश 23 फरवरी 2022 तक लागू रहेगा।



ध्वनि विस्तारक यंत्रों के उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंध


जिले में त्रि-स्तरीय पंचायत निर्वाचन 2021-22 को दृष्टिगत रखते हुए निर्वाचन प्रचार-प्रसार कार्य में लाउड स्पीकर के अनियंत्रित उपयोग से होने वाली जन परेशानी, ध्वनि प्रदूषण व शांति व्यवस्था को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकरी श्री चन्द्र मोहन ठाकुर द्वारा मध्यप्रदेश कोलाहल नियंत्रण अधिनियम 1985  की धारा 18  के अंतर्गत 23 फरवरी 2022 तक की अवधि के लिए सीहोर जिले की सीहोर, आष्टा, इछावर, नसरूल्लागंज, बुधनी में त्रि-स्तरीय पंचायत आम निर्वाचन 2021-22 की सीमाओं को कोलाहल नियंत्रण क्षेत्र (सायलेंस जोन) घोषित किया किया गया है। इस दौरान विहित प्राधिकारी की लिखित अनुमति के बिना ध्वनि विस्तारक यंत्रों के उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। यह आदेश तत्काल प्रभाव से प्रभावशील होगा। अधिनियम की धारा 2 (घ) के अंतर्गत जिले के सीहोर, आष्टा, इछावर, नसरुल्लागंज, बुधनी में पदस्थ अनुविभागीय दण्डाधिकारी तहसीलदार एवं अतिरिक्त/नायब तहसीलदारों को उनके मुख्यालय क्षेत्रान्तर्गत इस अधिनियम के तहत विहित प्राधिकारी घोषित किया गया है। आम सभा, जुलूस एवं प्रचार कार्य हेतु लाउड स्पीकर/ध्वनि विस्तारक यंत्रों के प्रयोग की अनुमति पंचायत क्षेत्र में सुबह 06.00 बजे से रात्रि 10.00 बजे तक दी जा सकेगी। ट्रक, जीप, टेम्पो, ऑटो रिक्शा, तांगा आदि वाहनों से चुनाव प्रचार-प्रसार की अनुमति आवेदन करने पर ही दी जा सकेगी। आवेदन पत्र में वाहन के पंजीयन क्रमांक का उपयोग अनिवार्य होगा। बिना अनुमति के लाउड स्पीकर/ध्वनि विस्तारक यंत्र द्वारा प्रसारण एवं प्रचार-प्रसार करने पर या अनुमति के निर्दिष्ट अवधि के पश्चात लाउड स्पीकर या संबंधित उपकरण के उपयोग को जप्त कर नियमानुसार दण्डात्मक कार्यवाही की जाएगी। 


23 फरवरी 2022  तक के लिए शस्त्र लायसेंस निलंबित



जिले की सीहोर, आष्टा, इछावर, नसरूल्लागंज, बुधनी, त्रि-स्तरीय पंचायत आम निर्वाचन 2021-22 को शांतिपूर्वक सम्पन्न कराए जाने के लिए तथा कानून व्यवस्था एवं लोक प्रशांति बनाए रखने और मानव जीवन की सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री चन्द्र मोहन ठाकुर द्वारा शस्त्र अधिनियम 1959 की धारा 17 की उपधारा 3 के अंतर्गत जिले के समस्त शस्त्र अनुज्ञप्तिधारियों को प्रदत्त शस्त्र अनुज्ञप्तियां 04 दिसम्बर 2021 से निर्वाचन सम्पन्न होने तक 23 फरवरी 2022 तक शस्त्र लायसेंस निलम्बित किए गए हैं।अग्नेय शस्त्र 23 फरवरी 2022  तक संबंधित थाने में ही जमा रखने के आदेश दिए गए हैं। यह आदेश कानून एवं व्यवस्था के कार्य में लगे पुलिस अधिकारियों/कर्मचारियों/ समस्त केन्द्र शासन/राज्य शासन के विभागों में कार्यरत सेवा निवृत्त अधिकारी/कर्मचारी केन्द्र/राज्य शासन के उपक्रमों के अधिकारी/कर्मचारी, बैंक गार्ड के तौर पर कार्यरत लायसेंसियों पर लागू नहीं होगा। यह आदेश सीहोर जिले की सम्पूर्ण सीमा में प्रभावशील होगा और 23 फरवरी 2022 तक प्रभावशील रहेगा।


त्रि-स्तरीय पंचायतो की सामान्य जानकारी


जिले के जनपद पंचायत सीहोर में मतदान केंद्रो की संख्या 407, जिला पंचायत सदस्य 05, जनपद पंचायत सदस्य 25, ग्राम पंचायत सदस्य 144, सरपंच 144, ग्राम पंचायत वार्ड 2316, पंच 2316, पुरूष मतदाता 01 लाख 17 हजार 571, महिला मतदाता 01 लाख 9 हजार 343, अन्य मतदाता 07 एवं कुल मतदाता 02 लाख 26 हजार 921 है। इसी प्रकार जनपद पंचायत आष्टा में मतदान केंद्रो की संख्या 391, जिला पंचायत सदस्य 05, जनपद पंचायत सदस्य 24, ग्राम पंचायत सदस्य 134, सरपंच 134, ग्राम पंचायत वार्ड 2104, पंच 2104, पुरूष मतदाता 01 लाख 09 हजार 892, महिला मतदाता 01 लाख 687 एवं कुल मतदाता 02 लाख 10 हजार 579 है। इसी प्रकार जनपद पंचायत इछावर में मतदान केंद्रो की संख्या 187, जिला पंचायत सदस्य 02, जनपद पंचायत सदस्य 21, ग्राम पंचायत सदस्य 70, सरपंच 70, ग्राम पंचायत वार्ड 1080, पंच 1080, पुरूष मतादाता 55 हजार 11, महिला मतदाता 50 हजार 434, अन्य मतदाता 01 एवं कुल मतदाता 01 लाख 05 हजार 446 है। इसी प्रकार जनपद पंचायत बुधनी में मतदान केंद्रो की संख्या 159, जिला पंचायत सदस्य 02, जनपद पंचायत सदस्य 17, ग्राम पंचायत सदस्य 62, सरपंच 62, ग्राम पंचायत वार्ड 877, पंच 877, पुरूष मतदाता 43 हजार 531, महिला मतदाता 39 हजार 748, अन्य मतदाता 01 एवं कुल मतदाता 83 हजार 280 है। इसी प्रकार जनपद पंचायत नसरूल्लागंज में मतदान केंद्रो की संख्या 254, जिला पंचायत सदस्य 03, जनपद पंचायत सदस्य 25, ग्राम पंचायत सदस्य 87, सरपंच 87, ग्राम पंचायत वार्ड 1408, पंच 1408, पुरूष मतदाता 70 हजार 671, महिला मतदाता 65 हजार 899, अन्य मतदाता 16 एवं कुल मतदाता 01 लाख 36 हजार 586 है। जिले में कुल मतदान केंद्रो की संख्या 1398, जिला पंचायत सदस्य 17, जनपद पंचायत सदस्य 112, ग्राम पंचायत सदस्य 497, सरपंच 497, ग्राम पंचायत वार्ड 7785, पंच 7785, पुरूष मतदाता 03 लाख 96 हजार 676, महिला मतदाता 03 लाख 66 हजार 111, अन्य मतदाता 25 एवं जिले में कुल मतदाता 07 लाख 62 हजार 812 है।



जिले में त्रि-स्तरीय पंचायत निर्वाचन 2021-22 तीन चरण में सम्पन्न होगा

 
जिले में त्रि-स्तरीय पंचायत निर्वाचन 2021-22 तीन चरण में संपन्न होगा। पंचायत निर्वाचन में 17 जिला पंचायत सदस्य, 112 जनपद पंचायत सदस्य, 497 सरपंच और 7 हजार 785 पंचों का चुनाव संपन्न कराया जाएगा। पंचायत चुनाव में जिले के 7 लाख 62 हजार 812 मतदाता मतदान कर सकेंगे। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने पंचायत निर्वाचन की तैयारियों के दौरान जानकारी दी। कलेक्टर श्री ठाकुर ने बताया कि जिले में पंचायत चुनाव की तैयारियां पूर्व से ही प्रांरभ कर दी गई है जिससे जिले में पंचायत चुनाव का कार्य स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्वक संपन्न कराया जा सके। पंचायत निर्वाचन के लिए सीहोर जिले में एक हजार 398 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं। सीहोर जनपद में 407, आष्टा में 391, इछावर में 187, बुधनी में 159, नसरूलागंज में 254 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं। पंचायत निर्वाचन प्रक्रिया के लिए कर्मचारियों का डाटाबेस तैयार कर लिया गया है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री ठाकुर ने बताया कि पंचायत चुनाव सुचारू रूप से सम्पन्न कराने के लिए 31 नोडल अधिकारी तथा 85 सहायक नोडल अधिकारी बनाए गए हैं। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री ठाकुर ने कहा कि जिले में आदर्श आचरण संहिता लागू हो चुकी है। अधिकारी एवं कर्मचारियों सहित सभी नागरिकों को आदर्श आचरण संहिता का पालन करना होगा। जिले के सभी मतदान केन्द्रों में मास्क, सैनेटाईजर और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। सरपंच और पंचों के मतों की गणना मतदान केन्द्रों में की जाएगी। जिला पंचायत सदस्य और जनपद पंचायत सदस्य के मतों की गणना मुख्यालय में होगी। मतदान केन्द्रों में प्रकाश, फर्नीचर, रेम्प, पेयजल की समुचित व्यवस्था की जाएगी।


शासकीय विज्ञापनों की विषय-वस्तु के विनियमन के लिए समि‍ति गठित


राज्य शासन ने शासकीय विज्ञापनों के विषय-वस्तु विनियमन के लिए राज्य स्तर पर तीन सदस्यीय समिति का गठन किया है। सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशानुसार गठित समिति में सेवानिवृत्त भाप्रसे की अधिकारी श्रीमती अरूण शर्मा को अध्यक्ष बनाया गया है। समिति में वरिष्ठ पत्रकार एवं पूर्व सूचना आयुक्त श्री आत्मदीप और सेवानिवृत्त संचालक जनसम्पर्क श्री लाजपत आहूजा सदस्य बनाए गए हैं। समिति के सदस्य सचिव संचालक जनसम्पर्क होंगे।


मरीजों को रेफर करने की प्रवृत्ति छोड़ें, उपलब्ध संसाधनों का उपयोग कर इलाज करें


लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने कहा है कि शासकीय अस्पतालों में पिछले दो वर्षों में बच्चों की गहन चिकित्सा इकाई (पीआईसीयू), स्पेशल न्यू वॉर्न केयर यूनिट (एसएनसीयू) सहित अन्य इन्फ्रा-स्ट्रक्चर उपलब्ध कराये गये हैं। अस्पतालों के सिविल सर्जन और शिशु रोग विशेषज्ञों को उपलब्ध संसाधनों का उपयोग कर बच्चों का इलाज करना चाहिये। छोटी-मोटी कमियों को लेकर दूसरे अस्पताल में रेफर करने की प्रवृत्ति छोड़ना होगी। सिविल सर्जन और अन्य सभी चिकित्सकों को उपचार करने की दृढ़ इच्छा-शक्ति के साथ कार्य करना चाहिये। डॉ. चौधरी शिशु स्वास्थ्य कार्यक्रम की समीक्षा कर रहे थे। मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि नेशनल फेमिली हेल्थ सर्वे-4 की तुलना में हाल ही में जारी हुए 5 के आँकड़े प्रदेश में मातृ और शिशु मृत्यु दर में कमी को दर्शाते हैं, लेकिन हमें अभी और बहुत कुछ करना है। उन्होंने कहा कि चिकित्सक जब मेडिकल कॉलेज में प्रवेश लेते हैं, तो उनके मन में अपना कॅरियर बनाने के साथ समाज-सेवा का भी भाव होता है। उन्होंने कहा कि नवजात बच्चों के लिये अस्पतालों में अत्याधुनिक चिकित्सा सुविधाएँ उपलब्ध करवाई गई हैं। शिशु रोग विशेषज्ञ और पैरामेडिकल स्टॉफ की भी पद-स्थापना की गई है। उन्होंने बताया कि एक साल पूर्व केवल 20 जिलों में एसएनसीयू थे। शासन द्वारा अब सभी जिला चिकित्सालयों में एसएनसीयू की स्वीकृति दी गई है। अधिकांश जिलों में एसएनसीयू बना दिये गये हैं और कुछ में कार्य प्रगति पर है। निर्माणाधीन एसएनसीयू को भी जल्द पूरा किया जायेगा। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि बच्चों के उपचार के साथ जरूरी है कि शिशु रोग विशेषज्ञ, बच्चों के माता-पिता और अभिभावकों को बच्चों के स्वास्थ्य और किये जा रहे उपचार की जानकारी से समय-समय पर अवगत करायें। इससे अभिभावकों का उपचार और चिकित्सा व्यवस्था पर भरोसा मजबूत होता है। डॉ. चौधरी ने कहा कि वे स्वयं सीधे मरीजों से शासकीय चिकित्सालयों में उपलब्ध चिकित्सा सुविधाओं और उपलब्ध करवाई जा रही चिकित्सा सेवाओं की जानकारी ले रहे हैं। उन्होंने बताया कि प्रत्येक सोमवार को दो जिला चिकित्सालय में भर्ती मरीजों और अस्पताल के चिकित्सकों से वीडियो-कॉल कर सीधा संवाद कर जानकारी प्राप्त करते हैं। उन्होंने कहा कि इस प्रक्रिया को पीएससी और सीएससी स्तर तक जारी रखेंगे।



दिव्यांगजनों का स्वास्थ्य परीक्षण कर सहायक उपकरण वितरित किए गए


sehore news
आजादी का अमृत महोत्सव के तहत सामाजिक न्याय एवं निशक्त कल्याण विभाग द्वारा जिला विकलांग पुनर्वास केंद्र ने नसरूल्लागंज नगर परिषद में दिव्यांग स्वास्थ्य परीक्षण शिविर आयोजित किया। इस शिविर में 103 दिव्यांगजनों का स्वास्थ्य परीक्षण कर सहायक उपकरण वितरित किए गए। शिविर में मेडिकल बोर्ड की टीम ने 63 दिव्यांगजनों का परीक्षण कर दिव्यांगता प्रमाण पत्र वितरित किए। इसके साथ ही एलिम्को द्वारा 24 हितग्राहियों का चिन्हांकन किया गया। इन हितग्राहियों को ट्रायसिकल, व्हीलचेयर, आर्टिफिशियल लिंब,  वैशाखी,  एवं चश्में प्रदाय करने के लिए रजिस्ट्रेशन किया गया।



जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला


पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10143 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10021  हैं। आज 864 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 227, श्यामपुर से 196, नसरूल्लागंज से 74, आष्टा से 160, बुधनी से 127 तथा इछावर से 80 सैंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सैंपल 314257 हैं। जिनमें से 301066 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 961 सैंपलो की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। कुल 2977 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।



विश्व एड्स दिवस के समापन पर कार्यशाला


sehore news
आरएके कृषि महाविद्यालय में विश्व एड्स दिवस के समापन अवसर पर जिला स्तरीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में स्लोगन, रांगोली एवं पोस्टर प्रतियोगिताएं आयोजित की गई। प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाले उत्कृष्ट छात्रों को पुरस्कृत किया गया। राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण कार्यक्रम के काउंसलर श्रीमती पुष्पा साहू एवं श्री कुलदीप तिग्गा ने छात्र-छात्राओं को एड्स नियंत्रण पर विस्तार से जानकारी दी। इस कार्यक्रम में कृषि महाविद्यालय के डीन डॉ. एचडी वर्मा उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: