विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 19 जनवरी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 19 जनवरी 2022

विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 19 जनवरी

द्वार-द्वार पहुंचे विधायक भार्गव द्वार द्वार हुआ स्वागत

 

vidisha news
विदिशा:- आपका विधायक आपके द्वार कार्यक्रम के तहत विधायक शशांक भार्गव ने प्रशासनिक अमले के साथ ग्राम लखंगार,तुमैना, हिनोतिया, माला,गुनुआ, चक गुनुआ,खुजरहार पहुंचे और चौपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्याएं सुनकर उनका उचित निराकरण करने के निर्देश मौके पर मौजूद अधिकारियों को दिए। इस दौरान ग्राम माला के  ग्रामीणों ने गांव के बाहर से विधायक की अगवानी ढोल-ढमाकों के साथ की घर-घर विधायक भार्गव सहित उनके साथियों का भव्य स्वागत किया गया। ग्राम माला में 100 से ज्यादा गरीबों को आवास योजना का लाभ दिलवाने के लिए सरपंच रिंकू शर्मा व सचिव को विधायक भार्गव जनपद अध्यक्ष प्रतिनिधि राकेश कटारे ने सम्मानित किया। ग्राम लखंगार में ग्रामीणों ने जीआरएस की शिकायत की अनुपस्थिति की शिकायत की जिस पर विधायक भार्गव ने जनपद सीईओ को शिकायत भेजने की बात कही, आवास योजना में सामुदायिक भवन बनाने का प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए एवं ग्राम में चबूतरा निर्माण के लिए पचास हजार की विधायक निधि की स्वीकृति प्रदान की ग्राम तुमैना में सरकारी जमीन पर मकान बनाकर रह रहे रहवासियों को आवासीय पट्टा प्रदान करने के लिए भूमि नोइयत परिवर्तन करने,एक ट्रांसफार्मर बदलने,पानी की समस्या हल करने के लिए हरिजन बस्ती में नवीन हैंडपंप उत्खनन,आंगनवाड़ी भवन के लिए की मरम्मत के निर्देश दिए। ग्राम हिनोतिया में 63 केवीए ट्रांसफार्मर की क्षमता बढ़ाकर 100 केवीए करने की स्वीकृति विधायक भार्गव ने दी, ग्राम के युवाओं की मांग पर खेल मैदान के लिए जमीन चिन्हित कर सीमांकन करने के निर्देश पटवारी दिए,नल जल योजना में की सूची में ग्राम नाम जुड़वाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। ग्राम माला में आदिम जाति कल्याण विभाग से हरिजन बस्ती में ट्रांसफार्मर रखवाले,माला से आटासेमर रोड निर्माण, सामुदायिक भवन स्वीकृत करवाने के लिए प्रस्ताव बनाने के निर्देश पंचायत सचिव को दिए।स्कूल के पास सीसी सड़क के लिए विधायक निधि से पचास हजार रु की राशि की स्वीकृति प्रदान की। ग्राम गुनुआ में रास्ते से अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए वहीं किसानों की बड़ी समस्या बंदरों को लेकर है जो फसलों को उजाड़ते हैं विधायक भार्गव ने वन विभाग के अधिकारियों से चर्चा कर ग्रामीणों की समस्या से अवगत कराया। ग्राम चक गुनुआ के ग्रामीण विगत कई सालों से पुलिया निर्माण नहीं होने के कारण आवागमन को लेकर परेशान होते थे विधायक निधि की 5.50 लाख रुपए की राशि से पुलिया निर्माण हो जाने के बाद ग्रामीणों का आवागमन आसान हो सका है।आज विधायक के चक्कर में पहुंचने पर ग्रामीणों ने गर्मजोशी से स्वागत कर विधायक भार्गव का आभार जताया साथ ही उन्होंने विद्युत लोड कम होने की परेशानी से विधायक को अवगत कराया जिस पर विधायक भार्गव ने 25 केवीए ट्रांसफार्मर की क्षमता बढ़ाकर 63 केवीए का ट्रांसफार्मर का एस्टीमेट तैयार करने के निर्देश अधिकारियों को दिए जिससे गुनुआ के इंदिरा आवास के लोगों को भी बिजली मिल सकेगी। विधायक भार्गव देर शाम 6 बजे खुजरहार पहुंचे जहां सरकारी रास्ते से अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए ग्रामीणों की मांग पर मंदिर पहुंच मार्ग के लिए एक लाख रुपए की राशि विधायक निधि से स्वीकृत की। ग्राम चौपालों को संबोधित करते हुए विधायक भार्गव ने कहा कि गुलाबगंज क्षेत्र के प्रत्येक ग्राम के समग्र विकास के लिए वे संकल्पित हैं।बहुत से बुनियादी विकास कार्य होना है जो केवल विधायक निधि से पूरे हो पाना संभव नहीं है।विधायक निधि,जनपद निधि,पंचायत निधि,विभागीय योजनाओं के सामूहिक प्रयासों से ही विकास कार्य हो पाना संभव हो सकेगा। जनपद अध्यक्ष प्रतिनिधि राकेश कटारे ने कहा कि प्रत्येक गांव में नाली निर्माण को लेकर विवाद हैं जिन्हें ग्रामवासियों को आपसी समझ के साथ सरपंच और सचिव के द्वारा हल करवाना चाहिए।विधायक महोदय से नाली निर्माण की अपेक्षा छोड़कर बिजली,पानी,सड़क जैसे बुनियादी कार्यों की मांग करना चाहिए ग्राम चौपालों को नंदकिशोर शर्मा, बाबूलाल वर्मा,जसवंत दांगी,आशीष भदौरिया,अजय कटारे,गौरव दांगी,थान सिंह दांगी,नरेंद्र शर्मा ने भी संबोधित करते हुए सभी नागरिकों को मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने का संकल्प लिया। इस अवसर पर अवतार सिंह दांगी,किसान कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष बादल दांगी,सरपंच रिंकू शर्मा,गजेंद्र दांगी,सरफराज खान,मनोज कुशवाह,एड निरंजन दांगी,शेरा मालवीय,राजकुमार डिडोत,सुरजीत दरबार,मनीष विश्वकर्मा सहित बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित रहे।


पांच सौ से अधिक पशुपालकों को केसीसी जारी


vidisha news
जिले में पशुपालन व्यवसाय को संचालन करने वाले पशुपालकों को पशुपालन क्रेडिट कार्ड योजना के तहत विभिन्न बैंको के माध्यम से राशि उपलब्ध कराई जा रही है। पशु चिकित्सा सेवाएं विभाग के उप संचालक श्री ओमप्रकार गौर ने बताया कि इस वित्तीय वर्ष में अब तक 510 पशुपालकों को योजना के तहत केसीसी उपलब्ध कराए गए है। इन पशुपालकों को विभिन्न बैंको के माध्यम से 90 लाख की राशि वितरित की गई है। गौरतलब हो कि पशुपालन क्रेडिट कार्ड योजनातंर्गत विभाग के माध्यम से दस हितग्राहियों को रोजगार मेले में 18-18 रूपए के केसीसी वितरित कराए गए थे जिसमें ग्राम भैरोखेडी के श्री प्रबल और प्रशांत, बडागांव के भगत सिंह, बरखेडा के विजय सिंह, करैया के कमलजीत, अगर सिंह, केसर सिंह तथा सौथर के गजेन्द्र एवं ठर्र के माधव प्रसाद और राहुल शामिल है।


सफलता की कहानी : आजीविका मिशन की मदद से समूह द्वारा डेयरी कार्यो का सफल संचालन


vidisha news
आजीविका मिशन के द्वारा जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में दुग्ध व्यवसाय के संचालन हेतु गठित महिला स्वसहायता समूहो को समय पर दिए गए मार्गदर्शनी सुझाव व मदद से अब जिले के 250 ग्रामो के डेढ हजार समूह सदस्यों के साथ डेयरी व्यवसाय करने में स्व-सहायता समूह द्वारा भाग्योदय प्रोडूसर कंपनी का गठन कर नवाचार ही नही किया बल्कि स्थानीय स्तर की समस्याओं का निदान करते हुए डेयर व्यवसाय उत्पादो के लिए बाजार की उपलब्धता सुनिश्चित कराई है। विदिशा जिले के ग्यारसपुर, लटेरी व विदिशा के ग्रामो में संचालित डेयरी व्यवसाय हेतु स्वंय सहायता समूह का चयन किया गया और उन्हें बकायदा प्रशिक्षित कर आवश्यक उपकरणों जैसे दूध माप, फेट रिकार्ड संधारण, दूध को अधिक समय तक सुरक्षित रखने के संसाधन मुहैया कराए गए है। स्व-सहायता समूहो के सदस्यो द्वारा दूध का उचित मूल्य प्राप्त हो सकें इसके लिए सुन्दर डेयरी ढोलखेडी विदिशा से अनुबंध कर दूध का विक्रय मार्केटिंग कर रहे है। वर्तमान में स्वंय सहायता समूह के सदस्यों द्वारा चार हजार लीटर दूध का संग्रहण कर वितरण कार्य किया जा रहा है। डेयरी कार्यो के सफल संचालन हेतु हितग्राहियो के मोबिलाईजेशन एवं काउंसलिंग में विकासखण्ड प्रबंधक श्रीमती रेखा वर्मा सहित अन्य के द्वारा सतत मदद सहयोग किया जा रहा है। राज्य शासन से डेयरी व्यवसाय हेतु विशेष प्रस्ताव प्रेषित किया गया जिसके फलस्वरूप 50 लाख की स्वीकृति उपरांत यह राशि भाग्योदय प्रोडूसर कंपनी के खाते में हस्तांतरित कराई गई है। मिशन द्वारा स्वंय सहायता समूहों को संवहनीय आजीविका सुनिश्चित करते हुए आर्थिक सुदृढीकरण के निरंतर प्रयास किए जा रहे है। शासन के मंशानुसार स्थानीय स्तर पर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराकर अधिक से अधिक समूहों को आयमूलक गतिविधि से जोडा जा रहा है। स्वंय सहायता समूह द्वारा डेयरी व्यवसाय का कार्य स्वावलम्बन की दिशा में सहायक होगा। 


कोविड केयर सेंटर में स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने संबंधी निर्देश


राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन मप्र संचालक द्वारा जारी पत्र में ई संजीवनी टेलीमेडिसिन एवं ई संजीवनी ओपीडी के माध्यम से जिला कोविड कमाण्ड सेंटर एवं कोविड केयर सेंटर पर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने संबंधी निर्देश दिए गए हैं। जारी पत्र में उल्लेख है कि जिलों में क्रियाशील जिला कोविड कमांड सेंटर एवं कोविड केयर सेंटर को ई संजीवनी कार्यक्रम अंतर्गत स्पोक के रूप में विकसित कर होम आइसोलेटेड एवं कोविड केयर सेंटर में भर्ती कोविड पॉजिटिव केसेस को उपचार सुविधा प्रदान की जाएगी। इस हेतु समस्त जिले व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें, जिससे अधिक से अधिक मरीजों को समय पर उपचारित किए जा सके। डिस्ट्रिक्ट कोविड कमाण्ड सेंटर होम आइसोलेटेड कोविड पॉजिटिव केसेस को आवश्यक उपचार देने हेतु ईसंजीवनी टेलीमेडिसिन स्पोक के रूप में चिन्हित किया गया है। उपरोक्त प्रक्रिया हेतु डिस्ट्रिक्ट कोविड कमाण्ड सेंटर पर पदस्थ चिकित्सक अथवा टेलीकॉलर को ई संजीवनी टेलीमेडिसिन अंतर्गत स्पोक की आईडी प्रदाय की गई है। जिसके माध्यम से जिला चिकित्सालय पर पदस्थ चिकित्सक से परामर्श कर उपचार प्रदाय किया जाएगा। डिस्ट्रिक्ट कोविड कमाण्ड सेंटर पर पदस्थ चिकित्सक टेलीकॉलर होम आइसोलेशन के कोविड पॉजिटिव केसेस को उनकी स्वास्थ्य की स्थिति जानने के लिए कॉल करेंगे। यदि किसी कोविड पॉजिटिव मरीज को उपचार की आवश्यकता है तो ई संजीवनी टेलीमेडिसिन अंतर्गत प्रदाय की गई स्पोक की आईडी से जिला चिकित्सालय में स्थापित हब में कॉल कर चिकित्सक से परामर्श लिया जाएगा। चिकित्सक के परामर्श अनुसार प्रदाय किए गए उपचार से कोविड पॉजिटिव मरीज को परामर्श अनुसार प्रस्तावित की गई औषधियों को मोबाइल मेडिकल टीम द्वारा अनिवार्यता घर पर पहुंचाना सुनिश्चित करेंगे। इसी प्रकार जिला स्तर पर जिला चिकित्सालय के अतिरिक्त सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र या अन्य भवन में कोविड केयर सेंटर स्थापित किए गए हैं इन केंद्रों में गंभीर लक्षण वाले कोविड पॉजिटिव मरीजों को भर्ती कर उपचार प्रदान किया जा रहा है। विभाग द्वारा जिला चिकित्सालय के अतिरिक्त संचालित कोविड केयर सेंटर को ई संजीवनी टेलीमेडिसिन स्पोक के रूप में चिन्हित किया गया है। संजीवनी स्पोक के रूप में चिन्हित कोविड केयर सेंटर में भर्ती मरीज को आवश्यकता होने पर संस्था पर पदस्थ चिकित्सक अथवा स्टाफ द्वारा जिला चिकित्सालय के ई संजीवनी हाल के माध्यम से विशेषज्ञ चिकित्सा परामर्श एवं उपचार हेतु टेलीकंसल्टेशन किया जाएगा।


ई-संजीवनी ओपीडी ऐप

होम आइसोलेटेड कोविड पॉजिटिव मरीज स्वयं चिकित्सक से परामर्श एवं उपचार हेतु टेलीकंसल्टेशन करना चाहता है तो डिस्ट्रिक्ट कोविड कमांड सेंटर पर पदस्थ टेलीकॉलर द्वारा ई संजीवनी ओपीडी ऐप में पंजीयन की प्रक्रिया समझाकर उपचार एवं नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र से औषधि प्राप्त करने संबंधी जानकारी प्रदान की जाएगी। 


112 सेम्पल पॉजिटिव


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी श्री अखण्ड प्रताप सिंह ने बताया कि विदिशा जिले में बुधवार 19 जनवरी को 112 सेम्पल कोरोना पॉजिटिव प्राप्त हुए है। जिसमें सर्वाधिक विदिशा विकासखण्ड में 56 और सबसे कम नटेरन में 01 सेम्पल पॉजिटिव प्राप्त हुआ है इसके अलावा बासौदा में 33, सिरोंज 12, ग्यारसपुर में 06 तथा लटेरी में 04 सेम्पल पॉजिटिव प्राप्त हुए है।


उचित मूल्य दुकान का निरीक्षण


vidisha news
कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव के द्वारा दिए गए निर्देशो के अनुपालन में जिले में संचालित हो रही सभी उचित मूल्य दुकानो के निरीक्षण की प्रक्रिया राजस्व अमले के अलावा अन्य विभागो के द्वारा संचालित की जा रही है विदिशा नगरपालिका के वार्ड पांच गुप्तेश्वर मंदिर के समीप संचालित पीडीएस उचित मूल्य दुकान का निरीक्षण विदिशा शहरी तहसीलदार श्रीमती सरोज अग्निवंशी के द्वारा बुधवार को किया गया है शासकीय उचित मूल्य दुकान में संधारित विभिन्न पंजियों का उनके द्वारा जायजा लिया गया व स्टॉक संधारण, वितरण प्रक्रिया की अद्यतन जानकारी अभिलेखो का भी निरीक्षण किया गया है। 


शिकायतों के निराकरण पर विशेष जोर दें अधिकारी -अपर कलेक्टर


vidisha news
पीएम किसान कल्याण योजना एवं सीएम कल्याण योजना के तहत दर्ज शिकायतों का शत प्रतिशत निराकरण कराया जाना सुनिश्चित हो। निराकरण में होने वाली दिक्कतों का समाधान आज वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने समीक्षात्मक बैठक के दौरान संबंधित राजस्व अधिकारियों को दिए है। अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री कृषक कल्याण योजना की शिकायतों में वृद्धि हो रही है इनके निराकरण हेतु अब प्रति मंगलवार को प्रत्येक तहसील में केम्प आयोजित किए जाएंगे। यह सूचना हर स्तर तक पहुंचे के पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित कराने के निर्देश उन्होंने दिए है। अपर कलेक्टर श्री वृदांवनिंसंह ने कहा कि सीएम हेल्पलाइन, जनसुनवाई एवं व्यक्तिगत आवेदकों द्वारा उल्लेखित योजना के लाभ संबंधी शिकायते दर्ज कराई जा रही है जिनका परीक्षण कराने पर यह स्थिति स्पष्ट हुई है कि राजस्व अधिकारियों एवं पटवारियों को प्रक्रिया के संबंध में अपूर्ण जानकारी एवं भ्रम होना। दोनो योजनाओं में पात्रता एवं अपात्रता के संबंध में सम्पूर्ण जानकारी ना होने के कारण तथा कृषक को योजना की पूर्ण जानकारी सुगमता से उपलब्ध नही कराने के कारण उल्लेखित योजनाओं की शिकायतों में वृद्धि हो रही है। शिकायतो के निराकरण हेतु विशेष अभियान संचालित कर केम्प आयोजित करने के संबंध में जो दिशा निर्देश व्हीसी के माध्यम से अपर कलेक्टर द्वारा समस्त एसडीएम सहित अन्य राजस्व अधिकारियों को दिए गए है उनमें प्रत्येक मंगलवार को शिकायतो के निराकरण हेतु पूर्वान्ह 11 बजे से अपरान्ह दो बजे के मध्य विशेष केम्प का आयोजन बैनर लगाकर किया जाए ताकि केम्प किस उद्धेश्य की प्राप्ति हेतु आयोजित हो रहा है कि जानकारी एक दृश्य में आमजन समझ सकें। इन केम्पो में कृषकों को केम्प संबंधी सूचना हेतु विभिन्न मीडिया, व्हाटसअप ग्रुप एवं सचिव, सरपंच के व्हाटएप ग्रुप के माध्यम से भी प्रचार-प्रसार किया जायें। अपर कलेक्टर श्री वृदांवनिंसंह ने पटवारियों को जिन कृषकों की समस्याओं के बारे में ज्ञात है उन्हें भी इस केम्प में अनिवार्य रूप से बुलाया जाए। उपरोक्त केम्पो में समस्त राजस्व अधिकारियों, पटवचारियों एवं कम्प्यूटर आपरेटर मय कम्प्यूटर लेपटॉप सहित उपस्थित होना सुनिश्चित करेंगे। शिकायतों का एक ही दिवस में निराकरण किया जाए और की गई कार्यवाही की लिखित सूचना आवेदक को उपलब्ध कराई जाए। पुनः मौखिक तौर से ही आवेदक को ना बताया जाए। लिखित सूचना देना आवश्यक है। पीएम किसान कल्याण योजना एवं सीएम कल्याण योजना अंतर्गत अपात्र है उन्हें अपात्रता का कारण बताते हुए लिखित सूचना उपलब्ध कराई जाए। आयोजित होने वाले उपरोक्त केम्पों के समन्वय हेतु अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को अधिकृत किया गया है। अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने बताया कि जिला स्तर पर सहयोग हेतु राजस्व निरीक्षकों को जबावदेंही सौंपी गई हैं जिसमें श्री अभिनव रिछारिया 7587976700 तथा डाटा एन्ट्री आपरेटर श्री गगन वर्मा 9179185583, तकनीकी निदान हेतु तत्परतापूर्वक सहयोग हेतु उपलब्ध रहेंगे। शिविर संबंधी कार्यो को सर्वोच्च प्राथमिकता से सफलतापूर्वक आयोजन करने हेतु सम्पूर्ण प्राथमिकता से दायित्वों का निर्वहन करने, आवेदकों को निराकरण वस्तुस्थिति से अवगत कराने की जबावदेंही भी जिम्मेदार अधिकारी, कर्मचारियों को प्रत्येक शिविर हेतु सौंपी जाए। इस कार्य में अनुपस्थित रहने, कार्य पूर्ण ना करने एवं उदासीनता बरतने पर संबंधित के विरूद्व अनुशासनात्मक कार्यवाही कर जिला कार्यालय को अवगत कराने के निर्देश प्रसारित किए गए है। 


आपके द्वार आयुष्मान अभियान का क्रियान्वयन जारी


आपके द्वार-आयुष्मान अभियान का क्रियान्वयन विदिशा जिले में भी 26 जनवरी तक किया जाएगा कि जानकारी देते मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अखण्ड प्रताप सिंह ने बताया कि आयुष्मान भारत निरामय योजनांतर्गत पात्र हितग्राहियों के निःशुल्क आयुष्मान कार्ड बनाए जाने का कार्य जारी है इसके लिए जिले के प्रत्येक ग्राम स्तर तक आपके द्वार आयुष्मान अभियान जारी किया जा रहा हैं उक्त अभियान के अंतर्गत कॉमन सर्विस सेन्टर (सीएससी), लोक सेवा केन्द्रो तथा ग्राम रोजगार सहायकों के माध्यम से आयुष्मान कार्ड बनाए जाने हेतु सहयोग लिया जा रहा है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अखण्ड प्रताप सिंह ने बताया कि विदिशा जिले को नौ लाख 41 हजार 510 आयुष्मान कार्ड बनाए जाने का लक्ष्य प्राप्त हुआ है जिसमें से अब तक चार लाख 88 हजार 205 आयुष्मान कार्ड तैयार कर संबंधितों को वितरित किए जा चुके है जो लक्ष्य का 51.85 प्रतिशत है। गौरतलब हो कि आयुष्मान भारत निरामय योजना के अंतर्गत पात्र परिवार को प्रति वर्ष पांच लाख रूपए तक का निःशुल्क उपचार की सुविधा मुहैया कराई गई है। 


पात्र हितग्राहियों को डाटा उपलब्ध कराने के निर्देश


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने जिले के समस्त जनपदो एवं निकायो के अधिकारियों को निर्देश दिए है कि आयुष्मान योजनातंर्गत पात्र हितग्राहियों को एसईसीसी 2011 का डाटा उपलब्ध कराएं ताकि पात्र हितग्राहियों के आयुष्मान कार्ड तैयार कर उपलब्ध कराए जा सकें। कलेक्टर श्री भार्गव ने उपरोक्त कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता से समय सीमा में लक्ष्यों की पूर्ति सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए है। जिले में आयुष्मान कार्ड बनाए जाने का कार्य शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में जनसेवा केन्द्रो के माध्यम से बीएलई द्वारा किए जा रहे है इसके लिए हितग्राहियों का डाटा की जानकारी ग्राम पंचायत स्तर के सचिवों, रोजगार सहायको के लॉगिग पासवर्ड से तथा नगरीय क्षेत्रो की जानकारी वार्डवार नगरीय निकाय के लॉगिग से एक्सल सीट में डाउनलोड कर उपलब्ध कराने हेतु निर्देशित किया गया है।


कलेक्टर, कमिश्नर्स वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग आज


मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान की अध्यक्षता में कमिश्नर्स, कलेक्टर्स, पुलिस महानिरीक्षक व पुलिस अधीक्षक कॉन्फ्रेंस समीक्षा बैठक आज 20 जनवरी को आयोजित की गई है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान जिले में स्थित परिसंपत्तियों को लोक परिसंपत्ति प्रबंधन विभाग के पोर्टल पर दर्ज करने के विषय पर समीक्षा की जाएगी।


तीस हजार 283 हेक्टेयर क्षेत्र में उद्यानिकी फसलें ली


जिले में 2020-21 में 29 हजार 946 हेक्टेयर क्षेत्र में उद्यानिकी फसलें लेकर तीन लाख 92 हजार 574 मैट्रिक टन फल, सब्जियों, मसालो, पुष्प एवं औषधियों का उत्पादन लिया गया है। उद्यानिकी विभाग के सहायक संचालक श्री केएल व्यास से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में वर्ष 2020-21 में सात हजार 697 हेक्टेयर क्षेत्र में फलों की खेती कर 137 हजार 730 मैट्रिक टन फलों का उत्पादन किया गया है। इसी प्रकार 14 हजार 922 हेक्टेयर क्षेत्र में सब्जियों की खेती करके दो लाख 18 हजार 433 मैट्रिक टन सब्जियों का उत्पादन लिया गया है। 378 मैट्रिक टन पुष्पों का उत्पादन लिया गया है। 68 हेक्टेयर क्षेत्र में औषधी खेती कर 43 मैट्रिक टन औषधियों का उत्पादन प्राप्त किया है।


कोरोना से बचाव हेतु जन अभियान के वालंटियर्स चला रहे जनजागरूकता अभियान


ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्रों में जन अभियान परिषद के कोरोना वालंटियर्स के प्रयास से कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सतत जनजागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। कोरोना वालंटियर्स नगरीय निकाय एवं ग्राम पंचायतों को सहयोग कर स्वैच्छिक सहयोग प्रदान कर रहे हैं। वालंटियर्स द्वारा लोगों को कोविड वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करने के साथ ही कोविड अनुकूल व्यवहार के पालन, रोको-टोको अभियान के तहत लोगों को फेस मास्क पहनने, सुरक्षित शारीरिक दूरी का पालन करने के बारे में समझाईश दी जा रही है। इस तरह कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए वालंटियर्स अपना अतुलनीय सहयोग दे रहे हैं। मैं कोरोना वालंटियर्स अभियान अंतर्गत जिला प्रशासन द्वारा चलाए जा रहे रोको-टोको अभियान के अंतर्गत प्रशासन की टीम को सहयोग करते हुए राहगीरों को कोरोना से बचाव के लिए जागरूक करने के साथ ही निःशुल्क मास्क का वितरण किया जा रहा है। जन अभियान परिषद के जिला समन्वयक श्रीमती पूजा श्रीवास्तव के नेतृत्व में कोरोना वालंटियर जन जागरूकता के तहत दीवार लेखन कर कोरोना से बचाव के स्लोगन लेखन कर लोगों को प्रेरित किया जा रहा है। जिससे लोगों को प्रेरणा मिल सके। कोरोना वालंटियर्स द्वारा कोविड वैक्सीनेशन कार्य में दी जा रही सेवाएं उल्लेखनीय है।

कोई टिप्पणी नहीं: