बिहार : BJP विधायक रश्मि वर्मा नहीं देंगी इस्तीफा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 9 जनवरी 2022

बिहार : BJP विधायक रश्मि वर्मा नहीं देंगी इस्तीफा

bjp-mla-rashmi-verma-will-not-resign
पटना : पश्चिमी चम्पारण के नरकटियागंज से भाजपा विधायक रश्मि वर्मा ने अपना इस्तीफा वापिस ले ली है। विधायक का इस्तीफा विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा तक नहीं पहुंचा है। इस्तीफा वापिस लेने की जानकारी देते हुए भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल ने कहा कि वे निजी कारणों से आवेश में आकर ऐसा करने जा रही थी। जायसवाल ने कहा कि परिवारिक विवाद में किसी परिजन की टिप्पणी से आहत होकर उन्होंने इस्तीफा पत्र लिखा था। अब इस विषय में उनसे बात हो चुकी है, जल्द ही वे बेतिया वापस आ रही हैं। पत्र लिखने का कारण पारिवारिक है, इसका कोई राजनीतिक मतलब नहीं निकालना चाहिए। इसलिए अब इस प्रकरण को बंद समझा जाए। जायसवाल ने आगे कहा कि अगर वे अफसरशाही को लेकर नाराज हैं, तो वरीय पदाधिकारी से बात कर मसले को सुलझाया जा सकता है। भाजपा परिवार से उन्हें कोई दिक्कत नहीं है, न भाजपा परिवार को उनसे तनिक समस्या है। बता दें कि इस्तीफे की बात अचानक सामने आने के बाद भाजपा के किसी भी नेता को इस बारे कुछ जानकारी नहीं थी। पार्टी नेता भी इस्तीफे की वजह नहीं जान रहे थे। वहीं, इस्तीफे की बात सामने आने के बाद NDA के अंदर बेचैनी बढ़ गई थी। बता दें कि रश्मि 2014 में जदयू से भाजपा में शामिल हुईं थीं और उपचुनाव में भाजपा के सिंबल पर चुनाव लड़कर नौ माह के लिए विधायक बनीं थीं। इसके बाद 2015 के चुनाव में भाजपा से टिकट नहीं मिलने के बाद निर्दलीय चुनाव मैदान में उतरी थी। इसी चुनाव में रश्मि वर्मा के जेठ विनय वर्मा कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़े और जीते थे। उन्हें 57 हजार 212 वोट मिले। निर्दलीय चुनाव लड़ी रश्मि वर्मा को 39 हजार 200 और भाजपा की प्रत्याशी रेणु देवी को 41 हजार 151 वोट मिले थे।

कोई टिप्पणी नहीं: