मधुबनी : चार दिसंबर को टीकाकरण अभियान का अनुश्रवण होगा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 3 दिसंबर 2021

मधुबनी : चार दिसंबर को टीकाकरण अभियान का अनुश्रवण होगा

dm-madhubani-inspact-vaccination
मधुबनी, आज दिनांक 03 दिसंबर 2021 को श्री अमित कुमार, भा. प्र. से. जिला पदाधिकारी, मधुबनी द्वारा जिले में चार दिसंबर को कोरोना से बचाव के लिए टीका लगवाने के मेगा वैक्सीनेशन कैंप के सफल क्रियान्वयन के लिए जिले के सभी प्रखंडों के प्रभारी वरीय प्रशासनिक पदाधिकारियों की बैठक आयोजित कर आवश्यक निर्देश दिए गए इस बैठक में उपस्थित सभी अधिकारियों को निर्देशित करते हुए जिलाधिकारी महोदय ने कहा कि हालांकि संख्यात्मक रूप से वैक्सीन देने में मधुबनी कई अन्य जिलों से अग्रणी है। परंतु, जिले की जनसंख्या के अनुपात में केवल 68% लोगों ने पहला डोज लिया है, जो चिंता का विषय है। हमें इस स्तर में सुधार लाना है। साथ ही, जो भी व्यक्ति समय पूर्ण हो जाने के बाद भी दूसरा डोज नहीं लगवा पाए हैं, उन्हें भी टीका लगाना है। जिससे ओमीक्रोन के खतरे को देखते हुए बड़ी संख्या में टिके से वंचित लोगों को कोरोना से प्रतिरक्षित किया जा सके। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों से कहा कि आजकल शाम जल्द ढल रही है। ऐसे में सुबह 7 बजे से 9 बजे तक के समय में टीकाकरण को गति प्रदान कर अपेक्षित लक्ष्य हासिल किया जा सकता है। टीके से वंचित कई लोग प्रातः काल में अपने अपने घरों में उपलब्ध हो जायेंगे। इसलिए हमें अपनी रणनीति पर ठीक प्रकार अमल करना है। उन्होंने निर्देश दिया कि टीकाकरण के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए जीविका की दीदियां, आंगनवाड़ी की सेविका और सहायिकाएं, विकास मित्र, जन वितरण प्रणाली विक्रेताओं आदि का सहयोग लिया जाए। उन्होंने कहा कि जीविका से बड़ी संख्या में महिलाएं जुड़ी हुई हैं। ऐसे में जीविका की दीदियां स्वयं भी अपने परिवार के बारे में इस आशय का घोषणा पत्र समर्पित करेंगी कि उनके परिवार के सभी 18 वर्ष से ऊपर के व्यक्तियों ने टीके का दोनो डोज ले लिया है। जिलाधिकारी ने बताया कि वो स्वयं टीकाकरण अभियान की समीक्षा के क्रम में जिले के अलग अलग क्षेत्रों का अनुश्रवण करेंगे। अतः उन्होंने निर्देश दिया कि सभी प्रभारी वरीय पदाधिकारी अपने अपने आवंटित प्रखंडों में सुबह 7 बजे से टीकाकरण की गतिविधियों का पर्यवेक्षण करेंगे। उन्होंने प्रत्येक प्रखंड के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी के साथ पंचायतवार अवलोकन कर निम्न टीका दर वाले पंचायतों पर विशेष ध्यान केंद्रित करने के निर्देश दिए हैं। नदी के दियारा अथवा सुदूर एवं दुर्गम इलाकों में विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि ओमिक्रोन के बढ़ते खतरे को देखते हुए अभी तक टीका नहीं लेने वाले लोगों को जल्द से जल्द टीके लगाने की आवश्यकता है। जिस किसी भी क्षेत्र में टीका लेने से कोई इंकार करते हैं तो उनकी सूचना एकत्रित कर जिला को प्रेषित की जाए। ताकि समुचित कदम उठाया जा सके। उक्त बैठक में जिले के सभी वरीय उप समाहर्ता उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: