बिहार : तारापुर विधायक राजीव सिंह की बेटी का यूक्रेन से रेस्क्यू - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 26 फ़रवरी 2022

बिहार : तारापुर विधायक राजीव सिंह की बेटी का यूक्रेन से रेस्क्यू

jdu-mla-daughter-rescue-from-ukreine
पटना : रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध की शुरुआत के बाद भारतीय मूल के लोगों की चिंता बढ़ गई है। सभी यूक्रेन में फंसे अपने परिजन और बच्चों की सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं। बिहार के अलग-अलग जिलों के कई बच्चे जो मेडिकल की पढ़ाई के लिए यूक्रेन गए थे, वो युद्ध के बीच वहां फंस गए हैं। इन्हीं बच्चों में से एक है मुंगेर के तारापुर विधानसभा से जेडीयू विधायक राजीव सिंह की बेटी रीमा सिंह जो तीन महीने पहले ही डॉक्टरी की पढ़ाई के लिए यूक्रेन गई थी और अब वो वहां फंस गई है। अब इस मामले में मिल रहे ताजा जानकारी के अनुसार कई भारतीयों के साथ रीमा सिंह का भी रेस्क्यू कर लिया गया है। जदयू विधायक की बेटी रीमा सिंह ने अपने चाचा संजय कुमार सिंह को फोन कर पूरी जानकारी दी और यूक्रेन से फोटो भेजी हैं। रीमा ने चाचा को बताया कि भारतीय छात्र रोमानिया के रास्ते बस से रवाना हुए हैं। उसके साथ कई भारतीय बस से निकले चुके हैं। भारत सरकार द्वारा विमान उपलब्ध कराया गया है। जल्द ही सबकी वतन वापसी होगी। बता दें कि, इससे पहले रीमा सिंह के विधायक पिता राजीव सिंह बिहार विधानसभा के बजट सत्र में शामिल होने पटना गए थे। विधायक ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि कि बेटी अभी ठीक है। वहां के हालातों से उनकी चिंता बढ़ गई है। बेटी जिस जगह है, वहां खतरा कम है। यदि किसी कारण से हालात बिगड़ते हैं तो यूनिवर्सिटी सुरक्षित स्थानों की व्यवस्था करेगा। यूक्रेन पर रूस के हमले के बाद से लगातार वीडियो संदेश के जरिए वहां फंसे भारतीय छात्र भारत सरकार से मदद मांग रहे हैं। वे सुरक्षित भारत वापसी की गुहार लगाते दिखाई दे रहे हैं। लखीसराय जिले के बड़हिया थाना क्षेत्र के खूटहाडीह निवासी मनीष से लेकर सहरसा के बटराहा के रहने वाले प्रवीण और भागलपुर के सुल्तानगंज के शुभम सम्राट भी वहां फंसे हुए हैं। उनके परिजन भी चिंतिंत हो उठे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: