मधुबनी : रेड क्रॉस सोसायटी प्रबंध कार्यकारिणी समिति की बैठक - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 22 जनवरी 2022

मधुबनी : रेड क्रॉस सोसायटी प्रबंध कार्यकारिणी समिति की बैठक

madhubani-red-cross-meeting
मधुबनी : जिला पदाधिकारी, मधुबनी की अध्यक्षता में भारतीय रेड क्रॉस सोसायटी, जिला शाखा, मधुबनी के प्रबंध कार्यकारिणी समिति की बैठक समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में आयोजित हुई। उक्त बैठक के दौरान पूर्व में लिए गए निर्णय की समीक्षा की गई और नए निर्णय भी लिए गए। जिलाधिकारी महोदय ने कोरोना काल के दौरान रेड क्रॉस के द्वारा किए गए प्रयास की सराहना की और नई भूमिकाओं की तलाश पर भी बल दिया। उन्होंने रेड क्रॉस सोसायटी से युवाओं को जोड़ने के विभिन्न उपायों पर भी कदम उठाए जाने के निर्देश दिए हैं, जिनसे रेड क्रॉस की भूमिका और प्रभावी होकर दृष्टिगोचर हो सके। उन्होंने कहा कि आज के दौर में रेड क्रॉस सोसायटी की भूमिका केवल चिकित्सा सेवा उपलब्ध कराने तक सीमित नहीं हो सकती है, बल्कि इससे आगे बढ़कर बाढ़ जैसी अन्य विपत्तियों को स्थिति हमें वॉलंटियर्स की एक नई पौध खड़ी करनी होगी। उन्होंने कहा कि रेड क्रॉस के द्वारा जन जागरूकता के लिए व्यापक कदम उठाए जाने की जरूरत है। इसके लिए कोरोना से बचने के उपायों को जन जन तक पंहुचाने के दृष्टिकोण से माइकिंग करवाई जाए। रेड क्रॉस भवन की आंतरिक साज सज्जा को भी दुरुस्त करने के निर्देश दिए गए हैं। बैठक में दिशाबोध कराते हुए उन्होंने कहा है कि किसी व्यस्त चौराहे का सौंदर्यीकरण कर उसे रेड क्रॉस सोसायटी के नाम पर रखा जाना चाहिए। इससे रेड क्रॉस सोसायटी के प्रति लोगों की जागरूकता बढ़ेगी और युवाओं को नए सदस्य बनने के लिए प्रेरित किया जा सकेगा। उक्त बैठक में श्री गिरीश पाण्डेय, सचिव, भारतीय रेड क्रॉस सोसायटी, जिला शाखा, मधुबनी, श्री सुनील कुमार झा, सिविल सर्जन, मधुबनी के साथ साथ सदस्यों में श्री नरेंद्र नारायण सिंह निराला, श्री सुरेंद्र रंजन दास, श्री अरविंद कुमार ठाकुर, श्री प्रहलाद कुमार, श्री चंद्रशेखर झा आजाद, मो. जहीर परसौनवी आदि मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं: