श्रीलंका की अदालत ने 12 भारतीय मछुआरों को रिहा किया - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 6 जनवरी 2022

श्रीलंका की अदालत ने 12 भारतीय मछुआरों को रिहा किया

srilanka-release-12-indian-fisherman
कोलंबो, छह जनवरी, श्रीलंका की एक अदालत ने उन 12 भारतीय मछुआरों को रिहा कर दिया है, जिन्हें देश के जलक्षेत्र में मछली पकड़ने के आरोप में हिरासत में लिया गया था। यहां भारतीय उच्चायोग इन मछुआरों को तमिलनाडु भेजने के लिए कदम उठा रहा है। मन्नार की अदालत द्वारा रिहा किए गए मछुआरों को श्रीलंका की नौसेना ने 19 दिसंबर, 2021 को मन्नार में हिरासत में लिया था। जाफना में भारत के वाणिज्य दूतावास ने ट्विटर पर कहा, ‘‘हिरासत में लिए गए इन 12 मछुआरों को बृहस्पतिवार को मन्नार अदालत ने रिहा कर दिया। जाफना में महावाणिज्य दूतावास (सीजी जाफना) ने अदालत में मछुआरों के मामलों का प्रतिनिधित्व कर उन्हें कानूनी सहायता प्रदान की और उनकी शीघ्र रिहाई में मदद की।’’ इससे पहले, यहां भारतीय उच्चायोग ने ट्विटर पर कहा कि ‘‘मन्नार में अपने वकील से यह जानकर खुशी हुई कि तमिलनाडु के 13 भारतीय मछुआरों को रिहा किया जा रहा है।’’ भारतीय उच्चायोग ने कहा कि ‘‘अदालत के फैसले के तुरंत बाद हमारे अधिकारी ने भारतीय मछुआरों से मुलाकात की और उन्हें मिठाई दी। हम उनकी जल्द वापसी के लिए कदम उठा रहे हैं।’’ पिछले महीने भारत ने श्रीलंका के अधिकारियों द्वारा तमिलनाडु के 68 मछुआरों को हिरासत में लिए जाने पर चिंता व्यक्त की थी और कहा था कि मछुआरों की ‘‘जल्द रिहाई’’ का मुद्दा श्रीलंका के समक्ष उठाया गया है। मछुआरों का मुद्दा भारत और श्रीलंका के संबंधों में अड़चनों में से एक बना हुआ है।

कोई टिप्पणी नहीं: