कोहली बेहतरीन कप्तानों में से एक, युगों में पैदा होता ऐसा क्रिकेटर - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 16 जनवरी 2022

कोहली बेहतरीन कप्तानों में से एक, युगों में पैदा होता ऐसा क्रिकेटर

kohli-one-of-the-best-captan-bcci
नयी दिल्ली, 16 जनवरी, विराट कोहली के कप्तान पद से हटने के एक दिन बाद भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने उन्हें ‘सबसे बेहतरीन कप्तानों में से एक’ करार देते हुए रविवार को कहा कि यह उनका व्यक्तिगत फैसला है जिसका क्रिकेट संस्था सम्मान करती है। कोहली ने शनिवार को भारत के सबसे सफल कप्तान के रूप में सात साल के अपने कप्तानी करियर का अंत कर दिया था। इससे एक दिन पहले भारतीय टीम को दक्षिण अफ्रीका से श्रृंखला में 1-2 से हार का सामना करना पड़ा था। कोहली के नेतृत्व में भारत ने 68 टेस्ट मैच खेले जिनमें से 40 में उसे जीत मिली। उनकी अगुवाई में टीम ने इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया में यादगार जीत दर्ज की। बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने एक बयान में कहा, ‘‘विराट का भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान के रूप में अपार योगदान के लिये मैं व्यक्तिगत रूप से उनका आभार व्यक्त करता हूं। उनकी अगुवाई में भारतीय क्रिकेट टीम ने खेल के सभी प्रारूपों में तेजी से प्रगति की। उनका निर्णय व्यक्तिगत है और बीसीसीआई इसका पूरा सम्मान करता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘वह इस टीम के बहुत ही महत्वपूर्ण सदस्य बने रहेंगे और एक नये कप्तान की अगुवाई में खेलते हुए बल्लेबाजी में अपने योगदान से टीम को नयी ऊंचाइयों पर ले जाएंगे। हर अच्छी चीज का अंत होता है और इसका अंत सुखद रहा।’’ बीसीसीआई के साथ कोहली के तनावपूर्ण संबंधों ने हाल ही में तब सुर्खियां बटोरी जब स्टार बल्लेबाज ने टी20 कप्तानी छोड़ दी और बाद में उन्हें एकदिवसीय कप्तान के पद से बर्खास्त कर दिया गया था। गांगुली ने कहा था कि उन्होंने कोहली से टी20 टीम की कप्तानी नहीं छोड़ने का अनुरोध किया था, जिसका कोहली ने खंडन किया था। कोहली भारत के सबसे सफल टेस्ट कप्तान हैं। उनके बाद महेंद्र सिंह धोनी (27 जीत) और गांगुली (21 जीत) का नंबर आता है।


बीसीसीआई सचिव जय शाह ने कहा, ‘‘विराट कोहली भारतीय क्रिकेट टीम के बेहतरीन कप्तानों में से एक रहे हैं। एक कप्तान के रूप में उनका रिकॉर्ड और योगदान किसी से कमतर नहीं है। उनके नेतृत्व में भारत ने 40 टेस्ट मैचों में जीत हासिल की जो इस बात का प्रमाण है कि उन्होंने कितने शानदार तरीके से नेतृत्व किया। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम विराट को भविष्य के लिये शुभकामनाएं देते हैं और उम्मीद करते हैं कि वह भारतीय टीम में अपना योगदान देना जारी रखेंगे।’’ कोहली के नेतृत्व में भारत ने 2018 में आस्ट्रेलिया में पहली टेस्ट श्रृंखला और वेस्टंडीज में श्रृंखला जीती तथा टेस्ट रैंकिंग में नंबर एक स्थान हासिल किया। उनकी अगुवाई में टीम 2021 में पहली आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंची थी। बीसीसीआई के उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला ने कहा, ‘‘विराट जैसा क्रिकेटर युगों में एक बार पैदा होता है और भारतीय क्रिकेट भाग्यशाली है कि उसे उनके जैसा कप्तान मिला। उन्होंने जुनून और आक्रामक अंदाज में टीम की कप्तानी की तथा देश और विदेश में भारत की कई यादगार जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी। हम उनके आगे के करियर के लिये शुभकामनाएं देते हैं।’’ कोहली टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक जीत दर्ज करने वाले कप्तानों की सूची में दक्षिण अफ्रीका के ग्रीम स्मिथ (53) तथा आस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग (48) और स्टीव वॉ (41) के बाद चौथे स्थान पर हैं। बीसीसीआई कोषाध्यक्ष अरुण सिंह धूमल ने कहा, ‘‘अपने कभी हार नहीं मानने के जज्बे के साथ एक कप्तान के रूप में विराट ने टीम पर सब कुछ न्योछावर कर दिया और उनका शानदार रिकॉर्ड इसकी कहानी बयां करता है। उन्होंने कप्तान बनने पर सुनिश्चित किया कि भारत हमेशा उत्कृष्ट बनने के लिये प्रयास करे और विश्व क्रिकेट पर हावी रहे।’’ सीमित ओवरों की तरह टेस्ट क्रिकेट में भी कोहली की जगह रोहित शर्मा को कप्तान नियुक्त किया जा सकता है।

कोई टिप्पणी नहीं: