कभी किसी पद के लिए लालायित नहीं रहा : सिद्धू - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 6 फ़रवरी 2022

कभी किसी पद के लिए लालायित नहीं रहा : सिद्धू

never-wants-any-post-siddhu
चंडीगढ़, छह फरवरी, कांग्रेस की पंजाब इकाई के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने रविवार को कहा कि वह कभी किसी पद के लिए लालायित नहीं रहे और उन्होंने चरणजीत सिंह चन्नी को राज्य का मुख्यमंत्री बनाने के फैसले की प्रशंसा की। सिद्धू ने लुधियाना की एक रैली को डिजिटल तरीके से संबोधित करते हुए यह बात कही। राज्य में 20 फरवरी को विधानसभा चुनाव है। उनके इस बयान के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पंजाब विधानसभा चुनावों के लिए रविवार को अपनी पार्टी के मुख्यमंत्री के चेहरे के रूप में चरणजीत सिंह चन्नी के नाम की घोषणा की। पिछले कई सप्ताह से चन्नी और सिद्धू मुख्यमंत्री पद के लिए पार्टी का उम्मीदवार घोषित किये जाने के लिए जोर लगा रहे थे। सिद्धू ने कहा, ‘‘ 17 साल के राजनीतिक करियर में सिद्धू कभी किसी पद के लिए लालायित नहीं रहा, लेकिन हमेशा पंजाब की बेहतरी और उसके लोगों की जिंदगी में सुधार चाहा।’’ राहुल गांधी के नेतृत्व की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि यह वही हैं, जिन्होंने पिछले साल एक दलित को राज्य का मुख्यमंत्री बनाया। उन्होंने कहा, ‘‘ यह बदलाव का पल है, जो लोगों के जीवन को बेहतर कर सके। हमें किसी चीज की जरूरत नहीं है। हमारी जरूरत बस पंजाब का कल्याण है। पंजाब के प्रति मेरे प्यार ने हमेशा उसकी बेहतरी चाही है।’’ पहले सिद्धू ने ट्वीट किया था कि वह मुख्यमंत्री के चेहरे पर पार्टी के फैसले को मानेंगे। उन्होंने आज की डिजिटल रैली में भी यही बात कही। पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह पर निशाना साधते हुए सिद्धू ने कहा, ‘‘ अब अमरिंदर सिंह डबल इंजन की बात करते हैं। ये वही लोग हैं, जिन्होंने पंजाब को लूटा।’’’ अमरिंदर सिंह ने पिछले साल पंजाब के मुख्यमंत्री पद से हटाये जाने के बाद कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था और पंजाब लोक कांग्रेस नामक नयी पार्टी बनायी थी। पंजाब लोक कांग्रेस भाजपा के साथ मिलकर विधानसभा चुनाव लड़ रही है।

कोई टिप्पणी नहीं: