मधुबनी : जागरूक मतदाता लोकतंत्र की शान : डीएम - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 25 जनवरी 2022

मधुबनी : जागरूक मतदाता लोकतंत्र की शान : डीएम

voters-day-in-madhubani
मधुबनी, आज दिनांक 25 जनवरी 2022 को श्री अमित कुमार, भा. प्र. से. जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी, मधुबनी द्वारा समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में दीप जलाकर राष्ट्रीय मतदाता दिवस समारोह का शुभारंभ किया गया। बताते चलें कि वर्ष 2011 से प्रत्येक वर्ष राष्ट्रीय मतदाता दिवस समारोह मनाया जाता है। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने जिले के संदेश आधारित डॉक्यूमेंट्री जारी की और जिले तथा विदेश के विभिन्न क्षेत्रों से संबंधित मतदाताओं से भी ऑनलाइन मुखातिब हुए। अपने संबोधन में जिलाधिकारी ने कहा कि विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र को उसकी ताकत मतदाताओं से मिलती है। भारत के निर्वाचन आयोग द्वारा देश में लोकतांत्रिक व्यवस्था को और भी मजबूत करने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। इस दिशा में समावेशी, सुगम और सभागिता युक्त मतदान के लक्ष्य को हासिल करने के लिए सतत प्रयास किए जा रहे हैं।  समावेशी मतदान को सुनिश्चित करने के लिए हमारे देश में प्रत्येक व्यक्ति के मत का अधिकार समान है। चाहे वह किसी भी पद या आर्थिक स्थिति में क्यों न हों, सभी लोगों के मत का मूल्य समान है। दुनिया में समान मताधिकार के लिए लंबे संघर्ष हुए, परंतु भारत में हमें यह हमारी आजादी के साथ ही मिली है। हमें इसकी कीमत समझनी होगी। जहां तक सुगम मतदान की बात है, आज हर मतदान केंद्र सभी प्रकार के लोगों के लिए सुगम हों, ये सुनिश्चित किया जाता है। विशेष रूप से दिव्यांग और अधिक उम्र के मतदाताओं के लिए विशेष सुविधाएं मुहैया कराई जाती हैं। मतदान में सबकी सहभागिता हो, इसके लिए हमें जागरूक होना होगा। हमें चुनाव में मतदान को अपने परम कर्तव्य के रूप में समझना होगा। नए मतदाता जुड़े और मतदान की प्रक्रिया में अभिरुचि लें, यह अत्यंत आवश्यक है। जिलाधिकारी ने स्पष्ट किया कि प्रत्येक अधिकार के साथ हमें कर्तव्य भी निभाने होते हैं। ठीक इसी प्रकार चुनाव में जाति, धर्म व निजी संबंधों से ऊपर उठकर सही प्रत्याशी को चुनना हमारा नैतिक कर्तव्य है। एक सही जन प्रतिनिधि जन अपेक्षाओं को पूरा कर सकेगा और लोकतंत्र को अधिक मजबूती मिलेगी। जिलाधिकारी द्वारा इस मौके पर बेहतर कार्य करने वाले कुछ बीएलओ को भी प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।  इस मौके पर श्री अवधेश राम, अपर समाहर्ता, मधुबनी, श्री विशाल राज, उप विकास आयुक्त, मधुबनी, श्री सुरेन्द्र राय, विशेष कार्य पदाधिकारी, जिला गोपनीय शाखा, मधुबनी, श्री शैलेंद्र कुमार, जिला पंचायती राज सह सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी, मधुबनी, श्री विवेक कुमार, उप निर्वाचन पदाधिकारी, मधुबनी के साथ साथ जिले के सभी वरीय पदाधिकारी उपस्थित थे। इस अवसर पर ऑनलाइन गूगल मीट से श्री शम्स आलम शेख, विश्व विख्यात पारा ओलंपियन व स्वीप आइकॉन, मधुबनी, श्रीमति खुशबू मिश्रा खुशी, सिंगापुर से, शारदा झा, शिक्षिका, अभिषेक कुमार राय, चित्रकार व बड़ी संख्या में युवा और जिले के बीएलओ सहभागी बने।

कोई टिप्पणी नहीं: