टर्न व ट्विस्ट से भरपूर होगा दंगल टीवी का नया सोशल ड्रामा "रंग जाऊं तेरे रंग में" - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 21 दिसंबर 2021

टर्न व ट्विस्ट से भरपूर होगा दंगल टीवी का नया सोशल ड्रामा "रंग जाऊं तेरे रंग में"

rang-jaoun-tere-rang-men-dangal
मुंबई : मशहूर एंटरटेनमेंट चैनल दंगल टीवी पर 27 दिसम्बर से एक नया धारावाहिक "रंग जाऊं तेरे रंग में " शुरू होने जा रहा है। इस फैमिली सोशल ड्रामा के लॉन्च के अवसर पर शो के तमाम कलाकार मौजूद थे। यह सोशल ड्रामा लखनऊ के रहने वाले लड़के के धनवान पाण्डेय परिवार और आजमगढ़ की गरीब लड़की वालों के चौबे परिवार की कहानी है। दंगल टीवी का यह सातवां ओरिजिनल शो है। ‘रंग जाऊं तेरे रंग में’ एक ऐसा सीरियल है जिसमें किस्मत का महत्वपूर्ण रोल होता है, जो दो परिवारों के जीवन को बदल कर रख देता है। अगर आप भी यह जानना चाहते हैं कि इन दोनों परिवार के सदस्यों के भाग्य में क्या लिखा है तो आपको 27 दिसम्बर तक इंतजार करना होगा। बॉलीवुड और टेलीविज़न के मशहूर एक्टर सुदेश बेरी ने बताया कि इस परिवार का स्तम्भ काशीनाथ पाण्डेय है। शो में काफी उतार चढ़ाव और टर्न व ट्विस्ट हैं जो दर्शकों को एंटरटेन करेंगे। दंगल टीवी के इस शो के माध्यम से हम दर्शकों को मनोरंजन देने के साथ साथ समाज को एक मैसेज भी देना चाहते हैं। पूजा पाण्डेय का रोल कर रही दीक्षा धामी ने कहा कि मैं चुलबुली, सीधी सादी सी बहु का रोल कर रही हूं। वह ससुराल में सभी से इतना प्यार करती है कि वह 2-3 साल से मायके नही गई है। उदित शुक्ला ने कहा कि वह शो में सुदेश बेरी के बड़े बेटे अभिषेक पाण्डेय का रोल कर रहे हैं जो बेहद जिम्मेदार लड़का है और परिवार के बिज़नस को संभाल रहा है। करम राजपाल ने बताया कि वह शो में सुदेश बेरी के छोटे बेटे ध्रुव पाण्डेय का रोल कर रहे हैं जो बड़ा शांत किरदार है। वह सब समझता है और माँ, भाई, भाभी का लाडला है। केतकी कदम ने कहा कि वह सृष्टि चौबे नाम की बेहद सीधी सादी गांव की लड़की का किरदार अदा कर रही हैं। सबका बहुत खयाल रखती है। मेघा रे ने बताया कि वह धानी चौबे का रोल प्ले कर रही हैं जो पटाखा लड़की है। जो दिल मे होता है बिंदास बोल देती है। कभी कभी लोगों को लगता है कि वह बदतमीज है मगर उसका इरादा किसी को दुख पहुंचाना नहीं होता।

      

चैतन्य अदीब ने कहा कि वह शो की फीमेल लीड केतकी और मेघा के पिता सुरेंद्र चौबे का रोल कर रहे हैं जो किसान है। वह बनारस का रहने वाला है और अपनी दोनों बेटियों को पढ़ा लिखा कर काबिल बनाना चाहता है। और उनके लिए अच्छे वर की तलाश में है, फिर कैसे काशीनाथ पाण्डेय से उसकी मुलाकात होती है और कहानी आगे बढ़ती है इसके लिए आपको शो देखना होगा। चैतन्य अदीब ने आगे कहा कि यह शो कुछ अलग है। इसकी स्टोरीलाइन यूनिक है। ऑडियंस ने इस तरह के ट्विस्ट और कहानी टेलीविजन में नही देखा होगा। जमीन से जुड़ी हुई कहानी है, आम परिवार में जिस तरह की चीजें होती हैं, वैसा ही दिखाया गया है इसलिए लोग इस कहानी से कनेक्ट करेंगे। काशीनाथ पाण्डेय की बहन और अभिषेक व ध्रुव की बुआ का रोल कर रही मीना मीर ने बताया कि बेहद अच्छी बुआ है। अपने भाई, भतीजों से खूब प्यार करती है, भाभी के साथ भी उसका अच्छा रिलेशन है। यह ऐसा किरदार है जो परिवार में सबको जोड़ कर रखता है। ध्रुव की मां रुपा पाण्डेय का रोल कर रही उर्वशी उपाध्याय ने कहा कि मेरा किरदार ऐसा है जिसे सजना सवरना काफी पसन्द है। पैसे काफी खर्च करती है, किचन बुआ संभाल लेगी, मैं जीवन के मजे लेना चाहती हूं। रंग जाऊं तेरे रंग में के बारे में बात करते हुए, दंगल टीवी के एमडी मनीष सिंघल ने कहा, “हम दंगल टीवी के जरिये भारतीय दर्शकों से लंबे अर्से से जुड़े हुए है और हम जानते हैं कि उन्हें किस तरह की कहानी जोड़े रखेगी। “रंग जाऊं तेरे रंग में’ एक सोशल ड्रामा है जो इस गहरी समझ को दर्शाता है कि कैसे हमारे देश में शादी का अर्थ दो परिवारों का मिलन है, न कि सिर्फ दो इंसानों का मिलन है।" शो में सुरेंद्र चौबे का किरदार चैतन्य अदीब, गीता चौबे का रोल हिमाक्षी उज्जैन, सृष्टि चौबे का किरदार केतकी कदम और धानी चौबे का रोल मेघा रे प्ले कर रही हैं। वहीं पाण्डेय परिवार में काशीनाथ पाण्डे का रोल सुदेश बेरी, रूपा पाण्डे का रोल उर्वशी उपाध्याय, बुआ का रोल मीणा मीर, अभिषेक पाण्डे का रोल उदित शुक्ला, ध्रुव पाण्डे का रोल करम राजपाल और पूजा पाण्डे का रोल दिक्षा धामी कर रही हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: