भाजपा अब पहले जैसी पार्टी नहीं रही : सल्दान्हा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 17 दिसंबर 2021

भाजपा अब पहले जैसी पार्टी नहीं रही : सल्दान्हा

bjp-changed-saldanha-alina
नयी दिल्ली, 17 दिसंबर, गोवा विधानसभा से इस्तीफा देने के बाद आम आदमी पार्टी (आप) में शामिल हुई भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की पूर्व विधायक अलीना सल्दान्हा ने शुक्रवार को कहा कि भाजपा अब पहले जैसी पार्टी नहीं रही। सल्दान्हा ने दावा किया कि वह "विभिन्न कारणों से" भाजपा में "घुटन महसूस कर रही थीं।’’ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में सल्दान्हा ने कहा, ‘‘मैं घुटन महसूस कर रही थी। यहां तक ​​कि पार्टी (भाजपा) ने भी महसूस किया कि मैं उनके जनविरोधी लक्ष्यों के लिए एक बाधा थी। अगर मैं लोगों के साथ हूं, तो मैं भाजपा के साथ नहीं हो सकती। मैं दिल्ली में हूं और मैंने केजरीवाल सरकार की प्रगति को देखा है और इसलिए मैं आप में शामिल हो गयी।’’ पार्टी में उनका स्वागत करते हुए आप के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल ने रेलवे परियोजना के लिए केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि केंद्र गोवा के लोगों की इच्छा के खिलाफ काम कर रहा है, ताकि कुछ बड़े उद्योगपतियों को फायदा हो।


उन्होंने गोवा के लोगों को आश्वासन दिया कि यदि राज्य में आप की सरकार बनी तो उनकी सहमति के बिना कोई परियोजना नहीं लाई जाएगी। गोवा में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। उन्होंने कहा, ‘‘ मैं गोवा के लोगों को यह आश्वासन देना चाहता हूं कि उनकी सहमति के बिना कोई परियोजना नहीं लाई जाएगी। गोवा में लोगों का कांग्रेस पर से विश्वास उठ गया है और भाजपा खुद ही टूट रही है। ‘आप’ आपको एक अच्छी और ईमानदार सरकार देगी।’’ सल्दान्हा ने कहा, ‘‘परियोजनाएं गोवा को नष्ट कर देंगी। दक्षिण पश्चिम रेलवे ट्रैक के दोहरीकरण के साथ, पर्याप्त प्रदूषण और विनाश होगा, और निश्चित रूप से क्षेत्र के निवासियों को कहीं और जाना होगा।’’ उन्होंने कहा कि वह गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत को यह समझाने के लिए मौके पर ले गई थीं कि अगर दक्षिण पश्चिम रेलवे ट्रैक का दोहरीकरण कर दिया गया तो क्या होगा लेकिन कुछ नहीं हुआ। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने मोहभंग होने के बाद भाजपा को छोड़ा है। वह अब वैसी पार्टी नहीं रही, जैसी दिवंगत मनोहर पर्रिकर के समय थी। अब, मैं सही पार्टी में आ गई हूं, जो आम लोगों के लिए है। मैं भाजपा की कुछ नीतियों का विरोध कर रही थी, जो आम आदमी के खिलाफ है।’’ केजरीवाल ने सल्दान्हा का पार्टी में स्वागत करते हुए कहा कि वह अब सही जगह आ गई हैं। आप के राष्ट्रीय संयोजक ने कहा, ‘‘गोवा में हर कोई महसूस कर रहा है कि केंद्र सरकार कुछ पूंजीपतियों, बड़े उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए राज्य के लोगों की इच्छा के खिलाफ काम कर रही है। हम इसके खिलाफ हैं।’’ सल्दान्हा 2012 में अपने पति के निधन के बाद भाजपा में शामिल हुईं थी। सल्दान्हा के पति मैथनी सल्दान्हा, मनोहर पर्रिकर के नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल में मंत्री थे। मैथनी के निधन के बाद अलीना सल्दान्हा ने कोर्टालिम विधानसभा सीट से भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ा था और जीत भी हासिल की थी। उन्होंने 2017 में भी भाजपा के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़कर जीत दर्ज की थी।

कोई टिप्पणी नहीं: