सेंट्रल विस्टा के कारण एनसीपीए परियोजना को ठंडे बस्ते में डाला गया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 26 दिसंबर 2021

सेंट्रल विस्टा के कारण एनसीपीए परियोजना को ठंडे बस्ते में डाला गया

npa-scheems-cold-storage-for-central-vista
नयी दिल्ली, 26 दिसंबर, सेंट्रल विस्टा परियोजना के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में प्रदर्शन कला (परफॉर्मिंग आर्ट्स) के लिए भारत का सबसे बड़ा केंद्र बनाने की सरकार की योजना को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है। संस्कृति मंत्रालय ने हाल में एक संसदीय समिति को बताया कि इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र (आईजीएनसीए) को जामनगर हाउस में स्थानांतरित करने से राष्ट्रीय प्रदर्शन कला केंद्र (एनसीपीए) परियोजना को जारी रखना ‘‘संभव नहीं’’ है। मंत्रालय ने लोकसभा की सरकारी आश्वासनों संबंधी समिति को दिए एक जवाब में कहा, ‘‘सेंट्रल विस्टा के कारण एनसीपीए बहुत शुरुआती चरण में है और परियोजना अभी शुरू भी नहीं हुई है और इसके लिए कोई समयसीमा का वादा नहीं किया जा सकता है।’’ सरकार ने इंडिया गेट लॉन से जुड़े आईजीएनसीए के परिसर में एनसीपीए बनाने की योजना बनायी थी। एनसीपीए के तहत एक सभागार का निर्माण किया जाना था, जिसमें राष्ट्रीय राजधानी में विभिन्न प्रदर्शन कला कार्यक्रमों का आयोजन करने के लिए 1,800 लोगों के बैठने की क्षमता होती।

कोई टिप्पणी नहीं: