बिहार : नीतीश बिहार के हितों की अनदेखी कर रहे हैं : तेजस्वी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 21 फ़रवरी 2022

बिहार : नीतीश बिहार के हितों की अनदेखी कर रहे हैं : तेजस्वी

nitish-ignoring-bihar-benefit-tejaswi
पटना : बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बिहार विधान मंडल बजट सत्र शुरू होने से पहले नीतीश सरकार पर जोरदार हमला बोला है। तेजस्वी यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर बिहार के हितों की अनदेखी कर रहे हैं। उन्होंने बिहार से जुड़े विभिन्न मुद्दों को लेकर नीतीश सरकार की कार्य पद्धति पर सवाल उठाया है। तेजस्वी ने कहा कि मुझे नहीं पता कि नीतीश कुमार किससे विशेष राज्य का दर्जा मांग रहे हैं? केंद्र में भाजपा की सरकार है और बिहार में भाजपा ही नीतीश सरकार की प्रमुख साझीदार है ऐसे में नीतीश कुमार किससे विशेष राज्य का दर्जा मांग रहे हैं यह उनको बताना चाहिए। तेजस्वी ने कहा कि केंद्र सरकार संसद में कहती है कि बिहार सरकार बजट का पैसा खर्च नहीं कर पा रही है। तेजस्वी ने राज्य सरकार की कार्य पद्धति पर सवाल करते हुए कहा की सरकार बिहार के हित में काम नहीं कर रही है। बिहार में कानून-व्यवस्था नहीं है। इसके साथ ही तेजस्वी यादव ने जातीय जनगणना पर अभी तक सर्वदलीय बैठक न होने पर भी सरकार की मंशा पर सवाल किया। उन्होंने कहा, सीएम नीतीश ने कहा था कि अगर केंद्र सरकार ने जातीय जनगणना नहीं कराया तो बिहार सरकार अपने खर्च पर जातीय जनगणना कराएगी। अब केंद्र सरकार ने जातीय जनगणना से इंकार कर दिया है लेकिन अभी तक नीतीश सरकार इस दिशा में नहीं बढ़ी है। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार सर्वदलीय बैठक के नाम पर टाल-मटोल कर रहे हैं। पिछले कई महीनों से सर्वदलीय बैठक होने की सिर्फ बात की जा रही है।

कोई टिप्पणी नहीं: