पंजाब चुनाव प्रचार थमा, अब मतदाताओं की बारी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 18 फ़रवरी 2022

पंजाब चुनाव प्रचार थमा, अब मतदाताओं की बारी

punjab-election-campaign-ends
चंडीगढ़, 18 फरवरी, पंजाब की 117 विधानसभा सीटों के लिए प्रचार शुक्रवार शाम को समाप्त हो गया। राजनीतिक दलों ने 20 फरवरी को होने वाले मतदान से पहले प्रचार के अंतिम दिन भी अपने उम्मीदवारों के लिये समर्थन जुटाने को लेकर कोई कोर कसर नहीं छोड़ी। कांग्रेस ने दिन में पहले अपना घोषणापत्र जारी किया, जिसमें राज्य में सत्ता में लौटने पर महिलाओं के लिए वित्तीय सहायता, एक लाख सरकारी नौकरियां और शराब की बिक्री व रेत खनन के लिए निगमों के निर्माण का वादा किया गया है। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, आम आदमी पार्टी (आप) के नेता अरविंद केजरीवाल, भगवंत मान और शिरोमणि अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह मजीठिया ने क्रमश: भदौर, जलालाबाद, रायकोट और अमृतसर में रोड शो किया। पटियाला में पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रोड शो किया। रोड शो में अमरिंदर सिंह की पत्नी और कांग्रेस सांसद परनीत कौर भी शामिल हुईं। पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और शिरोमणि अकाली दल (शिअद) अध्यक्ष सुखबीर बादल ने भी अंतिम दिन प्रचार किया। राज्य में 93 महिलाओं सहित कुल 1,304 उम्मीदवार मैदान में हैं। पंजाब के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एस करुणा राजू ने बताया कि मतदान सुबह 8 बजे शुरू होकर शाम 6 बजे तक चलेगा।


पंजाब में पहले मतदान की तारीख 14 फरवरी थी। लेकिन गुरु रविदास जयंती के मद्देनजर चुनाव आयोग ने इस आगे बढ़ाकर 20 फरवरी कर दिया था। कोविड-19 प्रतिबंधों के मद्देनजर शुरुआत में केवल घर-घर जाकर और सोशल मीडिया के जरिये ही प्रचार की अनुमति थी। हालांकि, 1 फरवरी से चुनाव आयोग द्वारा चरणबद्ध तरीके से रैलियों पर प्रतिबंध हटा लिया गया था। चुनाव में प्रमुख उम्मीदवारों में मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री पद के चेहरे भगवंत मान, पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू, पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, प्रकाश सिंह बादल और शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल शामिल हैं। चन्नी दो सीटों रूपनगर में चमकौर साहिब और बरनाला में भदौर सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। ‘आप’ के मान धूरी से चुनाव लड़ रहे हैं, जो संगरूर संसदीय क्षेत्र का हिस्सा है। मान संगरूर से दो बार सांसद चुने जा चुके हैं। अमृतसर पूर्व सीट पर सिद्धू का मुकाबला शिरोमणि अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह मजीठिया से है। पिछले साल कांग्रेस द्वारा मुख्यमंत्री पद से हटाए गए अमरिंदर सिंह अपने परिवार के गढ़ पटियाला शहर से पंजाब लोक कांग्रेस के उम्मीदवार के रूप में मैदान में हैं। पिछले साल कांग्रेस छोड़ने के बाद उन्होंने पंजाब लोक कांग्रेस का गठन किया था। सुखबीर बादल फाजिल्का के जलालाबाद से चुनाव लड़ रहे हैं, जबकि उनके पिता 94 वर्षीय प्रकाश सिंह बादल मुक्तसर जिले में अपने गृह क्षेत्र लांबी से चुनाव लड़ रहे हैं। प्रकाश सिंह बादल चुनाव में सबसे उम्रदराज उम्मीदवार हैं। किसान संघों के राजनीतिक मोर्चे संयुक्त समाज मोर्चा के नेता बलबीर सिंह राजेवाल लुधियाना जिले के समराला से चुनाव लड़ रहे हैं। पंजाब भाजपा अध्यक्ष अश्विनी शर्मा पठानकोट से जबकि पूर्व केंद्रीय मंत्री विजय सांपला फगवाड़ा से चुनाव लड़ रहे हैं। शिअद बहुजन समाज पार्टी के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ रही है। भाजपा ने अमरिंदर सिंह के नेतृत्व वाली पार्टी और सुखदेव सिंह ढींडसा के नेतृत्व वाले शिअद (संयुक्त) के साथ गठबंधन किया है। एसएसएम हरियाणा भारतीय किसान यूनियन (चढूनी) के नेता गुरनाम सिंह चढूनी के नेतृत्व वाली संयुक्त संघर्ष पार्टी के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ रही है।

कोई टिप्पणी नहीं: