झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 30 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 30 दिसंबर 2021

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 30 दिसंबर

युवक कांग्रेस ने पुलिस को चकमा देकरकिया सांसद डामोर का पुतला दहन


पारा ।  युवक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने बुधवार शाम को क्षेत्रीय सांसद का पुतला दहन करते हुवे नैतिकता के आधार पर स्तीफा देने की मांग की। क्षेत्रीय सांसद गुमानसिंह डामोर के द्वारा अपनी शासकीय सेवा के दौरान फ्लूरोसिस नियंत्रण के कार्यक्रम में ग्रामीण अंचलों में शुद्ध पेयजल उपलब्ध करवाने के तथाकथित 600 करोड़ के  घोटालों में  न्यायालय द्वारा संज्ञान लेकर उनपर एफआईआर दर्ज करवाने के आदेश के बाद जिले की राजनीति में भूचाल आगया । ऐसे में कांग्रेस द्वारा सभी जगह उनका जबरजस्त विरोध किया जा रहा है इसी क्रम में बुधवार को दोपहर पश्चात  ब्लाक युवक कांग्रेस पारा के कार्यकर्ताओं ने भी सांसद गुमानसिंह डामोर के खिलाफ पारा स्थिति कांग्रेस कार्यालय से नारे बाजी करते हुवे  बस स्टेण्ड तक रैली निकाली ओर  सांसद डामोर द्वारा किये गए 600 करोड़ के घोटाले की आमजनता को जानकारी देते हुवे जबरजस्त नारे बाजी करटे हुवे उनके पूतले का दहन भी किया। पुतला दहन का नाटक भी  देर तक चलता रहा। कांग्रेस कार्यकर्ता जगह जगह पुलिस को देखकर पहले तो पुतला दहन करने से मना कर रहे थे। फिर कांग्रेस कार्यालय से कुछ दूरी पर अचानक कुछ कार्यकर्ताओ पेट्रोल डाल कर पुतला जलाया मौके पर तैनात पुलिसकर्मि के पुतला बुझाने के प्रयास में उसके  कपड़े जल गए ओर मामले का पटाक्षेप समझते हुवे सभी पुलिसकर्मि इधर उधर हो गए इसी बीच बस स्टेण्ड पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं की भाषण बाजी रही । इसी दौरान मौके का फायदा उठाते हुवे युवक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने एक बार फिर से दूसरा पुतला बना डाला और कांग्रेस कार्यालय से कुछ ही दूरी पर पुलिस को चकमा देते हुवे सांसद डामोर के पुतले का दहन किया । इस अवसर पर सलेल पठान जोगड़िया निनामा ब्लाक युवक कांग्रेस अध्यक्ष रमेश मोहनिया महासचिव दिनेश मेडा सोबान डामोर कुलदीप निनामा उमेश भूरिया दिलीप डामोर रिंकू भाभोर वालसिह मावी विकी मावी सुनील बबेरिया किलु भूरिया सहित कई  कार्यकर्ता उपस्थित थे।


क्षेत्रीय सांसद गुमानसिंह डामोर पर लगे 600 करोड़ के घोटाले के आरोपों को प्रदेश भाजपा एवं जिला भाजपा ने सिरे से नकारा

  • कहा  -ः वर्ष 2006-07 में ना तो जीएस डामोर मुख्य अभियंता थे और ना ही इस अवधि में झाबुआ या आलीराजपुर जिले में 600 करोड़़ रू. लागत की कोई योजना स्वीकृत हुई
  • पत्रकारवार्ता में सभी आरोपो का किया गया खंडन

झाबुआ। रतलाम-झाबुआ-आलीराजपुर सांसद गुमानसिंह डामोर पर लगे कथित 600 करोड़ रू. के घोटाले को लेकर सांसद श्री डामोर के बचाव पक्ष मंे 30 दिसंबर, गुरूवार को जिला भाजपा की ओर से भाजपा जिला कार्यालय पर पत्रकारवार्ता का आयोजन किया गया। जिसमें उपस्थित भाजपा के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य ओमप्रकाश शर्मा, भाजपा जिला महामंत्री कृष्णपालसिंह गंगाखेड़ी एवं गौरव खंडेलवाल ने साफ तौर पर कहा कि माननीय आलीराजपुर न्यायालय में जिस वर्ष 2006-07 में सांसद पर पूर्व अभियंता रहते हुए 600 करोड़ रू. के घोटाले का जो परिवाद प्रस्तुत किया गया है, उस अवधि में सांसद मुख्य अभियंता पद पर थे ही नहीं। वहीं ना ही इस अवधि में आलीराजपुर या झाबुआ जिले में एक भी योजना ऐसी स्वीकृत नहीं हुई, जिसकी लागत 600 करोड़ रू. हो। प्रारंभ में संचालन करते हुए भाजपा जिला मीडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर ने पत्रकारवार्ता के विषय पर प्रकाश डाला। बाद भाजपा जिला महामंत्री कृष्णपालसिंह गंगाखेड़ी ने कुछ बिंदुओं पर प्रकाश डालते हुए बताया कि सांसद श्री डामोर पर लगाए गए कथित करोड़ो के घोटाले के मामले की पूरी सच्चाई पता करने पर यह सामने आया है कि सांसद जीएस डामोर वर्ष 2006-07 में मुख्य अभियंता पद पर नहीं थे। उन पर आरोप लगाया गया है कि पीएचई विभाग के कार्यपालन यंत्री पद पर रहते हुए यह तथाकथित घोटाला उनके द्वारा किया गया है, परन्तु उक्त विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार सांसद श्री डामोर झाबुआ एवं आलीराजपुर जिले में कभी भी कार्यपालन यंत्री के पद पर पदस्थ ही नहीं रहे, तो फिर उन्होंने घोटाला कैसे किया ... ?, वर्ष 2006-07 में आलीराजपुर अथवा झाबुआ जिले के एक भी ऐसी योजना स्वीकृत नहीं हुई, जिसकी लागत 600 करोड़ रू. रही हो।


सभी आरोप सरासर गलत है

पत्रकारवार्ता में भाजपा जिला महामंत्री श्री गंगाखेड़ी ने आगे कहा कि विभागीय सूत्रांे से यह भी बताया गया कि आलीराजपुर जिला वर्ष 2008 में झाबुआ जिले से अलग हुआ। नया जिला बनने के बाद आलीराजपुर जिले के लिए फलोरोसिस निवारण के लिए कभी भी 600 करोड़ रू. का बजट नहीं मिला। माननीय न्यायालय में प्रस्तुत परिवाद मेंघोटाले में 600 करोड़ रू. का आरोप नहीं लगाया गया है। विभागीय सूत्रों से जिला भाजपा को मिली जानकारी के अनुसार झाबुआ जिले में लगभग 51 करोड़ की योजना स्वीकृत हुई थी, जो वर्तमान में कार्यरत है। इस तथाकथित घोटाले को उन लोगों द्वारा ही फैलाया जा रहा है, जो भारतीय जनता पार्टी को बदनाम करना चाहते है। जिन्हें जनता ने साफ तौर पर नकार दिया है। झाबुआ-आलीराजपुर जिले में राजनीति में पिछले 40-50 वर्षों से जमे हुए थे, उनको जनता द्वारा उखाड़ फैंकने के कारण बोखलाहट के चलते इस मामले में झूठा प्रोपोगोंडा कर बदनाम करने की साजिश की जा रहीं है।


सांसद माननीय न्यायालय में रखेंगे अपना पक्ष

इस अवसर पर भाजपा के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य ओमप्रकाश शर्मा ने कहा कि आगामी 17 जनवरी 2022 को सांसद जीएस डामोर इस मामले में अपना पक्ष रखेंगे। जिसके बाद दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। प्रदेश भाजपा एवं जिला भाजपा तथाकथित इस घोटाले में आपसी रंजिश के चलते लगाए गए इन सभी आरोपो को सिरे से नकारती है एवं इसका खंडन करती है। इस अवसर पर भाजपा जिला महामंत्री गौरव खंडेलवाल ने भी कहा कि जिला भाजपा इस तथकथित झूठा मामले में, जो भेदभाव या गलत नीति से लगाया गया है, इसमें पूर्णतः सांसद श्री डामोर के साथ है। आलीराजपुर न्यायालय में चल रहे इस प्रकरण में जल्द ही साजिशकारो की सच्चाई सामने आ जाएगी।


यह रहे उपस्थित

पत्रकारवार्ता में भाजपा मीडिया सेल विभाग के जिला संयोजक जितेन्द्र जैन, जिला कार्यालय मंत्री मनोहर मोदी, भाजपा आईटी सेल जिला संयोजक अर्पित कटकानी, युवा भाजपा नेता भूपेश सिंगोड़, पूर्व भाजपा जिला उपाध्यक्ष ओपी राय, भाजपा मंडल महामंत्री एवं युवा पार्षद पपीश पानेरी, पूर्व कल्याणपुरा मंडल अध्यक्ष भुरूभाई चौहान, भील जनजाति सेवा संघ के अध्यक्ष अजय डामोर, मनोज अरोरा, पार्षद अजय सोनी, कार्यकर्ता रमण कनेश आदि उपस्थित थे।


समाज उत्थान के लिए स्वर्णकार कल्याण जागृति यात्रा का किया गया स्वागत

  • सरकार स्वर्णकाला बोर्डकी स्थापना करें तथा पिछडावर्ग आयोग में सहभागिता दे- देवदत्त सोनी
  • मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम प्रषासन को सौपा जायेगा ज्ञापन

jhabua news
झाबुआ ।  गुरूवार को स्वर्णकार समाज के उत्थान के उद्देश्य से निकाली जा रही स्वर्णकार कल्याण जागृति महा रथयात्रा का झाबुआ नगर आगमन हुआ। यात्रा का स्थानीय स्वर्णकार समाज द्वारा जयकारों के साथ स्वागत किया गया। यात्रा राजवाडा चौक से प्रारंभ होकर राधाकृष्ण मार्ग स्थित स्वर्णकार समाज के श्री सत्यनारायण मंदिर पहूंची जहां समाज जनो द्वारा आगन्तुग अतिथियों को पुष्पमालाओं से स्वागत किया गया। यात्रा में सत्यनारायण भगवान की जय, अजमीढ जी महाराज की जय, स्वर्णकार समाज की जय के नारे समाजजनों ने लगाए गए। अध्यक्ष ओम प्रकाश कडेल सोनी बताया कि समाज की भलाई के लिए निकाली जा रही यात्रा में नगर व े सभी समाजजन एवं महिलाये सम्मिलित हुए। संगठन के यात्रा के संयोजक देवदत्त सोनी, महिला प्रदेशाध्यक्ष वंदना सोनी , ओपी सोनी, बृजकिशोर सोनी, वैभव सोनी, शुभम सोनी का समाज की ओर से स्वागत किया गया । यात्रा संयोजक देवदत्त सोनी ने  स्वर्णकार समाज की समस्याओं का विस्तार से जिक्र करते हुए कहा कि स्वर्णकार समाज ने हमेशा ही सरकार बनाने  में अपनी भूमिका निभाई है । उन्होने मांग करते हुए कहा कि जिस प्रकार सरकार ने सेन समाज के लियक केशकला बोर्ड, कुंभकारों के लिये मोटीकल बोर्ड गठन किया है इसी तरह स्वर्णकला बोर्ड का भी गठन किया जावे । उन्होने हॉल मार्क कानून की अनिवार्यता की समाप्ति करने की मांग करते हुए धारा 411- 412 के दुरूपयोग को रोकने के लिये प्रत्येक थाना लेवल पर छानबीन समिति की आवश्यता प्रतिपादित की । साथ ही सरकार से मांग की कि स्वर्णकार समाज की भी राजनैतिक भागीदारी सुनिष्चित की जावे । शासन द्वारा गठित पिछडा वर्ग आयोग एवं पिछडा वर्ग वित्त विकास निगम में भी स्वर्णकार समाज के सदस्यों की सहभागिता करने की मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान से  मांग की । साथ ही शासन से यह भी अनुरोध किया कि मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में सोने चान्दी के व्यवसाय को जोड कर स्वर्णकार कारिगरों को हस्तशिल्प कार्ड जारी किये जावे ।उन्होने श्रमिको की तरह ही स्वर्णशिल्प के कारीगरों को भी योजना में जोड कर 4 लाख की आर्थिक मदद करने का भी आव्हान किया। देवदत्त सोनी ने यह भी बताया कि स्वर्णकारों की इन मांगों को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं राज्यपाल के नाम से कलेक्टर को ज्ञापन सौपा जावेगा ।ज्ञातव्य है कि यात्रा की शुरूआत पांच दिसंबर को मैहर से की गई थी, जिसका समापन 16 जनवरी को भोपाल में किया जाएगा। इसमें रैली निकालकर मुख्यमंत्री को ज्ञापन भी दिया जाएगा। इसमें स्वर्णकला बोर्ड के गठन व समाज को सुविधाएं देने की मांग रहेगी। साथ ही रथयात्रा प्रदेश के सभी जिलों में घूमकर समाज को सशक्त व संगठित कर समाज में सुधार लाने पर बल दिया जा रहा है। इसके  पूर्व समाज के अध्यक्ष ओम प्रकाश कडेल ने स्वर्णकार समाज की स्थानीय प्रगति का विवरण देते हुए स्वागत भाषण देते हुए स्वर्णकार कल्याण जागृति यात्राके आयोजन के लिये बधाईया देते हुए इसे समाज हित में जरूरी बताया। स्वर्णकारों की मांगों का समुचे समाज की ओर से अनुमोदन करते हुए उन्होने प्रदेश सरकार ने सहानुभूतिपूर्वक विचार कर मांगे पूरी करने तथा स्वर्णकला बोर्ड की स्थापना करने के लिये अनुरोध किया । इस अवसर पर स्वर्णकार समाज के सचिव नन्दकिशोर अग्रोया, राजू मांडन, राजेन्द्रसोनी, मनोज जवडा, नटवर सोनी, प्रवीण सोनी, लक्ष्मीकांत सोनी, डा. कलेश सोनी, डा. सुमीत सोनी, अजय सोनी पार्षद, बद्रीलाल सोनी एडवोकेट,भरत सिद्दड, रवि सोनी,  किशोर सोनी, श्रीमती कुंता सोनी माधवी सोनी, चंचला सोनी, विमला सोनी, रूकमणी सोनी, मीना सोनी, माधुरी सोनी सहित बडी संख्या में समाजजन उपस्थित थे । स्वर्णकार महिला मंडल द्वारा आगन्तुक सभी अतिथियों का शाल,श्रीफल से स्वागत किया गया।


ठंड ने लिया झाबुआ शहर को अपनी आगोश में, बचाव के लिए ऊनी वस्त्र और अलाव ही बना एकमात्र साधन


jhabua news
झाबुआ। दिसंबर माह के जाते-जाते एक बार फिर ठंड ने लोगों अत्यधिक कंपकपाना शुरू कर दिया है। वर्तमान ठंड को देखते हुए इसे कंपकंपा देने वाली एवं झकझोर देने वाली ठंड कहा जा सकता है। सोमवार को जहां अचानक मौसम परिवर्तन से बारिश और तेज हवाएं चलने लगी थी, वहीं मंगलवार को भी दिनभर मौसम अत्यधिक सर्द बना रहा। ठंड से बचने के लिए अलाव और ऊनी वस्त्र पहनना ही एकमात्र उपाय नजर आ रहा है। मौसम विभाग के तकनीकी अधिकारी राजेशकुमार त्रिपाठी ने बताया कि अचानक उत्तरी-पश्चिम दिशा से उठे मावठे ने ठंड को यकायक बढ़ाया है। इसका असर ना केवल झाबुआ जिले अपितु संपूर्ण प्रदेश में नजर आ रहा है। जहां लोग कड़ाके की ठंड से बचाव के लिए तरह-तरह के उपाय कर रहे है। सुबह अदरक और ईलायची वाली चाय की चुस्कीयों का आनंद लेने के साथ सुबह एवं रात के साथ अब दोपहर मंे भी अलाव जलने लगे है। दिनभर ऊनी वस्त्रों के बिना घरों में रहना भी दुभर सा लगने लगा है। इस वर्ष शीत ऋ़तु की यह सबसे अधिक ठंड है।


हाईव मार्गों पर कोहरे से आवागमन में हो रहीं परेशानी

झाबुआ के दूरस्थ ईलाकों और हाईवे मार्गों पर अलसुबह कोहरे जैसा माहौल भी निर्मित होने लगा है। बाजारों में ऊनी वस्त्रों के साथ गरमा-गरमा दूध, जलेबी, गराड़ू की बिक्री अधिक बढ़ गई है। मौसम विभाग के अनुसार 29 दिसंबर, बुधवार को अधिकतम तापमान 22 डिग्री एवं न्यूनतम 12.4 डिग्री सेल्सियस रेकार्ड किया गया। 28 दिसंबर, मंगलवार को 1.2 मिमी वर्षा रेकार्ड की गई। जिले में विगत 1 जून से लेकर अब तक कुल 763.5 मिमी अर्थात करीब 30 इंच वर्षा हो चुकी है।


श्री सरस्वतीनंदन जी महाराज के प्रागम्य दिवस पर होगा नाम संकीर्तन सप्ताह का आयोजन, श्री अग्निहोत्री ने कोविड नियमों का पालन करने का किया आग्रह


झाबुआ । श्री सरस्वती नदन स्वामी भजनाश्रम गुरूद्वारा वैकुण्ठधाम थांदला पर 10 जनवरी सोमवार से 17 जनवरी 2022 अरूणोदय बेला तक श्री सरस्वतीनंदन जी महाराज अन्नदाता के प्रागम्य महोत्सव के मंगलमय अवसर पर अखण्ड नाम संकीर्तन सप्ताह का आयोजन श्रद्धा-भक्ति के साथ मनाया जावेगा । सप्ताह भर चलने वाले इस कार्यक्रम में देश विदेश के सैकेडो की संख्या में श्रद्धालुजन कोविड गाईड लाईन का पालन करते हुए शामील होगें । न्यास के अध्यक्ष राजेन्द्र प्रसाद अग्निहौत्री उपाध्यक्ष श्रीरंग आचार्य, कोषाध्यक्ष भागवत शुक्ला, उपाध्यक्ष कंचनभाई पाटनवाडिया,सचिव डा. जयापाठक, आश्रम प्रभारी भूदेव आचार्य ने बताया कि पद्मावती नदी के तट पर स्थित गुरूद्वारा में आगामी 9 जनवरी तक प्रतिदिन महा अनुष्ठान का क्रम श्रद्धा एवं भक्ति के साथ किया जारहा है। नाम संकीर्तन सप्ताह का शुभारंभ 10 जनवरी सोमवार को अरुणोदय बेला में होगा । पूरे सप्ताह तक अखंड नाम संकीर्तन का आयोजन होगा । 17 जनवरी सोमवार को अन्नदाताजी की पादुका पूजन अरुणोदय बेला में मंत्रोच्चार एवं वैदिक अनुष्ठान के साथ होगा । इसी दिन मध्यान्ह 1 बजे महामंगल आरती एवं महाप्रसादी का आयोजन श्री वैकुण्ठधाम गुरूद्वारा में किया जावेगा । ट्रस्ट के अध्यक्ष राजेन्द्रप्रसाद अग्निहोत्री के अननुसार इस अवसर पर गुजरात, महाराष्ट्र सहित देश के कोने कोन से गुरूभक्त इस उत्सव में शामील होगें तथा श्रद्धा एवं भक्ति की बयार बहेगी । न्यासी तुषार भट्ट, वासुदेव सोनी, रमेन्द्र सोनी, जगदीप आचार्य,ओम प्रकाश बैरागी,सत्यप्रकाश परमार,दिनेश उपाध्याय, जगदीशभाई बारिया, ईश्वरलाल वाणी,गणपति बेरागी, अतुल सोनी,  आदि ने अधिक से अधिक संख्या में श्रद्धालुजनों से अपील की है कि वे सपरिवार पधार कर दर्शनलाभ एवं धर्मलाभ प्राप्त करें । श्री राजेन्द्र अग्निहौत्री ने सभी श्रद्धालुओं से अपील की है कि कोविड नियमों का पालन करते हुए हाथों को सेनिटाईज करके एवं मास्क लगाकर ही प्रवेश करे । उन्होने यह भी अपील की है कि जिन लोगों को अभी तक कोरोना व्हेक्सीन के दोनों डोज नही लगे हो, वे जरूर दोनों डोज लगवाकर आये ।


बायोहिल फ्री डेमो सेंटर ने किया जॉइंट मास्टर लॉंच, जोड़ो के दर्द से आराम दिलाएगा यह जॉइंट मास्टर - सन्नी सिंह 


jhabua news
थांदला। विगत 6 माह से थांदला के संजय कॉलोनी स्थित सहकारिता सामुदायिक भवन पर बायोहिल फ्री डेमो सेंटर स्थापित कर जनता को कम्पनी के प्रोडक्ट के माध्यम से निःशुल्क आरोग्यता प्रदान कर रही बायोहिल कम्पनी ने आज बायोहिल का नया प्रोडक्ट जॉइंट मास्टर लाँच किया। इस अवसर पर आईजा के पूर्वाध्यक्ष पवन नाहर व भारतीय प्रेस आयोग के प्रदेशाध्यक्ष समकित तलेरा विशेष रूप से उपस्थित रहे। अपने अतिथीय उदबोधन में नाहर ने कहा कि बायोहिल के प्रोडक्ट अंचल की जनता के लिए उचित समय पर आये है। वर्तमान समय में हर व्यक्ति किसी ने किसी शारीरिक समस्या से जूझ रहा है, यदि वह इस कम्पनी के प्रोडक्ट अपनाता है तो बिना किसी मेडिसिन के वह ठीक हो सकता है। समकित तलेरा ने कहा कि हर व्यक्ति के शरीर में तापमान, पानी व तरंग का महत्व रहता है और बायोहिल इन्ही पर काम करता है, जिससे जनता के अंदर की कमी दूर होती है और वह ठीक होता है। अतिथियों ने अंचल की जनता को बायोहिल कम्पनी के द्वारा संचालित फ्री डेमो सेंटर पर आकर इसका फायदा उठाने की भी बात कही। कार्यक्रम का संचालन कर रहे कम्पनी के संचालक सन्नी सिंह राजावत ने बायोहिल के जॉइंट मास्टर प्रोडक्ट की जानकारी देते हुए कहा कि यह कम्पनी का सुरक्षित व आधुनिक प्रोडक्ट है जो घुटनों के दर्द व जोड़ो के दर्द में खास कारगर है उन्होंने बताया कि व्यक्ति का पुराना हो या नया दर्द इससे वह दूर हो जाता है, वही इसके नियमित उपयोग से मस्तिष्क के तंत्र भी सक्रिय रहते है जिससे यह खून के थक्के को जमने नही देता व इसके उपयोग से सदा के लिए ब्रेन हेमरेज जैसी समस्याओं से निदान पा जाता है। यही कारण है कि व्यक्ति की स्मरण शक्ति बढाने में भी यह कारगर है। इस अवसर पर बायोहिल प्रोडक्ट का लाभ उठाने आये नगर के अनेक जन उपस्थित थे।


स्वच्छ टेक्नालाजी चेलेंज मध्यप्रदेश कार्यक्रम के तहत शहर को स्वच्छ बनाने के लिए विभिन्न विषयों पर प्रस्तुत करे मॉडल, अलग-अलग विषयों पर प्रतिभागी भाग लेकर आगामी 5 जनवरी तक कार्य-योजना नगरपालिका मंे कर सकते है प्रस्तुत


झाबुआ। नगरपालिका परिषद् झाबुआ द्वारा स्वच्छता सर्वेक्षण-2022 अंतर्गत ‘‘स्वच्छ भारत मिशन’’ शहरी क्षेत्र के तहत विभिन्न घटकों एवं प्रक्रियाओं में आत्मनिर्भर भारतएवं मेक इन इंंिडया के अनुसार स्थानीय लोगो को प्रोत्साहन देने हेतु नवाचार और सीमित लागत के मॉडल उपलब्ध करवाना है। इसके अंतर्गत विभिन्न विषयों पर शहर को कचरा मुक्त बनाना है। जानकारी देते हुए नपा के स्वास्थ्य अधिकारी युनूसउद्दीन कुरैशी ने बताया कि जिसमें कचरा मुक्त शहर पर स्कूल छात्र-छात्राएं भाग ले सकते है। सामाजिक समावेश थीम पर एनजीओ या सगंठन भाग लेकर इस पर मॉडल प्रस्तुत कर सकते है। जीरो डंप पर महाविद्यालयीन विद्यार्थी भाग ले सकेंगे। इसमे लघु परियोजनाएं है। प्लास्टिक वेस्ट मेनेजमेंट पर स्टार्टअप भाग ले सकते है। इसमें शोध पत्र दिए जा सकते है। पारदर्शिता विषय पर कोई भी नागरिक हिस्सा लेकर इसके सॉल्यूशन और आईडियाज दे सकते है। उक्त सभी थीमों के अनुसार कार्ययोजना फोटो सहित आगामी 5 जनवरी-2022 तक नगर पालिका में प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा।


श्री जैन श्वेतांबर मालवा महासंघ का दो दिवसीय विराट महा-सम्मेलन श्री नागेश्वर महातीर्थ पर आगामी 15 एवं 16 जनवरी को, जिले के सभी श्री संघों को पधारने हेतु दिया जा रहा भावभरा आमंत्रण, जोर-शोर से चल रहीं तैयारियां


झाबुआ। श्री जैन श्वेतांबर मालवा महासंघ द्वारा उन्हेल (राजस्थान) में होने वाले दो दिवसीय विराट महा-सम्मेलन को लेकर जिला स्तर पर भी जोर-शोर से प्रचार-प्रसार कर इस महा-सम्मेलन में पधारने हेतु जिले के विभिन्न श्री संघों, मालवा जैन महासंघ एवं भारतीय जैन संघटना से जुड़े पदाधिकारी-सदस्यों, नवरत्न परिवार तथा परिषद् परिवार आदि को भावभरा आमंत्रण देकर पधारने की विनती की जा रहीं है। जानकारी देते हुए श्री जैन श्वेतांबर मालवा महासंघ के केद्रीय प्रवक्ता यशवंत भंडारी ने बताया कि उक्त विराट महा-सम्मेलन का आयोजन आगामी 15 एवं 16 जनवरी-2022 को श्री नागेश्वर महातीर्थ में होगा। जिसकी तैयारियां जोर-शोर से जारी है। इस महा-सम्मेलन में मालवा-निमाड़, वागड़ एवं हैड़ाती क्षेत्र के श्री संघों का महा-समागम होना है। जिसमें देश के अलग-अलग स्थानों से श्री संघों के समस्त पदाधिकारी-सदस्यांे से पधारने हेतु विनती की जा रहंी है।


खट्टाली, रानापुर, एवं जोबट श्री संघ को दिया आमंत्रण

इसी क्रम में 30 दिसंबर, गुरूवार को जिले के अलग-अलग स्थानांे पर खट्टाली में श्री संघ के वरिष्ठ मुकेश मेहता, जोबट श्री संघ अध्यक्ष प्रदीप डूंगरवाल, रानापुर श्री संघ अध्यक्ष दिलीप सकलेचा को इस महा-समारोह में पधारने हेतु मालवा जैन महासंघ के राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री भंडारी के साथ संघ के अन्य पदाधिकारियों ने मिलकर आत्मीय निमंत्रण दिया। जिसमें सभी ने महासम्मेलन में पधारने की स्वीकृति प्रदान की।


भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा के जिला महामंत्री मयूर पवार एवं जिला आईटी सेल प्रभारी स्वीट गोस्वामी का भाजपा मंडल झाबुआ ने किया स्वागत, दी गई शुभकामनाएं


झाबुआ। भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा के हाल ही में मनोनीत जिला महामंत्री मयूर पवार एवं जिला आईटी सेल प्रभारी स्वीट गोस्वामी की नियुक्ति पर हर्ष व्यक्त करते हुए भाजपा मंडल झाबुआ अध्यक्ष अंकुर पाठक एवं मंडल महामंत्री तथा पार्षद जुवानसिंह गुंडिया के नेतृत्व में मंडल की ओर से दोनो का आत्मीय स्वागत किया गया नव-मनोनीत पदाधिकारी श्री पंवार एवं श्री गोस्वामी का सभी ने पुष्पमालाओं से स्वागत कर उन्हें शुभकामनाएं प्रेषित की। इस अवसर पर भाजपा मंडल झाबुआ के अन्य पदाधिकारियों में मंडल मंत्री राजेश थापा एवं किशोर भाबोर, मंडल उपाध्यक्ष अमित शर्मा एवं मितेश गादिया, मंडल कोषाध्यक्ष एवं पार्षद नरेंद्र राठोरिया, वरिष्ठ कार्यकर्ता दीपक भागवत, रवि थापा, अरुण नायक आदि उपस्थित थे।


कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा के द्वारा विकास कार्यो का अवलोकन किया


झाबुआ। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा के द्वारा राणापुर तहसील के ग्राम पंचायत मोरडुण्डिया में सुदूर सड़क निर्माण कार्य का अवलोकन किया गया। निरीक्षण के दौरान श्री मिश्रा ने सुदूर सड़क मेन रोड से प्राथमिक शाला छायन खुर्द तक लम्बाई 1300 मीटर निमार्ण के कार्य को देखा और कार्य में जो लागत राशि लगेगी उसकी जानकारी प्राप्त की जिसकी लागत 14.81 लाख है, इसका वर्ष 2020-21 में निर्मित है। इस संबंध में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत एवं संबंधित सहायक यंत्री, ग्राम पंचायत सचिव को निर्देश दिए की इस कार्य में गुणवत्ता हो और इसमें अच्छी किस्म का मटेरियल उपयोग किया जावे यहां पर प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राहियों से भी रूबरू चर्चा की एवं ग्राम पंचायत सचिव को निर्देश दिए की निर्माणाधिन आवासों को समयावधि में तत्काल पूर्ण करे। कलेक्टर महोदय द्वारा ग्राम पंचायत चुई में भी प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राहियों से रूबरू चर्चा की एवं ग्राम पंचायत सचिव को निर्देशित किया की जो आवास शेष रह गए है। उन्हें तत्काल पूर्ण किया जावे। इस दौरान कार्यपालन यंत्री पी.एच.ई श्री एन.एस.भिण्डे, सीईओ जनपद पंचायत राणापुर श्री जी.एस.मुजाल्दा, सरपंच, सचिव आदि उपस्थित थे।


कलेक्टर एवं कलेक्टर स्टॉफ के द्वारा शहर के मध्य बहादुर सागर तालाब के सफाई कार्य में किया श्रमदान


jhabua news
झाबुआ। दिनांक 30 दिसम्बर को प्रातः 9 बजे से कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा एवं जिला अधिकारी एवं कलेक्टर कार्यालय के स्टॉफ के द्वारा झाबुआ शहर के मध्य बहादुर सागर तालाब में श्रमदान कर तालाब में जलकुम्भी एवं कचरा को हटाया गया। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा के निर्देशानुसार जिले के सभी विभाग के अधिकारी, कर्मचारी एवं सामाजिक संस्थाएं, प्रिन्ट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया प्रतिदिन प्रातः 9 से 10 बजे तक श्रमदान कर तालाब के शुद्धिकरण में अपना स्वेच्छिक रूप से श्रमदान करेंगे। झाबुआ को स्वच्छ और सुन्दर बनाने की पहल करेंगे। कल दिनांक 31 दिसम्बर को जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन एवं जिला पंचायत स्टॉफ प्रातः 9 से 10 बजे तक श्रमदान करेंगे। इसी तरह प्रत्येक विभाग को एक क्रम दिया गया है। जिसमें वे आकर अपना श्रमदान स्वेच्छिक रूप से करेंगे। शहर का गौरव माने जाने वाले बहादुर सागर तालाब को अपने वास्तवीक रूप में लाने के लिए जिला प्रशासन एवं नगरपालिका की स्वच्छता टीम द्वारा जो युद्ध स्तर पर अभियान चलाया जा रहा है। इस सफाई अभियान हेतु कलेक्टर सोमेश मिश्रा सहित जिला स्तर के अन्य अधिकारियों का भी पूर्ण सहयोग मिल रहा है। गुरूवार को प्रातः 9 बजे जिला प्रशासन द्वारा यहां अभियान चलाकर सफाई कार्य किया गया। कलेक्टर सोमेश मिश्रा ने सभी शहरवासियों से अपील कि है की शहर के बहादुर सागर तालाब में जमा जलकुंभिया और अन्य कचरे की सफाई के लिए आगे आकर श्रमदान करें। साथ ही कहा कि सभी के सामूहिक प्रयासों से तालाब में जमा जलकुंभियां बाहर निकल सकेगी। एक से डेढ़ माह के भीतर तालाब पूर्णतः साफ होने के बाद यहां सौंदर्यीकरण के विभिन्न कार्य करवाए जाएंगे। इस दौरान अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री एल.एन. गर्ग, तहसीलदार श्री आशिष राठौर, नायब तहसीलदार झाबुआ श्री सोलंकी, नपा. सीएमओ श्री एलएस डोडिया, अधीक्षक भू-अभिलेख श्री सुनिल राणा, कलेक्टर कार्यालय के कर्मचारी, राजस्व विभाग के कर्मचारी एवं प्रभारी पीआरओ श्री सुधीरसिंह कुशवाह, नपा के स्वास्थ्य अधिकारी युनूसउद्दीन कुरैशी, स्वच्छता शाखा प्रभारी कमलेश जायसवाल, सहायक स्वच्छता निरीक्षक टोनी मलिया, एवं प्रिन्ट एवं इलेट्रानिक मीडिया के प्रतिनिधि उपस्थित थे।


26 जनवरी 2022 को गणतंत्र दिवस की संध्या को आयोजित ‘‘भारत पर्व‘‘ (आजादी का अमृत महोत्सव) कार्यक्रम की सम्पूर्ण रूप रेखा तैयार करने हेतु नोडल अधिकारी नियुक्त


झाबुआ। कलेक्टर श्री सोमश मिश्रा के आदेशानुसार प्रमुख सचिव मध्यप्रदेश शासन, संस्कृति विभाग मंत्रालय वल्लभ भवन भोपाल की ओर से प्राप्त पत्र क्रमांक/223/सं./तीस/2021/भोपाल दिनांक 17 दिसंबर 2021 के परिपालन में दिनांक 26 जनवरी 2022 को गणतंत्र दिवस की संध्या को आयोजित ‘‘भारत पर्व‘‘ (आजादी का अमृत महोत्सव) कार्यक्रम की सम्पूर्ण रूप रेखा तैयार करने हेतु मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत झाबुआ को नोडल अधिकारी एवं सहायक आयुक्त, जनजातीय कार्य विभाग झाबुआ को समन्वय के रूप में कार्य करने हेतु अधिकृत किया गया है। नोडल अधिकारी/समन्वय अधिकारी सम्पूर्ण कार्यक्रम की रूप रेखा तैयार कर अधोहस्ताक्षरकर्ता को निर्धारित समयावधि में प्रस्तुत करेंगे, ताकि कार्यक्रम को अंतिम स्वरूप दिया जा सकें।

 

‘‘अ‘‘ से अक्षर अभियान की समीक्षा बैठक सम्पन्न, सामाजिक संस्थाओं ने अपनी सहमति व्यक्त की

  • जिले से निरक्षरता का कलंक मिटाने के लिए हम सभी दृढ संकल्पित-कलेक्टर

jhabua news
झाबुआ। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा की अध्यक्षता में यहां कलेक्टेªट सभा कक्ष में ‘‘अ‘‘ से अक्षर अभियान की समीक्षा बैठक बुधवार को सम्पन्न हुई। इस बैठक में कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा ने बताया कि अ‘‘ से अक्षर अभियान जो पेटलावद क्षेत्र एवं थांदला क्षेत्र में संचालित किया जा रहा था। दिनंाक 29 दिसम्बर को कलेक्टर महोदय की अध्यक्षता में सामाजिक संस्थाओं के साथ बैठक आयोजित की गई थी। जिसमें अ साक्षर लोगों को साक्षर बनाने के लिए आव्हान किया गया था। बैठक में सामाजिक संस्थाओं से आग्रह किया गया की वे भी अपना समय स्वेच्छिक रूप से देवे। जिससे जिले में निरक्षरता के कलंक को मिटाया जा सके। इस बैठक में रोटरी क्लब से श्री संजय काठी, श्री मनोज अरोरा, श्री अजय रामावत, व्यापारी संघ से श्री पंकज जैन मोगरा, सामाजिक महासंघ से श्री नीरज राठौर, श्री महेन्द्र राठौर, श्री राजू भाई धानक, एडवोकेट श्री उत्तम जैन, श्री कमलेश नाहर आदि उपस्थित थे। इनके द्वारा निरक्षरता के कलंक को दूर करने के लिए हर तरह से जिला प्रशासन को सहयोग करने का आस्वासन दिया है। यह अभियान जिले की सभी जनपद पंचायत क्षेत्रों में 1 जनवरी 2022 से सभी व्यवस्था के साथ चलाया जाएगा। इसका मुख्य उद्देश्य असाक्षर लोग केवल अपने हस्ताक्षर ही नहीं वरन् साक्षर इस तरह से किया जाएगा कि वे हस्ताक्षर करने के पूर्व जो भी दस्तावेज हो उन्हें अच्छे से पढ़ सके एवं वर्तमान में सायबर क्राइम जो मोबाईल के जरिये हो रहा है। उससे सावधानी रख सके। मंशा यह है कि आज हर लोग मोबाईल का उपयोग कर रहे हैं एवं जरा सी गलती से अपने को आर्थिक नुकसानी पहुचा सकते हैं। इस कारण साक्षर बनाने के लिए ‘‘अ‘‘ से अक्षर अभियान जिसमें निजी स्कूलों के संचालकों एवं शिक्षकों की इस बैठक में सभी ने एकजुट होकर ‘‘अ‘‘ से अक्षर अभियान में निरक्षर लोगों को पढ़ाने के लिए अपनी सहमति व्यक्त की है। श्री मिश्रा ने बताया कि इस संबंध में आवश्यक सभी व्यवस्थाएं एक मंच पर आपकों प्रदान की जाएगी। आपसे अपेक्षा हैं कि आप अपना कुछ समय निरक्षर लोगों को साक्षर बनाने के लिए संकल्प लेकर ग्रामीण लोगों को जिसकी उम्र 40वर्ष से 45 वर्ष के उपर है उन्हें शिक्षित करें। इस कार्य हेतु शासकीय एवं अशासकीय संस्थाए भी अपना कार्य करेंगी। ग्रामीण महिलाओं को भी इस अभियान में साक्षर होने के लिए प्रेरित किया जाए। जिससे उनका पूरा परिवार साक्षर हो सके एवं अपने बच्चों को साक्षर करने के लिए अपनी अहम भूमिका निभाएं। ग्रामीण क्षेत्र के स्कूल में एक साक्षरता का कोना यहां पर गुरूकुल जैसी पढ़ाने की व्यवस्था स्थापित की गई है। जहां पर ज्ञान का पिटारा में पुस्तकें एवं ज्ञान वर्द्धक कीट उपलब्ध करवाई गई है। श्री मिश्रा ने बताया कि अभी हाल में ही ग्राम नरसिंहरूण्डा में लोगों ने कोरोना वैक्सीन के प्रथम डोज एवं द्वितीय डोज लगवा कर प्रदेश में आदिवासी क्षेत्र में सर्वप्रथम शत प्रतिशत टीकाकरण करवा कर एक मिशाल पेश की है। जिसका मुख्य कारण इस गांव में शत प्रतिशत साक्षरता का होना है। बैठक में अशासकीय शैक्षणिक संस्थाओं के संयोजक श्री ओमजी शर्मा द्वारा बताया कि समाज में अशिक्षा के कलंक को दूर करने के लिए हम सभी एकजुट हैं और हमारे लिए यह गर्व की बात होगी की हम शत प्रतिशत लोगों को साक्षर बना सके। इस तरह का वातावरण भी हम तैयार करेंगे। जिसमें रैली, गाने बजाने से शुरूवात करेंगे। हम समाज के लिए काम करेंगे। हम विश्वास दिलाते है कि हम इसमें सफल होंगे। इसके पूर्व सर्वे आदि सभी आवश्यक व्यवस्था पूर्ण कर ली जाएगी। इस बैठक में श्री मिश्रा द्वारा पेटलावद एवं थांदला विकास खण्ड से जुडे एनजीओ एवं से ‘‘अ‘‘ से अक्षर अभियान में किये जा रहे प्रयासों के संबंध में चर्चा की एवं इस क्षेत्र में कार्य कर रहे एनजीओ इस अभियान से जुडकर अधिक प्रगति लाए एवं प्रत्येक विकासखण्ड में साक्षरता शतप्रतिशत हो। कलेक्टर श्री मिश्रा के द्वारा साक्षरता के क्षेत्र में पेटलावद एवं थांदला के कार्यो की प्रगति जिसमें एनजीओ एवं बीआरसी को जिम्मेदारी दी गई थी। पूर्व से चल रहे विकास खण्ड पेटलावद एवं थांदला क्षेत्र के जो 50-50 ग्राम लिये गये है वहां पर साक्षरता के संबंध में सामग्री प्रदान की जा चुकी है। महिलाओं को पढ़ाने के लिये विशेष प्रयास करने के निर्देश दिये। इस बैठक में अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, जनजातीय कार्य विभाग के सहायक आयुक्त श्री प्रशांत आर्या, टीआरआईएफ श्री सोहल, जिला शिक्षा अधिकारी श्री ओ.पी.वनडे, डीपीसी श्री सोलंकी, श्री जगदीश सिसोदिया, श्रीमती अन्नू भाबर, एनजीओ संस्था के प्रतिनिधि उपस्थित थे।


जिला अस्पताल झाबुआ में कायाकल्प पखवाड़ा मनाया गया


झाबुआ,। आज दिनांक 30/12/2021 को शासकीय नर्सिंग महाविद्यालय झाबुआ बीएससी नर्सिंग प्रथम वर्ष की छात्राओं के द्वारा जिला अस्पताल झाबुआ में कायाकल्प मापदंड अनुरूप जिला अस्पताल को विकसित करने के लिए स्वच्छता अभियान पखवाड़ा के तहत नुक्कड़ नाटक के माध्यम से अस्पताल में आने वाले मरीजों का उनके अटेंडरों को अस्पताल में साफ सफाई, इनफेक्शन कंट्रोल, हैंड हाइजीन, स्वास्थ्य संबंधित जानकारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. श्री जे.पी.एस.ठाकुर की उपस्थिति में दी गई। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. श्री जे.पी.एस.ठाकुर ने नर्सिंग छात्राओं की सराहना की और इस प्रकार की गतिविधियों के लिए अन्य शासकीय महाविद्यालयों से भी आग्रह  किया है इस दौरान सिविल सर्जन डॉ. बी एस बघेल, आरएमओ डॉ. सावन सिंह चौहान, शासकीय नर्सिंग महाविद्यालय झाबुआ प्राचार्य श्रीमती पूनम सिंह, श्रीमती ज्ञान कुमारी पटौदी सिस्टर ट्यूटर, मिस रश्मि गणावा सिस्टर ट्यूटर, श्रीमती वैशाली वाघेला स्टाफ नर्स, कमला डामोर इंटरनल एसेसर व जिला अस्पताल में कार्यरत अन्य कर्मचारी, अधिकारी गण और मरीज व मरीजों के अटेंडर उपस्थित रहे।


प्रदेश में 3 जनवरी 2022 से 15 से 18 वर्ष के किशोर बालक/बालिकाओं का कोविड-19  वैक्सीनेशन प्रारम्भ


झाबुआ,। भारत शासन स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के निर्देशानुसार प्रदेश में 3 जनवरी 2022 से 15 से 18 वर्ष के किशोर बालक/बालिकाओं का कोविड-19  वैक्सीनेशन प्रारम्भ किया जाना है। इस हेतु प्रदेश के समस्त विद्यालयों (सरकारी, निजी, अनुदान प्राप्त, मदर से, एकलव्य विद्यालय, नवोदय विद्यालय, आर्मी स्कूल, केन्द्रीय विद्यालय एवं पॉलिटेक्निक/आई.टी.आई. कॉलेज तथा अन्य शिक्षा संस्थान) में उल्लेखित 15 से 18 वर्ष के किशोर बालक/बालिकाओं को एक निश्चित कार्ययोजना के तहत कोविड-19 वैक्सीन से टीकाकृत किया जाएगा। इस हेतु स्वास्थ्य विभाग के साथ समन्वय स्थापित कर निम्न गतिविधियां संचालित करना सुनिश्चित की गई है। 1. जिले में पंजीकृत समस्त शिक्षा संस्थान (सरकारी, निजी, अनुदान प्राप्त, मदरसे, एकलव्य विद्यालय,नवोदय विद्यालय, आर्मी विद्यालय, केन्द्रीय विद्यालय एवं पॉलिटेक्निक/आई.टी.आई. कॉलेज तथा अन्य शिक्षा संस्थान) के अध्ययनरत, ड्रापआउट एवं स्कूल छोड चुके 15 से 18 वर्ष के विद्यायार्थियों की सूची मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को उपलब्ध कराना। 2. 15 से 18 वर्ष के किशोर बालक/बालिकाओं के कोविड-19 वैक्सीनेशन के संबंध में शिक्षकों का उन्मुखीकरण एवं जागरूकता करना। 3. कोविड-19 वैक्सीनेशन में शिक्षा विभाग से संबंधित अधिकारियों/कर्मचारियों/शिक्षकों द्वारा मोबिलाईजेशन में सक्रिय सहयोग करना। 4. डी.ई.ओ., बी.ई.ओ., बी.आर.सी.सी. एवं अन्य अधिकारियों द्वारा शालाओं में होने वाले वैक्सीनेशन की शत-प्रतिशत उपलब्धी प्राप्त करने हेतु मॉनिटरिंग करना जिस से पात्र बालक/बालिका वैक्सीनेशन से वंचित ना रहे। 5. शालाओं में आयोजित होने वाले कोविड-19 वैक्सीनेशन सत्रों हेतु आवश्यक प्दतिंेजतनबजनतम तीन कक्ष (प्रतीक्षा/पंजीयन कक्ष, टीकाकरण कक्ष तथा निगरानी कक्ष) पेयजल, टॉयलेट, परिसर में स्वच्छता आदि की व्यवस्था एवं कोविड-19 अनुकूल व्यवहार का पालन। 6. 15 से 18 वर्ष के किशोर बालक/बालिकाओं के कोविड-19 वैक्सीनेशन हेतु प्रचार-प्रसार गतिविधियां संचालित करना। 7 सत्र आयोजन के दिन, शालाओं में पंजीकृत 15 से 18 वर्ष के किशोर बालक/बालिकाओं की शत-प्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित करना। 8 अभियान को सफल बनाये जाने हेतु स्वास्थ्य विभाग के साथ समन्वय स्थापित कर संपूर्ण सहयोग करना।


षासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय झाबुआ में विष्व बैंक परियोजना के अंतर्गत सह-पाठ्येत्तर की गतिविधियों के तहत् बालक एवं बालिका वर्ग की बेडमिन्टन प्रतियोगिता का आयोजन।


झाबुआ। शहीद चन्द्रषेखर आजाद षासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय झाबुआ में दिनांक 28/12/2021 एवं 29/12/2021 को विष्व बैंक परियोजना के उत्कृृष्टता के अंतर्गत दो दिवसीय सह-पाठ्येत्तर की गतिविधियों के तहत् बालक एवं बालिका वर्ग की बेडमिन्टन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसमें प्रभारी प्राचार्य डॉ0 अंजना मूवेल द्वारा बेडमिन्टन प्रतियोगिता का षुभारंभ किया गया।   बेडमिन्टन प्रतियोगिता में कुल 11 प्रतिभागियों ने भाग लिया । जिसमें बालिका वर्ग में कु. सानिया भाबोर, बी.ए. तृतीय वर्ष विजेता एवं  उप-विजेता कु. कुसुम बबेरिया, बी.ए. तृतीय वर्ष रही तथा बालक वर्ग में श्री हरिओम भूरिया बी.एससी. तृतीय वर्ष विजेता एवं  उप-विजेता श्री जसवंत बारिया  बी.ए. तृतीय वर्ष रहे । बेडमिन्टन प्रतियोगिता में सह-पाठ्येत्तर की गतिविधि के संयोजक डॉ0 गोपाल भूरिया एवं सदस्य डॉ0 अंजना अलावा, डॉ0 श्रीया सिन्हा तथा विष्व बैंक परियोजना प्रभारी डॉ0 वी.एस. मेंडा, डॉ0 एस.एस. चौहान, प्रो0 रीना गणावा, डॉ0 रंजना रावत डॉ0 रीता गणावा, डॉ0 मनीषा सिसोदिया डॉ0 रवि विष्वकर्मा, प्रो0 पंकजकुमार बारिया एवं समस्त स्टाफ तथा बडी संख्या में छात्र- छात्राऐं उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: