पत्रकार मणि आर्य के घर पर अपराधियों का का जानलेवा हमला - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 10 फ़रवरी 2022

पत्रकार मणि आर्य के घर पर अपराधियों का का जानलेवा हमला

  • दागी नबी करीम थानाध्यक्ष अशोक कुमार कर रहे हैं पत्रकार मणि आर्य की हत्या का इंतज़ार

journalist-mani-arya-attacked
नई दिल्ली।  राजधानी दिल्ली के प्रतिष्ठित पत्रकार क्राइम हिलोरे समाचार ग्रुप के प्रबंध सम्पादक एवं कई राष्ट्रीय न्यूज़ चैनलों में रहे मणि आर्य  के घर पर स्थानीय शातिर अपराधियों ने संगठित अपराध के तहत मिलकर घर पर जानलेवा हमला किया है। पुलिस कंट्रोल रूम में दो बार शिकायत के बावजूद अभी तक नामजद अपराधियों के खिलाफ स्थानीय नबी करीम थानाध्यक्ष अशोक कुमार के संरक्षण में एफ आर आर तक दर्ज़ नहीं की है बल्कि थानाध्यक्ष ने प्रत्यक्ष पत्रकार मणि आर्य को क्रास केस की धमकी देते हुए कहा कि आपके खिलाफ भी कार्रवाई मैं कर सकता हूँ सच्ची हो या जूठी वरना आप समझौता कर लो ? इसका स्पष्ट प्रमाण है की थानाध्यक्ष अशोक कुमार अपराधियों के साथ खड़े दिखाई देते हैं। बहराल पत्रकार मणि आर्य ने अब कोर्ट की तरफ रुख करने का मन बना लिया है क्योंकि पुलिस कमिशनर और स्थानीय मध्य जिला पोलिसे की डी सी पी तो कोई संरक्षण पत्रकार को देना ही नहीं चाहती इसलिए बार बार हमला होता है शायद पुलिस राजधानी दिल्ली में भी अपराधियो को संरक्षण देकर पत्रकार की हत्या होने का इंतज़ार कर रही है क्योंकि अवैध कमाई पहले बाद में पत्रकार अथवा नागरिक की रक्षा यही स्लोगन दिल्ली पुलिस का रह गया है। विश्व पत्रकार महासंघ दिल्ली प्रदेश के अध्यक्ष विक्रम गोस्वामी ने पत्रकार के घर पर हुए हमले की घोर निंदा करते हुए पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना से दोषियों के खिलाफ केस दर्ज़ करने और सख्त कार्रवाई की मांग की है।  वहीं  नेशनल यूनियन ऑफ़ जर्नलिस्ट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष रास बिहारी ने भी राजधानी दिल्ली में पत्रकार के घर पर हुए जानलेवा हमले की निंदा करते हुए कहा है की दोषियों के खिलाफ स्थानीय पुलिस कार्रवाई करे अन्यथा पत्रकार आंदोलन होगा जिसकी जवाबदेही दिल्ली पुलिस की होगी। उन्होंने कहा कि की वह इस बाबत जल्द पुलिस कमिश्नर और गृह मंत्री समेत डी सी पी को पत्र लिखकर कार्रवाई की मांग पत्रकार पर हमला करने वाले अपराधियों के खिलाफ करेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: