लगातार 11वीं जीत के रिकॉर्ड के साथ भारत ने जीती श्रृंखला - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 27 फ़रवरी 2022

लगातार 11वीं जीत के रिकॉर्ड के साथ भारत ने जीती श्रृंखला

india-won-series-t20-srilanka
धर्मशाला, 26 फरवरी, श्रेयस अय्यर (नाबाद 74), आलराउंडर रवींद्र जडेजा (नाबाद 45) और संजू सैमसन (39) की आतिशी पारियों से भारत ने श्रीलंका को एकतरफा अंदाज में शनिवार को 17 गेंद शेष रहते सात विकेट से हराकर लगातार 11वीं रिकॉर्ड टी20 जीत हासिल की और तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की अपराजेय बढ़त बना ली। श्रीलंका ने कप्तान दासुन शनाका (47) और सलामी बल्लेबाज पथुम निसांका (75) की विस्फोटक फिनिश से 20 ओवर में पांच विकेट पर 183 रन का बड़ा स्कोर बना लिया।लेकिन भारत ने 17.1 ओवर में तीन विकेट पर 186 रन बनाकर जीत अपने नाम की। बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत की शुरुआत खराब रही। कप्तान रोहित शर्मा एक रन बनाकर दुष्मंत चमीरा की गेंद पर बोल्ड हो गए। पिछले मैच के हीरो ईशान किशन इस बार 16 रन बनाकर लाहिरू कुमारा की गेंद पर टीम के 44 के स्कोर पर आउट हुए। अय्यर ने अपनी फॉर्म कायम रखते हुए 44 गेंदों पर छह चौकों और चार छक्कों की मदद से नाबाद 74 रन की मैच विजयी पारी खेली। सैमसन ने मात्र 25 गेंदों पर दो चौके और तीन छक्के उड़ाते हुए 39 रन बनाये जबकि जडेजा ने 18 गेंदों पर सात चौके और एक छक्का लगाते हुए नाबाद 45 रन बनाये। जडेजा ने 16वें ओवर में लगातार चार चौके मारे। इससे पहले सैमसन ने 13वें ओवर में कुमारा की गेंदों पर तीन छक्के उड़ाने के बाद बी फर्नांडो के हाथों कैच आउट हुए। अय्यर को उनकी मैच विजयी पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला। भारत ने इस तरह घरेलू जमीन पर लगातार सातवीं टी 20 सीरीज जीत हासिल की। सीरीज का तीसरा और अंतिम मैच इसी मैदान पर रविवार को खेला जाएगा। इससे पहले भारत ने टॉस जीत कर मेहमान श्रीलंका को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया और पहले पांच ओवरों में 25 रन देकर किफायती गेंदबाजी की, लेकिन पहला पावरप्ले (छह ओवर तक) खत्म होते ही श्रीलंका ने तूफानी अंदाज में खेलना शुरू कर दिया। सलामी बल्लेबाजों पथुम निसांका और दनुष्का गुणातिलका ने पारी को गति देते हुए शानदार हिट लगाए, हालांकि बीच में लगातार तीन विकेट चटका कर भारत ने कुछ हद तक वापसी की, लेकिन पथुम और शनाका ने विस्फोटक अंदाज में खेलते हुए फिर से भारतीय गेंदबाजों को दबाव में डाल दिया। दोनों बल्लेबाजों ने पांचवें विकेट के लिए महज 26 गेंदों पर 58 रन की साझेदारी की। दोनों के तूफानी अंदाज ने टीम को 20 ओवर में 183 के विशाल स्कोर तक पहुंचाया। शनाका ने पारी के आखिरी ओवर में 23 रन बटौरे। निसांका 11 चौकाें की मदद से 53 गेंदों पर 75 रन बना कर आउट हुए, जबकि शनाका ने दो चौकों और पांच छक्कों के सहारे 19 गेंदों पर 47 रन की नाबाद पारी खेली। वहीं भारत की ओर से सभी पांचों गेंदबाजों जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, हर्षल पटेल, युजवेंद्र चहल और रवींद्र जडेजा ने एक-एक विकेट लिया।

कोई टिप्पणी नहीं: