सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 29 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 29 दिसंबर 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 29 दिसंबर

प्राचीन जगदीश मंदिर में शिवभक्ति के साथ होगी नए साल की शुरुआत शिव चतुर्दशी पर किया जाएगा पूरी रात भगवान शिव का विशेष अभिषेक


सीहोर। शिव चतुर्दशी भगवान शिव को मासिक शिवरात्रि अत्यंत प्रिय है। कहते हैं कि मासिक शिवरात्रि का व्रत रखने से भोलेनाथ बहुत जल्द प्रसन्न हो जाते हैं। नए साल की शुरुआत शिव जी के आशीर्वाद से होगी। शहर के छावनी सब्जी मंडी के समीपस्थ प्राचीन जगदीश मंदिर में नए साल के पहले दिन शनिवार को सुबह मंदिर में फूलों से विशेष श्रृंगार किया जाएगा। वहीं बरखेड़ा हसन मानस प्रचार समिति के द्वारा पूरी रात भजनों की प्रस्तुति के साथ चारों प्रहरों में भगवान शिव का अभिषेक किया जाएगा। इस संबंध में हिन्दू महापंचायत के जिलाध्यक्ष प्रदीप सक्सेना ने बताया कि नए साल के पहले दिन शनिवार को भव्य रूप से शिव चतुर्दशी का पर्व मनाया जाएगा इस मौके पर भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा के ऑन लाइन प्रवचन का आयोजन भी किया गया है। आयोजन में परमार समाज के अलावा सभी  क्षेत्रवासियों के द्वारा नए साल का यह भव्य कार्यक्रम के दौरान सुबह से ही देर रात्रि तक आयोजन किया जाएगा। मंदिर में भगवान जगदीश, देवी माता, हनुमान जी और राम दरबार की मूर्तियों का अभिषेक का आयोजन किया जाएगा। जिला संस्कार मंच के मनोज दीक्षित मामा ने बताया कि आगामी एक जनवरी को जब नया साल शुरू होगा, उस दिन संयोगवश कई शुभ योग रहेंगे। यह दिन पूजा-पाठ, दान-पुण्य से लेकर खरीद फरोख्त तक के लिए मंगलकारी रहेगा। इस दिन पौष मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी और ज्येष्ठ नक्षत्र रहेगा। पौराणिक मान्यता है कि इस चतुर्दशी को मासिक शिवरात्रि की संज्ञा दी गई है। इसी दिन केदार योग, सर्वार्थ सिद्धि योग भी रहेगा, इस दौरान नए कार्य शुरू करने से लेकर आवश्यक वस्तुओं की खरीदारी से परिवार में समृद्धि आएगी। शिव चतुर्दशी और शनिवार होने से इस दिन शिव और शनिदेव की पूजा विशेष फलदायी होगी। उन्होंने बताया कि मान्यता है कि मासिक शिवरात्रि की पूजा आधी रात में की जाती है। इसे निशिता काल कहा जाता है। इसकी शुरुआत भगवान शिव की मूर्ति या शिव लिंग के अभिषेक से की जाती है। भोलेनाथ को गंगाजल, दूध, दही, घी, शहद, सिंदूर, हल्दी पाउडर, गुलाब जल और बेल के पत्ते चढ़ाए जाते हैं। इसके बाद भगवान शिव की आरती या भजन गाए जाते हैं और शंख बजाया जाता है। इसके बाद प्रसाद ग्रहण किया जाता है। हिन्दू महापंचायत के तत्वाधान में होने वाले इस दिव्य कार्यक्रम के दौरान पहले प्रहर रात्रि आठ से किया जाएगा। पूरी रात्रि में चार प्रहरों में भजनों की प्रस्तुति आदि के साथ भगवान शिव का विशेष अभिषेक किया जाएगा। मंदिर से जुडे चंदर सिंह मंडलोई, तुलसीराम पटेल, विष्णु परमार, गगन खत्री, बने सिंह, नंद किशोर परमार, विजय परमार, शेर सिंह, शिव परमार, विक्रम परमार, हीरु बेलानी, राकेश शर्मा, रामेश्वर सोनी, गोपाल राठौर, विष्णु सम्राट प्रजापति, पंडित कुणाल व्यास, पप्पू सेन, नरेन्द्र डाबी, नंद किशोर संधानी, विवेक श्रीवास्तव, संतोष बैस आदि ने श्रद्धालुओं से आने की अपील की है।


शहर के चर्च मैदान पर जारी जिला स्तरीय बेबी लीग फुटबाल प्रतियोगिता, सीहोर चिल्ड्रन ने मिनी को 11-0 से हराया


sehore news
सीहोर। शहर के चर्च मैदान पर जारी जिला स्तरीय बेबी लीग फुटबॉल प्रतियोगिता में वरिष्ठ खिलाड़ी हिमांशु राय ने खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त कर शुभकामनाएं दी। उन्होंने अपने उद्बोधन में कहा कि लक्ष्य लेकर चलोगे तो सफलता के कदम चूमेगी फुटबॉल हमें चुनौतियों का सामना करना सिखाता है अभी मैंने देखा था की जिलाधीश चंद्र मोहन ठाकुर ने क्लास लेते समय बताया था कि परीक्षा की तैयारी ऐसी करो की परीक्षा देते समय आपको घबराहट ना हो आप फुटबॉल में ऐसी तैयारी करो कि मैच खेलते समय आपको गोल मारने में कोई कठिनाई ना हो आप अच्छा खेल खेलो एवं सीहोर का नाम प्रदेश एवं देश में शहर का नाम रोशन करो। इस अवसर पर सीनियर खिलाड़ी आनंद उपाध्याय वरिष्ठ सीनियर खिलाड़ी हिमांशु राय का स्वागत किया। शहर के चर्च मैदान पर स्व.प्रकाश व्यास काका की स्मृति में जिला स्तरीय बेबी लीग प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। प्रतियोगिता में बुधवार को पहला मैच सीहोर चिल्ड्रन विरोधी और मिनी के मध्य खेला गया जिसमें सीहोर चिल्ड्रन 11-0 से विजय रही सीहोर चिल्ड्रंस की तरफ से आदित्य सास्ता ने तीन गोल किए ईशांत परमार ने तीन गोल किए वेदांत विश्वकर्मा ने एक गोल किया शांत परमार ने दो गोल किए प्रतियोगिता में दूसरा मेसी और वॉइस विरोधी व क्लब के मध्य खेला गया जिसमें सीहोर वॉइस 7-0 से विजई रही युवराज कन्नौजिया ने तीन गोल किए जेब ने तीन गोल किए मिस्ठी चौरसिया ने एक गोल किया तीसरा मैच मंडी बॉयज विरोधी और ग्रीन के मध्य खेला गया जिसमें मंडी वॉइस 2-0 से विजय रहा मंडी बॉयज की तरफ से गौरव ने दो गोल किए इस प्रतियोगिता में शिवांगिनी गौर दीपक अहिरवार विशाल अहिरवार मैच का निर्णायक है। 


सरकार के फैसले के खिलाफ किया प्रदर्शन, हजारों खर्च के बाद चुनाव स्थगित होने की सूचना पर प्रत्याशियों ने जताया विरोध


sehore news
सीहोर। लंबे समय से चुनाव के लिए तैयार प्रत्याशियों के लिए सरकार का फैसला अब परेशानियों का सबब बना हुआ है। हजारों खर्च के बाद चुनाव स्थगित किए गए है। जिससे चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों कहना है कि सरकार ने आरक्षण, सीमांकन और रोटेशन आदि का पालन न करते हुए चुनाव की तैयारियां की थी। इसको लेकर बुधवार को जनहित मोर्चा के ब्लाक उपाध्यक्ष सरपंच पद के प्रत्याशी खुमान सिंह गुर्जर के नेतृत्व में प्रदर्शन किया गया। श्री खुमान ने कहा कि 31 दिसंबर को सीहोर  कलेक्ट्रेट कार्यालय में सामूहिक रूप से एक ज्ञापन दिया जाएगा। उन्होंने सभी प्रत्याशियों से शुक्रवार को कलेक्ट्रेट कार्यालय में दोपहर बारह बजे शामिल होने की अपील की है। सरपंच प्रत्याशी श्री गुर्जर ने कहा कि सात साल के इंतजार के बाद त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की घोषणा होने पर उम्मीदवारों को राहत मिली थी, लेकिन पहले 2014 का आरक्षण लागू किया गया, जिससे 2019 का आरक्षण लागू होने पर तैयारी कर रहे लोगों की उम्मीदों पर पानी फिर गया था और जब नामांकन फॉर्म जमा कर दिए गए हैं, तो असमंजस की स्थिति के बाद मंगलवार को चुनाव ही निरस्त हो गए। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का अध्यादेश सरकार ने दो दिन पूर्व वापस ले लिया था और मंगलवार को निर्वाचन आयोग ने भी चुनाव न कराने का निर्णय ले लिया। इस स्थिति में हजारों रुपए खर्च कर फॉर्म जमा करने वाले उम्मीदवारों को अरमानों पर पानी फिर गया है। उम्मीदवारों को फॉर्म जमा करने के लिए बिजली कंपनी की एनओसी लेने 590 रुपए चुकाने पड़े और जो बकाया था उसे भी जमा करना पड़ा। साथ ही फॉर्म की फीस सहित अन्य दस्तावेज तैयार करने में भी हजारों रुपए खर्च करने पड़े। कई लोग खेती किसानी का कार्य छोड़कर फॉर्म जमा करने के लिए परेशान होते रहे।


हजारों रुपए खर्च के बाद चुनाव किए निरस्त

उनका कहना है कि चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों ने उनसे चर्च की है कि यह फैसला हमारे खिलाफ है। कई प्रत्याशियों ने हजारों रुपए की राशि खर्च की है। चुनाव में प्रचार सामग्री और चुनाव वाहन जैसी चीजों में अपनी मेहनत की कमाई का पैसा खर्च कर दिया है। तब सरकार सरकार ने फैसला लेकर इन चुनावों को स्थगित कर दिया है। इसके अलावा सरकार ने भी जनता की कमाई का करोड़ों रुपए और अधिकारियों की फौज को परेशान कर चुनावों की तारिखों का एलान किया था। जनता को परेशान करने वाली सरकार के खिलाफ प्रत्याशियों के द्वारा शुक्रवार को प्रदर्शन किया जाएगा। 


बैंक खातों में बीमा और मुआवजा की शेष किश्त राशि जल्दी डलवाए सरकार

  • सड़क पर उतर कर किसान स्वराज संगठन के कार्यकर्ता और ग्राम सेमरादांगी के किसानों ने की मांग, वर्ष खरीफ 2020 में खराब हुई थी सोयाबीन की फसल

sehore news
सीहोर। किसान स्वराज संगठन के कार्यकर्ताओं और ग्राम सेमरादांगी के किसानों ने सड़क पर उतर कर गुरूवार को वर्ष खरीफ 2020 में खराब हुई सोयाबीन फसल की बीमा सहित मुआवजा राशि की बकाया किश्त बैंक खातों में डालवाने की मांग प्रदेश सरकार से की है। किसान स्वराज संगठन के जिलाध्यक्ष विनय सिंह दांगी ने बताया की प्रदेश सरकार किसानों को बीमा किश्त देने के नाम पर गुमराह कर रही है। किसानों की शेष बीमा और मुआवजा राशि डलवाने को लेकर सरकार कई बार अक्टूबर में डलवा देंगे नवंबर में डलवा देंगे लेकिन भुगतान नहीं किया गया अब सरकार के द्वारा किया गया 15 दिसंबर का वादा भी झूठा हीं साबित हुआ है। सरकार से किसानों का भरोसा उठता ही जा रहा है। किसान स्वराज संगठन के द्वारा इस संबंध में मुख्यमंत्री और कृषि मंत्रों को पत्र भी लिखे गए है। किसान स्वराज संगठन किसानों के हित में एक  बार फिर खरीफ 2020 सोयाबीन का बीमा एवं मुआवजे की राशि की बकाया एक किश्त डलवाने की मांग करता है। मांग करने वालों में बाबूलाल पटेल,दुर्गा सिंह,भगवत सिंह,गिरवर सिंह,घनश्याम सिंह, जितेंद्र सिंह,जीवन सिंह दांगी, बने सिंह दांगी, महेंद्र सिंह दांगी, मानसिंह, धनराज सिंह दांगी, चंद्र प्रकाश,मदनलाल वर्मा,नारायण सिंह, भैरू सिंह वर्मा,रामेश्वर दांगी,अजीतेष,यादव सिंह दांगी, करण सिंह दांगी आदि किसान और किसान स्वराज संगठन के कार्यकर्ता  शामिल है।


बच्चों को नशीले पदार्थों से बचाने जनजागरूकता अभियान


sehore news
आबकारी एवं सामाजिक न्याय विभाग द्वारा बच्चों को नशीले पदार्थ विक्रय करने वाले दुकानदारों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करने एवं जिले में तम्बाकू उत्पादों का सेवन रोकने के लिये नगर के अनेक क्षेत्रों मे सघन निरीक्षण किया गया। तम्बाकू उत्पादों का सेवन रोकने के लिए जनजागृति कार्यक्रम के तहत सीहोर के तहसील चौराहा, मण्डी, डोहर मोहल्ला एवं बड़ा बाजार क्षेत्रों में तम्बाकू उत्पाद उपलब्ध कराने वाले व्यापारिक प्रतिष्ठानों का निरीक्षण किया गया। ऐसे दुकानदारों की तंबाकूयुक्त सामग्री मौके पर जप्त कर नष्ट की गई। साथ ही भविष्य में ऐसी सामग्री बच्चों को विक्रय न करने की समझाइश भी दी गई। नियोजन कर्ताओं को बालश्रमिक नियोजित करने के निर्देश भी दिए गए। बच्चों में नशे की प्रवृत्ति से बचाव संबंधी जनजागरूकता अभियान निरंतर चलता रहेगा।


अनियमितताओं के आरोप में सीहोर संभाग के उपमहाप्रबंधक निलंबित


मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा संभाग सीहोर में पदस्थ उप महाप्रबंधक श्री सुमित अग्रवाल को कॉलोनी विद्युतीकरण के कार्यों में नियमों की अव्हेलना एवं फॉल्‍स डिमांड वापसी प्रकरणों में गंभीर अनियमितताएं बरतने के आरोप में प्रथम दृष्टया दोषी पाए जाने पर तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। निलंबन अवधि में श्री अग्रवाल को मुख्यालय भोपाल वृत्त में रखकर इनकी विभागीय जाँच की कार्यवाही शुरू कर दी गई है। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक श्री गणेश शंकर मिश्रा ने मैदानी अधिकारियों से कहा है कि वे उपभोक्ता सेवा और कंपनी की योजनाओं का लाभ पात्र उपभोक्ताओं को प्रदान करें तथा सजगता से कार्य करें। उन्होंने अधिकारियों और कर्मचारियों को सचेत किया कि उपभोक्ता सेवाओं और आर्थिक अनियमितताओं के मामलों में सख्त अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने अधिकारियों और कर्मचारियों से अपेक्षा की है कि कंपनी और उपभोक्ताओं के हितों का हमेशा ध्यान रखें। उन्होंने कहा कि कंपनी के कार्य निष्पादन में किसी भी लापरवाही को बर्दाश्‍त नहीं किया जाएगा।  


मौजूदा मौसम के दृष्टिगत कृषकों को सलाह


किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग ने बताया कि सर्दी के मौसम में पानी का जमाव हो जाता है जिससे कोशिकायें फट जाती है एवं पौधों की पत्तियॉ सूख जाती है परिणामस्वरूप फसलों में भारी क्षति हो जाती है। कृषि विकास विभाग ने बताया कि पाले के प्रभाव से पौधो की कोशिकाओं में जल संचार प्रभावित होता है। प्रभावित फसल अथवा पौधे का बहुभाग सूख जाता है जिससे रोग एवं कीट का प्रकोप बढ़ जाता है। पाले के प्रभाव से फल एवं फूल नष्ट हो जाते है। सब्जी फसल पाला आने से अधिक प्रभावित होती है व पूर्णतः नष्ट हो जाती है। पाला पडने की संभावना होने पर खेत में सिंचाई करें। पर्याप्त नमी होने से फसलों में नुकसान की सम्भावना कम होती है। पाला पड़ने की संभावना होने पर खेत की उत्तरी- पश्चिमी दिशा की मेढों पर रात्रि में धुऑ करना चाहियें। फसलों में जल - विलेय सल्फर 80 प्रतिशत की 500 ग्राम मात्रा प्रति एकड़ की दर से पर्णीय छिडकाव करें। फसलों पर जल विलेय उर्वरक एन.पी.के. 18.18.18 और एन.पी.के. 00.52.34 की 1 किग्रा मात्रा प्रति एकड़ की दर से पर्णीय छिडकाव करें।


प्रधानमंत्री फसल बीमा 2 दिन शेष


प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनान्तर्गत जिले में रबी सीजन 2021-22 का फसल बीमा शीघ्र ही किया जाना है। फसल बीमा कराने के लिए अब 2 दिन शेष बचे है। बीमा कराने की अंतिम तिथि 31 दिसम्बर है। जिसमें ऋणी एवं अऋणी दोनों प्रकार के किसान भाई अपनी फसल का बीमा करा सकते है जिसकी प्रीमियम 705 रूपये प्रति हेक्टेयर गेहूं एवं चना फसल के लिए है। जिले के सभी किसानों को इस योजना का अधिक से अधिक लाभ मिले इसी उद्देश्य से शासन द्वारा फसल बीमा के तीन प्रचार वाहनों को जिले के सभी गांवों में प्रचार-प्रसार के लिए घुमाया जा रहा है एवं किसानों को फसल बीमा कराने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। किसानों से निवेदन है कि अंतिम तिथि का इंतजार न करते हुए किसान भाई अपनी संबंधित बैंकों में जाकर अतिशीघ्र अपनी फसल का बीमा करायें। किसानों से अनुरोध है कि जिस बैंक से किसान क्रेडिट कार्ड बना है, वहां जाकर फसल बुवाई प्रमाण-पत्र एवं पटवारी हलके की जानकारी सम्बन्धित बैंक में जाकर अद्यतन करायें। अऋणी व डिफाल्टर किसानों से आग्रह है कि अंतिम तिथि का इंतजार न करते हुए अपने पास की बैंक शाखा जैसे सहकारी बैंक, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक या राष्ट्रीयकृत बैंक में फार्म जमा करें, ताकि उनकी फसलों का बीमा योजना के तहत फसल बीमा हो सके। फसल बीमा कराने के लिये किसान बीमा प्रस्ताव पत्र, भू-अधिकार पुस्तिका की फोटोकापी, बोवनी का प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, पैन कार्ड में से कोई एक एवं बैंक पासबुक की फोटोकापी दस्तावेज लेकर बैंक में जाकर अपनी फसल का फसल बीमा करायें। आधार कार्ड अनिवार्य रूप से साथ में ले जायें।


बलराम तालाब के लिए आवेदन आमंत्रित


ऐसें किसान जिन्होंने कृषि विभाग या उद्यान विभाग से वर्ष 2017 से अभी तक स्प्रिंकलर सेट अनुदान का लाभ लिया गया है। वह कृषक बलराम तालाब अनुदान के लिये पात्र है। ऐसें कृषक अपने खेत में बलराम तालाब अनुदान पर बनवाकर सिंचाई कर सकते हैं। इसके लिए जिले के विकासखण्ड वार लक्ष्य निर्धारित कर संबंधित कृषकों से आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। ऐसे कृषकों जिन्होंने एमपी कृषि डीबीटी पोर्टल (dbt.mpdage.org) पर पंजीयन कराया है, वह कृषक अपने विकासखण्ड के वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी से संपर्क कर आवेदन प्रस्तुत करें, ताकि उनकी स्वीकृति की कार्यवाही की जा सके। एमपी कृषि डीबीटी पोर्टल अभी खुला है, जो कृषक बलराम तालाब हेतु पंजीयन कराना चाहते हैं वह पंजीयन करा सकते हैं। पहले आएं पहले पाएं के आधार पर लक्ष्यानुसार स्वीकृति प्रदाय की जायेगी। योजना प्रावधान अनुसार बलराम तालाब योजना के अंतर्गत सामान्य श्रेणी के कृषकों को रू. 80 हजार एवं अजा/अजजा वर्ग के कृषकों के लिए रू. एक लाख रूपए की पात्रता का प्रावधान है।


एकलव्य शिक्षा विकास योजना में तेन्दूपत्ता संग्राहकों के बच्चों को मिलेगी मदद


‘एकलव्य शिक्षा विकास योजना’ में प्रदेश के वन क्षेत्रों में निवासरत तेन्दूपत्ता संग्राहकों के होनहार बच्चों को उत्कृष्ट शिक्षा संस्थानों में प्रवेश और उनके शिक्षा व्यय की प्रतिपूर्ति की जाती है। राज्य लघु वनोपज संघ के प्रबंध संचालक श्री पुष्कर सिंह ने बताया कि एकलव्य शिक्षा विकास योजना में प्रदेश में अब तक 12 हजार से ज्यादा छात्र-छात्राओं को 10 करोड़ 51 लाख से अधिक की राशि स्वीकृत कर उपलब्ध कराई गई है। तेन्दूपत्ता संग्राहक के लिए यह जरूरी है कि पिछले 5 वर्ष में से कम से कम तीन वर्षों में न्यूनतम एक मानक बोरा तेन्दूपत्ता का संग्रहण किया गया हो। फड़ मुंशी और समिति प्रबंधक द्वारा कम से कम तीन वर्षों में तेन्दूपत्ता सीजन में कार्य करने पर तेंदूपत्ता संग्राहक के बच्चों की शिक्षा के लिए सहायता दी जाती है। बच्चों को योजना का लाभ लेने के लिए पिछली वार्षिक परीक्षा में 60 प्रतिशत अंक लाना जरूरी है। इस सहायता योजना में व्यवसायिक कोर्स के विद्यार्थियों को वार्षिक 50 हजार रूपये दिए जाते हैं। गैर तकनीकी स्नातक विद्यार्थियों को 20 हजार रूपये, कक्षा 11वीं एवं 12वीं के विद्यार्थियों को 15 हजार रूपये और कक्षा 9वीं एवं 10वीं उत्तीर्ण करने वाले विद्यार्थियों को 12 हजार रूपये की वार्षिक सहायता दी जाती है। योजना में विद्यार्थियों को निर्धारित राशि की सहायता के अलावा शिक्षण शुल्क, पाठ्य-पुस्तकें, छात्रावास व्यय के साथ वर्ष में एक बार अपने घर आने-जाने का यात्रा व्यय भी दिया जाता है।


रूपंकर कला प्रदर्शनी के लिए प्रविष्टियां 15 तक आमंत्रित


उस्ताद अलाउद्दीन संगीत एवं कला अकादमी द्वारा आयोजित मध्यप्रदेश राज्य रूपंकर कला पुरस्कार प्रदर्शनी 2022 के लिये प्रविष्टियाँ आमंत्रित की हैं। पुरस्कार प्रदर्शनी में भाग लेने के लिये कलाकार का मध्यप्रदेश मूल निवासी होना या मध्यप्रदेश में सृजन के क्षेत्र में सक्रियता पूर्वक 10 वर्ष का अनुभव होना आवश्यक है।   प्रत्येक पुरस्कार के लिए 51 हजार रूपये सम्मान राशि प्रदान की जाएगी। प्रदर्शनी में 25 से 55 वर्ष तक की आयु वर्ग के कलाकार भाग ले सकेंगे। पुरस्कार प्रदर्शनी में आवेदन करने की अंतिम तिथि 15 जनवरी 2022 है। इच्छुक कलाकार आवेदन के लिये प्रविष्टि-पत्र अकादमी के फेसबुक पेज से प्राप्त कर सकते हैं।  पुरस्कार प्रदर्शनी में विशेष रूप से प्रदेश के ललित कलाओं के प्रसिद्ध कलाकारों के नाम से 10 पुरस्कारों का सृजन किया गया है। पुरस्कारों का चयन अकादमी द्वारा मनोनीत किये गये निर्णायक मंडल द्वारा किया जाएगा। प्रदर्शन के लिये सभी ललित कला के माध्यम में कलाकृतियों को स्वीकार किया जाएगा।


छात्रवृत्ति बैंक खाते में ऑनलाइन हस्तांतरित की जाएगी, छात्रवृत्ति पोर्टल पुन 15 जनवरी 2022 तक खोला


अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति योजना वर्ष 2021-22 के लिये विद्यार्थियों की स्वीकृत छात्रवृत्ति की राशि का भुगतान सीधे विद्यार्थियों के केवल आधार सीडेड बैंक खाते में ऑनलाइन हस्तांतरित की जाएगी। विद्यार्थी ने अपने ऑनलाइन आवेदन में अन्य बैंक खाते की जानकारी क्यों न भरी हो। विद्यार्थी का आधार सीडेड बैंक खाता सक्रिय मोड में होना अनिवार्य है ताकि छात्रवृत्ति का भुगतान विफल न हो।     पिछड़ा वर्ग तथा अल्पसंख्यक कल्याण, विभाग ने बताया कि जिन विद्यार्थियों द्वारा अपने आवेदनों को भारत सरकार के छात्रवृत्ति पोर्टल पर बिना आधार के रजिस्टर कर ऑनलाइन आवेदन भरा गया है ऐसे प्रकरणों में नवीन छात्रवृत्ति अंतर्गत केवल आधार पंजीयन हेतु छात्रवृत्ति पोर्टल पुनः 31 दिसम्बर 2021 तथा नवीनीकरण छात्रवृत्ति अंतर्गत केबल आधार पंजीयन हेतु छात्रवृत्ति पोर्टल पुन 15 जनवरी 2022 तक खोला जाएगा।  भारत सरकार द्वारा विद्यार्थियों को पोर्टल पर दर्ज किये गये मोबाइल नम्बर पर एसएमएस के माध्यम से सूचना दी जाएगी। उपरोक्त के संबंध में व्यापक प्रचार - प्रसार किया जाकर जिले में मान्यता प्राप्त समस्त शैक्षणिक संस्थाओं को सूचित किया जाये साथ ही शैक्षणिक संस्था के एल-1 के लिए अधिकृत नोडल अधिकारी से व्यक्तिगत अथवा दूरभाष पर संपर्क कर संस्था में अध्ययनरत विद्यार्थियों से वांछित कार्यवाही पूर्ण कराई जाना सुनिश्चित की जाएगी।


पल्स पोलियो अभियान 23 से 25 जनवरी तक


राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान का क्रियान्वयन 23 से 25 जनवरी तक आयोजित किया जाएगा। जिसमें पांच वर्ष तक के सभी बच्चों को दो बूंद पोलियो विमुक्ति की खुराक दी जाएगी। स्वास्थ्य विभाग ने सभी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिए है कि विकासखण्डवार स्थानीय भौगोलिक परिस्थितियों को ध्यानगत रखते हुए माइक्रोप्लान तैयार किया जाए जिसमें टीम ए, बी, सी, वैक्सीनेशन डिस्ट्रीब्यूशन अपने-अपने क्षेत्र हाई रिस्क एरिया का सुपर विजन प्लान तैयार कर राज्य स्तर को प्रेषित किया जाना है। राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान कार्यक्रम के प्रथम दिवस 23 जनवरी 2022 को टीम बी द्वारा बूथों पर बच्चों को पोलियो ड्राप की खुराक दी जाएगी।  अभियान के शेष तिथियां 24 एवं 25 जनवरी को घर-घर जाकर इस बात का पता लगाया जाएगा कि कोई बच्चा पोलियो दवा पीने से छूटा तो नहीं है यदि ऐसा पाया जाएगा तो मौके पर स्वास्थ्य टीम के द्वारा पोलियो विमुक्ति दवा की खुराक दी जाएगी। ऐसे बच्चो की अंगुलियों एवं घरों पर निशान के साथ टेली शीट के साथ-साथ रिपोर्टिंग की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग ने सभी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को अभियान के दौरान कोविड 19 के प्रोटोकॉल का पालन करने के निर्देश दिए है।


आज़ादी का अमृत महोत्सव – 26 जनवरी को होगा "भारत पर्व" का आयोजन


"आज़ादी का अमृत महोत्सव" अंतर्गत आगामी 26 जनवरी, 2022 गणतंत्र दिवस की संध्या को लोकतंत्र का लोक उत्सव "भारत पर्व" का आयोजन किया जायेगा। "भारत पर्व" में प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी पारम्परिक रूप से लोक रूचि के गायन लोक, भक्ति, सुराज, आज़ादी के तराने, वादन और नर्तन जनजातीय एवं लोक कला इत्यादि कार्यक्रम शामिल किये जायेंगे।  जिले के स्थानीय कलाकारों को "भारत पर्व" पर आयोजित सांस्कृतिक संध्या में प्रमुखता से शामिल किया जाकर मंच प्रदान किया जायेगा तथा इसके अलावा "भारत पर्व" के लिये अन्य कलाकारों, दल का चयन, समग्र मानदेय निर्धारण कलेक्टर द्वारा किया जायेगा।   "भारत पर्व" पर आयोजित "आज़ादी का अमृत महोत्सव" अंतर्गत स्वाधीनता संग्राम पर केन्द्रित प्रदर्शनी स्वराज संस्थान तथा मध्यप्रदेश के विकास पर केन्द्रित प्रदर्शनी, जनसंपर्क कार्यालयों द्वारा लगाई जायेगी। "भारत पर्व" एवं "आजादी के अमृत महोत्सव के लोगो सहित आकर्षक होर्डिंग्स तथा फ्लैक्स के माध्यम से प्रचार - प्रसार कराया जायेगा। "भारत पर्व" का आयोजन जिला प्रशासन द्वारा गरिमामय तरीके से जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित कर किया जायेगा।


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अस्पताल पहुँचकर सड़क दुर्घटना में घायलों के स्वास्थ्य की ली जानकारी


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने जिले में हुई सड़क दुर्घटना पर दुख व्यक्त किया है। उन्होंने भोपाल स्थित निजी अस्पताल पहुँचकर दुर्घटना में घायल लोगों के स्वास्थ्य की जानकारी ली। एक यात्री बस की रेहटी के निकट हुई दुर्घटना में करीब एक दर्जन व्यक्ति घायल हुए। दुर्घटना में दिवंगत नसरूल्लागंज निवासी श्री जगदीश महेश्वरी के परिवार को चार लाख रूपए की सहायता राशि मंजूर की गई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दुर्घटना में घायल लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की। मुख्यमंत्री ने अस्पताल के चिकित्सकों को घायलों के समुचित उपचार के निर्देश भी प्रदान किए। घायलों के समुचित उपचार के 50-50 हजार रूपए की सहायता राशि स्वीकृत की गई है। आंशिक रूप से घायल लोगों को भी पाँच और दस हजार रूपए की सहायता राशि प्रदान की जाएगी।


संक्रमण से बचाव की आवश्यक सावधानियों के साथ संचालित हों आर्थिक गतिविधियां


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कोविड नियंत्रण की समीक्षा के दौरान निर्देश दिए कि वर्तमान में संक्रमण के जो प्रकरण सामने आ रहे हैं, उन रोगियों के आयसोलेशन और उपचार के समुचित प्रबंध किए जाएँ। जल्द से जल्द संक्रमित व्यक्तियों को स्वस्थ करने पर फोकस किया जाए। फेस मॉस्क के उपयोग और रोको-टोको अभियान को निरंतर जारी रखा जाए। ऐसे प्रयास हों कि कहीं अधिक भीड़ की स्थिति निर्मित न हो। विवाह एवं अन्य समारोह में व्यक्तियों के बीच परस्पर दूरी का अवश्य ध्यान रखा जाए। सभी आवश्यक सावधानियों के साथ आर्थिक गतिविधियों के सुचारू संचालन का कार्य हो। प्रदेश में 03 जनवरी से 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के किशोरों का टीकाकरण शुरू हो रहा है। ऐसे बच्चे जिनका जन्म वर्ष 2007 या उसके पहले है, उनका 01 जनवरी से रजिस्ट्रेशन शुरू होगा। इसे टीकाकरण अभियान के रूप में संचालित किया जाए। प्रदेश में नाइट कर्फ्यू के अलावा अन्य कोई बंदिशें नहीं रहेंगी। सामाजिक गतिविधियाँ संक्रमण से बचाव के आवश्यक उपायों के साथ संचालित होंगी। प्रत्येक व्यक्ति शंका होने पर कोरोना टेस्ट अवश्य करवाएँ। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि विद्यालयों में 50 प्रतिशत क्षमता के साथ विद्यार्थियों की उपस्थिति की व्यवस्था जारी रहे। अभी स्थिति भले गंभीर नहीं, लेकिन सभी जरूरी ऐहतियात बरते जाना चाहिए।


प्रदेश में सिर्फ 9 प्रकरण, मुख्यमंत्री ने ली एक-एक प्रकरण की जानकारी

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश में ओमिक्रॉन के 9 प्रकरण के संबंध में विस्तार से जानकारी ली। इन संक्रमित रोगियों में से 7 प्रकरण में रोगी पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। अन्य दो भी स्वस्थ हो रहे हैं। रोगियों में गंभीर लक्षण नहीं पाए गए हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग पर अवश्य निगाह रखी जाए।


श्रेष्ठ वैक्सीनेशन कार्य के लिए हेल्थ टीम को बधाई

बैठक में जानकारी दी गई कि मध्यप्रदेश में प्रथम डोज़ 94.7 प्रतिशत और द्वितीय 90.2 प्रतिशत पात्र व्यक्तियों को लग चुका है। प्रदेश में 18 वर्ष से अधिक आयु के पात्र 10 करोड़ से अधिक नागरिकों को वैक्सीन के डोज लगाए जा चुके हैं। मध्यप्रदेश वैक्सीनेशन कार्य में सभी प्रांतों में सबसे आगे है। उन्होंने प्रदेश की अव्वल स्थिति के लिए प्रसन्नता व्यक्त करते हुए अपेक्षा की कि आगामी तीन दिवस में सभी जिलों में वैक्सीनेशन की शत-प्रतिशत उपलब्धि हासिल की जाए। वैक्सीनेशन कार्य की प्रगति अच्छी है। प्रदेश में दूसरे डोज़ से शेष अभी भी 18 लाख 6 हजार लोग हैं। दिसम्बर अंत तक सभी जिलों में वैक्सीनेशन कार्य की शत-प्रतिशत लक्ष्य पूर्ति की जाए। प्रदेश में ऐसे हेल्थ वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स और 60 वर्ष से अधिक आयु के विभिन्न व्याधियों से ग्रस्त नागरिकों, जिन्हें वैक्सीन के दोनों डोज़ लग चुके हैं, को प्री-कॉशन डोज़ लगाया जाना है। साठ वर्ष से अधिक आयु के समस्याग्रस्त व्यक्तियों को चिकित्सक के प्रमाण-पत्र के बिना भी स्वैच्छिक वैक्सीनेशन का लाभ दिया जाएगा। प्रदेश में 10 जनवरी से प्री-कॉशन डोज़ लगाने के संबंध में भारत सरकार से निर्देश प्राप्त हुए हैं।


किशोरों के लिए वैक्सीनेशन की गाइड लाइन

मध्यप्रदेश में टीकाकरण के लिए 15 से 18 वर्ष आयु समूह के करीब 48 लाख लाभार्थी होंगे। प्रदेश में इस आयु वर्ग के किशोरों के लिए कोविन-एप/कोविन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन होगा। इनका तीन जनवरी से टीकाकरण किया जाएगा। किशोरों को को वैक्सीन लगाई जाएगी। अपॉइंटमेंट ऑनलाइन या इनसाइट (वॉक-इन) भी बुक किया जा सकता है। ऐसे लाभार्थियों को सत्यापनकर्ता/वैक्सीनेटर द्वारा इनवाइट भी पंजीकृत किया जा सकता है। विद्यालय जाने वाले विद्यार्थियों को विद्यालयों में टीका लगेगा। शिक्षा विभाग इस अभियान में सहयोग करेगा। प्रत्येक विद्यार्थी को टीका लगवाने के लिए प्रेरित किया जाएगा। प्रदेश के 17 हजार 892 विद्यालयों में 36.8 लाख विद्यार्थियों का नामांकन है, जो बच्चे स्कूल नहीं जाते, उन्हें भी स्कूलों के टीकाकरण केन्द्रों पर वैक्सीन लगाई जाएगी। इसके अलावा आँगनवाड़ी केन्द्रों और ग्राम स्तरीय चिन्हित केन्द्रों पर भी वैक्सीन लगाई जाएगी।


प्रदेश में प्रतिदिन हो समीक्षा, आज केन्द्र और राज्य सरकार ने की साथ-साथ समीक्षा

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रतिदिन समीक्षा की जाए। बैठक में बताया गया कि प्रदेश में आज कोरोना के 42 प्रकरण आए हैं। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को भारत के सभी प्रांतों के साथ विश्व के विभिन्न देशों में सामने आ रहे प्रकरण, किए जा रहे प्रबंध और व्यवस्था की जानकारी से भी अपडेट रहने के निर्देश दिए। आज ही केन्द्र सरकार द्वारा राज्यों के साथ कोरोना और ओमिक्रॉन की स्थिति पर वीडियो कॉन्फ्रेंस द्वारा चर्चा एवं समीक्षा हुई।


मुख्यमंत्री श्री चौहान के प्रमुख निर्देश

विद्यालयों को वैक्सीनेशन केंद्र बनाया जाए। विद्यालयों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों के साथ ही ड्रॉपआउट बच्चों को भी दिया जाए वैक्सीनेशन का लाभ। प्रदेश में लगभग 40 लाख विद्यार्थियों को वैक्सीन लगाने का अनुमान है। विद्यालयों में वैक्सीनेशन लगाने की व्यवस्था क्रमशः भिन्न-भिन्न स्थान पर भी की जाएगी। सभी पात्र बच्चों को वैक्सीन लगाई जाए। फ्रंटलाइन वर्कर्स, हेल्थ वर्कर्स और 60 वर्ष से अधिक आयु के गंभीर रोगों से प्रभावित लोगों को तीसरा डोज़ (प्री-कॉशन) लगाया जाना है। इस कार्य को पूरी प्राथमिकता दें। वैक्सीनेशन के लिए आवश्यक व्यवस्थाएँ और मैपिंग कार्य पूर्ण हो। प्रदेश में 60 हजार टेस्ट औसतन रोजाना हो रहे, यह व्यवस्था कायम रहे। नागरिक स्वास्थ्य समस्या होने पर नजदीक के स्वास्थ्य केन्द्र में जाकर परामर्श प्राप्त करें और टेस्ट भी करवाएँ। प्रतिदिन कोविड नियंत्रण की बारीकी से समीक्षा की जाए।


आरटीओ की कड़ी कार्यवाही, एक वाहन का परमिट निरस्त एक को जप्त किया, रेहटी, नसरुल्लागंज में की गई यात्री बसों की चेकिंग, 30,000 समन शुल्क वसूला


sehore news
आरटीओं द्वारा जिले के रेहटी एवं नसरूल्लागंज में यात्री बसों की सघन चेकिंग की गई। इस दौरान अनफिट वाहनों पर कार्रवाई करते हुए 30 हजार रुपए समन शुल्क वसूल किया गया। जिला परिवहन अधिकारी श्री रितेश तिवारी ने बताया कि रेहटी एवं नसरुल्लागंज में 50 से अधिक वाहनों की चेकिंग की गई। चेकिंग में वाहन के परमिट, बीमा, फिटनेस, किराया, सूची, प्रदूषण प्रमाण पत्र, आपातकालीन द्वार एवं अग्निशमन यंत्रो की जांच की गई।  इस कार्यवाही में वाहन एक वाहन का फिटनेस निरस्त किया एवं एक वाहन को जप्त कर  रेहटी थाने को सुपुर्द किया गया। वाहनों की चेकिंग के दौरान 15 वाहनों पर चालानी कार्यवाही कर 30 हजार रूपये का शमन शुल्क वसूल किया गया।


राष्ट्रीय पशुधन योजना पर कार्यशाला आयोजित


शासकीय चन्द्रशेखर आजाद स्नातकोत्तर महाविद्यालय में स्वामी विवेकानंद कैरियर मार्गदर्शन के तहत राष्ट्रीय पशुधन योजना पर कार्यशाला आयोजित की गई। इस कार्यशाला के माध्यम से छात्र-छात्राओं को पशुधन क्षेत्र में कैरियर बनाने एवं विभिन्न योजनाओं से प्राप्त होने वाले ऋण की विस्तृत जानकारी दी गई। इस कार्यक्रम से महाविद्यालय के 58 छात्र-छात्रा लाभान्वित हुए। पशुपालन एवं डेयरी विभाग के उपसंचालक डॉ. एकेएस भदौरिया ने छात्रों को भारत की जीडीपी में पशुधन क्षेत्र का महत्व बताया और कहा कि कोरोना काल में भी पशुधन क्षेत्र की विकास दर में वृद्धि दर्ज की गई है।


जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला


पिछले  24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10143 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10021  हैं। आज 714 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 207, श्यामपुर से 195, नसरूल्लागंज से 47, आष्टा से 153, बुधनी से 74 तथा इछावर से 38 सैंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सैंपल 323402 हैं। जिनमें से 312474 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 834 सेंपलो की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 714 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है।


सिंगल यूज पॉलिथीन विक्रेताओं पर कार्यवाही कर लगाया जुर्माना


मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री संदीप श्रीवास्तव के निर्देश पर नगर पालिका अमले द्वारा बाजार में सिंगल यूज़ पॉलिथीन विक्रेताओं के खिलाफ कार्रवाई की गई।  इस कार्यवाही में 100 किलो से अधिक की पॉलीथिन जब्त कर 2500 रुपए का जुर्माना लगाया गया। उक्त कार्रवाई निरंतर जारी रहेगी।


सफाई कर्मियों द्वारा बाजार क्षेत्र में प्रतिदिन की जा रही रात्रिकालीन सफाई


sehore news

कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर के निर्देश पर स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 को दृष्टिगत रखते हुए एवं नगर को स्वच्छ बनाए रखने के लिए नगरपालिका के सफाई कर्मियों द्वारा बाजार क्षेत्र में प्रतिदिन रात के समय में सफाई का कार्य किया जा रहा है। 

कोई टिप्पणी नहीं: