प्रतापगढ़, : ‘‘प्रतापगढ़ न्यायक्षैत्र में हुआ राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन’’ - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 11 दिसंबर 2021

प्रतापगढ़, : ‘‘प्रतापगढ़ न्यायक्षैत्र में हुआ राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन’’

lok-adalat-pratapgadh
प्रतापगढ़, राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, जयपुर एवं श्रीमान् महेन्द्र सिंह सिसोदिया-माननीय अध्यक्ष महोदय, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण (जिला एवं सत्र न्यायाधीश) प्रतापगढ़ के निर्देशन में प्रतापगढ़ न्यायाक्षेत्र में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। राष्ट्रीय लोक अदालत के अवसर पर जिले में लंबित राजीनामा योग्य प्रकरणों के निस्तारण हेतु न्यायालयों मंे लंबित 1873 एवं 1661 प्रि-लिटिगेशन प्रकरण चिंहित किये गए। राष्ट्रीय लोक अदालत बैंच प्रथम के अध्यक्ष श्रीमान् महेन्द्र सिंह सिसोदिया, जिला एवं सेशन न्यायाधीश, प्रतापगढ़ व सदस्य श्री मनोहरलाल कुमावत-अधिवक्ता ने जिला एवं सेशन न्यायालय, प्रतापगढ़़ एवं विशिष्ठ न्यायालय, अजा/अजजा प्रकरण, प्रतापगढ़ के प्रकरणों में राजीनामें का प्रयास किया, इसी प्रकार बैंच द्वितीय के अध्यक्ष श्रीमान् गोविन्द अग्रवाल, न्यायाधीश, मोटरयान दुर्घटना दावा अधिकरण, प्रतापगढ़ व सदस्य श्री अजय कुमार सक्सेना-अधिवक्ता ने मोटरयान दुर्घटना दावा अधिकरण, प्रतापगढ़ एवं पारिवारिक न्यायालय, प्रतापगढ़ के प्रकरण, बैंच तृतीय के अध्यक्ष श्रीमान् शिवप्रसाद तम्बोली, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, (अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश) प्रतापगढ़ एवं सदस्य श्री अमित जैन-प्रथम-अधिवक्ता ने समस्त बैंक, अविविनिलि एवं बैंक से संबंधित प्रि-लिटीगेशन प्रकरण, बैंच चतुर्थ की अध्यक्ष श्री अंकित दवे- अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, प्रतापगढ़ व सदस्य श्री घनश्याम दास वैरागी-अधिवक्ता ने न्यायालय- मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, प्रतापगढ़ व न्यायालय- अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, प्रतापगढ़ के प्रकरण, बैंच पंचम के अध्यक्ष श्री हिमांशु चावला, सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट, प्रतापगढ़ व सदस्य श्री भूपेन्द्र ग्वाला-अधिवक्ता ने न्यायालय- सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट, प्रतापगढ़, बैंच षष्टम् के अध्यक्षा सुश्री शहनाज खान लौहार, अतिरिक्त सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट, प्रतापगढ़ व सदस्य सुश्री विजयलक्ष्मी आर्य-अधिवक्ता ने न्यायालय- अतिरिक्त सिविल न्यायाधीश एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट, प्रतापगढ़ के प्रकरण, बैंच सप्तम के अध्यक्ष श्री विकास जैन, न्यायाधिकारी, ग्राम न्यायालय, प्रतापगढ़ व सदस्य श्री अनिल कुमार जैन-अधिवक्ता ने न्यायालय- ग्राम न्यायालय, प्रतापगढ ़एवं तालुका अरनोद पर अध्यक्षा श्रीमति कुसुम सुत्रकार- अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, अरनोद व सदस्य श्री जसपाल आंजना-अधिवक्ता ने न्यायालय- अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, अरनोद प्रतापगढ़, तालुका छोटीसादडी पर अध्यक्ष    श्री पूरण सिंह- अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, छोटीसादडी व सदस्य श्री अनिल सिंघल-अधिवक्ता ने न्यायालय- अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, छोटीसादडी, तालुका धरियावद पर अध्यक्ष श्री हरीश मेनारिया- अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, धरियावद व सदस्य श्री हरिसिंह कोठारी-अधिवक्ता ने न्यायालय- अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, धरियावद में भरसक प्रयास करते हुए अधिक से अधिक राजीनामे करवाने का प्रयास किया। न्यायिक अधिकारीगण व अधिवक्तागण के संयुक्त प्रयासों से न्यायालयों में लम्बित प्रकरणों जैसे शमनीय दाण्डिक अपराध, अंतर्गत धारा 138 परक्राम्य विलेख अधिनियम, बैंक रिकवरी मामलें, एम.ए.सी.टी. मामलें, पारिवारिक विवाद, श्रम-विवाद, भूमि अधिग्रहण मामले, बिजली व पानी के बिल (चोरी के अलावा), मजदूरी, भत्ते और पेंशन भत्तों से संबंधित सेवा मामले, राजस्व मामले, अन्य सिविल मामले (किराया, सुखाधिकार, निषेधाज्ञा दावे एवं विनिर्दिष्ट पालना दावे) आदि मामलों में अथक प्रयास करते हुए जरिये राजीनामा निस्तारण करवाया गया। 

कोई टिप्पणी नहीं: