नए अंदाज में संगीत रचते हैं संगीतकार गुफी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 17 फ़रवरी 2022

नए अंदाज में संगीत रचते हैं संगीतकार गुफी

musician-gufi
म्यूजिक कंपोजर गुफी हमेशा अपने नए अंदाज़ से जाने जाते हैं। म्यूजिक की दुनिया में इनका स्टाइल औरों से हट के है। उत्तर प्रदेश हाथरस के रहने वाले गुफी बॉलीवुड संगीत उद्योग में एक जाना-माना नाम होने के साथ-साथ एक महान संगीत व्यक्तित्व भी है, जिन्हें भारतीय फिल्म उद्योग में किसी परिचय की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने मेलोडी और सादगी के बेहतरीन मिश्रण के साथ बॉलीवुड इंडस्ट्री में ट्रेंडिंग म्यूजिक की पूरी तरह से नई शैली पेश की है। संगीत की अपनी अनूठी और परिपक्व शैली के साथ गुफ़ी ने "तिशनगी", "लव शव प्यार व्यार", "रोमियो एन बुलेट", "द लास्ट टेल ऑफ़ कायनात", "जुनून", "वन्स अपॉन ए" जैसी फिल्मों के लिए बैक टू बैक सुपर-हिट गाने दिए हैं। उनके नशीले संगीत के कारण निस्संदेह गुफी बॉलीवुड संगीत उद्योग में एक ब्रांड है। फ़िल्म "लव शव प्यार व्यार" के जरिये बॉलीवुड में संगीतकार के रूप में उनका पहला डेब्यू था। एक संगीत निर्देशक के रूप में उन्होंने राहत फतेह अली खान,सुनिधि चौहान, देव नेगी, जैसे जाने-माने गायकों के लिए संगीत तैयार किया है। पलक मुच्छल, बेनी दयाल, पवनदीन राजन, मोहम्मद इरफान, जावेद अली, कुणाल गांजावाला, कृष्ण बेउरा,अंतर मित्र, ,अमित मिश्रा, शाहिद माल्या, लाभ जंजुआ, मोहम्मद अजीज और भी बहुत कुछ.. उनका नवीनतम एकल एल्बम मेरी "आशिकी", "सांसों की तरह" "हीर" और "दिल इबादत" संगीत प्रेमियों से अच्छी समीक्षा पा चुके हैं। उनके कुछ प्रसिद्ध गीत लव शव प्यार व्यार, सूफी सलाम, नागदवाले और इश्क दा हुक्का तिस्नागी अब तक 100 मिलियन व्यू पा चुके हैं। गुफी न केवल अपनी उल्लेखनीय प्रतिभा के साथ मेलोडी के ताजा टुकड़े की रचना करते हैं बल्कि उन्हें जीवन देकर अपने आंतरिक सार को भी सजाते हैं। उनके गीत श्रोताओं को ऐसे जोड़ते हैं जैसे कि यह मेलोडी में व्यक्त उनके अपने शब्द हैं क्योंकि गुफी का मानना ​​है कि हर रचना का सर्वोच्च शक्ति "भगवान" से सीधा संपर्क होता है। गुफ़ी ने फ़िल्मों और एल्बमों के लिए कुछ सबसे बड़े ब्लॉक बस्टर बॉलीवुड हिट गाने देकर अपनी प्रतिभा साबित की है। 4 मार्च  2022 को फिल्म 'हरपल पागलपन' रिलीज़ हो रही है इसमें गुफी का सोलो म्यूजिक तीन सांग्स है, पहला सैड रोमांटिक सांग है, दूसरा रोमांटिक दुईट है, और तीसरा टाइटल पेप्पी सांग है .

कोई टिप्पणी नहीं: