महानदी पर ओडिशा के सबसे लंबे पुल का उद्घाटन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 20 दिसंबर 2021

महानदी पर ओडिशा के सबसे लंबे पुल का उद्घाटन

odissa-longest-bridge-inaugrated
भुवनेश्वर, 20 दिसंबर, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कटक जिले के गोपीनाथपुर में महानदी नदी पर राज्य के सबसे लंबे पुल का सोमवार को उद्घाटन किया। अधिकारियों ने बताया कि कटक जिले में सिंहनाथ पीठ और बैदेश्वर को जोड़ने वाले 3.4 किलोमीटर लंबे पुल से 45 किलोमीटर तक की दूरी कम हो जाएगी, जिसका फायदा करीब पांच लाख लोगों को मिलेगा। उन्होंने बताया कि 111 करोड़ रुपये की लागत से यह पुल अंग्रेजी वर्णमाला के अक्षर ‘टी’ आकार का बनाया गया है। पटनायक ने 28 फरवरी 2014 को इस पुल की आधारशिला रखी थी। पटनायक के दौरे के मद्देनजर पुलिस ने बांकी में काले झंडे लेकर प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया, जिनमें पूर्व विधायक देबाशीष पटनायक भी शामिल हैं। विपक्षी दल के कार्यकर्ता कालाहांडी में एक शिक्षिका के अपहरण और हत्या मामले में मुख्य आरोपी से कथित संबंधों के लिए राज्य के गृह मंत्री डी एस मिश्रा को बर्खास्त करने की मांग कर रहे हैं। पटनायक ने जुलाई 2017 को त्रिसुलिया में काठाजोड़ी नदी पर 2.88 किलोमीटर लंबे नेताजी सुभाष चंद्र बोस सेतु का उद्घाटन किया था, जो अभी तक राज्य का सबसे लंबा पुल था। यह पुल बारंग से होते हुए भुवनेश्वर और कटक को जोड़ता है।

कोई टिप्पणी नहीं: