झाबुआ (मध्य प्रदेश) की खबर 03 फ़रवरी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 3 फ़रवरी 2022

झाबुआ (मध्य प्रदेश) की खबर 03 फ़रवरी

इंदौर-दाहोद रेल लाइन प्रोजेक्ट पर सरकार करीब 265 करोड़ रुपए का किया गया प्रावधान

  • आलीराजपुर-धार वाया जोबट के लिये किया गया 100 करोड का प्रावधान । सांसद गुमानसिंह डामोर के प्रयासों ने शीघ्र होगा रेल लाईन का कार्य प्रारंभ

झाबुआ ।  सांसद गुमानसिंह डामोर के प्रयासों से दोहद-इन्दौर रेल लाइन का कार्य अब तेजी पकडने वाला है । सांसद श्री डामोर के अनुसार केंद्र सरकार द्वारा जारी किए गए रेल बजट में मध्य प्रदेश के हिस्से में कई प्रोजेक्ट आए हैं। इनमें इंदौर-दाहोद रेल लाइन प्रोजेक्ट पर सरकार करीब 265 करोड़ रुपए खर्च करेगी इसके लिये बजट में प्रावधान किया गया है । इस प्रोजेक्ट के पूरा होने पर दोनों जगहों के बीच में 205 किलोमीटर की दूरी घट जाएगी, जो कि अभी 375 किलोमीटर है। सांसद श्री डामोर के अनुसार दाहोद-इंदौर रेल लाइन का तेजी शुरू होने की आशा प्रबल हुई है । जिस रेलवे बोर्ड ने कोरोना काल में इस परियोजना को होल्ड पर डाला था, उसी बोर्ड ने पूर्व में इसके लिए 70 करोड़ रुपए अतिरिक्त बजट आवंटित किया था  तथा आम बजट में इसके लिए 20 करोड़ रुपए दिए गए थे। अब  265 करोड के प्रावधान रेल में बजट जारी होने से वर्षों पुरानी इस परियोजना को लेकर फिर से उम्मीद जागी है। वही  सांसद गुमानसिंह डामोर के प्रयासों से ही रतलाम झाबुआ आलीराजपुर संसदीय क्षेत्र में आलीराजपुर से वाया जोबट धार के लिये केन्द्रीय रेल बजट में 100 करोड का प्रावधान भी किये जाने से आलीराजपुर से धार तक की रेल्वे लाईन के निर्माण कार्य में गति प्राप्त होगी । सांसद गुमानसिंह डामोर ने बताया, काम फिर से शुरू करवाने के लिए बात संसद में उठाई थी। रेलमंत्री और अफसरों को पत्र भी लिखे थे। चीफ इंजीनियर से भी बात हुई तो तत्समय उन्होंने 100 करोड़ रुपए की जरूरत बताई थी। इतनी राशि की व्यवस्था हो भी गई थी ।  अब हाल ही में प्रस्तुत आम बजट में मोदी सरकार ने अपने बजट में 265 करोड की भारी भरकम राशि का प्रावधान किया है जो निश्चित ही दोहद- इन्दौर रेल लाईन के कार्य को गति देने के लिये सार्थक सिद्ध होगी । ज्ञातव्य है कि 209 किलोमीटर की लाइन में से सिर्फ 36 किलोमीटर डली है। दाहोद से लेकर कतवारा तक 11 किलोमीटर और इंदौर से धार की तरफ 25 किलोमीटर लाइन डली। झाबुआ में जमीन अधिग्रहण हो चुका है और गुजरात सीमा से झाबुआ के पास तक भी कार्य प्रारंभ हो चुका है । इंदौर-धार के बीच बनाई गई टनल्स का काम भी प्रारंभ हो चुका है। पीथमपुर में 3 किमी लंबी टनल का कार्य भी प्रगति पर है । इस प्रकार सांसद श्री डामोर के प्रयास से इस वर्ष में इंदौर-दाहोद रेल लाइन प्रोजेक्ट पर सरकार करीब 265 करोड़ रुपए खर्च करेगी जिससे रेलवे लाइ्रन के कार्य में उत्तरोत्तर प्रगति होगी । उक्त जानकारी जिला भाजपा आईटी प्रकोष्ठ के जिला प्रभारी अर्पित कटकानी ने दी ।


ग्वालियर की घटना को लेकर एनएसयूआई ने पीजी कॉलेज झाबुआ में जताया विरोध, चन्द्रशेखर आजाद की प्रतिमा की नीचे बैठे संगठन के पदाधिकारी और कार्यकर्ता

  • पुलिस प्रशासन से दर्ज मुकदमा वापस लेने की मांग

झाबुआ। भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआई) की जिला इकाई झाबुआ द्वारा 3 फरवरी, गुरूवार को शहीद चंद्रशेखर आजाद शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में चंद्रशेखर आजाद की प्रतिमा के नीचे बैठकर प्रदेश के ग्वालियर शहर में हुई घटना का विरोध जताया गया। इस दौरान एनएसयूआई जिलाध्यक्ष विनय भाबोर ने बताया कि ग्वालियर में पुतला जलाने के दौरान एक पुलिसकर्मी झुलस गया था। जिसके लिए एनएसयूआई जिम्मेदार नहीं होकर खींचतान के दौरान पुलिसकर्मी को चोट आई। ऐसे में वहां के प्रशासन एवं पुलिस द्वारा संगठन के कार्यकर्ता पर धारा 307, हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज करना गलत है। जिससे साफ प्रतीत होता है कि प्रशासन और पुलिस भाजपा सरकार के दबाव में कार्य कर रही है।


मुकादमा वापस लिया जाए, नहीं तो संगठन करेगा उग्र आंदोलन

एनएसयूआई जिला महासचिव कीलू भूरिया ने बताया कि संगठन प्रदेश सरकार को चेतावनी देता है किएनएसयूआई कार्यकर्ता पर की गई झूठी कार्रवाई वापस ली जाए, नहीं तो आगामी दिनों में संगठन प्रदेश अध्यक्ष मंजुल त्रिपाठी के आव्हान पर ग्वालियर सहित पूरे प्रदेश की उग्र आदंोलन करेगा। जिसकी जिम्मेदारी शासन-प्रशासन की होगी। पीजी कॉलेज परिसर में विरोध अवसर पर एनएसयूआई के पीजी कॉलेज अध्यक्ष सूरज भूरिया, उपाध्यक्ष विकास कनेश, महासचिव प्रफुल डोडियार, अमन कटारा सहित अन्य पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे।


तहसीलदार पुलिस संरक्षण में थांदला नगर परिषद ने डाला कचरा - ग्रामीणों ने कहा आदेश दिखाओ, आक्रोशित ग्रामीणों ने आर-पार की लड़ाई की प्रशासन को दी खुली चेतावनी


jhabua news
थांदला। जिला कलेक्टर समेश मिश्रा के आदेश का पालन करते हुए स्थानीय प्रशासन एसडीएम अनिल भाना के निर्देशन में थांदला तहसीलदार एस एस चौहान व  पुलिस प्रशासन के संरक्षण में सीएमओ भारतसिंह टांक स्वच्छता निरीक्षक गौरांकसिंह राठौर के साथ थांदला व मेघनगर के करीब 10 कचरा वाहन ने कलेक्टर द्वारा आबंटित मेघनगर तहसील के ग्राम सजेली के नए ट्रेचिंग ग्राउंड पर कचरा डाला। कचरा ग्राउंड की व्यवस्थाओं व नए ग्राउंड पर कचरा डालने को लेकर सजेली के सभी 4 फलियों व तलावली के ग्रामीणजन एकत्रित हो गए व कचरा डालने का विरोध करते रहे। आक्रोशित ग्रामीणों ने कहा जब मामला कलेक्टर के संज्ञान में है व पहले का डाला हुआ कचरा भी जब प्रशासन ने ही उठवाया तो फिर आज 15 दिन बाद पुनः दल बल के साथ नगर परिषद नगर का कचरा डालने गाँव क्यों आई ..? वही उन्होंने प्रशासन से ट्रेचिंग ग्राउंड के लिए आबंटित भूमि पर कचरा डालने के नवीन आदेश की कॉपी मांगने लगे तो प्रशासन नही दिखा पाया वही ग्रामीणों ने कहा कि दो नगर का कचरा गाँव में डालने से न केवल कृषि भूमि प्रभावित होगी अपितु ग्रामीणों में महामारी फैलने का खतरा भी बना रहेगा। उन्होंने प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि प्रशासन ट्रेचिंग ग्राउंड का स्थान नही बदलता है तो ग्रामीण आर-पार की लड़ाई को भी तैयार है। इधर सीएमओ बी एस टांक ने कहा कि प्रशासन यदि हमें सुरक्षा प्रदान करता है तो वे स्वयं कचरा वाहन के साथ कचरा डालने ट्रेचिंग ग्राउंड पर जाएंगे लेकिन वे आज की पुलिस संरक्षण स्थिति से नाराज भी दिखाई दिए जिसे उन्होंने एसडीएम के संज्ञान में लाते हुए पुलिस बल बढाने की मांग भी की। उल्लेखनीय है कि पेटलावद रोड़ पर बने पुराने ट्रेचिंग ग्राउंड के निकट केंद्रीय नवोदय विद्यालय के आ जाने व उनके आपत्ति लेने पर नगर परिषद ने जिला कलेक्टर के द्वारा आबंटित स्थान पर विगत दो माह से विवाद चल रहा है जो किसी भी हद तक ग्रामीण बर्दाश्त करने के मूड में नजर नही आ रहे है ऐसे में प्रशासन की मौजूदगी में उनका आक्रोश साफ नजर आ रहा था वही कचरा वाहन के ड्राइवर व सहायक भी डरे हुए नजर आ रहे है।


होटल एम-2 में राष्ट्रीय क्षय उन्मुलन कार्यक्रम का आयोजन किया गया


झाबुआ। दिनंाक 2 फरवरी 2022 को होटल एम-2 में राष्ट्रीय क्षय उन्मुलन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। राष्ट्रीय क्षय उन्मुलन कार्यक्रम के दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वा. अधिकारी डॉ. श्री जयपाल ंिसंह ठाकुर की अध्यक्षता में एवं डॉ.एल.एस.राठौर अध्यक्ष जिला टीबी फोरम, जिला क्षय अधिकारी डॉ जितेन्द्र बामनिया की उपस्थिती मे चाईल्ड फंण्ड ईडिया के मुक्ति प्रोजेक्ट के तत्वाधान मे जिले के टिबी मरीजो कि उपचार लेकर ठिक हो चुके 17 व्योक्तियों को टिबी बिमारी से ठिक होने पर टिबी चैम्पियन की उपाधी दी गई एवं परिचय पत्र का वितरण कीया गया। जिसमे की चाईड फंण्ड ईडिया के श्री महेश पाटीदार व श्री दिनेश नोहाने व श्री जयदीप बामनिया एवं एनटीईपी के समस्त स्टॉफ एस.टी.एस./एस.टी.एल.एस की उपस्थिती मे किया गया । 


नगरपालिका परिषद् झाबुआ द्वारा स्वच्छता सर्वेक्षण-2022 के तहत स्वच्छता संकल्प माह का किया जा रहा आयोजन, किए जा रहे विभिन्न कार्य


झाबुआ। नगरपालिका परिषद् झाबुआ द्वारा स्वच्छता सर्वेक्षण-2022 के अंतर्गत स्वच्छता संकल्प माह मनाया जा रहा है। इसके तहत विभिन्न कार्यक्रम किए जा रहे है। जनाकरी देते हुए नपा के सीएमओ एलएस डोडिया ने बताया कि इस दौरान विगत 26 से 31 जनवरी तक जीओ मेपिंग हेतु वार्डों में सीमांकन, अपशिष्ट प्रसंकरण सुविधाएं, एफएसटीपीसी के तहत नाले-नालियों और तालाब को सम्मिलित कर जीओ मैपिंग का कार्य किया गया। डंप साईड रेमिडेशन का एक्शन प्लान बनाया गया। शहर के नागरिकों से स्वच्छता एप डाउन लोड कर शिकायतों का निराकरण करवाया गया। सी एंड डी हेतु प्लेटफार्म निर्माण कर कलेक्शन पाइंट बनाया गया। स्वास्थ्य अधिकारी यूनूसउद्दीन कुरैशी ने बताया कि स्वच्छता संकल्प माह के तहत फरवरी माह के अंत तक विभिन्न थीमों पर सत्त कार्य किया जाएगा। वच्छता संकल्प अंतर्गत नगर पालिका ने पॉलिथीन जब्ती की कार्रवाई की, 20 दुकानों पर निरीक्षण कर अमानक स्तर की 5 किग्रा पॉलिथीन जप्त की गई नगरपालिका परिषद् झाबुआ की टीम द्वारा 3 फरवरी, गुरूवार को दोपहर 75 माइक्रोन से कम मोटी पॉलीथिन क्रय-विक्रय पर प्रतिबंध के अंतर्गत अभियान चलाया गया। उक्त जानकारी देते हुए मुख्य नगरपालिका अधिकारी एलएस डोडिया ने बताया कि अभियान के तहत 1 से 5 फरवरी तक स्वच्छता थीम अनुसार जब्ती की कार्रवाई की गई। जिसमें शहर में 20 दुकानों पर निरीक्षण कर अमानक स्तर की कुल 5 किलोग्राम पॉलिथीन जप्त की गई तथा 800 की पेनल्टी शुल्क वसूला गया। कार्रवाई टीम में नगरपालिका के स्वास्थ्य अधिकारी यूनुसउद्दीन कुरैशी, सहायक राजस्व निरीक्षक अयूब खान, सहायक राजस्व निरीक्षक आशीष भाबर, रूपसिंह आदिवासी, मन्नू डामर एवं सूरज आदि सम्मिलित थे।


गायत्री शक्तिपीठ कॉलेज मार्ग झाबुआ से निकाली गई भव्य कलष यात्रा, शक्तिपीठ परिसर में मातृ शक्तियों का सम्मान के साथ कन्या भोज एवं प्रसादी का हुआ आयोजन

  • 4 फरवरी को शिव मृत्युंजय महामंत्र और गायत्री महामंत्र के अखंड जाप एवं शाम को दीप यज्ञ का होगा आयोजन
  • 5 फरवरी को स्फटिक महांकाल का महाभिषेक, सरस्वती पूजन एवं विभिन्न संस्कार होंगे संपन्न

झाबुआ। शहर के कॉलेज मार्ग स्थित गायत्री शक्तिपीठ पर प्रतिवर्षानुसार की तरह इस वर्ष 50वां बसंतोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। जिसके अंतर्गत गायत्री शक्तिपीठ पर त्रि-दिवसीय उत्सव का आयोजन किया जा रहा है। जिसके प्रथम दिन 3 फरवरी, गुरूवार को दोपहर में मंदिर से भव्य कलश यात्रा निकाली गई, जो शहर के विभिन्न मार्गों से होते हुए पुनः मंदिर पर पहुंची। जहां मंदिर परिसर में मातृ शक्तियांे का सम्मान कार्यक्रम के साथ कन्या भोज (प्रसादी) का आयोजन रखा गया है। जानकारी देते हुए नारी जागरण अभियान की जिला संयोजिका श्रीमती नलिनी बैरागी ने बताया कि 3 फरवरी, गुरूवार को दोपहर करीब 1 बजे मंदिर से निकाली गई। कलश यात्रा में बड़ी संख्या में शहर एवं आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों की बालिकाएं अपने सिर पर कलश लेकर सम्मिलित हुई। इसके पीछे गायत्री परिवार के महिला-पुरूष वेद माता गायत्री एवं गुरूदेव के जयघोष लगाते हुए सम्मिलित हुए। कलश यात्रा के माध्यम से मां गायत्री और गुरूदेव पं. श्री राम शर्मा आचार्यजी से देश और विश्व में शांति और खुशहाली हेतु प्रार्थना की गई। कलश यात्रा शहर के कॉलेज मार्ग, खोड़ियार माता मंदिर, रानापुर रोड़ से होते हुए पुनः मंदिर पर पहुंची। जहां समाज के कार्यों में सहयोग देने वाली एवं विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली मातृ शक्तियों का अभिनंदन कर अंत में सभी के लिए सामूहिक भोज का आयोजन रखा गया।


अखंड जाप के साथ शाम का होगा दीप यज्ञ

गायत्री परिवार के जिला समन्वयक पं. घनश्यामदास बैरागी ने बताया कि 4 फरवरी, शुक्रवार को सुबह 6 बजे से मंदिर परिसर में शिव मृत्युंजय महामंत्र एवं गायत्री महामंत्र के अखंड जाप होंगे। जिसमें कोविड के चलते क्रमवार गायत्री परिवार के महिला-पुरूष और युवा शामिल होकर जाप करंेगे। शाम को दीप यज्ञ कर भजन-किर्तन आदि किए जाएंगे।


बसंती पंचमी एवं गुरूदेव श्री राम शर्मा आचार्यजी का अवतरण दिवस मनाएंगे

5 फरवरी, शनिवार को बसंती पंचमी एवं गुरूदेव पं. श्री राम शर्मा आचार्यजी 113वां आध्यात्मिक अवतरण दिवस मनाया जाएगा। इस उपलक्ष में सुबह स्फटिक महांकाल का महाभिषेक पश्चात् सरस्वती पूजन और गुरूदेव पं. श्री राम आचार्यजी की पूजन कर इस दौरान विभिन्न संस्कार भी संपन्न होंगे। मुख्य रूप से महिलाओं के गर्भोत्सव संस्कार संपन्न करवाए जाएंगे। शाम 7.30 बजे महाआरती कर प्रसादी का वितरण होगा। बसंती पंचमी एवं गुरूदेव का अवतरण दिवस होने से दिनभर मंदिर में वेद माता गायत्री, अष्टभुजा दुर्गाजी, मां सरस्वीतीजी, गुरूदेव पं. श्री राम शर्मा आचार्य, वंदनीय माता भगवती देवी शर्मा के साथ समीप स्फटिक महांकाल के भी दर्शन-पूजन हेतु दिनभर भीड़ लगी रहेगी।


यह प्रदान कर रहे विशेष सहयोग

तीन दिवसीय आयोजन को सफल बनाने में विशेष सहयोग गायत्री परिवार की महिलाओं में श्रीमती मनोरमा डावर, प्रेमलता शुक्ला, विजया बजाज, निर्मला गोयल, हरिप्रिया निगम, स्मृति भट्ट, रीना शर्मा, कृष्णा शर्मा, मंजु हाड़ा, ललिता वर्मा, पुरूषांे में प्रकाश डावर, सुरेश निगम, केके वर्मा, केके शर्मा, यशवंत व्यास, वेदांत बैरागी आदि प्रदान कर रहे है।


बेरोजगार एवं शाला त्यागी बालक-बालिकाओं को जिले में तीन केंद्रों पर दिया जा रहा प्रशिक्षण, रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाने के लिए कम्प्यूटर का तकनीकी ज्ञान अर्जित करवाया जा रहा

  • शासकीय उत्कृष्ट उमा विद्यालय झाबुआ में प्रषिक्षण कार्यक्रम का वरिष्ठ अधिकारियों ने किया निरीक्षण

jhabua news
झाबुआ। केंद्र सरकार की शिक्षा नीति-2020 के तहत जिले के तीन उत्कृष्ट विद्यालयों में कौशल प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें जिले में बेरोजगार एवं शाला त्यागी बालक-बालिकाओं को रोजगार के अवसर पर प्रदान करने हेतु कम्प्यूटर का तकनीकी ज्ञान अर्जन करवाया जा रहा है, ताकि उन्हें कम्प्यूटर का ज्ञान प्राप्त होने के बाद वे निजी एवं सरकारी क्षेत्रों में अपने कौशल के दम पर रोजगार प्राप्त कर सके। जानकारी देते हुए जिले की समन्वयक संस्था शासकीय उत्कृष्ट उमा विद्यालय झाबुआ के प्राचार्य महेन्द्रकुमार खुराना ने बताया कि जिले में यह कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम शासकीय उत्कृष्ट उमा विद्यालय झाबुआ के साथ शासकीय उत्कृष्ट उमा विद्यालय तथा शासकीय कन्या उमा विद्यालय पेटलावद पर पिछले एक सप्ताह से आरंभ हुआ है। आईटी प्रशिक्षक संदीप मोर्य के अनुसार उक्त प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन कलेक्टर सोमेश मिश्रा के आदेश पर एवं जिला शिक्षा अधिकारी ओपी बनोड़ के निर्देश पर जिले में हो रहा है। जिसमें उत्कृष्ट उमा विद्यालय में भी 25-30 बालक-बालिकाएं कम्प्यूटर के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त कर रहे है। प्रतिदिन एक घंटे प्रशिक्षण दिया जा रहा है। जिसमें मुख्य रूप से आईटी के तहत साफटवेयर डेवलपमेंट कोचिंग आदि का प्रशिक्षण उत्कृष्ट विद्यालय झाबुआ, आईटी एवं इलेक्ट्रानिक्स का प्रशिक्षण उत्कृष्ट विद्यालय पेटलावद एवं हेल्थ केयर का प्रशिक्षण शासकीय कन्या उमा विद्यालय पेटलावद में संपन्न हो रहा है।


6 माह तक चलेगा प्रशिक्षण कार्यक्रम

उक्त कार्यक्रम में विद्यालय के कम्प्यूटर से रिलेटेड शिक्षक-शिक्षिकाएं ही बालक-बालिकाओं को प्रशिक्षण दे रहे है। प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत तीन-तीन माह की परीक्षा के बाद छः माह की भी परीक्षा होगी। इसके बाद प्रशिक्षणार्थियों को प्रमाण-पत्र प्रदान किए जाएंगे। राष्ट्रीय कौशल विकास पोर्टल पर सभी बच्चों का नाम दर्ज होगा। प्रशिक्षणार्थी निजी या सरकार क्षेत्र में कहीं भी रोजगार के अवसर पर प्राप्त कर सकेंगे। पूरा प्रशिक्षण कार्यक्रम 6 माह का रहेगा।


वरिष्ठ अधिकारियों ने किया निरीक्षण

शासकीय उत्कृष्ट उमा विद्य़ालय झाबुआ में चल रहे उक्त प्रशिक्षण कार्यक्रम का 2 फरवरी, बुधवार को दोपहर अवलोकन करने अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक सर्व शिक्षा केंद्र ज्ञानेन्द्रकुमार ओझा, जिला नेहरू युवा केंद्र अधिकारी सुश्री प्रीती पंघाल, आईटीआई कॉलेज झाबुआ के प्राचार्य मोहनकुमार गरवाल एवं शासकीय उत्कृष्ट उमा विद्यालय झाबुआ प्राचार्य महेन्द्रकुमार खुराना ने भी अवलोकन कर प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे बालक-बालिकाओं से चर्चा कर उनका हौंसला अफजाई किया।


अभाविप द्वारा प्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम शासकीय आदर्श कॉलेज के प्राचार्य को सौंपा ज्ञापन, छात्रृवत्ति एवं आवास योजना की सत्र 2021-22 की लिंक खोलने की मांग


झाबुआ। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् द्वारा छात्रवृत्ति एवं आवास योजना की सत्र 2021-22 की लिंक खोलने हेतु शासकीय आदर्श कॉलेज के प्राचार्य डॉ. सुरेशचन्द्र जैन को ज्ञापन सोंपा गया। ज्ञापन अभाविप के नगर मंत्री वैभव जैन के नेतृत्व में प्रेेषित किया गया। जिसमें कहा गया कि झाबुआ एक जनजाति बाहुल्य जिला है। जिसमे अधिकतर विद्यार्थी छात्रवत्ति और आवास पर निर्भर रहते है। अभी परीक्षा फॉर्म भरने की तिथिया आ गई है, किन्तु अभी तक छात्रृवत्ति आवास की राशि नहीं मिलने से छात्रों को परीक्षा फॉर्म भरने में काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। जिसको लेकर 3 फरवरी, गुरूवार को विद्यार्थी परिषद ने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के नाम कॉलेज प्राचार्य को ज्ञापन सौंपकर यह मांग पूरजोर तरीके से रखी।


यह रहे उपस्थित

इस अवसर पर परिषद के नगर मंत्री वैभव जैन, निलेश गणावा, कॉलेज इकाई अध्यक्ष कमलेश सिंगाड, इकाई मंत्री आशीष डावर, कमलेश मचार, सेवन निनामा, पलक मेड़ा, सुषमा अमलियार, विक्रम डामोर, किंजल सोलंकी, इलियास कटारा आदि सहितअ अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।

 

“झाबुआ पुलिस ने किया पिटोल क्षेत्र में दिनदहाड़े हुई लूट का खुलासा”


jhabua news
झाबुआ ।   दिनांक 28.01.2022 को दोपहर 01ः00 बजे करीब फरियादी जितेन्द्र कलेक्शन करने के लिये मसुरिया, बावड़ी, कोयादरिया व भाजींडुंगरा में कलेक्शन करने गया था। दोपहर करीब 01ः00 बजे भाजींडुंगरा से लास्ट कलेक्शन कर जब थादंला वापस आ रहा था तो रास्ते में भाजींडुंगरा नाले के उपर मोड़ पर अज्ञात व्यक्ति काले रंग की पल्सर के साथ खड़े हुए थे। फरियादी जितेन्द्र को आता देख उन्होने फरियादी जितेन्द्र की मोटर सायकल को रोककर उसे डरा धमकाकर उससे बेग छिन लिया व बावड़ी तरफ भाग गये। उस बैग में रखे कलेक्शन की गई रकम 1,25,331ध्-रू., एक सेमसंग कंपनी का टेबलेट, एक बायोमेट्रीक स्केनर व फरियादी के मोटर सायकल की चाबी एवं मोबाईल लेकर भाग गये। जिस पर थाना कोतवाली में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। पिटोल क्षेत्र में हुई लूट की वारदात सनसनीखेज घटना होकर पुलिस के लिये एक बड़ी चुनौती बन गई। उक्त वारदात को देखते हुए पुलिस अधीक्षक झाबुआ श्री आशुतोष गुप्ता द्वारा घटना की गंभीरता को देखते हुए चौकी प्रभारी पिटोल को घटना का जल्द से जल्द पुलिस टीमें बनाकर खुलासा करने की जिम्मेदारी दी गई। लूट की वारदात वाला घटनास्थल सूनसान जंगल वाला क्षेत्र था जहां कोई भी सीसीटीव्ही फुटेज नहीं था। जिसको ट्रेस करना पुलिस के लिये बहुत कठीन था। इस हेतु पुलिस टीम द्वारा अपने विश्वसनीय मुखबीरों को इस हेतु लगाया गया। विश्वसनीय मूखबीर घटनास्थल के आसपास के क्षेत्र में पिछले तीन दिनों से जानकारी जुटाने हेतु लगे हुए थे। सूचनाए संकलित की जा रहीं थी कि कौन ऐसे अज्ञात बदमाश है जो कि काले रंग की पल्सर मोटर सायकल से गुमते-फिरते हुए देखे गये है। इस हेतु आसूचना संकलन की टीम को भी लगाया गया। सूचना मिली कि एक बाल अपचारी के पास एक काले रंग की पल्सर मोटर सायकल है जो कि समुड़ा पिता वीरसिंह डामोर निवासी कोयादरिया के साथ घटना स्थल के पास देखा गया था। उक्त सूचना प्राप्त होते ही समुड़ा व बाल अपचारी के बारे में जानकारी जुटाई गई। जानकारी पुख्ता होने पर दोनों को पुलिस गिरफ्त में लिया गया।थाना लाकर पुछताछ करने पर उनके द्वारा पहले घुमा-फिराकर बात करने लगे। फिर सख्ती से पुछताछ करने पर उनके द्वारा सारा राज उगल दिया। उन्होने बताया कि आदतन अपराधी अमरसिंह पिता नट्टू वसुनिया निवासी छालकिया एवं सिनु उर्फ चेनसिंह पिता जामा उर्फ जामसिंह वसुनिया निवासी छालकिया के साथ मिलकर उक्त लूट की वारदात को अंजाम दिया। आरोपी अमरसिंह पिता नट्टू वसुनिया उम्र 36 वर्ष निवासी छालकिया का आपराधिक रिकार्डकोतवाली 287ध्2011 399,402 भादवि आरोपी सिनु उर्फ चेनसिंह पिता जामा उर्फ जामसिंह वसुनिया निवासी छालकिया का आपराधिक रिकार्ड थाना अपराध क्रमांक धारा कोतवाली 309ध्2015 294,323,506,34 भादविजानकारी प्राप्त हुई है कि उक्त दोनों अपराधियों पर गुजरात एवं राजस्थान में भी कई अपराध पंजीबद्ध है जिनके बारे में जानकारी एकत्रित की जा रहीं है।

जप्त की गई सामग्री:-घटना में प्रयुक्त पल्सर मोटर सायकल 02. 40,000 नगदी एक काले रंग का बैग फरियादी की मोटर सायकल की चाबी एक पर्स


आरोपियों के नाम:- 

01. समुड़ा पिता वीरसिंह डामोर उम्र 38 वर्ष निवासी कोयादरिया (गिरफ्तार)

02. अमरसिंह पिता नट्टू वसुनिया उम्र 36 वर्ष निवासी छालकिया (फरार)

03. सिनु उर्फ चेनसिंह पिता जामा उर्फ जामसिंह वसुनिया उम्र 35 वर्ष निवासी छालकिया (फरार)

04. एक बाल अपचारी (गिरफ्तार) 

                           

संपुर्ण घटनाओं का खुलासा करने में चौकी प्रभारी पिटोल उनि रमेश कोली, सउनि सुरेश सेन, प्रआर. रईस खान, प्रआर. लोकेन्द्र नायक, प्रआर. भारत, आर. 159 राकेश, आर. अंतिम एवं आर. 98 मंगलेश पाटीदार, आर. 552 महेश प्रजापति, आर. 193 दीपक पटेल का सराहनीय योगदान रहा। उक्त सराहनीय कार्य पर पुलिस टीम को पुलिस अधीक्षक झाबुआ द्वारा पुरूस्कृत करने की घोषणा की।


जिला जेल झाबुआ में निरूद्ध महिलाध्पुरूष बंदियों के लिए जागरूकता हेतु विधिक , साक्षरताध्जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए


jhabua news
झाबुआ। माननीय प्रधान जिला न्यायाधीशध्अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण झाबुआ श्रीमान मोहम्मद सैय्यदुल अबरार महोदय जी के निर्देशानुसार आज दिनांक 03.02.2022 को श्री लीलाधर सोलंकी अपर जिला न्यायाधीशध्सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण झाबुआ द्वारा जिला जेल झाबुआ का निरीक्षण किया। उक्त जेल निरीक्षण के साथ ही जिला जेल झाबुआ में निरूद्ध महिलाध्पुरूष बंदियों के लिए जागरूकता हेतु विधिक साक्षरताध्जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुये किया गया। शिविर में बंदियों को सोशल डिस्टेसिंग का पालन करवाते हुए दूर-दूर बिठाया गया एवं सभी बंदी मास्क लगाये हुए थे। शिविर में श्री सोलंकी जी ने बंदियों को निःशुल्क विधिक सहायता योजना, प्ली-बार्गिनिंग एवं अन्य जनकल्याणकारी योजनाओं से संबंधित जानकारी प्रदान की। उप जेल अधीक्षक से जेल में निरूद्ध बदियों को उनके प्रकरण में अब तक क्या-क्या कार्यवाही की गई। उनके प्रकरण में अधिवक्ता नियुक्त है कि नहीं, जिन प्रकरणों में अधिवक्ता नियुक्त नहीं है ऐसे प्रकरणों में तत्काल अधिवक्ता नियुक्त किये जाने के निर्देश दिये गये। शिविर में अपर जिला न्यायाधीशध्सचिव श्री लीलाधर सोलंकी, न्यायिक मजिस्ट्रेट सुश्री प्रतिभा वास्कले, श्री रवि तंवर द्वारा महिला एवं पुरूष बंदियों के अलग-अलग बैरिक, पाक शाला एवं जेल चिकित्सालय का भी निरीक्षण किया गया तथा पाक शाला में भोजन की गुणवत्ता की जांच की। उक्त शिविर में उप जेल अधीक्षक श्री आर.के. विश्वकर्मा, सहायक अधीक्षक श्री भीमसिंह रावत, जेल स्टॉफ एवं महिलाध्पुरूष बंदी उपस्थित रहें।


मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन द्वारा रामा जनपद क्षेत्र में विकास कार्यो का जायजा लिया


jhabua news
झाबुआ,।  मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत झाबुआ श्री सिद्धार्थ जैन द्वारा जनपद पंचायत रामा क्षेत्र में सघन दौरा किया। यहां पर ग्राम पंचायत कोकावद, रोटला, नरसिंहरूण्डा एवं खरडु बड़ी आदि ग्रामों का भ्रमण किया गया। जिसमें स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के तहत सामुदायिक स्वच्छता परिसर, ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबन्धन के निर्माण कार्यो में नाडेप, सामुदायिक नाडेप, सामुदायिक कम्पोष्ट पीट, सामुदायिक सोक पीठ, लीच पीट, सेग्रीगेशन शेड निर्माण कार्य का अवलोकन किया गया और इन कार्यो को सभी पंचायतों में शीघ्र निर्माण करवाने हेतु निर्देशित किया गया है। साथ ही प्रधानमंत्री आवास, मां की बगीया, एवं मनरेगा कार्यो में लेबर बढ़ाना एवं निर्माण खेत तालाब निर्माण कार्यो हेतु चर्चा की गई । भ्रमण के दौरान जिला समन्वयक स्वच्छ भारत मिशन श्री बी.एस. चौहान, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत रामा श्री बी.एस.रावत, सहायक यंत्री श्री भूरिया, उपयंत्री श्री आशुतोष, ब्लाक समन्वयक स्वच्छ भारत मिशन रामा श्री गजेन्द्र राठौर उपस्थित थे।


25 फरवरी को रोजगार दिवस हेतु बैंकर्स द्वारा संयुक्त रूप से रोजगार योजनाओं में शतप्रतिशत उपलब्धि हेतु सघन भ्रमण


झाबुआ। दिनांक 25 फरवरी 2022 को रोजगार दिवस आयोजित किया जा रहा है। जिसमें मध्यप्रदेश ग्रामीण बैंक और एसबीआई मेघनगर की शाखाओं में जिला अग्रणी बैंक अधिकारी श्री राजेश कुमार, जिला परियोजना प्रबंधक आजीविका परियोजना श्री देवेन्द्र श्री वास्तव, महाप्रबंधक जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र श्री विरेन्द्र सिंह इस्किया द्वारा सघन भ्रमण कर सभी स्वरोजगार योजनाओं की समीक्षा की एवं शतप्रतिशत प्रकरणों में वितरण करने की कार्यवाही के संबंध में चर्चा की। जिससे विकास योजनाओं में हितग्राहियों को शतप्रतिशत स्वरोजगार उपलब्ध हो। 


जिला विकास समन्वय एवं मूल्यांकन समिति ‘‘दिशा‘‘ की बैठक


झाबुआ। जिला विकास समन्वय एवं मूल्यांकन समिति ‘‘दिशा‘‘ की बैठक माननीय श्री गुमानसिंह जी डामोर सांसद लोकसभा रतलाम की अध्यक्षता में दिनांक 5 फरवरी 2022 को प्रातः 10.30 पर कलेक्टर कार्यालय सभा कक्ष में आयोजित की गई है। बैठक का एजेंडा जारी कर दिया गया है। बैठक से संबंधित जानकारी लेकर उपस्थित होने के निर्देश मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन के द्वारा जारी किया गया हैं। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा के द्वारा माननीय सांसद महोदय की अध्यक्षता में आयोजित जिला विकास समन्वय एवं मूल्यांकन समिति ‘‘दिशा‘‘ की बैठक को देखते हुए दिनांक 4 फरवरी 2022 को प्रातः 11.30 बजे संबंधित विभागों की समीक्षा करेंगे।


संत टेरेसा स्कूल खवासा ,विकासखंड थॉदला जिला झाबुआ म.प्र. की प्रथम पूर्ण वेक्सीनेटेड स्कूल


jhabua news
झाबुआ,। कलेक्टर सोमेश मिश्रा के निर्देशन मे संचालित कोवीड 19 वेक्सीनेशन के तहत् मध्य प्रदेश के पश्चिमी आदिवासी बाहुल्य जिला झाबुआ  से 55 किलोमीटर दूर सुदूर ग्रामीण क्षेत्र में स्थित संत टेरेसा स्कूल खवासा विकासखंड थांदला में कुल 421 बच्चे अध्ययनरत हैं इनमें से हाई स्कूल में 15-18 आयु वर्ग के 43 बच्चो ने लगवाया पूर्ण डोज। इस संस्था के बच्चो ने पूर्व मे भी जिला व प्रदेश मे अपना प्रथम डोज सबसे पहले लगवाया था। संस्था मे कोवीड वेक्सीनेशन के कार्य मे संस्था प्राचार्य सिस्टर टेसिया व शिक्षको ने बच्चो को कोरोना संक्रमण से बचाव का संकल्प व उपाय कोवीड वेक्सीनेशन की महत्ता बच्चो मे संचारित करवायी थी व विकासखन्ड के बीएमओ डॉ अनिल राठौर व श्री जॉन खराड़ी विकासखंड कार्यक्रम प्रबंधक व सीएचओ डॉ देवीलाल पाटीदार, एएनएम लता भूरिया का सराहनीय योगदान रहा है।


जिले के आदिवासी संत, समाज सुधारक स्व. खुमसिंह महाराज की तीसरी पुण्यतिथि पर जिले के ग्राम कोकावद में रहा मेले जैसा माहौल, समाधि स्थल पर दर्शन-वंदन हेतु बड़ी संख्या में पहुंचे लोग

  • कोकावद धाम पर सत्संग-भजन, प्रवचन एवं भंडारे का हुआ भव्य आयोजन
  • धर्मातंरण, गौ-हत्या, शराब-मांस के विक्रय पर रोक तथा जिले की कुप्रथाओं को समाप्त करने पर दिया गया जोर

झाबुआ। जिले के आदिवासी संत समाज सुधारक स्व. खुमसिंह महाराज की तीसरी पुण्यतिथि पर 3 फरवरी, गुरूवार को जिले के कालीदेवी से लगे ग्राम कोकावद में हिन्दू समागम रहा। जहां सैकड़ों की संख्या में हिन्दू संप्रदाय के लोगों, विशेषकर आदिवासी समाज के लोगों ने पहुंचकर ग्राम कोकावद स्थित स्व. खुमसिंह महाराज की स्थली पर नमन कर श्रद्धासुमन अर्पित किए। साथ ही कोकावद धाम पर दिनभर विभिन्न कार्यक्रम भी संपन्न हुए। सुबह से ही कोकावद धाम पर स्व. खुमंिसह महाराज के समाधि स्थली पर नमन एवं दर्शन करने हेतु समाजजनों का आना आरंभ हो गया था। मुख्य रूप से यहां आयोजित होने वाले समस्त समारोह में विश्व हिन्दू परिषद् के जिला प्रमुख एवं स्व. खुमंिसंह महाराज के सुुपुत्र कमलसिंह महाराज एवं आजाद प्रेमसिंह डामोर के साथ अनसिंह महाराज, नगरिया महाराज ग्राम देहदा, पूनाजी महाराज के अतिरिक्त विहिप से जिला उपाध्यक्ष जोगाभाई सिंगाड़, राजूभाई निनामा, रमेश निनामा, अंतिम शर्मा, आशीष सोनी, हिमांशु त्रिवेदी सहित विहिप, बजरंग दल, भील समाज सुधारक समिति और अन्य हिन्दू संगठनों तथा संस्थाआंे के पदाधिकारी-सदस्यों ने भी सहभागिता की।


यह हुए दिनभर आयोजन

ग्राम कोकवद में सुबह सत्संग-भजन के साथ दोपहर में प्रवचन और सभा में उपस्थित समस्त वक्ताओं ने हिन्दू धर्म जागरण, धर्मातंरण मुक्त झाबुआ जिला, गौ-हत्या, शराब-मांस पर जिले में प्रतिबंध लगाए जाने, जिले में बाल विवाह, दहेज-दापा जैसी कुरूतियों को समाप्त करने पर जोर दिया गया। शाम को सभी के लिए भंडारा (प्रसादी) का भी आयोजन रखा गया। सुबह से लेकर रात तक स्व. खुमंिसह महाराज के समाधि स्थल पर ना केवल झाबुआ जिले अपितु बाहर से भी विभिन्न स्थानों से आए समाज के लोगांे ने पहुंचकर पुष्पांजलि देने के साथ दर्शन किए।

कोई टिप्पणी नहीं: