प्रतापगढ़ : अपर जिला न्यायाधीश तम्बोली ने शिविर आयोजन किया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 12 जनवरी 2022

प्रतापगढ़ : अपर जिला न्यायाधीश तम्बोली ने शिविर आयोजन किया

legel-awarenes-pratapgadh
रालसा द्वारा जारी एक्शन प्लान की रोशनी में आज दिनांक 12.01.2022 को प्रतापगढ़ विधिक सेवा प्राधिकरण के श्री सचिव शिवप्रसाद तम्बोली (अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश) प्रतापगढ़ ने ग्राम आमलीखेड़ा जिला प्रतापगढ़ आम चौराहे बस स्टेण्ड स्थित प्रतिक्षालय पर विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया। प्राधिकरण सचिव श्री तम्बोली ने आज ग्राम आमलीखेड़ा में जागरूकता शिविर का आयोजन किया। जिसमें सार्वजनिक स्थान पर आम जन को एकत्र करते हुए विभिन्न कानूनी जानकारियों से अवगत कराया गया। उपस्थित आम जन को माननीय राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जयपुर द्वारा संचालित पीड़ित प्रतिकर स्कीम 2011 के बारे में जानकारी प्रदान की। साक्षी संरक्षण स्कीम की जानकारी भी आमजन को दी। इसी के साथ आयोजित शिविर में बाल विवाह निषेध कानून, मृत्यु भोज निषेध कानून, कन्या भु्रण हत्या निषेध कानून एवं मोटर वाहन अधिनियम आदि के बारे में कानूनी जानकारियां भी दी गई। इसी के साथ जिला मुख्यालय पर संचालित बड़ौदा स्वरोजगार विकास संस्थान द्वारा संचालित अगरबत्ती निर्माण, सिलाई, वर्मी कम्पोस्ट बनाना आदि का निःशुल्क प्रशिक्षण दिया जाता है, इस बारे में भी बताया। इसके अलावा प्राधिकरण सचिव द्वारा खेती में रासायनिक खाद व रासायनिक कीटनाशक के स्थान पर जैविक खाद व देशी कीटनाशक के प्रयोग पर जोर दिया। सचिव ने किस प्रकार देशी कीटनाशक नीम की पत्तियों, निम्बोली, फीटकरी, व देशी गाय के मुत्र से बनाया जा जा सकता है और बीजोपचार देशी गाय के मूत्र से किया जा सकता है, इस बारे में भी बताया गया।

कोई टिप्पणी नहीं: