सपा ‘‘घोर परिवारवादी, दंगावादी और माफियावादी’ : मोदी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 10 फ़रवरी 2022

सपा ‘‘घोर परिवारवादी, दंगावादी और माफियावादी’ : मोदी

modi-attack-akhilesh-in-saharanpur
सहारनपुर (उत्तर प्रदेश) 10 फरवरी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समाजवादी पार्टी (सपा) को ‘‘घोर परिवारवादी, दंगावादी और माफियावादी’’ करार देते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि यह लोग अब चुनाव में ‘‘राष्ट्र विरोधियों’’ को अपना प्रस्तावक तक बना रहे हैं। मोदी ने यहां एक चुनावी रैली में मुजफ्फरनगर और सहारनपुर दंगों का जिक्र करते हुए कहा, "मुजफ्फरनगर में जो हुआ वह तो कलंक था ही, यहां सहारनपुर में जो कुछ हुआ था वह भी खौफनाक था। तब राजनीतिक संरक्षण में लोगों को कैसे निशाना बनाया जाता है, सहारनपुर का दंगा इसका प्रमाण है। ऐसी ही करतूतों के कारण 2017 में आप लोगों ने दंगावादियों को सबक सिखाया और उत्तर प्रदेश को दंगा मुक्त करने में योगी जी को सफलता मिली, लेकिन आप यह मत समझना कि यह दंगावादी और परिवारवादी सुधर गए हैं।" उन्होंने किसी का नाम लिए बगैर कहा, "सहारनपुर के दंगों के बड़े गुनहगार को अब इन माफियावादियों ने इस चुनाव में अपना साथी बना लिया है। यह सिर्फ सहारनपुर की ही बात नहीं है, पूरे पश्चिमी उत्तर प्रदेश में इन लोगों ने चुन-चुन कर अपराधियों को मैदान में उतारा है। हालत तो यह है कि ये लोग अब राष्ट्र विरोधियों को अपना प्रस्तावक तक बना रहे हैं। इनका इरादा आप जरूर समझिए।" मोदी ने दावा किया, "योगी जी की सरकार ने अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई की, उन्हें जेल भेजा इसलिए उनका गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंचा है। ये लोग उत्तर प्रदेश के लोगों से बदला लेना चाहते हैं। जो लोग उस समय दंगाइयों को कोस रहे थे, वे इस चुनाव में दंगाइयों से गले मिल रहे हैं।" प्रधानमंत्री ने जिले की मुस्लिम महिलाओं का जिक्र करते हुए कहा कि ‘‘उनकी सरकार ने मुस्लिम बहनों को तीन तलाक से मुक्ति दिलाने के लिए कानून बनाया, जिसके बाद मुस्लिम बहन बेटियां खुलकर भाजपा का समर्थन करने लगीं तो वोटों के कुछ ठेकेदारों की नींद हराम हो गई।उन्हें लगा कि इन बेटियों को रोकना होगा क्योंकि अगर यह मोदी की तरफ चली जाएंगी तो घर में ही उनका राज आ जाएगा, इसलिए उन मुस्लिम बहन बेटियों का हक और उनकी विकास की आकांक्षाओं को रोकने के लिए नए-नए तरीके खोजे जा रहे हैं।’’ मोदी ने कहा, "हमारी सरकार हर पीड़ित और मजलूम मुस्लिम महिला के साथ खड़ी है। कोई मुस्लिम महिलाओं पर जुल्म न कर सके इसके लिए योगी जी की सरकार बहुत जरूरी है।" उन्होंने कहा कि गरीबों को प्रधानमंत्री आवास योजना के घर मिलते रहें, गरीबों को अच्छे अस्पतालों में पांच लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज, छोटे किसानों के बैंक खाते में प्रधानमंत्री किसान योजना का पैसा सीधे पहुंचता रहे, गरीबों को इस महामारी के समय मुफ्त राशन मिलता रहे इसके लिए उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार जरूरी है।


मोदी ने विपक्षी दलों खासकर समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा, "यह मैं इसलिए कह रहा हूं कि यह घोर परिवारवादी लोग सरकार में होते तो शायद कोरोना की वैक्सीन रास्ते में ही कहीं बिक गई होती और आप कोरोना के भय से आतंकित होकर जीवन मृत्यु की लड़ाई लड़ने के लिए मजबूर हो जाते।" प्रधानमंत्री ने किसी का नाम लिए बगैर कहा, "मैं इन दिनों देख रहा हूं कि कुछ घोर परिवारवादी लोग, एक पूरी परिवार वादी पार्टी जनता से लगातार खोखले वादे किए जा रही है, क्योंकि उन्हें मालूम है कि उत्तर प्रदेश की जनता उनके पुराने कारनामों को याद करके फिर उन्हें कभी सत्ता में घुसने नहीं देने वाली है... इसलिए बड़बोले वचन दिए जा रहे।’’ मोदी ने सपा पर हमले जारी रखते हुए कहा, "आप लोगों को इनका राशन माफिया याद होगा। यह हमारे गरीब का राशन भी खा जाते थे। डबल इंजन की सरकार ने इनके यह कारनामे भी देखे हैं और हमारी सरकार ने इन हरकतों को बंद करके उस पर अलीगढ़ का ताला लगा दिया है।" प्रधानमंत्री ने सरकार की मुफ्त अनाज योजना की तरफ इशारा करते हुए कहा कि "गरीबों की सरकार ने कोरोना महामारी में किसी को भी भूखे नहीं सोने दिया।’’ उन्होंने कहा "उत्तर प्रदेश के मतदाताओं ने ठान लिया है कि जो प्रदेश को विकास की नई ऊंचाइयों पर पहुंचाएगा उसको ही वोट देंगे। जो प्रदेश को दंगा मुक्त रखेगा उसे ही वोट देंगे। यह दंगों का खेल फिर से नहीं आने देना है। जो हमारी बहन बेटियों को भयमुक्त रखेगा हम उसे ही वोट देंगे, जो अपराधियों को जेल भेजेगा हम उसे ही वोट देंगे।" प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में पहली बार किसी रैली स्थल पर पहुंचकर संबोधन दे रहे थे। इससे पहले उन्हें बिजनौर में रैली को संबोधित करना था लेकिन खराब मौसम के कारण हुआ रैली स्थल पर नहीं पहुंच सके थे और वर्चुअल संवाद किया था। प्रधानमंत्री ने गन्ना किसानों का मुद्दा उठाते हुए कहा कि केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकार किसानों को चीनी बाजार के उतार-चढ़ाव से होने वाली दिक्कतों से बचाने के लिए एक वृहद अभियान पर काम कर रही है। उन्होंने दावा किया कि यह अभियान गन्ना किसानों को लाभ देने के साथ-साथ उनकी आर्थिक व्यवस्था को एक गारंटी और सुरक्षा देता है। मोदी ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस काम में उनके कंधे से कंधा मिलाकर चलेंगे। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश को गन्ने से बने एथेनॉल से 12 हजार करोड़ रुपसे मिले है और यह यहीं तक सीमित रहने वाला नहीं है। उन्होंने आरोप लगाया "उत्तर प्रदेश में जो पहले की सरकारें थीं वे इस तरह का विजन लेकर काम कर ही नहीं सकती थी। उसका कारण परिवारवाद था।’’ मोदी ने कहा,‘‘हम स्थाई समाधान के लिए रास्ते खोजते हैं, हम हिंदुस्तान के हर गांव और किसान को आत्म सम्मान के साथ जीने का अवसर देने के लिए काम कर रहे हैं।"

कोई टिप्पणी नहीं: